Cyclone Jawad Live : ओडिशा और पश्चिम बंगाल के कई हिस्सों में भारी बारिश, एनडीआरएफ की 19 टीमें तैनात, 48 राहत केंद्र खोले

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, भुवनेश्वर/ हैदराबाद Published by: प्रशांत कुमार झा Updated Sun, 05 Dec 2021 11:23 PM IST
cyclone jawad latest updates today 05 december odisha and andhra pradesh weather imd heavy rain alert
चक्रवाती तूफान - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन

खास बातें

मौसम विभाग के मुताबिक पुरी में बारिश शुरू हो गई है। तूफान के कमजोर पड़ने से नुकसान और तबाही कम होने की संभावना है। हालांकि, आईएमडी ने अलर्ट जारी किया है।
विज्ञापन

लाइव अपडेट

11:22 PM, 05-Dec-2021

कमजोर पड़ने से पहले पश्चिम बंगाल तट की ओर बढ़ेगा चक्रवात

आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम से 180 किमी दूर केंद्रित चक्रवाती तूफान जवाद की वजह से पश्चिम बंगाल के कोलकाता और ओडिशा के पुरी समेत कई हिस्सों में रविवार को भारी बारिश हुई। चक्रवात से नुकसान की आशंका के मद्देनजर ओडिशा और बंगाल के तटीय इलाकों को खाली करा लिया गया। पश्चिम बंगाल में चक्रवात के मद्देनजर एनडीआरएफ की 19 टीमें तैनात की गई हैं।

पश्चिम बंगाल सरकार ने हुगली नदी पर नौका सेवाएं रोक दी और पर्यटकों से समुद्र किनारे स्थित रिसॉर्ट्स में नहीं जाने का आग्रह किया। मौसम विभाग ने दोपहर के आसपास पुरी के पास जवाद के कारण भूस्खलन की संभावना जताई थी। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने अनुमान जताया है कि चक्रवाती तूफान दिन में कमजोर पड़ने से पहले पश्चिम बंगाल तट की ओर उत्तर एवं उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ेगा। इससे पहले शनिवार को भी ओडिशा, आंध्र प्रदेश और बंगाल के तटीय इलाकों में दिन भर बारिश होती रही और आसमान में बादल छाए रहे।
03:17 PM, 05-Dec-2021
पश्चिम बंगाल सरकार ने चक्रवाती तूफान के कारण हुगली नदी पर नौका सेवाओं को रोक दिया और पर्यटकों से समुद्र के किनारे के रिसॉर्ट्स में नहीं जाने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी चक्रवाती तूफान पर खुद ही नजर बनाई हुई हैं। वहीं, ओडिशा में शाम तक टकराने का अनुमान है। 
02:20 PM, 05-Dec-2021

24 घंटे में तीन राज्यों में भारी बारिश की आशंका

मौसम विभाग ने ओडिशा और पश्चिम बंगाल के उत्तरी तटीय और आसपास के क्षेत्रों में भारी से भारी वर्षा की संभावना जताई है। आईएमडी ने कहा, "अगले 24 घंटों के दौरान उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी और ओडिशा, पश्चिम बंगाल और उत्तरी आंध्र प्रदेश तटों पर जोरदार बारिश हो सकती है। मछुआरों से इन इलाकों में नहीं जाने की चेतावनी भी दी गई है। 


 
01:49 PM, 05-Dec-2021

अगले 5 घंटे में ओडिशा तट पर पहुंचेगा

मौसम विभाग ने बताया कि डीप डिप्रेशन जवाद के कमजोर होकर दबाव में बदलने और अगले पांच घंटों में पुरी के तट से टकराने का अनुमान है। 
 
01:48 PM, 05-Dec-2021
चक्रवाती तूफान जवाद को लेकर कोलकता में बारिश हो रही है। 
 
08:57 AM, 05-Dec-2021
 ओडिशा के पुरी पहुंचने से पहले चक्रवात तूफान जवाद का असर दिखने लगा है। पुरी में तेज हवाओं के साथ हल्की बारिश शुरू हो गई। मौसम विभाग ने लोगों से अपने-अपने घरों में रहने की अपील की है। थोड़ी देर में तूफान पुरी से टकराएगा। 
 
