बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
22 जून को शुक्र का कर्क राशि में परिवर्तन, जानें सभी राशियों पर प्रभाव
Myjyotish

22 जून को शुक्र का कर्क राशि में परिवर्तन, जानें सभी राशियों पर प्रभाव

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

अयोध्या: समाजसेवी बने कोतवाल ने तिहुरा मांझा गांव लिया गोद, शिक्षा, स्वास्थ्य सहित इन मुद्दों पर होगा काम

कोरोना काल में अभाव की जिंदगी जी रहे ग्रामीणों की मदद करने के लिए अयोध्या कोतवाल अशोक सिंह आगे आए हैं। उन्होंने मानवता का फर्ज निभाते हुए कोतवाली क्षे...

12 जून 2021

विज्ञापन
Digital Edition

कड़ा फैसला: मुख्यमंत्री योगी ने धर्मांतरण मामले में दोषियों पर रासुका लगाने का दिया निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने धर्मांतरण मामले  को बेहद गंभीरता से लेते हुए मामले की तह में जाकर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री ने दोषियों के खिलाफ गैंगेस्टर की कार्रवाई कर उन्हें राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) में निरूद्ध करने के भी आदेश दिए। उन्होंने कहा कि धर्मांतरण कराने वालों की संपत्ति जब्त कर सख्त कार्रवाई की जाए।

बता दें कि यूपी एटीएस ने सोमवार को जबरन धर्मांतरण कराने वाले एक बड़े गिरोह का पर्दाफाश किया है। दिल्ली से संचालित यह गिरोह बड़ी संख्या में लोगों का धर्मांतरण पैसा, शादी और नौकरी का लालच दे कर करा चुका है। सोमवार को लंबी पूछताछ के बाद दो लोगों को यूपी एटीएस ने गिरफ्तार कर लिया। इसमें एक का नाम मुफ्ती जहांगीर आलम है और दूसरे का नाम उमर गौतम है। इन लोगों ने एक हजार से अधिक लोगों का धर्मांतरण कराया है जिसमें अधिकतर हिंदुओं को मुस्लिम बनाया गया है।

अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि मूक बाधिर छात्रों व कमजोर आय वर्ग के लोगों को धन, नौकरी व शादी करवाने का लालच देकर धर्मांतरण कराया जा रहा था। इसका खुलासा गाजियाबाद के डासना से गिरफ्त में आए दो युवकों विपुल विजय वर्गीय और काशिफ की गिरफ्तारी से हुआ। एटीएस ने इस पूरे मामले की छानबीन की। दोनों युवकों की निशानदेही पर जहांगीर और उमर गौतम को पूछताछ के लिए लखनऊ मुख्यालय बुलाया गया था। सोमवार को लंबी पूछताछ के बाद दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मामले में दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

प्रशांत कुमार ने बताया कि गिरोह में कई लोगों के शामिल होने की जानकारी है। छानबीन की जा रही है। उन्होंने बताया कि धर्मांतरण कराने के बाद कई लड़कियों की शादी भी कराई जा चुकी है। इस बीच, एटीएस के विशेष एसीजेएम सत्यवीर सिंह ने सोमवार को दोनों आरोपियों को तीन जुलाई तक के लिए जेल भेज दिया है।
... और पढ़ें
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

UPSSSC: पीईटी के लिए रिकार्ड 28 लाख से अधिक रजिस्ट्रेशन, अगस्त में लिखित परीक्षा संभव

अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (यूपीएसएसएससी) की प्रारंभिक अर्हता परीक्षा (पीईटी) के लिए युवाओं में जबर्दस्त उत्साह सामने आया है और रिकार्ड रजिस्ट्रेशन किए गए हैं। पीईटी रजिस्ट्रेशन की समय सीमा सोमवार रात 12 बजे खत्म होने तक 28,07,119 रजिस्ट्रेशन किए गए। इसमें सर्वाधिक 2,90,555 रजिस्ट्रेशन आखिरी दिन हुए हैं। आयोग पीईटी के लिए आवेदन लेने के बाद जल्द से जल्द लिखित परीक्षा की तैयारी में जुट गया है। लिखित परीक्षा अगस्त में कराने की योजना पर काम हो रहा है।

अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के चेयरमैन प्रवीर कुमार ने रजिस्ट्रेशन पूरे होने पर रात 12 बजे के बाद बताया कि जो रजिस्ट्रेशन हुए हैं उनमें से 18,56,155 ने अंतिम तौर पर आवेदन सब्मिट कर दिया है। अंतिम रूप से सब्मिट किए गए आवेदन से आयोग को 30.51करोड़ रुपये से अधिक आय हुई है। रजिस्ट्रेशन करने वाले जो अभ्यर्थी अभी आवेदन शुल्क व अंतिम तौर पर आवेदन सब्मिट नहीं कर पाए हैं, वे 25 जून तक कर सकते हैं। 20 जून को 236447 व 19 जून को 24,00,92 रजिस्ट्रेशन हुए थे।

इससे पहले सोमवार को आयोग ने अपराहन 3.30 बजे पीईटी के लिए रजिस्ट्रेशन, आवेदन शुल्क जमा कराए जाने व अंतिम रूप से आवेदन सब्मिट किए जाने की स्थिति की समीक्षा की। आयोग के चेयरमैन प्रवीर कुमार ने बताया कि तब तक 26,95,539 पंजीकरण किए जा चुके थे। इनमें से 17,66,856 अभ्यर्थियों ने अपना आवेदन अंतिम रूप से सब्मिट कर दिया था।

उन्होंने बताया कि पंजीकृत अभ्यर्थियों व अंतिम रूप से आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों की संख्या में बड़ा अंतर सामने आया। इस संबंध में एनआईसी ने अपनी रिपोर्ट दी कि यह अंतर विभिन्न बैंकों से आवेदन शुल्क अंतरण में लगने वाले समय के कारण है। प्रवीर ने बताया कि आयोग ने प्रकरण पर विस्तृत विचार विमर्श के बाद अभ्यर्थियों के हित में पंजीकरण की अंतिम तिथि में कोई परिवर्तन न करने तथा आवेदन शुल्क जमा करने व अंतिम रूप से आवेदन सब्मिट करने की तिथि 25 जून तक बढ़ाने का फैसला किया। जो अभ्यर्थी 21 जून की मध्यरात्रि तक आवेदन कर चुके हैं, वे अब 25 तक फीस जमा कर अंतिम रूप से आवेदन सब्मिट कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि आवेदन पत्र में संशोधन की अंतिम तिथि पूर्ववत 28 जून रहेगी।
... और पढ़ें

यूपी: प्रदेश में बीते 24 घंटे में सिर्फ 213 संक्रमित मिले, महोबा में नहीं मिला एक भी मामला

यूपी में कोरोना संक्रमण समाप्त होने की ओर बढ़ रहा है। बीते 24 घंटे में प्रदेश में सिर्फ 213 संक्रमित मिले हैं। वहीं, महोबा जिले में एक भी संक्रमित नहीं मिला है। इस पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खुशी जताते हुए कहा है कि जनपद महोबा में आज एक भी संक्रमित मरीज नहीं है। अब तक कोरोना संक्रमित हुए सभी मरीज उपचारित होकर स्वस्थ हो चुके हैं।

इस उपलब्धि का श्रेय जनपद के जनप्रतिनिधियों, स्वास्थ्यकर्मियों, फ्रंटलाइन वर्करों, निगरानी समितियों, स्थानीय प्रशासन सहित सभी जनपदवासियों को है। सभी को बधाई। उन्होंने कहा कि अभी भी संयम और जागरूकता का यह क्रम सतत बनाए रखने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि जनपद महोबा की यह उपलब्धि अन्य जनपदों के लिए प्रेरणास्पद है। अगले एक सप्ताह तक अगर जिले में संक्रमण का कोई नया केस नहीं मिलता है, तो जनपद को पुरस्कृत किया जाएगा। हालांकि, उन्होंने ये भी कहा कि जिले में एग्रेसिव टेस्टिंग जारी रखी जाए। टेस्ट में कोई कमी न हो।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि लगातार नियोजित कोशिशों से विगत दिवस 18 जिलों में संक्रमण के नए मामले नहीं मिले, जबकि 52 जिलों में नए केस इकाई में आये हैं। प्रदेश की कोविड रिकवरी दर 98.5 फीसदी हो गई है, जबकि पॉजिटिविटी दर 0.1% फीसदी है। प्रदेश में अब तक 5 करोड़ 54 लाख टेस्ट हो चुके हैं। वर्तमान में कुल 4,163 एक्टिव केस हैं, इनमें से 2,542 लोग होम आइसोलेशन में हैं। प्रदेश में कोरोना से स्वस्थ हुए लोगों की संख्या 16 लाख 78 हजार हो चुकी है।
... और पढ़ें

