लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Ayushmann Khurrana: 'नॉर्थ में चप्पल खाना परवरिश का हिस्सा', बचपन में हुई पिटाई पर बोले आयुष्मान खुराना

एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला Published by: प्रियंका नेगी Updated Sun, 04 Dec 2022 04:08 PM IST
आयुष्मान खुराना
1 of 4
विज्ञापन
बॉलीवुड अभिनेता आयुष्मान खुराना की फिल्म 'एन एक्शन हीरो' सिनेमाघरों में रिलीज हो चुकी है। फिल्म समीक्षकों के अनुसार फिल्म बॉक्स ऑफिस पर ठीक ठाक प्रदर्शन कर रही है। तो वही फिल्म के प्रमोशन के दौरान आयुष्मान ने मीडिया से बातचीत कर अपनी पर्सनल लाइफ से जुड़े कुछ बातों को शेयर किया। अभिनेता बताते है, पिता ज्योतिषी पी खुराना से बचपन में उनकी खूब पिटाई हुई है, और कहते है की नार्थ इंडिया में 'बिना चप्पल और थप्पड़' के बच्चों की परवरिश नहीं होती है। और साथ ही बॉम्बे में अपने संघर्ष के दिनों के बारे में खुलकर बात की...
आयुष्मान खुराना
2 of 4
आयुष्मान ने हाल ही में एक इन्टरव्यू दिया, जिसमें उनसे कई तरह के सवाल पूछे गए। एक सवाल के जवाब में वह अपने बचपन के दिनों का किस्सा बताते हुए कहते हैं कि उनके पिता काफी सख्त रवैये के थे और बचपन में बहुत बुरी तरह पिटाई करते थे। बातचीत के दौरान वह मजाक में कहते है,' नार्थ में जिसने मां-बाप से थप्पड़ न खाया हो, चप्पल न खाई उसके बिना परवरिश हो ही नहीं सकती है'। और आमतौर पर माता-पिता अपने बच्चों की पिटाई सिर्फ इसलिए करते है क्योंकि वह इसे परवरिश का हिस्सा मानते हैं।

यह भी पढ़ें: सिने कामगारों को अब मिलेगा सपनों का आशियाना, दादा साहब फाल्के ने यहीं शुरू की पहली आउटडोर शूटिंग
विज्ञापन
आयुष्मान खुराना
3 of 4
आयुष्मान बातचीत को जारी रखते हुए कहते है कि जब उनके पिता मुंबई आए थे तो उन्होंने किसी से कहा था कि उनका बेटा एक दिन बहुत बड़ा स्टार बनेगा। हलांकि, उस वक्त अभिनेता को इस बात की बिल्कुल भी जानकारी नहीं थी। लेकिन जब उन्हें इस बात का पता चला तो उनके मन में डर बैठ गया कि अगर वह सफल व्यक्ति न नहीं बन पाए तो क्या होगा।   

यह भी पढ़ें: शादी से पहले पोलो मैच देखने पहुंचीं हंसिका मोटवानी, शाही अंदाज में मारी एंट्री
आयुष्मान खुराना
4 of 4
इंटरव्यू के दौरान उनसे सवाल पूछा गया की उन्हें इंडस्ट्री में कैसे काम मिला और चंडीगढ़ से बॉम्बे आने पर उनके दिमाग में क्या था? इस पर आयुष्मान ने कहा, 'मेरा भी शाहरुख खान वाला पल हुआ था कि जब मैं आया था मुंबई नया नया, मैंने सोचा था जब तक मुझे कोई काम नहीं मिलेगा तब तक मैं समंदर की तरफ नहीं देखूंगा, मैं बीच पर नहीं जाऊंगा। 3-4 दिन में मुझे एक रेडियो स्टेशन से कॉल आ गया।' बता दें कि आयुष्मान 'रोडीज' 2004 सीजन 2 के विजेता रह चुके है। इस शो को जीतने के बाद उन्हें खूब प्रसिद्धि मिली इतना ही नहीं उन्होंने इसके बाद बतौर रेडियो जॉकी और एंकरिंग करना शुरू किया था। बता दें की पिछले शुक्रवार २ दिसंबर को आयुष्मान की फिल्म 'एन एक्शन हीरो' रिलीज हो चुकी है।

यह भी पढ़ें:  दिलजीत दोसांझ ने सरकार को ठहराया सिद्दू मूसेवाला की हत्या का जिम्मेदार, कहा- यह राजनीति है
विज्ञापन
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें मनोरंजन समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। मनोरंजन जगत की अन्य खबरें जैसे बॉलीवुड न्यूज़, लाइव टीवी न्यूज़, लेटेस्ट हॉलीवुड न्यूज़ और मूवी रिव्यु आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00