बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
बुध का तुला राशि गोचर, जानें क्या होगा आपके जीवन पर प्रभाव
Myjyotish

बुध का तुला राशि गोचर, जानें क्या होगा आपके जीवन पर प्रभाव

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

भोपाल: लड़कियों को प्रेम जाल में फंसाने के लिए ऑटो चालक अरशद अली बन गया सनी, दबोचा

भोपाल में एक लड़की ने जाल बिछाकर एक मनचले को पकड़ लिया जो नौकरी दिलाने के नाम पर समुदाय विशेष की युवतियों को फोन करता था। इस मनचले का नाम का अरशद अली है जो इस काम को अंजाम देने के लिए सनी बन गया था।

युवती ने अरशद अली को अन्य लोगों के साथ मिलकर दबोच लिया और पुलिस के हवाले कर दिया, जांच में पता चला है, अली सनी नाम का उपयोग करके ही तीन अन्य लड़कियों से भी संपर्क कर चुका है। पुलिस ने युवक के खिलाफ छेड़छाड़ का मामला दर्ज कर लिया है और हिरासत में ले लिया है।

मामला भोपाल के गौतम नगर इलाके का यहां मनचले को पकड़ा गया, जानकारी के मुताबिक अरशद अली ब्रज विहार कॉलोनी निशातपुरा का निवासी है और वह ऑटो चलाता है। इस पर पुलिस ने आईपीसी की धारा-354 लगाई है जिसके तहत कार्रवाई जारी है। फिलहाल उससे अभी पूछताछ की जार रही है।

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो
अरशद ने एक युवती को सनी बनकर फोन किया, और नौकरी का झांसा दिया। लेकिन युवती ने अरशद के बारे में पता किया तो पता चला कि सनी अरशद अली है जो विशेष समुदाय से ताल्लुक रखता है। पता लगने के बाद युवती ने अरशद को थाने के पास बुलाया और यहां वह मिलने के लिए आ गया।

लेकिन लड़की ने उसे पकड़ने के लिए पहले से ही जाल बिछा रखा था, जैसे ही अरशद आया वहां लड़की के आसपास मौजूद अन्य लोगों ने उसे पकड़ लिया। इसके बाद उन्होंने उसका पूरा वीडियो बनाया। जिसमें वो रोने लगा। अब यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। 

पुलिस ने जब लड़कियों से पूछताछ तो उन्होंने बताया कि अरशद अपना नाम सनी बताता था, फिर फोन पर बात करता था, इसके बाद उन्हें गलत काम के लिए दबाव बनाता है। लड़की के राजी न होने पर धमकी भी देता था। 
... और पढ़ें

राहत: भोपाल और हबीबगंज स्टेशन पर प्लेटफार्म टिकट अब 20 रुपये में, नई दरें लागू

भोपाल मंडल रेल प्रशासन ने कोरोना काल में बढ़ी प्लेटफार्म टिकट की दर को घटाकर यात्रियों को राहत पहुंचाने का निर्णय लिया है। 18 सितंबर यानी आज रात 12 बजे से भोपाल और हबीबगंज स्टेशन पर प्लेटफॉर्म टिकट की कीमत 20 रुपये हो गई है।

कोरोना वायरस संक्रमण के कारण प्लेटफार्म पर भीड़-भाड़ कम करने के उद्देश्य से स्टेशनों पर प्लेटफॉर्म टिकट की कीमत 50 रुपये प्रति व्यक्ति तय की गई थी। भोपाल मंडल रेल प्रशासन ने अपने परिजनों को स्टेशन पर छोड़ने अथवा स्टेशन से लेने जाने वाले नागरिकों से अनुरोध किया है कि 'बहुत जरूरी होने पर ही प्लेटफॉर्म टिकट लेकर प्लेटफॉर्म पर प्रवेश करें, ताकि ज्यादा भीड़ भाड़ की स्थिति न बने।' वायरस संक्रमण से बचने के किए सरकार द्वारा जारी सभी दिशा-निर्देशों का पालन जरूरी है। इसके साथ ही स्टेशन पर कोरोना की जांच भी की जा रही है।
 
