लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Volkswagen Virtus: यह मेड-इन-इंडिया सेडान है सबसे सुरक्षित, लैटिन NCAP क्रैश टेस्ट में मिली 5-स्टार रेटिंग

ऑटो डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: अमर शर्मा Updated Fri, 02 Dec 2022 01:36 PM IST
Volkswagen Virtus Crash Test Latin NCAP
1 of 7
विज्ञापन
मेड इन इंडिया Volkswagen Virtus (फॉक्सवैगन वर्टस) कॉम्पैक्ट सेडान कार ने अपने नाम एक नई उपलब्धि हासिल की है। Latin NCAP (लैटिन एनसीएपी) क्रैश टेस्ट नतीजों में Volkswagen Virtus ने 5-स्टार रेटिंग हासिल की है। भारत में बनी इस कार में स्टैंडर्ड तौर पर 6 एयरबैग और इलेक्ट्रॉनिक स्टैबिलिटी कंट्रोल (ESC) जैसे सुरक्षा फीचर मिलते हैं। Volkswagen Virtus के अलावा, लैटिन एनसीएपी ने लेटेस्ट क्रैश टेस्ट में Volkswagen Polo (फॉक्सवैगन पोलो) और Toyota Corolla (टोयोटा कोरोला) की भी टेस्टिंग की। यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि टेस्ट की गई कारें लैटिन-स्पेक वर्जन का बेस वैरिएंट था और फॉक्सवैगन ने इसे अपनी इच्छा से टेस्ट किया।

 
Volkswagen Virtus
2 of 7
कितने अंक मिले
सुरक्षा क्रैश टेस्ट में Volkswagen Virtus ने एडल्ट ऑक्यूपेंट प्रोटेक्शन में 92.35 प्रतिशत अंक हासिल किया है। वहीं चाइल्ड ऑक्यूपेंट प्रोटेक्शन के लिए 91.84 प्रतिशत अंक मिला। इस सेडान ने पैदल यात्री सुरक्षा के लिए 53 प्रतिशत और सेफ्टी असिस्ट सिस्टम (सुरक्षा सहायता प्रणाली) के लिए 85 प्रतिशत स्कोर किया है।

लैटिन NCAP के मुताबिक, चालक और यात्री के सिर और गर्दन को दी जाने वाली सुरक्षा अच्छी थी। चालक की छाती ने पर्याप्त सुरक्षा दिखाई, साथ ही यात्री की छाती ने अच्छी सुरक्षा दिखाई। सामने वाले यात्री के दोनों घुटनों ने अच्छी सुरक्षा दिखाई।

देखें वीडियो

विज्ञापन
Volkswagen Virtus 2022
3 of 7
ड्राइवर टिबिया और पैसेंजर लेफ्ट टिबिया ने पर्याप्त सुरक्षा दिखाई, जबकि पैसेंजर की दाईं टिबिया ने अच्छी सुरक्षा दिखाई। वर्टस की फुटवेल एरिया को ड्राइवर और पैसेंजर साइड के बीच स्थिर और सिमेट्रिकल रेट किया गया है। फॉक्सवैगन वर्टस के बॉडी शेल को स्थिर और ज्यादा भार को झेलने में सक्षम के रूप में रेट किया गया।

साइड इम्पैक्ट टेस्ट में - सिर, पेट और कमर की सुरक्षा अच्छी थी और छाती की सुरक्षा पर्याप्त थी। साइड पोल इम्पैक्ट टेस्ट के साथ, सिर, पेट और कमर की सुरक्षा अच्छी थी, और छाती की सुरक्षा मामूली थी।

व्हिपलैश टेस्ट से पता चला कि सीट ने वयस्क के गर्दन को अच्छी सुरक्षा दिखाई है। वर्टल सेडान रियर इम्पैक्ट स्ट्रक्चर जरूरतों को भी पूरा करती है।

इसका मतलब है कि Skoda Slavia (स्कोडा स्लाविया) सेडान के लिए भी यही सुरक्षा रेटिंग मान्य होगी क्योंकि ये दोनों कारें मैकेनिकल तौर पर एक जैसी हैं। दूसरी ओर, ब्राजील में बनी फॉक्सवैगन पोलो को 3-स्टार रेटिंग मिली है, जो थोड़ी खराब मानी जा सकती है। 
Volkswagen Virtus
4 of 7
इंजन और पावर
भारत में Volkswagen Virtus दो अलग-अलग इंजन ऑप्शन के साथ उपलब्ध है। इसमें एक 1.5-लीटर TSI EVO इंजन जिसमें ACT मिलेगा और एक 1.0-लीटर TSI इंजन है। ट्रांसमिशन विकल्पों में 6-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स, 6-स्पीड ऑटोमैटिक टॉर्क कन्वर्टर और 7-स्पीड डीएसजी शामिल हैं। परफॉर्मेंस लाइन वैरिएंट 150 PS का पावर और 250 Nm का टॉर्क जेनरेट करता है। जबकि डायनेमिक लाइन वैरिएंट 115 PS का पावर और 178 Nm का टॉर्क जेनरेट करता है। 
विज्ञापन
विज्ञापन
Volkswagen Virtus
5 of 7
शानदार फीचर्स
इस सेडान कार में कई शानदार फीचर्स दिए गए हैं। स्टाइल और फीचर्स के लिहाज से कार एक प्रीमियम फील देती है। डैशबोर्ड में 20.32 सेमी डिजिटल कॉकपिट, एक बड़ा 10-इंच टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट डिस्प्ले, फ्लैट-बॉटम स्टीयरिंग व्हील मिलता है। डुअल-टोन इंटीरियर थीम के साथ इसमें रेड एक्सेंट्स दिए गए हैं, जो इसके स्पोर्टी लुक में इजाफा करते हैं। इसमें कई कनेक्टिविटी फीचर्स और केबिन के अंदर आठ-स्पीकर ऑडियो सिस्टम मिलता है। यह सेडान काफी आरामदायक है और इसमें पीछे की तरफ यात्रियों के लिए काफी जगह है। विंडो का बड़ा साइज और सेगमेंट में सबसे बड़ा 521 लीटर का बूट स्पेस लंबी यात्राओं के लिए वर्टस को पसंदीदा ऑप्शन बना सकता है। 
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें ऑटोमोबाइल समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। ऑटोमोबाइल जगत की अन्य खबरें जैसे लेटेस्ट कार न्यूज़, लेटेस्ट बाइक न्यूज़, सभी कार रिव्यू और बाइक रिव्यू आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00