Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Lucknow ›   Lakhimpur incident UP Police put Akhilesh Yadav under house arrest in Lucknow

पुराने तेवर में दिखी सपा : अखिलेश यादव की गिरफ्तारी पर भड़के सपाई, पुलिस ने ईको गार्डन ले जाकर छोड़ा

अमर उजाला नेटवर्क, लखनऊ Published by: शाहरुख खान Updated Mon, 04 Oct 2021 08:27 PM IST

सार

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को हिरासत में लेने के बाद पुलिस ने उन्हें रिहा कर दिया लेकिन उन्हें लखीमपुर खीरी जाने की अनुमति नहीं दी गई।
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव।
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव। - फोटो : amar ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

अरसे बाद समाजवादी पार्टी अपने पुराने तेवर में नजर आई। लखीमपुर खीरी में हुए बवाल के बाद घटना स्थल जाने की जिद पर अड़े सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को राजधानी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, जिसके बाद समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जमकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान कार्यकर्ताओं ने गौतमपल्ली थाने के सामने खड़ी पुलिस की जीप को भी आग के हवाले कर दिया।

विज्ञापन

    
अखिलेश यादव सोमवार सुबह लगभग 9 बजे विक्रमादित्य स्थित आवास से बाहर निकले। पुलिस अधिकारियों ने उन्हें बताया कि आगे जाने की इजाजत उन्हें नहीं है तो वे घर के सामने ही सड़क पर बैठ गए। इस दौरान सपा कार्यकर्ता भी भारी संख्या में जुटना शुरू हो गए और माहौल तनाव पूर्ण हो गया। पुलिस को कई बार हल्का बल प्रयोग करना पड़ा। तब अखिलेश यादव को लखनऊ मध्य की पुलिस उपायुक्त ख्याति गर्ग ने धारा 144 के उल्लंघन का हवाला देकर उन्हें गिरफ्तार करने की बात कही। इसके बाद अखिलेश को एसएचओ हजरतगंज की गाड़ी में बिठा दिया गया। इस पर कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी शुरू कर दी और गाड़ी को आगे जाने से रोकने लगे। हजरतगंज एसएचओ की जिस गाड़ी में अखिलेश यादव थे उसमें डीसीपी मध्य ख्याति गर्ग के अलावा सपा एमएलसी संजय लाठर, सुशील दीक्षित और लखनऊ बार के महामंत्री जीतू यादव भी थे।


तीन घंटे में तय हुआ साढ़े छह किलोमीटर का फासला
गिरफ्तारी के बाद अखिलेश यादव के साथ सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता पैदल ही ईको गार्डन पार्क की ओर चल दिए। रास्ते में कई जगहों पर सपा कार्यकर्ताओं ने गाड़ी के सामने लेट कर गाड़ी रोकने का प्रयास किया। अखिलेश यादव को दो बार गाड़ी से बाहर आकर अपने कार्यकर्ताओं को समझाना पड़ा। सपा का काफिला रोड शो के रूप में चल रहा था। यही वजह थी कि विक्रमादित्य मार्ग से इको गार्डन पार्क का फासला साढ़े 6 किलो मीटर है लेकिन उसे पूरा करने में तीन घंटे से भी अधिक समय लग गया। धरना स्थल पर अखिलेश यादव ने पत्रकारों से कहा कि भाजपा सरकार हिटलरशाही से भी बढ़कर काम कर रही है। किसानों को कुचलने के लिए उनपर गाड़ियां चढ़ा दी जा रही हैं। उन्होंने कहा कि गौतमपल्ली थाने के सामने खड़ी पुलिस की जीप में आग खुद पुलिस कर्मियों ने ही लगाई होगी। अखिलेश यादव धरना स्थल पहुंचे तो उन्हें संयुक्त पुलिस आयुक्त पीयूष मोर्डिया ने बताया कि आपको शांति भंग की आशंका में गिरफ्तार किया गया था, अब आप जा सकते हैं। इसके बाद लगभग तीन बजे अखिलेश यादव अपने घर की ओर चल दिए।

किसानों की हत्या हुई, दोषियों को मिले सख्त सजा : अखिलेश

सपा अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि किसानों के साथ जुल्म हो रहा है। सरकार सच सामने नहीं आने देना चाहती। किसानों पर इतना अत्याचार और उत्पीड़न कभी नहीं हुआ। उन्होंने पूरे मामले में केन्द्रीय गृहराज्य मंत्री और उस कार्यक्त्रस्म में शामिल होने के लिए गए उपमुख्यमंत्री केशव मौर्य के इस्तीफे की मांग करते हुए कहा कि किसानों की हत्या हुई है। दोषियों को सख्त से सख्त सजा मिले। मांग की कि दोषियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज हो। पीड़ित किसानों के परिजनों को दो- दो करोड़ रूपए मुआवजे में दिए जाए। घर के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाए।

सपा अध्यक्ष ने कहा कि विपक्ष के नेताओं को किसानों के परिजनों से मिलने से रोकना हिटलरशाही है। आय दुगनी करने का वादा करने वाली यह सरकार असफल है। उन्होंने कहा कि किसानों के खिलाफ  भाजपा काला कानून क्यों लाई है?  सरकार के लोग किसानों को आतंकवादी और मवाली कहकर अपमानित कर रहे हैं। भाजपा शासन में कानून व्यवस्था ध्वस्त है। भाजपा तानाशाही कर रही है। जनता की आवाज दबाई जा रही है। सरकारी मशीनरी विपक्ष का दमन कर रही है। पुलिस प्रशासन सरकार का मोहरा बन गया है।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें
सबसे तेज और बेहतर अनुभव के लिए चुनें अमर उजाला एप
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00