सबसे पहले जबलपुर ने घटाया था शुल्क
जबलपुर मंडल ने बीते शनिवार देर रात से प्लेटफार्म टिकट के शुल्क अचानक कम कर दिए थे। जबलपुर और मदन महल स्टेशन समेत सभी जगह पर प्लेटफार्म टिकट 20 रुपये कर दिया गया, लेकिन भोपाल में ऐसा नहीं किया गया था। यहां गुरुवार तक 50 रुपये का ही प्लेटफार्म टिकट मिल रहा था। काफी मंथन के बाद भोपाल में भी इसे कम करने का निर्णय आखिरकार लिया गया।
 
डीआरएम के पास अधिकार
जबलपुर रेल मंडल के सीनियर डीसीएम विश्व राजन ने बताया था कि प्लेटफार्म टिकट की दर तय करने के अधिकार डीआरएम के पास हैं। कोरोना के दौरान स्टेशनों पर लोगों की भीड़ को नियंत्रण करने के लिए टिकट की कीमतों में बढ़ोतरी की गई थी। इस कारण सभी मंडल ने अपने यहां पर स्टेशन पर आने वाले यात्रियों की संख्या को देखते हुए स्टेशन को ए और बी कैटेगिरी में रखा।
 
भोपाल स्टेशन पर सबसे ज्यादा लोड
भोपाल स्टेशन पर यात्रियों का सबसे ज्यादा लोड है। यहां पर हर दिन करीब एक लाख से अधिक यात्रियों को आना-जाना होता है। इसी कारण यहां पर प्लेटफार्म टिकट का किराया काफी विचार विमर्श के बाद कम किया गया है।
... और पढ़ें

इंदौर: कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी पर FIR दर्ज, जान से मारने की धमकी देने और सरकारी काम में बाधा डालने का आरोप

इंदौर के राजेंद्र नगर थाना में पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। जीतू पटवारी पर स्वास्थ्य अधिकारी को जान से मारने की धमकी देने और शासकीय कार्य मे बाधा डालने पर केस दर्ज किया है। जीतू पटवारी पर नगर निगम के स्वास्थ प्रभारी उत्तम यादव की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया है।

राजेंद्र नगर थाना की टीआई अमृता सोलंकी ने कहा कि  नगर निगम के स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. उत्तम यादव ने जीतू पटवारी के खिलाफ लिखित एफआइआर दर्ज करवाई है। यादव ने पुलिस को बताया कि दो दिन पूर्व वह पालदा स्थित दुर्गानगर में साफ सफाई और दवा का छिड़काव करने गए थे। उस वक्त जीतू पटवारी ने उनके साथ विवाद किया और अभद्रता करते हुए दवा छिड़काव का काम बंद करा दिया। 

भाजपा नेताओं के दबाव में लिखवाई रिपोर्ट
दरअसल, 15 सितंबर को इंदौर के दुर्गा नगर में दवा छिड़काव के वक्त जीतू पटवारी और उत्तम यादव के बीच कहासुनी हो गई थी। घटना के बाद डॉक्टर उत्तम यादव निगम कर्मचारियों को लेकर थाने पहुंचे और केस दर्ज करवाने की मांग की। पुलिस ने लिखित आवेदन देने को कहा, लेकिन कुछ देर बाद ही यादव रिपोर्ट लिखवाने से पलट गए। उन्होंने लिखित में कहा कि वह कोई कार्रवाई नहीं चाहते। भाजपा नेता उमेश शर्मा ने तत्काल एक ट्विट किया और कहा कि उत्तम यादव कांग्रेस नेता अरुण यादव के रिश्तेदार हैं। यादव के इशारे पर ही उन्होंने कार्रवाई से इन्कार किया है। मामला आला अफसरों तक पहुंच गया। निगम कर्मचारियों ने भी थाने में प्रदर्शन किया। शुक्रवार को यादव दोबारा थाने पहुंचे और जीतू पटवारी पर मामला दर्ज करवा दिया। कांग्रेस ने कहा कि भाजपा नेताओं के दबाव में जीतू पटवारी पर केस दर्ज करवाया गया है। 
... और पढ़ें

खुशखबर: सरकारी कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 5 फीसदी बढ़ाने की तैयारी, शिवराज सरकार ने दिए संकेत 