08:53 AM, 05-Dec-2021

बंगाल ने तटीय इलाकों से हजारों लोगों को निकाला

मौसम विभाग ने कहा  "चक्रवाती तूफान जवाद के डीप डिप्रेशन के अवशेष कमजोर होकर डिप्रेशन में बदल जाएंगे, आज दोपहर के आसपास पुरी के पास ओडिशा तट पर पहुंचेंगे।" बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने चक्रवाती दबाव के कारण दीघा का समुद्र उबड़-खाबड़ हो गया है। तूफान कमजोर पड़ने के बाद कुछ लोग समुद्र किनारे पहुंचे और मौसम का आनंद उठाया। 
08:38 AM, 05-Dec-2021
जवाद के खतरे को देखते हुए पश्चिम बंगाल ने दक्षिण 24 परगना और पूर्वी मेदिनिपुर समेत कई तटीय इलाकों से हजारों लोगों को निकाल लिया है। शनिवार को उत्तर व दक्षिण 24 परगना, पूर्व व पश्चिम मेदिनिपुर, झारग्राम, हावड़ा और हुगली में दिनभर बारिश होती रही।  

 
08:36 AM, 05-Dec-2021
 ओडिशा सरकार ने समुद्री तट के आसपास रहने वाले लोगों को खाली करा लिया है। एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, कोस्टल गार्ड समेत स्थानीय पुलिस के जवान भी तैनात हैं।  मौसम विभाग के मुताबिक शनिवार सुबह 5:30 बजे चक्रवात जवाद पुरी तट से 410 किमी व विशाखापत्तनम से 230 किमी दूर पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर था। यहां से यह कमजोर पड़ना शुरू हुआ और उत्तर की ओर बढ़ते हुए अगले 12 घंटे में इसके और कमजोर पड़ने का अनुमान है। वहां से यह उत्तर-उत्तरपश्चिम की ओर ओडिशा तट का रुख करेगा व रविवार दोपहर को गहरे दबाव में बदलते हुए पुरी में दस्तक देगा। यहां से यह और कमजोर होता हुआ पश्चिम बंगाल की ओर चला जाएगा।


08:15 AM, 05-Dec-2021

Cyclone Jawad Live : ओडिशा और पश्चिम बंगाल के कई हिस्सों में भारी बारिश, एनडीआरएफ की 19 टीमें तैनात, 48 राहत केंद्र खोले

बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवात जवाद ओडिशा की पुरी पहुंचने से पहले ही सुस्त पड़ता नजर आया। थोड़ी देर में ओडिशा की पुरी से टकराने का अनुमान है।  कमजोर पड़ने के बाद जवाद से नुकसान भी कम होने की उम्मीद जताई जा रही है। 80 से 100 किलोमीटर की रफ्तार से चलने वाला चक्रवाती तूफान जवाद के कमजोर होने के कारण आंध्र प्रदेश, ओडिशा और पश्चिम बंगाल के लोगों ने राहत की सांस ली है। हालांकि, इस दौरान कई राज्यों में बारिश की आशंका जताई गई है। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि पश्चिम बंगाल में गंगा के तटों से लगते क्षेत्रों और उत्तरी ओडिशा में अलग-अलग जगहों पर बारिश हो सकती है। इसके अलावा सोमवार को असम, मेघालय और त्रिपुरा के कई क्षेत्रों में भारी बारिश हो सकती है।

मौसम विभाग के महानिदेशक मृत्युंजय मोहापात्रा ने कहा, जवाद के कमजोर पड़ने से अधिक नुकसान नहीं होगा लेकिन इस दौरान आंध्र प्रदेश व ओडिशा में बारिश बढ़ेगी जिससे फसलों को नुकसान हो सकता है। इसका जो भी असर होगा वह ओडिशा के गंजम, भदरक और बालासोर जिले में होगा। यह नुकसान चक्रवात की तबाही जैसा नहीं होगा। श्रीकाकुलम,  विजियानगरम व विशाखापत्तनम में भी बारिश बढ़ेगी। 
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00