लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

मुनीर के मकान में फटा सिलिंडर: मलबे से आ रही थी बचाओ-बचाओ की आवाज, कुछ देर में शांत हो गई चारों लोगों की चीख

रिची कुमार, अमर उजाला, गाजियाबाद Published by: Vikas Kumar Updated Thu, 06 Oct 2022 02:38 AM IST
हादसे के बाद रोते हुए परिजन
1 of 5
विज्ञापन
निठोरा गांव की बबलू गार्डन कॉलोनी में सिलिंडर फटने के बाद दो मंजिला मकान गिरने से मलबे में दबे लोग बचाओ-बचाओ की आवाज लगा रहे थे। स्थानीय लोगों ने बताया कि धमाके की आवाज सुनकर वह लोग घटनास्थल पर पहुंचे तो महिलाओं की आवाज आ रही थी। मलबा हटाने के दौरान आवाज आनी बंद हो गई। लोगों ने जब मलबे में दबे लोगों को बाहर निकाला तो वह बेसुध पड़े थे। अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने चारों को मृत घोषित कर दिया। 
जेसीबी से हटाया गया मलबा
2 of 5
कॉलोनी निवासी अमानत उल्लाह और मुनशैद ने बताया कि धमाके बाद मकान का एक हिस्सा ऊपर झूल रहा था। लोगों ने जान की परवाह नहीं करते हुए बचाव कार्य में जुट गए। पुलिस भी आई तो लोगों ने उनके साथ मिलकर मलबा हटाने लगे। जब मलबे से सभी लोगों को बाहर निकाल लिया गया, इसके बाद जेसीबी की सहायता से मकान के झूल रहे हिस्से को तोड़ा गया। घटना के बाद मुनीर के ससुराल के सदस्य पहुंचे। यहां पहुंचकर उनका रो रोकर बुरा हाल हो गया। इस दौरान मुनीर के रिश्तेदार मजरूद्दीन और नूरजहां बेहोश हो गई। लोग उनके मुंह पर पानी की छींटे डालकर होश में लाए। 
विज्ञापन
मोटरसाइकिल निकालते लोग
3 of 5
500 मीटर तक आई धमाके की आवाज, हिले पास के मकान 
मुनीर के मकान में जब विस्फोट हुआ तो धमाके की आवाज करीब 500 मीटर तक सुनाई दी। घटनास्थल के करीब 200 मीटर दूर तक धूल का गुबार फैल गया। साथ ही आसपास के मकान हिल गए। लोगों को एक पल लगा जैसे भूकंप आया हो। कुछ देर बाद पता चला कि मकान गिर गया है। इसके बाद लोगों ने पुलिस को सूचना दी और मलबे मे दबे लोगों को बाहर निकालने में जुट गए।

करीब 30 मिनट बाद पुलिस मौके पर पहुंची। तब तक लोग छह लोगों को मलबे से निकाल चुके थे। कुछ और लोगों के अंदर होने की सूचना होने पर पुलिस भी मलबा हटाने में जुट गई। घटना की जानकारी पर एसडीएम संतोष कुमार राय, एसपी देहात डॉ. ईरज राजा, सीओ रजनीश कुमार उपाध्याय, तहसीलदार टीम के साथ मौके पर पहुंचे। इस दौरान आसपास के लोगों की भीड़ भी वहां जुट गई। भीड़ की वजह से पुलिस प्रशासन को वहां काम करने में बाधा हो रही थी। ऐसे में पुलिस ने डंडा फटाकर लोगों को वहां से हटाया। 
धमाके से आस पास के मकान भी हिले
4 of 5
जीडीए की लापरवाही से फिर हुआ हादसा
मुनीर का मकान बिना जीडीए से नक्शा पास हुए बना था। साथ ही क्षेत्र में ज्यादातर कॉलोनियों में लोग बिना नक्शा पास किए ही मकान बनवाए हुए हैं। अगर मकान का नक्शा पास होता, तो यह हादसा नहीं होता। 
विज्ञापन
विज्ञापन
सामान निकालते लोग
5 of 5
विधायक ने दिया हरसंभव मदद का भरोसा 
मौके पर पहुंचे लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने घटना पर दुख जताया है। उन्होंने मौके पर मौजूद डीएम से परिवार की हरसंभव आर्थिक मदद और घायलों का उचित उपचार किए जाने की बात कही। साथ ही उन्होंने बताया कि परिवार की मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष से भी मदद कराई जाएगी। इसके बाद बीएसपी के जिलाध्यक्ष एडवोकेट वीरेंद्र जाटव अपनी टीम के साथ पहुंचे। सीपीएम का प्रतिनिधि मंडल जिला प्रभारी जावेद कुरैशी के नेतृत्व में पहुंचा और अधिकारियों से मदद की मांग की है। 

पटाखे के खोखे और रैपर मिले, जांच शुरू
रेस्क्यू टीम को मौके से कुछ पटाखे, अनार के खोखे और कागज के रैपर मिले हैं। बारूद की आंशका होने के चलते मौके पर डॉग स्क्वाड और फोरेंसिक टीम ने मौके पर पहुंचकर जांच की। एसपी देहात डॉ. ईरज राजा ने बताया कि बारूद नहीं मिला है। फिर भी टीम इस एंगल पर भी जांच कर रही है।
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00