Hindi News ›   Jammu and Kashmir ›   Jammu ›   All 10 bodies recovered from the rubble, rescue operation over, highway restored from one side

Ramban Tunnel Tragedy: मलबे से सभी 10 शव बरामद, बचाव अभियान खत्म, कंपनी पर केस दर्ज

अमर उजाला नेटवर्क, रामबन Published by: दुष्यंत शर्मा Updated Sun, 22 May 2022 12:49 AM IST
सार

इसके साथ ही हादसे में मरने वालों का आंकड़ा दस तक पहुंच गया। इससे पूर्व एक शव शुक्रवार को ही निकाल लिया गया था। वहीं, निर्माण एजेंसी के खिलाफ कामकाज के दौरान लापरवाही के लिए प्राथमिकी दर्ज की गई है। मृतकों के परिवार को 16-16 लाख मुआवजा देने की घोषणा की गई है।

Ramban Tunnel Collapse
Ramban Tunnel Collapse - फोटो : परवेज मीर
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर रामबन के खूनी नाला क्षेत्र में सुरंग की खोदाई के दौरान हुए हादसे के तीसरे दिन शनिवार को लापता और नौ मजदूरों के शव निकाल लिए गए। इसके साथ ही हादसे में मरने वालों का आंकड़ा दस तक पहुंच गया। इससे पूर्व एक शव शुक्रवार को ही निकाल लिया गया था। वहीं, निर्माण एजेंसी के खिलाफ कामकाज के दौरान लापरवाही के लिए प्राथमिकी दर्ज की गई है।



मलबे में दबे सभी मजदूरों के शव मिलने के बाद बचाव अभियान बंद कर दिया गया है। इस बीच मरने वाले सभी मजदूरों के परिजनों को 16-16 लाख रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की गई है। उधर, शनिवार देर शाम को हाईवे बड़े वाहनों के लिए एक तरफा बहाल कर दिया गया। श्रीनगर से जम्मू के लिए वाहनों को छोड़ा गया। छोटे वाहन पहले भी चल रहे थे।


वीरवार देर रात से चल रहा रेस्क्यू ऑपरेशन शुक्रवार देर शाम को बारिश के चलते रोकना पड़ा था। शनिवार को मौसम साफ होते ही मलबे में दबे मजदूरों की तलाश शुरू कर दी गई। घंटों लगातार तलाश करने पर मलबे के ढेर से एक-एक कर लापता और नौ मजदूरों के शव निकाल लिए गए। एसएसपी रामबन मोहिता शर्मा के अनुसार मलबे के ढेर से सभी 10 मजदूरों के शव निकाल लिए गए हैं। इनमें पांच पश्चिम बंगाल, एक असम, दो नेपाल और दो स्थानीय हैं। सभी शव मिलने के बाद बचाव अभियान रोक दिया गया है। मालूम हो कि वीरवार रात 10.15 बजे जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे पर बनी टी-3 सुरंग की ऑडिट टनल के ऊपर का पहाड़ दरक गया था।

बाल-बाल बचे थे रेस्क्यू दल के सदस्य
मलबे में दबे मजदूरों की तलाश में जुटे रेस्क्यू दल के सदस्य शुक्रवार को एक और भूस्खलन होने से बाल-बाल बचे थे। इनमें रामसू पुलिस थाना प्रभारी नईम उल हक समेत 15 सदस्य शामिल हैं, जो भूस्खलन के समय मौके पर थे।

कंपनी देगी 15-15 लाख
रामबन हादसे में मारे गए मजदूरों के परिवारों को 16-16 लाख रुपये दिए जाएंगे। रामबन के उपायुक्त मसरत इस्लाम के अनुसार उप राज्यपाल के निर्देश पर मृतकों के परिवारों को निर्माण कंपनी की ओर से 15-15 लाख रुपये दिए जाएंगे। इसके अलावा उप राज्यपाल की ओर से एक-एक लाख रुपये की अनुग्रह राशि की घोषणा की गई है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00