आज का शब्द: यशस्वी और केदारनाथ अग्रवाल की कविता- अरे कबूतर! मुग्ध हुआ मैं

आज का शब्द- यशस्वी और केदारनाथ अग्रवाल की कविता: अरे कबूतर ! मुग्ध हुआ मैं
                
                                                             
                            यशस्वी यानि जिसका यश चारों तरफ फैला हो, कीर्तिमान, सुविख्यात। अमर उजाला 'हिंदी हैं हम' शब्द श्रृंखला में आज का शब्द है- यशस्वी। प्रस्तुत है केदारनाथ अग्रवाल की कविता: अरे कबूतर ! मुग्ध हुआ मैं
                                                                     
                            

धवल,
यशस्वी,
कांतिकाय तुम,
शरद-पूर्णिमा के आत्मज से,
पुलक-प्यार के पंख पसार,
उड़ आए
मेरे आँगन में
बहुत दिनों के बाद ! आगे पढ़ें

1 month ago

कमेंट

कमेंट X

😊अति सुंदर 😎बहुत खूब 👌अति उत्तम भाव 👍बहुत बढ़िया.. 🤩लाजवाब 🤩बेहतरीन 🙌क्या खूब कहा 😔बहुत मार्मिक 😀वाह! वाह! क्या बात है! 🤗शानदार 👌गजब 🙏छा गये आप 👏तालियां ✌शाबाश 😍जबरदस्त
X