अनोखी शादी: 65 साल के मोतीलाल ने 60 साल की मोहिनी से रचाई शादी, 40 साल से रह रहे थे लिव-इन में

अमेठी जिले के जामो थाना क्षेत्र के खुटहना गांव में रविवार रात एक अनोखी शादी हुई। वैदिक रीति रिवाज से संपन्न हुई इस शादी में दूल्हा बने मोतीलाल की उम्र 65 साल तो दुल्हन बनी मोहिनी की उम्र 60 साल है। यह शादी इस मामले में अनोखी रही कि इसमें घराती व बराती एक ही परिवार के लोग रहे। बुजुर्ग की बेटियां व नाती नातिन बराती बने तो पुत्र-बहू की पोते-पोतियों ने घराती का दायित्व निभाया।

खुटहना गांव निवासी मोतीलाल के घर रविवार रात जश्न का माहौल था। मौका था घर के बुजुर्ग मुखिया 65 वर्षीय मोतीलाल और 60 साल की मोहिनी की शादी का। यह दोनों बुजुर्ग 40 साल से एक साथ लिव-इन-रिलेशनशिप में रह रहे थे।

मोतीलाल के घर पर रिश्तेदारों और नातेदारों की भीड़ जुटी थी। ये भीड़ मोतीलाल की शादी में शरीक होने के लिए आई थी, जिसमें उसकी बेटियों से लेकर बहू और नाती-पोते खुशियां मनाते दिखाई दिए। बेटियां और नाती-नातिन सभी मोतीलाल की बरात में बराती बने तो बेटे-बहू व पोते-पोतियां घराती। शादी में शामिल लोगों ने डीजे की धुन पर डांस किया। गांव में हुई शादी में ढोलक की थाप पर मंगलगान भी गूंजे।
... और पढ़ें

विश्व योग दिवस 2021: योगी ने अपने आवास पर किया योगासन, उत्साह के साथ पार्कों व घरों में योग करते नजर आए लोग, तस्वीरें

विश्व योग दिवस के मौके पर लोगों ने अपने घरों व पार्कों में योग किया और स्वस्थ रहने का संकल्प लिया। इस मौके पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी अपने पांच कालिदास मार्ग स्थित आवास पर योग किया और लोगों को स्वस्थ रहने का संदेश दिया।

इस दौरान लोग कोरोना प्रोटोकॉल का भी पालन करते नजर आए। योग दिवस के लिए सुबह करीब साढ़े छह बजे से ही लोग अपने घरों के पास स्थित पार्कों में जमा होने लगे।

लोगों ने योगासन किया और स्वस्थ रहने का संकल्प लिया।। योग दिवस पर युवाओं में भी खास उत्साह दिखा। उन्होंने पार्कों में योग करने के अलावा अपने घरों में योगासन कर सोशल मीडिया पर अपनी तस्वीरें साझा की और सभी को स्वस्थ रहने का मंत्र दिया।

विश्व योग दिवस ने लोगों में स्वास्थ्य के प्रति एक जागरुकता पैदा की है। इस मौके पर ऐसे लोग जो कि हर रोज योग करते हैं वो समूह के सामने योगासन कर उन्हें योग को अपनी दिनचर्या में शामिल करने के लिए प्रेरित करते हैं।

आगे देखें, योग दिवस की तस्वीरें: 
... और पढ़ें

यूपी चुनाव: एके शर्मा बोले- 2022 में मुख्यमंत्री योगी के नेतृत्व में बड़ी जीत हासिल करेगी भाजपा

भाजपा के नवनियुक्त प्रदेश उपाध्यक्ष व विधान परिषद सदस्य अरविंद कुमार शर्मा ने कहा कि 2022  में भाजपा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में चुनाव लड़ेगी और 2017 से भी अधिक सीटें प्राप्त कर प्रदेश की सत्ता पर काबिज होगी।

उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता आज भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उतना ही स्नेह करती है जितना 2014 में करती थी। आगामी विधानसभा चुनाव जीतने के लिए मोदी का नाम और संरक्षण ही पर्याप्त है।

बता दें कि एके शर्मा ने भाजपा उपाध्यक्ष नियुक्त किए जाने पर प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह को पत्र लिखकर धन्यवाद ज्ञापित किया है।




