Safalta Talks: मिलिए ‘प्रकृति’ के फाउंडर वैभव से, बनाया प्रकृति संरक्षण को अपना करियर

Media Solution Initiative Published by: पीआर डेस्क Updated Tue, 22 Jun 2021 02:14 PM IST

सार

देश के चर्चित प्रकृति केंद्रित स्टार्टअप के फाउंडर वैभव जयसवाल के अनुभव युवाओं के लिए प्रेरणा का स्रोत हैं। Safalta Talks के खास सेशन से जानते हैं वैभव की कहानी उन्हीं की जुबानी। 
Safalta.com/ Safalta Talks
Safalta.com/ Safalta Talks - फोटो : source
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

आज के समय में स्वउद्दमों को लेकर युवाओं में काफी उत्साह देखने को मिलता है। ढेरों ऐसे युवा हैं जिन्होंने अपने पैशन व लगन को अपना करियर बनाया। इसी क्रम में Safalta Talks का हिस्सा बन रहे वैभव जयसवाल भी हैं, जिन्होंने प्रकृति के अपने प्रेम को अपना करियर बनाया और बन गए एक चर्चित स्टार्टअप प्रकृति- कल्टीवेटिंग ग्रीन के फाउंडर। इनकी यह जर्नी वर्तमान समय में युवाओं के लिए एक प्रेरणा का स्रोत है। Safalta Talks के माध्यम से आइए मिलते हैं वैभव से। 
विज्ञापन


वाराणसी के रहने वाले वैभव ने सबसे पहले अपना बिजनेस आइडिया अपने कॉलेज में प्रस्तुत किया। जिसके बाद उन्हें काफी सराहा गया। यहीं से प्रकृति के स्थापना की नींव पड़ी। अपने बिजनेस आइडिया के कारण इन्हें प्रकाश सिंह बादल व शिवराज पाटिल के द्वारा सम्मानित किया गया। यहां तक कि साल 2010 में इन्हें प्रिंस चार्ल्स से भी मिलने का मौका मिला। अपने बिजनेस को बढ़ाते हुए इन्होंने कई महत्वपूर्ण काम किए व कई कीर्तिमान स्थापित किए। वैभव की यात्रा बेहद रोमांचक व चुनौतियों से भरी रही है। इनकी जर्नी ढेरों युवाओं के लिए प्रेरणा का स्रोत है। 


अगर आप भी स्टार्टअप या कोई अन्य लक्ष्य को लेकर कार्यरत हैं तो वैभव का अनुभव निश्चित तौर पर आपके लिए बेहद सहायक होगा। बता दें कि इस सेशन का आयोजन 22 जून शाम 5 बजे हो रहा है। इस सेशन से जुड़ने के लिए सब्सक्राइब करें Safalta Talks का यूट्यूब चैनल या क्लिक करें

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

 रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00