कश्मीर का गणतंत्र दिवस: आजादी के बाद पहली बार श्रीनगर लाल चौक के घंटाघर पर फहराया तिरंगा, आतंकियों और उनके आकाओं को चुनौती

अमृतपाल सिंह बाली, श्रीनगर Published by: विमल शर्मा Updated Wed, 26 Jan 2022 02:48 PM IST
lal chock srinagar
1 of 5
विज्ञापन
आजादी के बाद पहली बार श्रीनगर के लाल चौक पर मौजूद घंटा घर पर स्थानीय युवाओं ने तिरंगा फहराया। इस दौरान बड़ी संख्या में स्थानीय युवाओं के अलावा महिलाएं और बच्चे भी मौजूद रहे। कुछ समय पहले तक आतंकियों की धमकी के कारण लाल चौक पर तिरंगा फहराने के लिए युवा आगे नहीं आते थे। अनुच्छेद 370 हटने और आतंकियों के लगातार खात्मे के कारण स्थानीय युवा आगे आए और उन्होंने भारत माता की जय के नारे लगाते हुए लाल चौक पर बने घंटा घर के टॉप पर तिरंगा फहराया। स्थानीय युवाओं ने आतंकियों और उनके हमदर्दों को अब हकीकत दिखानी शुरू कर दी। उनका कहना है कि आतंकवाद के कारण अब तक घाटी में कई लोगों की जान जा चुकी है। अब वह इसे नहीं सहेंगे।

यह भी जानें: पीएम मोदी ने कहा था लाल चौक पर फहराएंगे तिरंगा, अनुच्छेद 370 हटते ही राह आसान, सिर्फ नेहरू ही कर पाए थे यह काम
lal chock srinagar
2 of 5
इससे पहले श्रीनगर के शेर ए कश्मीर स्टेडियम में मुख्य समारोह कड़ी सुरक्षा के बीच आयोजित किया। अप्रिय घटना से बचने के लिए श्रीनगर समेत पूरी कश्मीर घाटी में कड़ी सुरक्षा ग्रिड की तैनाती की गई थी। कुछ संवेदनशील जगहों पर शार्प शूटर भी तैनात किए गए हैं। ऐसे ही प्रबंध अन्य जिला मुख्यालयों पर भी किए गए हैं।  गणतंत्र दिवस समारोह में पुलिस और अन्य अर्धसैनिक बलों के दस्तों ने परेड में भाग लिया। परेड की सलामी उपराज्यपाल के सलाहकार आरआर भटनागर ने ली। इसके अलावा रंगारंग कार्यक्रम भी इस दौरान आयोजित किए गए। 
विज्ञापन
विज्ञापन
lal chock srinagar
3 of 5
आयोजन को शांतिपूर्ण तरीके से सुनिश्चित करने के लिए फुलप्रूफ और बहुस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई थी। इसके लिए कई दिनों से सुरक्षाबलों द्वारा तलाशी अभियान जारी था। मुख्य समारोह स्थल की ओर जाने वाले रास्ते सील कर दिए गए थे।  गणतंत्र दिवस से पूर्व शहर की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। चप्पे-चप्पे पर जवानों का पहरा है। जगह-जगह लगाए गए नाकों से गहन पूछताछ और जांच के बाद ही लोगों और वाहनों को आगे जाने की अनुमति दी जा रही है। रात को ड्रोन की मदद से चौकसी रखी जा रही है। 
lal chock srinagar
4 of 5
सांबा के साथ आरएस पुरा में भी अंतरराष्ट्रीय सीमा पर कड़ी चौकसी करने के साथ बीएसएफ के जवान पाकिस्तान क्षेत्र में चल रही गतिविधियों पर पैनी नजर रखे हुए हैं। सीमा पर मुस्तैदी के साथ सीमा सुरक्षा बल ने अतिरिक्त जवानों की तैनाती विशेष तौर पर की है। गांव में वीडीसी सदस्यों सहित रात के समय पुलिस की टीमों का पहरा लगाया गया है। एसपी हेडर्क्वाटर रजनीश गुप्ता ने बताया कि सीमांत ग्रामीणों को रात के समय घरों में रहने के साथ किसी अज्ञात व्यक्ति को देखे जाने पर पास के पुलिस थाने, पुलिस पोस्ट या फिर बीएसएफ को जानकारी मुहैया करवाने के लिए कहा गया है। सीमावर्ती क्षेत्र से अंतरराष्ट्रीय सीमा के साथ स्टे क्षेत्र में विशेष नाके लगाए जाने के साथ निक्की तवी के आसपास नजर रखी जा रही है।
विज्ञापन
विज्ञापन
lal chock srinagar
5 of 5
अखनूर में गणतंत्र दिवस मनाने के लिए सीमावर्ती क्षेत्र में सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए। परगवाल, छंब, काना चक सेक्टर में सुरक्षा बलों को 24 घंटे चौकसी बरतने के निर्देश दिए गए हैं। अखनूर-जम्मू-सुंदरबनी रोड पर अतिरिक्त नाके लगाए हैं। एसडीपीओ वरुण जंडियाल की देखरेख में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की गई है। अखनूर क्षेत्र में मुख्य कार्यक्रम हायर सेकेंडरी स्कूल में हुआ। 
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00