लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Lucknow ›   Two suspended IPS officers resumed their service in Uttar Pradesh.

UP News: बिकरू कांड के बाद निलंबित किए गए डीआईजी समेत दो आईपीएस अफसर बहाल, विभागीय जांच जारी रहेगी

अमर उजाला ब्यूरो, लखनऊ Published by: ishwar ashish Updated Sun, 02 Oct 2022 06:03 PM IST
सार

यूपी में लंबे समय से निलंबित चल रहे दो आईपीएस अफसरों को बहाल कर दिया गया है। दोनों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई जारी रहेगी।

Two suspended IPS officers resumed their service in Uttar Pradesh.
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

शासन ने रविवार को लंबे समय से निलंबित चल रहे दो आईपीएस अधिकारियों को बहाल कर दिया है। इसमें बिकरू कांड के बाद निलंबित किए गए डीआईजी अनंत देव और गाजियाबाद से एसएसपी के पद से निलंबित किए गए पवन कुमार का नाम शामिल है।


    
जानकारी के अनुसार दोनों अधिकारियों की विभागीय जांच जारी रहेगी। अनंत देव लंबे समय तक कानपुर नगर के एसएसपी थे। डीआईजी बनने के बाद उन्हें कानपुर नगर से हटाकर एसटीएफ में तैनाती दी गई थी। लेकिन अनंत देव के हटने के कुछ ही दिन बाद कानपुर नगर के चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू गांव में बदमाश विकास दुबे और उसके गुर्गों ने दबिश देने गए पुलिस कर्मियों पर हमला कर दिया था, जिसमें 8 पुलिस कर्मियों की मौत हो गई थी। इस घटना के बाद आरोप अनंत देव पर लगे जिसके बाद उन्हें पीएसी सेक्टर मुरादाबाद स्थानांतरित कर दिया गया। बिकरू कांड की जांच के लिए एसआईटी भी गठित की गई थी, जिसकी रिपोर्ट के आधार पर अनंत देव को 12 नवंबर 2020 को निलंबित कर दिया गया था। अब लगभग दो वर्ष बाद उनकी बहाली की गई है।

    
इसके अलावा गाजियाबाद से काम में लापरवाही के आरोप में निलंबित किए गए पवन कुमार को भी बहाल कर दिया गया है। पवन को उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव के फौरन बाद 31 मार्च 2022 को निलंबित कर दिया गया था। छह माह बाद उन्हें भी बहाल कर दिया गया है।

तीन अधिकारी अब भी चल रहे निलंबित
मौजूदा समय में अनंत देव और पवन कुमार की बहाली के बाद तीन अधिकारी अब भी ऐसे हैं जो निलंबित हैं। इसमें 14 फरवरी 2019 को निलंबित किए गए एडीजी जसवीर सिंह, महोबा में एसपी के बाद से भ्रष्टाचार के आरोप में 9 सितंबर 2020 को निलंबित किए गए मणिलाल पाटीदार और बिना छुट्टी स्वीकृत हुए विदेश जाने के आरोप में 27 अप्रैल 2022 को निलंबित की गईं अलंकृता सिंह का नाम शामिल हैं।

अब पांच अधिकारी प्रतीक्षारत
अनंत देव और पवन दोनों को बहाल करने के बाद प्रतीक्षा सूची में डाल दिया गया है। मौजूदा समय में पांच ऐसे अधिकारी हैं जो प्रतीक्षारत हैं। इन दो अधिकारियों के आलावा 1 अगस्त 2022 को लखनऊ पुलिस आयुक्त के पद से हटाए गए डीके ठाकुर, कानपुर पुलिस आयुक्त के पद से हटाए गए विजय सिंह मीणा और 7 सितंबर को केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से वापस आए अजय मिश्रा का नाम शामिल है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00