बता दें कि उपाध्यक्ष नियुक्त किए जाने के पहले तक अरविंद कुमार शर्मा को सरकार में शामिल किए जाने के कयास लगाए जा रहे थे। भाजपा हाईकमान ने भी संदेश दे दिया है कि 2022 का चुनावी समर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तथा पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह के ही नेतृत्व में लड़ा जाएगा।

भाजपा हाईकमान ने शर्मा के जरिए संभवत: सरकार के बजाय संगठन की भूमिका को प्रभावी और चुनावी जरूरतों के लिहाज से सत्तारूढ़ दल में जरूरी प्रशासनिक क्षमताओं के विकास व विस्तार की रणनीति पर काम किया है। साथ ही जनप्रतिनिधियों व कार्यकर्ताओं की आवश्यकताओं व अपेक्षाओं को पूरा कर असंतोष को कम करने के उपायों पर भी अमल का प्रयास किया है।

ध्यान देने की बात यह है कि शर्मा को संगठन में प्रदेश उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी देने का फैसला भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री (संगठन) बीएल संतोष के तीन दिनी लखनऊ दौरे, मुख्यमंत्री की दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह एवं भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात तथा पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व महामंत्री संगठन के दिल्ली दौरे के बाद किया गया है। साफ है कि इस फैसले का न सिर्फ  इन मुलाकातों के फीडबैक, बल्कि केंद्रीय गृहमंत्री की कुछ जिलों के कार्यकर्ताओं से बातचीत से मिली जानकारी से भी काफी गहरा रिश्ता है। एक तरह से भाजपा ने इन सारी कवायद से मिली जानकारी पर बनाई गई कार्ययोजना पर काम शुरू कर दिया है।
... और पढ़ें

यूपी: प्रियंका गांधी ने योगी को लिखा पत्र, बोलीं- किसानों को महंगाई से राहत देने के लिए गेहूं की खरीद बढ़ाएं

कांग्रेस की यूपी प्रभारी व महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर गेहूं की खरीद बढ़ाने की मांग की है। उन्होंने पत्र में लिखा कि मिल रही खबरों के अनुसार यूपी में इस साल कुल उत्पादित गेहूं के मात्र 14% हिस्से की सरकारी खरीद हुई है। गांवों के क्रय केंद्र बंद हैं व किसानों से कम गेहूं खरीदा जा रहा है। उन्होंने कहा कि किसानों को कमरतोड़ महंगाई से राहत देने के लिए गेहूं की खरीद बढ़ाई जानी चाहिए और क्रय केंद्रों पर 15 जुलाई तक किसानों के गेहूं खरीद की गारंटी दी जानी चाहिए।

प्रियंका गांधी ने पत्र में लिखा कि प्रदेश में तमाम जिलों से मुझे लगातार सूचनाएं आ रही हैं कि गेहूं की खरीद में किसानों को बहुत परेशानियां उठानी पड़ रही हैं। एक अप्रैल से गेहूं की खरीद शुरू हुई लेकिन कोरोना महामारी के चलते क्रय केंद्रों पर ताला लटकता रहा। जैसे ही किसानों का गेहूं क्रय केंद्रों तक पहुंचने लगा उसी समय खरीद को कम करके आधा कर दिया गया।

उन्होंने कहा कि पंजाब और हरियाणा जैसे प्रदेशों में गेहूं की खरीद कुल उत्पादन का 80-85 प्रतिशत तक होती है, जबकि उत्तर प्रदेश में 378 लाख मीट्रिक टन उत्पादित गेहूं के मात्र 14 फीसदी हिस्से की सरकारी केंद्रों पर खरीद हुई है। बहुत सारे किसान अपना गेहूं नहीं बेच पाए हैं। अब क्रय केंद्रों पर किसानों के गेहूं खरीद में सरकारी फरमानों के चलते अफसर नानुकूर कर रहे हैं।

प्रियंका ने पत्र में याद दिलाया कि आपने कहा था कि हम अंतिम किसान तक गेहूं खरीद की सुविधा देंगे, लेकिन बहुत सारे गांवों में क्रय केंद्र बंद हो गए हैं और किसानों को दूर मंडियों में जाने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।

प्रियंका गांधी ने कहा कि कोरोना महामारी और महंगाई के चलते किसानों की हालत पहले से खराब है, ऐसे में उनकी फसल की खरीद न हो पाने या औने-पौने दामों में गेहूं बेचने के लिए मजबूर होने जैसी स्थिति किसानों की कमर तोड़ देगी।
... और पढ़ें

