विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Digital Edition

बाहर से लौटे लोग राज्य की पूंजी हैं, बोझ नहीं, राज्य में ही देंगे नौकरी के अवसर- बिप्लब देब

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने कहा है कि बाहर से लौटे लोग राज्य की पूंजी हैं, बोझ नहीं। वहीं राज्य सरकार ने दूसरे राज्य से लौटे लोगों का डाटा बैंक बनाने का कार्य शुरू कर दिया है और उनके कौशल का उपयोग करते हुए उन्हें राज्य के भीतर ही अवसर प्रदान किया जाएगा।
 
देब ने कहा कि ये जरूर हो सकता है कि त्रिपुरा में लोगों को उतनी सैलरी नहीं मिल सके जितनी की उन्हें देश के महानगरों में मिलती थी। मगर दूसरे राज्यों से लौटे लोगों को अपने प्रदेश में अवसर मुहैया कराने के लिए उनकी सरकार हर संभव कोशिश करेगी।
 
राज्य के सिपाहीजला जिले में क्वारंटीन केंद्रो का दौरा करने गए मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने कहा कि दूसरे राज्य से लौटे लोगों को उनके स्किल के हिसाब से राज्य में ही नौकरी के अवसर प्रदान किए जाएंगे। वहीं जिन लोगों में कोई स्किल नहीं है, उन्हें स्किल डेवलपमेंट के माध्यम से प्रशिक्षण देकर उनका कौशल विकास किया जाएगा।

पंचायत स्तरीय क्वारंटीन केंद्रों का किया दौरा

मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने सिपहीजला जिले के पंचायत स्तरीय क्वारंटीन केंद्रों का दौरा किया और वहां कार्य कर रहे कर्मियों और आशा कर्मियों से सीधा संवाद किया। साथ ही वहां रह रहे लोगों से उनके स्वास्थ्य की जानकारी के साथ व्यवस्थाओं का जायजा लिया। राज्य सरकार ने कोरोना के खिलाफ अभियान में ग्राम पंचायतस्तर पर क्वारंटीन केंद्र स्थापित किए हैं।
 
इनकी देखरेख और ग्रामीण इलाकों में होम क्वारंटीन प्रदत लोगों की निगरानी का जिम्मा ग्राम प्रधान, सचिव, पंचायत अध्यक्ष और सचिवों को दिया गया है। इस दौरान बिप्लव देब पूर्व मुख्यमंत्री एवं वरिष्ठ सीपीएम नेता मानिक सरकार के गृह विधानसभा धनपूर में एक पंचायत क्वारंटीन केंद्र का जायजा करने भी गए।
... और पढ़ें

चक्रवात अम्फान से कई जगह तबाही, कोलकाता के होटल जेडब्ल्यू मैरियट में भी भारी नुकसान

सोरेन की आपत्ति के बाद ट्रकों से उतारकर एसी एंबुलेंस से भेजे गए औरैया हादसे के शिकार हुए मजदूरों के शव

औरैया हादसे में मृत मजदूरों के शवों के साथ घायलों को भी ट्रकों के जरिए झारखंड व पश्चिम बंगाल के लिए रवाना कर दिया गया। इसकी जानकारी होने पर झारखंड सीएम हेमंत सोरेन ने ट्वीट कर इसे अमानवीय बताया। जिसके बाद नवाबगंज में ट्रक से उतारकर शवों व घायल मजदूरों को एसी एंबुलेंस से आगे के भेजा गया।

16 मई को प्रदेश के औरैया में हुए भीषण सड़क हादसे में घरों को लौट रहे 26 मजदूरों की मौत हो गई थी। इनमें से 11 झारखंड व 6 पश्चिम बंगाल के रहने वाले थे। हादसे के अगले दिन यानी 17 मई को पोस्टमार्टम के बाद सभी 17 मजदूरों के शव ट्रकों से रवाना कर दिए गए। संवेदनहीनता दिखाते हुए जिम्मेदार अफसरों ने शवों को भेजवाने के लिए उचित इंतजाम तो नहीं ही किए, हादसे में घायल कुछ मजदूरों को भी इन्हीं शवों के साथ ट्रकों में बैठा दिया।
... और पढ़ें

कोलकाता में दुर्गा उत्सव के दौरान दिखा बुर्ज खलीफा, अद्भुत नजारे को देखने भारी संख्या में पहुंची भीड़

बुर्ज खलीफा बुर्ज खलीफा

नंदीग्राम में व्हीलचेयर पर ममता के प्रचार का अंदाज, कहा-कूल-कूल तृणमूल

टीएमसी

अमित शाह का हेलिकॉप्टर हुआ खराब तो ममता बनर्जी की चोट पर कसा तंज

ममता बनर्जी की चोट से चढ़ा सियासी पारा, बयानबाजी से गरमाई बंगाल की राजनीति

पश्चिम बंगाल में सरकार का बदलाव 'अपरिहार्य', रथयात्रा से तेज होगी प्रक्रिया: हर्षवर्धन