जल्द ही उपचुनाव तारीखों की घोषणा की संभावना और आगामी त्योहारों को देखते हुए शिवराज सरकार कर्मचारियों और पेंशनरों का महंगाई भत्ता बढ़ा सकती है। गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने आज इसके संकेत दिए हैं। उन्होंने शुक्रवार को भोपाल कहा कि शिवराज सरकार दिवाली से पहले कर्मचारियों को खुशखबरी देगी। ये सरकार कर्मचारी हितैषी है। 

बता दें कि राज्य सरकार निर्वाचन आयोग से खंडवा लोकसभा, पृथ्वीपुर, रैगांव और जोबट विधानसभा उपचुनाव त्योहारों के बाद कराने का अनुरोध कर चुकी है। नंवबर-दिसंबर में इन चार सीटों पर चुनाव होने की संभावना है। सरकार अगले महीने महंगाई भत्ता बढ़ाने का निर्णय कर सकती है। कोरोना का प्रकोप कमजोर होने के साथ ही आर्थिक गतिविधियां भी अब प्रदेश में बढ़ गई हैं। राजस्व की स्थिति में भी अब तेजी से सुधार हो रहा है।

सूत्रों के मुताबिक, सरकार 7 लाख कर्मचारियों को महंगाई भत्ता और पेंशनरों को राहत भत्ता देने का आदेश अगले माह जारी कर सकती है। वित्त विभाग ने प्रस्ताव बनाकर मुख्यमंत्री कार्यालय को भेज दिया है, आखिरी फैसला मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लेंगे। अभी प्रदेश के कर्मचारियों को 12 फीसदी महंगाई भत्ता मिल रहा है, जबकि केंद्र सरकार अपने कर्मचारियों के लिए इसे बढ़ाकर 28 फीसदी कर चुकी है।

माना जा रहा है कि सरकार कर्मचारियों को 5 फीसदी महंगाई भत्ता देगी, क्योंकि केंद्र सरकार के महंगाई भत्ता बढ़ाने के बाद कुछ राज्यों ने भी कर्मचारियों के लिए इसी तरह की घोषणा की है। अब प्रदेश के कर्मचारी और पेंशनर भी डीए व राहत भत्ता बढ़ाने की मांग कर रहे हैं। अगर महंगाई भत्ता बढ़ाया जाता है तो सरकार के ऊपर करीब 350 करोड़ रुपये का वित्तीय बोझ पड़ेगा। हालांकि कर्मचारियों को वार्षिक वेतनवृद्धि का लाभ दिया जा चुका है।

बता दें कि प्रदेश के कर्मचारियों को अभी 12 महंगाई भत्ता मिल रहा है। कमलनाथ सरकार ने इसमें 5 फीसदी बढ़ोतरी का एलान किया था, लेकिन कोरोना संकट की वजह से इसके क्रियान्वयन पर रोक लगा दी गई थी। प्रदेश के कर्मचारियों को 2019 से महंगाई भत्ते की देय किस्त भी अब तक नहीं मिली है।
... और पढ़ें
शिवराज सिंह चौहान शिवराज सिंह चौहान

विवाद: मुरैना में सम्राट मिहिर भोज की मूर्ति लगाने पर बवाल, दो गुट आपस में भिड़े, बस में तोड़फोड़

मध्यप्रदेश के ग्वालियर में पिछले दिनों सम्राट मिहिर भोज की मूर्ति लगने के बाद एक नया विवाद शुरू हो गया है। मुरैना में गुरुवार को सम्राट मिहिर भोज की जाति को लेकर जमकर विरोध प्रदर्शन किया गया। करीब एक दर्जन युवाओं ने चलती बस रोककर तोड़फोड़ की और घंटों तक चक्काजाम किया। सम्राट मिहिर को अपनी-अपनी जाति और वंश का बताकर गुर्जर और क्षत्रिय आमने-सामने आ गए हैं।

मुरैना में सड़क जाम के बाद बानमोर में 12 से अधिक युवकों ने गुरुवार रात को मुरैना व ग्वालियर के बीच चलने वाली बसों में तोड़फोड़ की। हालांकि, उपद्रवियों की ओर से मचाए गए हंगामा पर किसी भी यात्री को चोट नहीं आने की सूचना है। वहीं, तनावपूर्ण माहौल को देखते हुए जिला प्रशासन ने आगामी तीन दिनों तक मुरैना में स्कूल व कोचिंग संस्थान बंद रखने के आदेश देर रात जारी कर दिए हैं। 

