लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Rajasthan ›   Jaipur News ›   Rajasthan Politics Sukhjinder Randhawa said There will be talks after Rahul Gandhi Bharat Jodo visit

Politics: 'मेरा DNA कांग्रेस, जो वफादार, वो खिलाफ नहीं सोच सकते...हालात चिंताजनक, लेकिन पंजाब जैसे नहीं'

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जयपुर Published by: अरविंद कुमार Updated Wed, 07 Dec 2022 08:17 AM IST
सार

राजस्थान में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा से पहले कांग्रेस में सब ठीक है। ऐसा संदेश देने के लिए अशोक गहलोत और सचिन पायलट साथ दिख रहे हैं। लेकिन कांग्रेस की तरफ से राजस्थान के प्रदेश प्रभारी बनाए गए सुखजिंदर सिंह रंधावा का बयान कुछ और ही इशारा कर रहा है।

सीएम गहलोत, पायलट और रंधावा
सीएम गहलोत, पायलट और रंधावा - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन

विस्तार

राजस्थान प्रदेश प्रभारी बनाए जाने पर राजसुखजिंदर सिंह रंधावा ने मल्लिकार्जुन खरगे, सोनिया गांधी और राहुल गांधी का आभार जताया है। रंधावा ने कहा, मेरा डीएनए कांग्रेस है, मेरा परिवार कांग्रेस है। रंधावा ने राजस्थान में जारी सियासी घमासान पर बोलते हुए कहा, कांग्रेस का नुकसान करते हैं वो कांग्रेसी नहीं हो सकते। जो कांग्रेस के वफादार हैं, वो कांग्रेस के खिलाफ कभी नहीं सोच सकते। मैं नहीं मानता, राजस्थान में हालात चिंताजनक हैं या फिर पंजाब के जैसे हैं।



राजस्थान में चल रहे राजनीतिक घमासान पर सुखविंदर ने कहा, मैं अभी नया हूं, पहली बार राजस्थान आया हूं। भारत जोड़ो यात्रा समाप्त होने के बाद मिल बैठकर सबसे बात करेंगे। मैं जिस पंजाब की धरती से आया हूं, वहां गुरुनानक ने सांझी वार्ता के संदेश दिए हैं। बता दें कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट, राहुल गांधी के साथ कदम से कदम मिलाते दिख रहे हैं। इस बीच रंधावा का वफादारी वाला ये बयान अपने आप में काफी कुछ बता देता है।


गहलोत ने पायलट को गद्दार कहा था....
बताते चलें कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सचिन पायलट को गद्दार कहा था और गंभीर आरोप लगाए थे, जिसके बाद राजस्थान में सियासी पारा और चढ़ गया था। पिछले कुछ महीनों में राजस्थान की राजनीति में जिस तरह के बयान दिए गए हैं, वो पहले कभी सुनने को नहीं मिले हैं। गुजरात-हिमाचल के विधानसभा चुनाव के रिजल्ट आने से ठीक पहले कांग्रेस ने अपनी पार्टी में एक बड़ा फेरबदल किया गया है। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने संगठन में बड़ा फेरबदल किया है और राज्यों में नए प्रभारी नियुक्त कर दिए थे।

सुखजिंदर चर्चाओं में रहे...
सुखजिंदर सिंह रंधावा पंजाब में पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफा देने के बाद चर्चाओं में रहे थे। ऐसे भी कयास लगाए गए थे कि वो पंजाब के मुख्यमंत्री बन सकते हैं। हालांकि, फिर चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाया गया था। कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार में रंधावा तीन बार विधायक और कैबिनेट में जेल और कॉपरेशन मंत्री रहे हैं। रंधावा कांग्रेस के आक्रामक माने जाने वाले नेता माने जाते हैं। साल 2015 में गुरू ग्रंथ साहिब की बेअदबी मामले में पुलिस फायरिंग में मारे गए युवकों की मौत को लेकर रंधावा ने पंजाब के बादल परिवार के खिलाफ आवाज उठाई थी। 

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00