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने शनिवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि पश्चिम बंगाल में सरकार का बदलाव “अपरिहार्य” है और राज्य में भाजपा की रथ यात्रा निकाले जाने से यह प्रक्रिया और भी मजबूत होगी। इस दौरान उन्होंने किसी का नाम लिए बिना कहा कि राज्य के लोग भाई-भतीजावाद, बढ़ते भ्रष्टाचार और तुष्टिकरण से पीड़ित हैं। उन्होंने आगे कहा, मुझे बीते एक साल से विभिन्न स्रोतों से जो जानकारी मिल रही है, उसके अनुसार तो यही कहा जा रहा है कि पश्चिम बंगाल में बदलाव अपरिहार्य है और राज्य में भाजपा की रथ यात्रा से इस प्रक्रिया को मजबूती मिल सकती है।

ममता बनर्जी के भतीजे पर साधा निशाना
बता दें, भाजपा पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे और तृणमूल कांग्रेस के सांसद अभिषेक बनर्जी पर कई घोटालों में शामिल होने का आरोप लगाती रही है और इसी कारण उन पर तंज भी कसती रही है। पार्टी इन दिनों ममता बनर्जी पर जिन मुद्दों को लेकर प्रहार कर रही है, उनमें भ्रष्टाचार और परिवारवाद सबसे बड़े मुद्दे हैं। इसी कड़ी में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि अब इस राज्य में और कुछ नहीं सिर्फ भ्रष्टाचार, तुष्टिकरण और भाई-भतीजावाद है। उन्होंने कहा कि यह बात आम लोग कह रहे हैं, जिनका भाजपा के साथ किसी तरह का जुड़ाव नहीं है।

147 का है जादुई आंकड़ा
उल्लेखनीय है कि अप्रैल-मई में पश्चिम बंगाल की 294 सदस्यों वाली विधानसभा के लिए चुनाव होने हैं। यहां पर 147 का मैजिक फिगर या जादुई आंकड़ा है यानी इतनी सीटें हासिल करने वाला सरकार बना लेगा। वहीं, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दावा किया है कि उनकी पार्टी को 200 से अधिक सीटें मिलेंगी। ऐसे में भाजपा और तृणमूल दोनों ही पार्टियों के बीच अभी से चुनावी जंग शुरू हो गई है। दोनों ही पार्टियों के नेता आए दिन एक-दूसरे पर निशाना साधते हैं।

... और पढ़ें

बलिया के भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह के विवादित बोल, कहा- ममता बनर्जी के डीएनए में दोष

उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बारे में विवादित बयान देते हुए उन्हें इस्लाम का पोषक बताया। कहा कि इस्लाम को मानने वाले लोग तो भगवान राम का विरोध करेंगे ही। दावा किया कि बंगाल के मुख्यमंत्री  ममता बनर्जी के डीएनए में दोष है। उन्होंने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब तक के सबसे बेहतर प्रधानमंत्री हैं।

अपने विवादित बयानों को लेकर हमेशा चर्चा में रहने वाले जिले के बैरिया क्षेत्र के भाजपा विधायक सिंह ने आज अपने निवास पर संवाददाताओं से बातचीत करते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा। दरअसल, कोलकाता में शनिवार को नेता जी सुभाषचंद्र बोस की 125वीं  जयंती पर आयोजित एक कार्यक्रम में जय श्री राम का नारा लगाने के बाद ममता बनर्जी नाराज हो गईं थी।

इसको लेकर भाजपा विधायक ने तीखा हमला बोलते हुए कहा कि वह राक्षसी संस्कृति की हैं। सवाल किया कि बेईमान व शैतान भगवान राम से घृणा नही करेगा तो क्या प्रेम करेगा।शैतान व्यक्ति भगवान राम से प्रेम नहीं कर सकता। ममता बनर्जी बेईमान व शैतान हैं इसलिए उनका भगवान राम से घृणा करना स्वाभाविक है। पश्चिम बंगाल में ममता के दल के लोग जिस तरह से खून खराबा व हत्या करते हैं, उनका कृत्य उनके शैतान होने का ही प्रमाण है। 

मोदी को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से भी बेहतर बताते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी सबसे बेहतर प्रधानमंत्री साबित हुए हैं । मोदी जी ने देशहित के साथ ही किसानों व नौजवानों के हित में शानदार कार्य किया है । गौरतलब है कि भाजपा विधायक  आए दिन विपक्षी दलों के नेताओं पर जमकर निशाना साधते हैं।  
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00