मिहिर भोज की पट्टिका पर नाम लिखने को लेकर विवाद
मुरैना में गुरुवार को दिन में एक समुदाय के लोगों ने सड़क जाम भी किया था, प्रदर्शनकारियों ने  मिहिर भोज की पट्टिका से नाम हटाने की मांग की। एक समुदाय का कहना है कि सम्राट मिहिर भोज की पटि्टका पर जिस वर्ग का नाम लिखा है, वह गलत है, उसे हटाया जाना चाहिए। क्षत्रिय समुदाय के लोगों को कहना है कि अगर नाम नहीं हटाया गया तो आने वाले समय में इस पर प्रदर्शन किया जाएगा। वहीं, जिला प्रशासन की ओर से लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की जा रही है। 

प्रशासन को हिंसा भड़कने की आशंका
मुरैना जिला प्रशासन को इस बात का अंदेशा है कि दोनों समुदाय इस बात को लेकर अड़े हुए हैं, ऐसे में हिंसा भड़क सकती है। हालात बिगड़ने से पहले ही प्रशासन ने एक आदेश जारी कर जिले के स्कूल व कोचिंग संस्थानों को तीन दिन के लिए बंद रखने का फैसला किया है। दूसरी तरफ शुक्रवार से शहर में चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात कर दी गई है। साथ ही लोगों से किसी तरह की अप्रिय घटना को अंजाम नहीं देने की अपील की गई है। 
... और पढ़ें

इंदौर: कपड़े की दुकानों में भीषण आग, शॉर्ट सर्किट की आशंका, काबू पाने की कोशिश जारी

बड़ी खबर इंदौर से आ रही है। सेंट्रल कोतवाली थाना क्षेत्र रिव्हर साइड रोड पर भीषण आग लग गई है। कपड़ों की कुछ दुकानों में आग लगी है। आग लगने के बाद अफरातफरी का माहौल मचा हुआ है। मौके पर फायर ब्रिगेड, पुलिस और निगम की टीम मौजूद हैं। आग पर काबू पाने की कोशिश जारी है। शॉर्ट सर्किट की वजह से आग लगने की आशंका जताई जा रही है। हालांकि, आधिकारिक रूप से इसकी पुष्टि नहीं हुई है। 

बताया जा रहा है कि शुक्रवार की रात पूरा बाजार बंद हो चुका था। सभी व्यवसायी अपने-अपने घर जा चुके थे। करीब चार बजे के आसपास लोगों ने  कपड़े की दुकानों से धुआं निकलते देखा। लोगों ने इसकी सूचना पुलिस और दमकल गाड़ियों को दी, जिसके बाद मौके पर फायर ब्रिगेड की टीम और आला अधिकारी पहुंचे। 
... और पढ़ें

आज दिन-रात बराबर: वेधशाला में लाइव देखी जा सकती है ग्रहों की चाल, जानिए कैसे होती है खगोलीय गणना

मध्यप्रदेश की धार्मिक नगरी उज्जैन काल गणना की दृष्टि से बेहद महत्वपूर्ण है। खगोलशास्त्रियों की मान्यता है कि यह उज्जैन नगरी पृथ्वी और आकाश की सापेक्षता में ठीक मध्य में स्थित है। कालगणना के शास्त्र के लिए इसकी यह स्थिति सदा उपयोगी रही है। इसलिए इसे पूर्व से ग्रीनविच के रूप में भी जाना जाता है।  यहां लगे प्राचीन यंत्रों के माध्यम से ग्रहों की चाल, सूर्य और चंद्र ग्रहण और सूर्य की चाल से समय की गणना की जाती है। इसी भौगोलिक स्थिति के कारण इसे कालगणना का केंद्र बिंदु कहा जाता है । यहां लगे प्राचीन यंत्रों के माध्यम से ग्रहों की चाल, सूर्य और चंद्र ग्रहण और सूर्य की चाल से समय की गणना की जाती है। हर साल आज ही के दिन यानी 23 सितंबर को दिन व रात बराबर होते हैं। 

