लेडी टीचर से रिश्वत ले रहा था जेईएन, एसीबी ने अरेस्ट किया

अमर उजाला टीम डिजिटल/जयपुर  Updated Sun, 24 Dec 2017 05:41 PM IST
प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर
विज्ञापन
ख़बर सुनें
भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने आज एक बड़ी कार्रवाई करते हुए एक जेईएन को 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। यह रिश्वत एक महिला टीचर से मांगी गई थी। एसीबी ने रिश्वत की रकम बरामद कर ली है। यह कार्रवाई एसीबी बीकानेर के एएसपी परबत सिंह के नेतृत्व में की गई।
विज्ञापन


बीकानेर एसीबी एसपी ममता विश्नोई ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी रुपेश कुमार है। वह कनिष्ठ अभियंता है। उसके खिलाफ गांव पारेवड़ा, बीदासर चूरू निवासी महिला टीचर चेना कुमारी केवटिया ने एसीबी में 19 दिसंबर को शिकायत दर्ज करवाई थी।


जिसमें बताया कि वह बीकानेर जिले के भ्याउं ब्लॉक पांचू स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय में अध्यापिका है। उनके स्कूल के क्लास रुम की मरम्मत के लिए जिला परियोजना समन्वयक, सर्व शिक्षा अभियान बीकानेर की ओर से 1 लाख 20 हजार रुपए का बजट स्वीकृति हुआ था। इसके चलते क्लास रुम का निर्माण कार्य करवाया गया। 

 

बजट की ​तीसरी किश्त दिलवाने की एवज में रिश्वत की मांग की

demo pic
demo pic - फोटो : अमर उजाला
टीचर का आरोप था कि इस बजट की ​तीसरी किश्त दिलवाने की एवज में आरोपी कनिष्ठ अभियंता रुपेश कुमार रिश्वत में 10 हजार रुपए की मांग की है। दो दिन पहले एससीबी में शिकायत का सत्यापन दो दिन पहले किया गया। जिसमें रिश्वत आज देना तय हुआ। इसी के चलते एएसपी पर​बत सिंह के नेतृत्व में ट्रेप रचा ​गया। 

योजना के मुताबिक आरोपी जेईएन रुपेश कुमार खुद ही म्यूजियम सर्किल, बीकानेर पर रिश्वत लेने पहुंच गया। वहां टीचर से ज्योंही रिश्वत की रकम ली। तभी ईशारा मिलने पर एसीबी ने जेईएन रंगे हाथों पकड़ लिया। 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00