लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

CBSE 10th result 2019: बाबा रामदेव के आचार्यकुलम के मेधावियों ने बढ़ाया मान, लाए 99.04% अंक

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हरिद्वार Published by: Nirmala Suyal Nirmala Suyal Updated Tue, 07 May 2019 11:41 AM IST
दिव्यांशु मोहन आर्य के साथ बाबा रामदेव
1 of 5
विज्ञापन
सीबीएसई बोर्ड की हाईस्कूल की परीक्षा में आचार्यकुलम के मेधावी प्रतिभाओं ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करते हुए राष्ट्रीय फलक पर पहचान बिखेरी है। आचार्यकुलम के संरक्षक स्वामी रामदेव ने कक्षा दस में बेहतर प्रदर्शन करने वाले सभी बच्चों को आशीर्वाद दिया। उन्होंने कहा कि इस तरह का माहौल बनाया जा रहा है कि आने वाले दिनों में देश के टॉपर आचार्यकुलम से ही निकले।
 
अमर उजाला
2 of 5
परिणाम घोषित होते ही आचार्यकुलम के बच्चों ने स्कूल परिसर में एकत्र होकर खुशियां मनाई। बच्चों को आशीर्वाद देने के लिए सभी शिक्षक भी परिसर में एकत्रित हुए और योग गुरु स्वामी रामदेव भी बच्चों के बीच पहुंचे। आचार्यकुलम का कक्षा दस का यह दूसरा बैच था। इसमें राय बरेली यूपी के रहने वाले दिव्यांशु मोहन आर्य 99.4 प्रतिशत अंक लेकर टॉपर रहे। इसके अलावा वंशिका कुंडु 97.2 प्रतिशत अंक पाकर दूसरे स्थान पर रही।
 
विज्ञापन
दिव्यांशु मोहन आर्य
3 of 5
चंदन कुमार, अनमोल, सुहिका जाखड़ और प्रज्ञा ने संयुक्त रूप से 96.4 प्रतिशत अंक पाए। प्रियांशी सिंह और अवनि 96.2, विलक्षण ने 96, ध्रुव यादव ने 95.4, भेसज ने 95.2, श्रवण कुमार, अंशुमन और प्रियंका चवन ने संयुक्त रूप से 95 प्रतिशत प्राप्त किए। सुभाष नामदेव ने 94.6, सान्या राय ने 94, खुशी ने 93.6, आदर्श राज ने 92.6, मंदीप ने 92.4, गोविंद पाटीदार और सिद्धार्थ पात्रा ने भी 91.4 प्रतिशत अंक प्राप्त किए। इसी तरह विशाल 91, साक्षी, समीर ने 90.8, हर्ष, संजय और जतिन ने 90.4, मेधावत राठी ने 90.2, सिद्धार्थ शाह और अरुण भंडारी 89.8 अंक प्राप्त कर परिणाम में चमके।
 
CBSE 10th result 2019 baba ramdev acharyakulam students shine
4 of 5
सभी बच्चों को आशीर्वाद देते हुए योग गुरु स्वामी रामदेव ने कहा कि आचार्यकुलम केवल विद्या ही प्रदान नहीं कर रहा है, बल्कि यह देश का नेतृत्व करने वाली भावी पीढ़ी को तैयार कर रहा है। यहां योग, वेद और संस्कार युक्त शिक्षा प्रदान की जा रही है। वर्ष 2040-50 तक आचार्यकुलम विश्व नागरिक तथा देश को सभी क्षेत्रों में सशक्त नेतृत्व देने वाली पीढ़ी तैयार करेगा। उन्होंने कहा कि भारतीय शिक्षा बोर्ड के माध्यम से देश में सीबीएसई से भी बेहतर शैक्षिक माहौल प्रदान करने की दिशा में भी काम किया जा रहा है। इस दौरान आचार्यकुलम के निदेशक एलआर सैनी, प्रधानाचार्य वंदना मेहता और सुश्री ऋतंभरा समेत सभी शिक्षक भी मौजूद रहे। 
 
विज्ञापन
विज्ञापन
फाइल फोटो
5 of 5
आचार्यकुलम टॉप करने वाले दिव्यांशु मोहन आर्य का कहना है कि वह एक अच्छा नागरिक बनकर स्वामी रामदेव और आचार्य बालकृष्ण के मार्गदर्शन में देश की सेवा करना चाहते हैं। फिलहाल उनका लक्ष्य चिकित्सक बनकर इस सेवा कार्य को आगे बढ़ाना है। उन्होंने बताया कि उनके माता पिता पहले से ही पतंजलि परिवार से जुड़े हुए हैं। उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय परिजनों और शिक्षकों के साथ ही सहकर्मियों को भी दिया।
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00