लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

RSS Web Series: आरएसएस पर वेब सीरीज लिख रहे राजामौली के पिता, बोले- मुझे लगता था इस संगठन ने गांधी को मार डाला

एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला Published by: वर्तिका तोलानी Updated Sat, 20 Aug 2022 10:22 AM IST
विजयेंद्र प्रसाद, महात्मा गांधी और आरएसएस
1 of 4
विज्ञापन
यदि आरएसएस नहीं होता...तो कश्मीर न होता....पाकिस्तान में विलय हो जाता...और फिर लाखों हिंदू मारे जाते....यह बात बाहुबली और आरआरआर जैसी ब्लॉकबस्टर फिल्मों के लेखक और एस एस राजामौली के पिता विजयेंद्र प्रसाद ने कही। दरअसल, हाल ही में विजयेंद्र प्रसाद, विजयवाड़ा में आयोजित आरएसएस के राष्ट्रीय कार्यकारी सदस्य राम माधव की पुस्तक विमोचन कार्यक्रम में शामिल हुए थे। कार्यक्रम के दौरान विजयेंद्र प्रसाद ने आरएसएस पर फिल्म और वेब सीरीज लिखने की घोषणा की। 
वी. विजयेंद्र प्रसाद
2 of 4
मुझे लगता था आरएसएस ने गांधी को मार डाला
उन्होंने कहा, "मैं आप सभी के सामने कुछ कबूल करना चाहता हूं। तीन-चार साल पहले तक मैं आरएसएस के बारे में ज्यादा नहीं जानता था। मुझे लगता था कि आरएसएस ने गांधी को मार डाला। लेकिन जब मुझ आरएसएस पर फिल्म लिखने को कहा गया तब मैं नागपुर गया और मोहन भागवत से मिला। मैं वहां एक दिन रुका और पहली बार समझा कि आरएसएस क्या है। मुझे बहुत पछतावा हुआ कि मैं इतने लंबे समय तक इतने बड़े संगठन के बारे में नहीं जानता था।" उन्होंने आगे कहा, "अगर आरएसएस नहीं होता, तो कश्मीर नहीं होता, यह पाकिस्तान में विलय हो जाता। और पाकिस्तान की वजह से लाखों हिंदू मारे जाते।"
विज्ञापन
वी. विजयेंद्र प्रसाद
3 of 4
मैं वादा करता हूं..
विजयेंद्र प्रसाद ने आगे कहा, "मैं आप सभी को एक अच्छी खबर देना चाहता हूं, मैं जल्द ही काम शुरू करने जा रहा हूं। मैं आरएसएस पर एक फिल्म और एक वेब सीरीज बना रहा हूं”। उन्होंने कहा, "आरएसएस ने एक गलती की है, जो जनता को अपने बारे में नहीं बताना है। इस कमी को जितना हो सकेगा मैं पूरा करूंगा। मैं वादा करता हूं कि मैं यह सुनिश्चित करूंगा कि हम सभी आरएसएस की महानता पर गर्व कर सकें।”
कंगना रणौत
4 of 4
कंगना ने पोस्ट शेयर कर लिखा
बता दें कि कंगना रणौत ने विजयेंद्र के कश्मीर पर कहे गए कथन को अपनी इंस्टाग्राम स्टोरीज पर शेयर किया है। अभिनेत्री ने सोशल मीडिया पर विजयेंद्र प्रसाद के कोट को अंग्रेजी में ट्रांसलेट करते हुए लिखा, अगर आरएसएस नहीं होता, तो कश्मीर नहीं होता, यह पाकिस्तान में विलय हो जाता। मुझे बहुत पछतावा हुआ कि मैं इतने लंबे समय तक इतने बड़े संगठन के बारे में नहीं जानता था। आरएसएस ने एक गलती की है, जो जनता को अपने बारे में नहीं बताना है। इस कमी को जितना हो सकेगा मैं पूरा करूंगा।"
विज्ञापन
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें मनोरंजन समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। मनोरंजन जगत की अन्य खबरें जैसे बॉलीवुड न्यूज़, लाइव टीवी न्यूज़, लेटेस्ट हॉलीवुड न्यूज़ और मूवी रिव्यु आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00