दरअसल, आज से सूर्य उत्तर से दक्षिणी गोलार्ध में प्रवेश कर जाएगा और फिर दिन छोटे और रातें बड़ी होने लगेंगी। आज के दिन नवग्रहों में प्रमुख ग्रह सूर्य विषुवत रेखा पर लंबवत रहता है। इसे शरद संपात कहते हैं। उज्जैन में जीवाजी वेधशाला के अधीक्षक डॉ. राजेंद्र प्रकाश गुप्त ने बताया कि सूर्य के दक्षिणी गोलार्ध में प्रवेश के कारण अब उत्तरी गोलार्ध में दिन छोटे और रातें बड़ी होने लगेंगी। ऐसा 22 दिसंबर तक चलेगा।

उज्जैन की वेधशाला सभी में प्रमुख
जयपुर के महाराज सवाई राजा जयसिंह द्वितीय ने देश के 5 शहरों में वेधशालाओं का निर्माण कराया। उज्जैन की वेधशाला 1719 को बनाई गई। यह सभी में प्रमुख है। इन वेधशालाओं में राजा जयसिंह ने 8 साल तक ग्रह-नक्षत्रों के वेध लेकर ज्योतिष गणित के कई प्रमुख यंत्रों में संशोधन किया। यहां मूल रूप से ईंटों और पत्थर से निर्मित वेधशाला की इमारतें और यंत्र आज भी जीवंत हैं।

सूर्य की स्थिति देखने के लिए इस यंत्र का करें इस्तेमाल
शंकु यंत्र के माध्यम से हम सूर्य की स्थिति को देख सकते हैं। इसी शंकु की परछाई से सूर्य की स्थिति को देखा जाता है। शंकु की छाया से गोल सतह पर 7 रेखाएं खींची गई हैं, जो 12 राशियों में सूर्य की स्थिति को प्रदर्शित करती हैं। बीच वाली सीधी रेखा भू-मध्य रेखा या विषुवत रेखा कहलाती है। 21 मार्च और 23 सितंबर को सूर्य जब भू-मध्य रेखा पर होता है, तो शंकु (कोन) की छाया पूरे दिन इस रेखा पर दिखती होती है। इस दिन सूर्य की क्रांति शून्य डिग्री होती है। दिन और रात बराबर होते हैं, अर्थात 12 घंटे का दिन और 12 घंटे की रात होती है।
... और पढ़ें

मिसाल: 90 साल की महिला ने हाइवे पर दौड़ाई कार, सीएम शिवराज सिंह बोले- दादी मां हम सभी को दे रहीं प्रेरणा

आज दिन और रात एक समान
आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में आपकी उम्र 60 साल से ऊपर हो गई है तो आप आराम करना ज्यादा पसंद करेंगे या फिर किसी चीज के प्रति सीखने और सिखाने की ललक नहीं रह जाएगी, लेकिन अगर आपके हौसले में उड़ान भरने की ताकत हैं तो किसी भी उम्र में आप कुछ भी पा सकते हैं, उम्र आपके लिए सिर्फ एक नंबर है। किसी ने सच कहा है कि जिंदगी खुलकर जीने के लिए कोई एक्सपायरी डेट नहीं होती है।


90 साल की दादी मां जब हाइवे पर फर्राटा भरती हैं तो देखने वाले भी दांत तले उंगली दबाकर हैरान रह जाते हैं और लोगों के मुंह से एक ही शब्द निकलते हैं कि जज्बा हो तो दादी रेश्म बाई जैसा..।  रेशम बाई तंवर मध्यप्रदेश के देवास की रहने वाली हैं। 90 साल की उम्र में वह कार चलाना सीखी हैं। कार चलाने का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी सोशल मीडिया पर इस वीडियो को देखा है और इसे प्रेरणास्पद बताया है। 


परिवार में सबको गाड़ी चलाते देख कर मन में कार चलाने का आया ख्याल 
दरअसल, रेशम बाई देवास के पास बिलावली गांव में एक संयुक्त परिवार में रहती हैं। घर में सभी को कार चलाने आती है, सभी को कार चलाते देख रेशम बाई के मन में भी कार चलाने का ख्याल आया और अपने बेटे से कार सिखाने को कहा। बेटा पहले तो घबराया, लेकिन मां के जज़्बे को देख कार सिखाना शुरू कर दी। कुछ ही दिन में रेशम बाई अच्छे से कार चलाना सीख गईं। उनके कार चलाने के वीडियो पर सीएम शिवराज सिंह ने ट्वीट किया और कहा कि दादी मां ने हम सबको प्रेरणा दी है कि अपनी अभिरुचि पूरा करने में।उम्र का कोई बंधन नहीं होता। उम्र चाहे कितनी भी हो जीवन जीने का जज़्बा होना चाहिए।
 
