हिम्मत मत हारिए

                
                                                             
                            जीना है हिम्मत का काम,
                                                                     
                            
हिम्मत आती हौंसलें से,
हौंसला आता विश्वास से,
विश्वास आता आशा से,
आशा होती चाहत से,
चाहत होती प्रेम से,
प्रेम होता दिल से,
दिल होता धड़कन से,
धड़कन होती साँसों से,
साँसें होती जीने से,
और जीना है हिम्मत का काम,
साँसें हैं तो जीवन है,
अंतिम साँस तक लड़िये,
हिम्मत मत हारिये l

~अमित सोलंकी
 
हमें विश्वास है कि हमारे पाठक स्वरचित रचनाएं ही इस कॉलम के तहत प्रकाशित होने के लिए भेजते हैं। हमारे इस सम्मानित पाठक का भी दावा है कि यह रचना स्वरचित है। आपकी रचनात्मकता को अमर उजाला काव्य देगा नया मुक़ाम, रचना भेजने के लिए यहां क्लिक करें
3 weeks ago
Comments
X