मोहसिन असरार: मिरे बारे में कुछ सोचो मुझे नींद आ रही है

उर्दू अदब
                
                                                             
                            मिरे बारे में कुछ सोचो मुझे नींद आ रही है 
                                                                     
                            
मुझे ज़ाएअ' न होने दो मुझे नींद आ रही है 

मिरे अंदर के दुख चेहरे से ज़ाहिर हो रहे हैं 
मिरी तस्वीर मत खींचो मुझे नींद आ रही है 

तो क्या सारे गिले-शिकवे अभी कर लोगे मुझ से 
कुछ अब कल के लिए रक्खो मुझे नींद आ रही है 

सहर होगी तो देखेंगे कि हैं क्या क्या मसाइल 
ज़रा सी देर सोने दो मुझे नींद आ रही है  आगे पढ़ें

1 month ago

कमेंट

कमेंट X

😊अति सुंदर 😎बहुत खूब 👌अति उत्तम भाव 👍बहुत बढ़िया.. 🤩लाजवाब 🤩बेहतरीन 🙌क्या खूब कहा 😔बहुत मार्मिक 😀वाह! वाह! क्या बात है! 🤗शानदार 👌गजब 🙏छा गये आप 👏तालियां ✌शाबाश 😍जबरदस्त
X