... और पढ़ें

दिग्विजय बोले: हिंदुओं की तुलना में कम बच्चे पैदा कर रहे मुस्लिम, 2028 तक जन्म दर हो जाएगी बराबर

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने हिंदू और मुस्लिम के प्रजनन दर को लेकर गुरुवार को बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि एक अध्ययन से पता चलता है कि 1951 के बाद से मुसलमानों की प्रजनन दर में गिरावट हिंदुओं की तुलना में अधिक रही है। आज मुसलमानों में प्रजनन दर 2.7 फीसदी और हिंदुओं में 2.3 फीसदी है। उन्होंने कहा कि 2028 तक हिंदू और मुस्लिम दोनों की जन्म दर बराबर हो जाएगी।

ओवैसी और भाजपा वाले फैला रहे भ्रम
इसके अलावा उन्होंने कहा कि भाजपा के कई नेता और ओवैसी अपनी वोट की राजनीति के लिए अपने-अपने समुदाय की प्रजनन दर का मुद्दा उठाते रहते हैं। भाजपा वाले कहते हैं कि मुसलमान चार-चार बीवी कर लेते हैं और दर्जनों बच्चे पैदा कर लेते हैं। 10-20 साल बाद मुसलमान बहुसंख्यक हो जाएंगे और हिंदू अल्पसंख्यक हो जाएंगे। मैं चुनौती देता हूं कि यह सही नहीं है, जो भी मुझसे चर्चा करना चाहें कर लें। उन्होंने कहा कि भाजपा की तरह ही ओवैसी भी मुसलमानों को गुमराह करते हैं।

यहां देखें वीडियो...
जानिए जनसंख्या पर हाल का सर्वे क्या कहता है
सीनियर प्यू रिसर्चर स्टेफनी क्रेमर के सर्वे के अनुसार वर्ष 1951 से 2011 तक हिंदुओं की जनसंख्या 30 करोड़ से बढ़कर 96 करोड़ के आसपास हो गई। इसके अलावा मुस्लिम आबादी साल 1951-2011 के बीच 3.5 करोड़ से बढ़कर 17 करोड़ के आसपास पहुंच गई है। वहीं, ईसाइयों की जनसंख्या 80 लाख से बढ़कर लगभग तीन करोड़ हो चुकी है। साल 2011 की जनगणना के मुताबिक, भारत की कुल आबादी में 79.8 फीसदी हिंदू हैं जबकि मुस्लिमों की जनसंख्या 14.2 फीसदी है।  
... और पढ़ें

अंधविश्वास:  भोपाल की हलाली नदी में तीन बच्चे डूबे, दो की मौत, परिजनों ने नमक से ढक दिए बच्चों के शव!

भोपाल की हलाली नदी में तीन बच्चे डूब गए, जिनमें से दो बच्चों की मौत हो गई और एक बच्चे को बचा लिया गया। हादसा मंगलवार दोपहर को उस समय हुआ, जब तीनों बच्चे नदी किनारे खेल रहे थे।

घटनाक्रम में परिजनों का अंधविश्वास भी सामने आया है। दो बच्चों को संजीवनी अस्पताल ने जब मृत घोषित कर दिया तो परिजनों को भरोसा नहीं हुआ। वह अस्पताल के ही शव गृह में बच्चों के शव को नमक के ढेर में गाड़ कर जान फूंकने की कोशिश करते रहे।

दो घंटे तक बच्चों के शव नमक में ढके रहे
करीब दो घंटे तक बच्चों के शव नमक में ढके रहे। थोड़ी देर बाद पहुंची ईंटखेड़ी पुलिस ने परिजनों को समझाकर शवों को नमक से बाहर निकाला। इसके बाद बच्चों का हमीदिया अस्पताल में पोस्टमार्टम हुआ। मरने वाले दोनों बच्चे ईंटखेड़ी के रहने वाले हैं। इनकी पहचान पर्व परिहार (9) और शरस माली (7) के रूप में हुई है। तीसरे बच्चे युवराज माली को बचा लिया गया है।

