Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Lucknow ›   up election 2022 shivpal yadav will contest from jaswantnagar on samajwadi party symbol

UP Election 2022: जसवंतनगर से सपा के सिंबल पर चुनाव लड़ेंगे शिवपाल, इस सीट पर छठी बार होंगे खड़े

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Published by: Vikas Kumar Updated Fri, 21 Jan 2022 10:48 PM IST

सार

जसवंतनगर सीट पर 1967 में मुलायम सिंह यादव पहली बार विधायक रहे। इसके बाद वह लगातार सात पर विधायक बनने में कामयाब रहे। फिर लोकसभा चुनाव लड़ने पर मुलायम सिंह ने वर्ष 1996 में शिवपाल सिंह यहां से उतारा। तब से लगातार पांच बार से वह विधायक हैं। 
अखिलेश यादव के साथ शिवपाल सिंह यादव
अखिलेश यादव के साथ शिवपाल सिंह यादव - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव जसवंतनगर विधानसभा सीट से सपा के सिंबल पर चुनाव लड़ेंगे। इस सीट पर उनका छठवां चुनाव होगा।

विज्ञापन


जसवंतनगर सीट पर 1967 में मुलायम सिंह यादव पहली बार विधायक रहे। इसके बाद वह लगातार सात पर विधायक बनने में कामयाब रहे। फिर लोकसभा चुनाव लड़ने पर मुलायम सिंह ने वर्ष 1996 में शिवपाल सिंह यहां से उतारा। तब से लगातार पांच बार से वह विधायक हैं। शिवपाल ने बताया कि षड्यंत्र के तहत उनका चुनाव चिह्न जब्त कर लिया गया है। ऐसे में सपा के चुनाव चिह्न साइकिल पर मैदान में उतर रहे हैं। 


उन्होंने बताया कि भाजपा को हटाकर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनाने के लिए जहां भी जरूरत होगी, वह चुनाव प्रचार करेंगे। प्रसपा के अन्य पदाधिकारियों के चुनाव लड़ने के सवाल पर कहा कि जिताऊ उम्मीदवारों की सूची अखिलेश यादव को दी गई है। उनको जो जिताऊ लगेगा, उसे टिकट मिल सकता है। अन्य को सपा सरकार बनने पर सम्मान मिलेगा। बेटे आदित्य यादव के चुनाव लड़ने के सवाल पर शिवपाल ने कहा कि अभी उसे चुनाव लड़ने का मन नहीं है। 

प्रसपा अध्यक्ष ने कहा कि फासीवादी ताकतों के खिलाफ जीवनभर लड़ता रहा हूं। यह संघर्ष जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि नेताजी (मुलायम) का आशीर्वाद साथ में है। वह स्वस्थ रहे तो हमारा चुनाव प्रचार करेंगे। अब तक भाजपा से मनीष यादव जसवंतनगर से चुनाव लड़ते रहे हैं। अब वह सपा में हैं। ऐसे में जसवंतनगर में साइकिल का मुकाबला करने के लिए कोई नहीं है।

प्रसपा का चुनाव चिह्न बदला
प्रसपा का चुनाव चिह्न चाबी था, लेकिन दो माह पहले इसे जब्त कर लिया गया है। अब उन्हें स्टूल अलॉट किया गया है। प्रसपा ने प्रदेश भर में 240 सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी की थी। इसमें 170 सीट पर पार्टी ने चुनाव प्रचार भी शुरू कर दिया था। अब प्रसपा का सपा के साथ गठबंधन है। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00