यूपी: एसटीएस ने धर्मांतरण कराने वाले रैकेट का किया भंडाफोड़, दो गिरफ्तार, अभी तक 1000 लोगों का करा चुके हैं धर्म परिवर्तन

यूपी एसटीएस ने मूक बाधिर छात्रों व कमजोर आय वर्ग के लोगों को धन, नौकरी व शादी करवाने का लालच देकर धर्मांतरण कराने वाले सिंडिकेट के दो लोगों को गिरफ्तार किया है। ये लोग आईएसआई व अन्य विदेशी फंडिंग से धर्मांतरण करवाते थे। बताया जा रहा है कि ये लोग बड़ी संख्या में धर्मांतरण करवा चुके हैं और कई लड़कियों की धर्मांतरण के बाद शादी भी करवा चुके हैं।

गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान मुफ्ती काजी जहांगीर आलम कासमी पुत्र ताहिर अख्तर निवासी ग्राम जोगाबाई, जामिया नगर, नई दिल्ली व मोहम्मद उमर गौतम पुत्र धनराज सिंह गौतम निवासी बाटला हाउस, जामिया नगर, नई दिल्ली के रूप में हुई है। उमर ने पूछताछ में बताया कि उसने अभी तक एक हजार गैर मुस्लिम लोगों को मुस्लिम धर्म में परिवर्तित कराया है और बड़ी संख्या में उनकी मुस्लिमों से शादी कराई है।

बता दें कि पुलिस महानिदेशक यूपी के निर्देशन में अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था द्वारा चलाए जा रहे अभियान के दौरान यूपीएटीएस को विगत कुछ समय से यह सूचना प्राप्त हो रही थी कि कुछ देश विरोधी व असामाजिक तत्व, धार्मिक संगठन या सिंडिकेट आईएसआई व विदेशी संस्थाओं के निर्देश व उनसे प्राप्त फंडिंग के आधार पर लोगों का धर्म परिवर्तन कर रहे हैं। ये लोग उनके मूल धर्म के प्रति नफरत फैलाकर उन्हें संगठित अपराध के लिए उकसा रहे थे। इस सूचना पर यूपीएटीएस ने कार्रवाई करते हुए मुफ्ती काजी जहांगीर आलम कासमी व मोहम्मद उमर को गिरफ्तार किया है। आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।

मामले पर एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने प्रेंस कांफ्रेंस में बताया कि पकड़ा गया उमर गौतम स्वयं हिन्दू से मुस्लिम में परिवर्तित होकर धर्मांतरण का अभियान चला रहा था। इन लोगों ने नोएडा के 117 बच्चों का धर्मांतरण कराया था।





उन्होंने बताया कि धर्मांतरण के लिए विदेशों से फंडिंग करवाई जा रही थी। धर्मांतरण के एवज में लोगों को पैसे, नौकरी और शादी करवाने का लालच दिया जा रहा था। एडीजी ने कहा कि मामले में फॉरेन फंडिंग के सुबूत मिले हैं। एडीजी ने बताया कि एक साल में 250 से 300 लोगों का धर्मांतरण कराया जाता था।
... और पढ़ें

यूपी चुनाव 2022: लखनऊ पहुंचे बीएल संतोष व प्रदेश प्रभारी राधामोहन, प्रदेश अध्यक्ष संग हो रही बैठक

भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री (संगठन) बीएल संतोष और प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह तीन दिन के दौरे पर सोमवार को लखनऊ पहुंच गए। इसके बाद सभी निराला नगर स्थित सरस्वती कुंज पहुंचे जहां बीएल संतोष, प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और महामंत्री संगठन सुनील बंसल संघ पदाधिकारियों के साथ कर बैठक कर रहे हैं। सोमवार शाम को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास पर कोर कमेटी की बैठक होगी।

बैठक में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर रणनीति और चुनाव का रोडमैप तैयार किया जाएगा। इस दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष और क्षेत्र पंचायत अध्यक्ष चुनाव से लेकर विधान परिषद में चार सदस्यों के मनोनयन और परिषद में स्थानीय निकाय सदस्यों के चुनाव को लेकर भी रणनीति तैयार की जाएगी।

संतोष और राधा मोहन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, डॉ. दिनेश शर्मा, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल के साथ कोर कमेटी की बैठक में चुनाव के मद्देनजर सरकार की भूमिका पर भी मंथन करेंगे। पार्टी के अग्रिम मोर्चों के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्षों के साथ बातचीत कर उन्हें आगामी एजेंडा सौंपेंगे। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us