घटना की कहानी, संजय की जुबानी
पर्व परिहार के चचेरे भाई संजय ने बताया कि दोपहर के करीब एक बजे रहे होंगे। मैं घर में था। इसी बीच मेरा छोटा भाई पर्व घर से करीब 300 मीटर दूर हलाली नदी के घाट पर गणेश विसर्जन देखने गया था। उसके साथ सरस और युवराज भी थे। मुझे किसी ने बताया कि एक लड़का नदी में डूब गया है। मैं तुरंत घर से भागा। अपने दो साथियों की मदद से युवराज नाम के लड़के को निकाल लिया। 

युवराज के परिजन उसे अस्पताल लेकर चले गए। हम लोग भी घर की तरफ जाने लगे। इसी बीच नदी के पास खड़ी छह-सात साल की बच्ची ने बताया कि तीन बच्चे डूबे हैं। हम लोगों को पहले बच्ची की बातों पर भरोसा नहीं हुआ। बाद में बच्ची ने डूबने वाली जगह बताई। हमलोगों ने रेस्क्यू शुरू किया। करीब पांच मिनट बाद मेरे चचेरे भाई पर्व का शव मिला। इसके दो मिनट बाद सरस का शव मिला। मुझे जिंदगी भर अफसोस रहेगा कि भाई को नहीं बचा सका। पर्व इस साल पहली कक्षा में गया था।

पर्व सुबह अपने पिता के साथ घाट पर घूमने गया था। घाट से उसका घर करीब 300 मीटर दूर है। दोपहर में अपने भाई संजय के साथ खाना खाने के बाद वह खेलने की बात कहकर घर से निकल गया। थोड़ी देर बाद वह मोहल्ले के रहने वाले साथियों के साथ नदी पर पहुंच गया। जहां, खेलते-खेलते नदी में गिर गए। बच्चों को लोगों ने पत्थर उछालते हुए देखा था।
 
युवराज बोला- हाथ पकड़कर खेलते समय गिरा
ईंटखेड़ी थाना प्रभारी सुनील चतुर्वेदी ने बताया कि युवराज के बयान र्दज किए गए हैं। उसने बताया है कि हम तीनों दोस्त नदी के किनारे हाथ पकड़कर खेल रहे थे। तभी पैर फिसलने से हम तीनों दोस्त नदी में गिर गए।
... और पढ़ें

पर्यटकों के लिए खुशखबरी: एक अक्तूबर से खुल जाएंगे मध्यप्रदेश के सभी छह राष्ट्रीय उद्यान, ऑनलाइन बुकिंग शुरू

मध्यप्रदेश के राष्ट्रीय उद्यान में घूमने जाने वाले पर्यटकों के लिए अच्छी खबर सामने आई है। दरअसल, मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए सभी छह राष्ट्रीय उद्यानों को एक अक्तूबर से खोलने की अनुमति दे दी है। तीन महीने तक बंद रहे प्रदेश के सभी छह टाइगर रिजर्व के कोर क्षेत्रों में एक अक्तूबर से वन्य जीव पर्यटन के लिए पुनः शुरू किए जाएंगे। इसकी ऑनलाइन बुकिंग 21 सितंबर 2021 से शुरु हो चुकी है और अबतक हजारों लोग बुकिंग भी करवा चुके है। इस संबंध में वन विभाग ने दिशानिर्देश जारी कर दिए है।

भारी बुकिंग, पर्यटकों में उत्साह
प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्य-प्राणी) आलोक कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि शाम पांच बजे तक अगले माह दशहरा उत्सव के कारण 100 फीसदी अनुज्ञा-पत्र बुक हो चुके हैं। कान्हा नेशनल पार्क के लिये 1239, बांधवगढ़ 1115, पेंच 737, सतपुड़ा 93, पन्ना 46 और संजय टाइगर रिजर्व के लिये पांच पर्यटकों द्वारा ऑनलाइन बुकिंग कराई जा चुकी है। इन सभी नेशनल पार्क में अभी तक 3235 लोगों ने अपनी बुकिंग करा ली है।
... और पढ़ें

मध्यप्रदेश: भोपाल से होकर जाने वाली 14 ट्रेनों को किया गया निरस्त, यात्रियों को होगी परेशानी

