यूपी : नौ महीने पहले प्रमोशन पाए आइ आईपीएस अधिकारियों को दी गई तैनाती, सांसद की पिटाई मामले में सीओ निलंबित

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Published by: ishwar ashish Updated Sun, 26 Sep 2021 08:25 PM IST

सार

यूपी में नौ महीने पहले प्रमोशन पाने वाले आठ में से सात अफसरों को उन्हीं जगह पर तैनाती दी गई है जहां वह पहले थे।
eight IPS officers transfer in Uttar Pradesh.
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

नौ महीने पहले प्रमोशन पाए आधा दर्जन से अधिक आईपीएस अफसरों को उम्मीद थी कि उन्हें किसी नए पद पर काम करने का मौका मिलेगा। लेकिन लंबे इंतजार के बाद शनिवार देर रात तबादलों का इंतजार कर रहे 8 में से 7 अधिकारियों को शासन ने उसी जगह पर तैनाती दे दी गई है।
विज्ञापन

    
शासन की ओर से आधी रात को जारी आठ आईपीएस अधिकारियों की तबादला सूची के मुताबिक एडीजी रैंक के अधिकारियों में विजय प्रकाश को फायर सर्विसेज में ही एडीजी के पद पर तैनाती दी गई है। वह पहले यहीं आईजी के पद पर तैनात थे। एसटीएफ में तैनात अमिताभ यश को वहीं आईजी से एडीजी एसटीएफ बना दिया गया है। नवनीत सिकेरा को पुलिस मुख्यालय से भवन एवं कल्याण का एडीजी बना दिया गया है।

    
आईजी रैंक के अधिकारियों में अभियोजन में डीआईजी के रूप में तैनात विनय कुमार यादव को वहीं आईजी के रूप में तैनाती दे दी गई है। आर्थिक अपराध अनुसंधान संगठन में डीआईजी के रूप में तैनात हीरा लाल को वहीं आईजी बना दिया गया है। पीटीसी मुरादाबाद में डीआईजी के रूप में तैनात शिव शंकर सिंह को वहीं आईजी बनाया गया है। इसी तरह 1 जनवरी को एसपी से डीआईजी बने रवि शंकर छवि को वूमन पावर लाइन में ही डीआईजी के पद पर तैनाती दी गई है। वह यहीं पर एसपी के रूप में काम कर रहे थे। इसी तरह तकनीकी सेवा में एसपी के रूप में तैनात प्रतिभा अंबेडकर को तकनीकी सेवा में ही डीआईजी के पद पर तैनाती दी गई है।


देखें पूरी लिस्ट


 

प्रतापगढ़ में सांसद की पिटाई मामले में सीओ लालगंज जगमोहन सिंह यादव निलंबित

प्रतापगढ़ की सांगीपुर में आयोजित एक सरकारी कार्यक्रम में सांसद संगम लाल गुप्ता पर हुए हमले के मामले में लालगंज के क्षेत्राधिकारी जगमोहन सिंह यादव को शासन ने निलंबित कर दिया है। यह कार्रवाई प्रयागराज जोन के एडीजी प्रेम प्रकाश की रिपोर्ट पर की गई है। जगमोहन सिंह पर कार्यक्रम में जुटने वाली भीड़ और उसकी संवेदनशीलता का पूर्वानुमान न कर पाने का आरोप है।
    
अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी की ओर से जारी आदेश में बताया गया है कि प्रयागराज के अपर पुलिस महानिदेशक की ओर से बताया गया है कि क्षेत्राधिकारी लालगंज जगमोहन सिंह यादव ने महत्वपूर्ण सरकारी कार्यक्रम स्थल पर लगने वाली पुलिस बल का पुर्वानुमान न करके पर्याप्त पुलिस बल का अभाव रखा गया। जिसकी वजह से मौके पर गंभीर शांति व्यवस्था की स्थिति उत्पन्न हो गई। शासन ने इसे लापरवाही मानते हुए जगमोहन को निलंबित करते हुए विभागीय कार्रवाई शुरू करने के निर्देश दिए गए हैं।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00