लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Lalit Modi: सुष्मिता सेन संग अफेयर कर चर्चा में आ गए थे ललित मोदी, जानिए आईपीएल के जनक के बारे में सबकुछ

एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला Published by: पलक शुक्ला Updated Tue, 29 Nov 2022 07:31 AM IST
सुष्मिता सेन, ललित मोदी
1 of 4
विज्ञापन
देश के भगोड़े ललित मोदी को सभी लोग आईपीएल के जनक के रूप में भी पहचानते हैं। ललित मोदी ने इस साल बॉलीवुड अभिनेत्री सुष्मिता सेन के संग अपने रिश्ते का खुलासा कर खूब सुर्खियां बटोरी थीं। अचानक किए गए एलान से सभी लोग काफी हैरान थे। दोनों के अफेयर की खबरों से पूरे देश में हलचल मच गई थी। जहां लोग अभिनेत्री और आईपीएल फाउंडर को जमकर ट्रोल कर रहे थे, वहीं ललित मोदी अपने रिश्ते को लेकर बयान बाजी करने से जरा भी चूक नहीं रहे थे। ललित मोदी ने तो सुष्मिता को अपनी अर्धांगिनी तक बता दिया था। हालांकि, इतने बवाल के बाद एक दिन अचानक ललित मोदी ने सुष्मिता से जुड़ा सबकुछ अपने सोशल मीडिया से हटा कर बिना कुछ कहे ब्रेकअप का एलान कर दिया था। इतना सब कर इस साल हल्ला मचाने वाले ललित मोदी आज 29 नवंबर को अपना 59वां जन्मदिन मना रहे हैं। इस मौके पर हम आपको उनके जीवन से जुड़े कुछ किस्से बताने जा रहे हैं। 
ललित मोदी
2 of 4
ललित मोदी का जन्म 29 नवंबर 1963 को दिल्ली के बिजनेसमैन कृष्ण कुमार मोदी के घर हुआ था। ललित मोदी ने शिमला के बिशप कॉटन स्कूल और नैनीताल के बोर्डिंग स्कूलों में शुरुआती पढ़ाई की। ललित मोदी कभी भी पढ़ाई में अच्छे नहीं थे और वह उससे बचने के लिए स्कूल से भाग तक जाया करते थे। स्कूल पूरा करने के बाद ललित मोदी ग्रेजुएशन कंप्लीट करने के लिए अमेरिका चले गए थे। इतने अच्छे खानदान में जन्म लेने के बाद भी ललित मोदी का नाम समय-समय पर विवादों से जुड़ता रहा है। साल 1985 में ललित मोदी ने अपने जीवन की सबसे पहली गलती की थी। दरअसल, उन्हें यूनिवर्सिटी में ड्रग्स बेचने के आरोप में गिरफ्तार किया गया। इसके बाद तो जैसे झड़ी सी लग गई थी। घातक हथियार रखने के आरोप में, छात्रों का अपहरण करने के आरोप में अक्सर गिरफ्तार होते रहे। 

Bhojpuri: जिस गाने से पवन सिंह को मिली शोहरत गुमनाम हैं उसके गीतकार, दर्द बयां करते हुए कहा- वह याद नहीं करते
विज्ञापन
ललित मोदी
3 of 4
इन सब परिस्थितियों में अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद ललित मोदी जब अमेरिका से भारत लौटे तो उन्होंने पिता केके मोदी का कारोबार संभाला। लेकिन इसमें उनका मन नहीं लगा और उन्होंने अपने आप को अलग से स्थापित करने का मन बनाया। ललित मोदी साल 1992 तक भारत की सबसे बड़ी तंबाकू कंपनियों में से एक गॉडफ्रे फिलिप्स इंडिया के कार्यकारी निदेशक रहे। इसके बाद साल 1999 में ललित मोदी हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन का हिस्सा बने और उन्होंने वहां इस तरह से काम किया कि उनका कद बीसीसीआई में खुद ही ऊंचा होता चला गया। इसके बाद साल 2008 में ललित मोदी ने देश में आईपीएल की शुरुआत कर दी थी, जो आज देश के त्योहार के नाम से भी जाना जाता है। लेकिन, आईपीएल की वजह से उन पर मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप लगा, जिसकी वजह से ललित मोदी साल 2010 में देश छोड़कर भाग गए थे। भारत सरकार उन्हें भगोड़ा घोषित कर चुकी है और वह लंदन में रहते हैं।  

Bhediya Box Office Collection: मंडे टेस्ट में फेल हुई 'भेड़िया', चौथे दिन महज इतना कलेक्शन कर सकी फिल्म
मीनल और बच्चों के साथ ललित मोदी
4 of 4
ललित मोदी की पर्सनल लाइफ की बात करें तो सुष्मिता सेन से इश्क फरमाने से पहले ललित मोदी का दिल अपनी मां की दोस्त मीनल के लिए धड़का था। मीनल से ललित मोदी की मुलाकात अमेरिका में पढ़ाई करने के दौरान हुई थी। नौ साल बड़ी मीनल के तलाकशुदा होने के बावजूद भी ललित मोदी उनसे पागलों की तरह प्यार करते थे और 17 अक्तूबर, 1991 में उन्होंने मीनल से शादी कर ली थी। दोनों के दो बच्चे भी हैं, लेकिन मीनल का कैंसर के कारण दिसंबर 2018 में निधन हो गया था। उसके बाद अब ललित मोदी का नाम सुष्मिता से जुड़ा था, जिनके साथ उनका रिश्ता अब खत्म भी हो चुका है।

Drishyam 2 Box Office Day 11: 'दृश्यम 2' ने पास की दूसरे सोमवार की परीक्षा, 11वें दिन कमाए इतने करोड़ रुपये
विज्ञापन
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें मनोरंजन समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। मनोरंजन जगत की अन्य खबरें जैसे बॉलीवुड न्यूज़, लाइव टीवी न्यूज़, लेटेस्ट हॉलीवुड न्यूज़ और मूवी रिव्यु आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00