भोपाल होकर आने-जाने वाली 14 रेलगाड़ियों को निरस्त किया गया है। जिसके बाद एक सप्ताह तक यूपी, मुंबई और हैदराबाद जाने वाले रेल यात्रियों को दिक्कत होगी।

डीआरएम ऑफिस के अनुसार, उत्तर मध्य रेलवे, झांसी मंडल के झांसी-कानपुर सिंगल लाइन रेल खंड पर दोहरीकरण कार्य चौंराह-पोखरयां-मलासा स्टेशनों पर चल रहा है। करीब 19.10 किलोमीटर रेल लाइन के दोहरीकरण के लिए नॉन इंटरलॉकिंग के काम होना है।

रेल मंत्रालय ने इस कारण कुछ रेल गाड़ियों को निर्धारित समय तारीख को अपने प्रारंभिक स्टेशन से निरस्त करने का निर्णय लिया गया है। इसी के चलते अगले एक सप्ताह तक मुंबई, यूपी और हैदराबाद जाने वाले यात्रियों को परेशानी होगी।

इन ट्रेनों को किया गया रद्द-
  • 25 सितंबर को गाड़ी संख्या 02121 एलटीटी-लखनऊ एक्सप्रेस स्पेशल
  • 26 सितंबर को गाड़ी संख्या 02122 लखनऊ-एलटीटी एक्सप्रेस स्पेशल
  • 23 सितंबर को गाड़ी संख्या 05102 एलटीटी-छपरा एक्सप्रेस स्पेशल
  • 21 सितंबर को गाड़ी संख्या 05101 छपरा-एलटीटी एक्सप्रेस स्पेशल
  • 21 एवं 28 सितंबर को गाड़ी संख्या 02597 गोरखपुर-सीएसएमटी एक्सप्रेस स्पेशल
  • 22 एवं 29 सितंबर को गाड़ी संख्या 02598 सीएसएमटी-गोरखपुर एक्सप्रेस स्पेशल
  • 21 एवं 26 सितंबर को गाड़ी संख्या 01073 एलटीटी-प्रतापगढ़ एक्सप्रेस स्पेशल
  • 21, 22 और 28 सितंबर को गाड़ी संख्या 01074 प्रतापगढ़-एलटीटी एक्सप्रेस स्पेशल
  • 26 सितंबर को गाड़ी संख्या 02143 लोकमान्य तिलक टर्मिनस-सुल्तानपुर एक्सप्रेस स्पेशल
  • 21 और 28 सितंबर को सुल्तानपुर-लोकमान्य तिलक टर्मिनस एक्सप्रेस स्पेशल
  • 24 सितंबर को गाड़ी संख्या 02575 हैदराबाद-गोरखपुर एक्सप्रेस स्पेशल
  • 26 सितंबर को गाड़ी संख्या 02576 गोरखपुर-हैदराबाद एक्सप्रेस स्पेशल
  • 24 सितंबर गाड़ी संख्या 09465 अहमदाबाद-दरभंगा एक्सप्रेस स्पेशल
  • 27 सितंबर को गाड़ी संख्या 09466 दरभंगा-अहमदाबाद एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन अपने प्रारंभिक स्टेशन से निरस्त रहेगी।
... और पढ़ें

इंदौर: संघ प्रमुख मोहन भागवत दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे, कई कार्यक्रमों में लेंगे हिस्सा

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत दो दिवसीय दौरे पर मंगलवार को इंदौर पहुंचे। आरएसएस प्रमुख यहां  समाज के अलग-अलग तबकों के लोगों से मुलाकात करेंगे।

संघ के एक स्थानीय पदाधिकारी ने बताया कि कोविड-19 से बचाव के लिए जारी सरकारी दिशा-निर्देशों के मद्देनजर इस दौरे में भागवत का न तो कोई सार्वजनिक कार्यक्रम रखा गया है, न ही वह किसी बड़ी बैठक में शामिल होंगे।

उन्होंने बताया कि संघ प्रमुख इंदौर के कुछ प्रबुद्ध लोगों से भेंट करेंगे। इसके साथ ही, वह शहर के चुनिंदा शिक्षाविदों और युवा उद्यमियों से चर्चा करेंगे।

पश्चिमी मध्य प्रदेश के मालवा अंचल का प्रमुख शहर इंदौर, संघ का मजबूत गढ़ माना जाता है।
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X