अपने शानदार प्रदर्शन के लिए रोहित ने युवराज को दिया श्रेय, कहा 'उन्होंने बढ़ाया हौसला'

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला Published by: Rajeev Rai Updated Sun, 07 Jul 2019 11:03 PM IST
रोहित युवराज
1 of 5
विज्ञापन
प्रतिभा को मुश्किल समय में हौसला अफजाई की जरूरत होती है और रोहित शर्मा को यह समर्थन युवराज सिंह से मिला जिन्होंने अहम समय में रन बनाने की भारतीय उप कप्तान की क्षमता पर भरोसा जताया। एक विश्व कप में सर्वाधिक पांच शतक का रिकॉर्ड बनाने वाले रोहित मुंबई इंडियंस के आईपीएल में खिताबी अभियान के दौरान भी अच्छी फॉर्म में थे।
 
युवराज सिंह
2 of 5
आईपीएल के दौरान रोहित ने अपनी आशंकाओं को लेकर युवराज सिंह से बात की जिन्होंने भारत को दो वैश्विक खिताब दिलाने में अहम भूमिका निभाई है। शनिवार को श्रीलंका पर भारत की सात विकेट की जीत के बाद रोहित ने कहा, ‘मैं आईपीएल के दौरान बड़ी पारियां नहीं खेल पा रहा था। वह (युवराज) मेरे लिए बड़े भाई की तरह है। इसलिए हम हमेशा खेल, जीवन के बारे में बातें करते हैं। उन्होंने कहा कि जब जरूरत होगी तुम रन बनाओगे। मुझे लगता है कि वह संभवत: विश्व कप के बारे में कह रहे थे।’
विज्ञापन
रोहित शर्मा
3 of 5
रोहित का मानना है कि इससे मदद मिली कि युवराज को उनकी स्थिति 2011 विश्व कप से पहले अपनी फॉर्म की तरह दिखी। उन्होंने कहा, ‘आईपीएल के दौरान खेल को लेकर हमारी अच्छी बातचीत हुई। क्योंकि 2011 में विश्व कप से पहले वह भी इसी चरण से गुजर रहे थे और पर्याप्त रन नहीं बना पा रहे थे।’ रोहित ने कहा, ‘उन्होंने मुझे मानसिक स्थिति सही रखने को कहा। और उन्होंने भी यही किया था और यही कारण है कि उस विश्व कप में वह इतने सफल रहे थे। हमने यही बात की।’
रोहित शर्मा
4 of 5
ट्रॉफी जीतें तो शतकों के रिकॉर्ड के मायने 
एक टूर्नामेंट में पांच शतक बड़ी उपलब्धि है लेकिन रोहित ने कहा कि वह इसे बड़ी उपलब्धि तभी मानेंगे जब भारत 14 जुलाई को ट्राफी जीतेगा। यह पूछने पर कि क्या यह विश्व रिकॉर्ड उनके करिअर का अहम बिंदू रहेगा, ‘अगर हम विश्व कप जीतने में सफल रहे तो संभवत: ऐसा होगा।’ उन्होंने कहा, ‘अगर नहीं तो मैं कुछ कह नहीं सकता क्योंकि अंतत: टूर्नामेंट जीतना महत्वपूर्ण है, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपने कितने रन बनाए या आपने कितने विकेट लिए।’ 
विज्ञापन
विज्ञापन
रोहित शर्मा
5 of 5
26: रन दूर हैं रोहित दिग्गज सचिन तेंदुलकर के एक विश्व कप में सर्वाधिक 673 रन के रिकॉर्ड से उन्होंने अब तक 647 रन बनाए हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं यहां रिकार्ड बनाने के लिए नहीं आया हूं। मैं यहां खेलने और रन बनाने तथा कप उठाने के लिए आया हूं। मैं यहां इसीलिए आया हूं। ईमानदारी से कहूं तो मैं इन चीजों के बारे में नहीं सोच रहा।’’
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें क्रिकेट समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। क्रिकेट जगत की अन्य खबरें जैसे क्रिकेट मैच लाइव स्कोरकार्ड, टीम और प्लेयर्स की आईसीसी रैंकिंग आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00