दो महीने चंद्रो- प्रकाशी के साथ रही थीं तापसी- भूमि, ऐसे की थी 'सांड की आंख' की तैयारी

एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला Published by: Avinash Pal Updated Wed, 23 Oct 2019 07:24 PM IST
तापसी- भूमि और चंद्रो-प्रकाशी
1 of 6
विज्ञापन
कहते हैं सपने देखने की कोई उम्र नहीं होती, इस कहावत को सच कर दिखाया उत्तरप्रदेश में बागपत के जोहरी गांव में रहने वाली तोमर परिवार की बहू चन्द्रो और प्रकाशी तोमर ने। इन्होंने हमेशा ही अपने घर का काम किया, अपने पतियो की सेवा की, खेत जोता और ज्यादा कुछ खास कर नहीं पाईं। लेकिन अपनी पोती का डर दूर करने गयी चंद्रो दादी ने जब पिस्तौल उठाई तब उनकी जिंदगी बदल गई। अब उनकी जिंदगी पर फिल्म भी बन गई है।
Saand Ki Aankh
2 of 6
25 अक्तूबर को रिलीज होने वाली फिल्म 'सांड की आँख' में चंद्रो तोमर का किरदार निभा रही हैं भूमि पेडनेकर और प्रकाशी तोमर का किरदार निभा रही हैं तापसी पन्नू। बीबीसी से खास बातचीत की बागपत की 'शूटर दादी' चंद्रो और प्रकाशी तोमर ने। जिंदगी के बारे में बात करते हुए उन्होंने बताया कि चंद्रो तोमर की पोती शूटिंग रेंज के माहौल से घबरा गई और रोने लगी थीं तब अपनी पोती को रोते देख उसका डर दूर करने के लिए चंद्रो तोमर ने पिस्तौल उठाई और कहा 'देख बेटी डरने की जरूरत नहीं है, मैं चलाके दिखाती हूं और तब मेरा पहला ही निशाना टारगेट पर लगा, सबने कहा दादी तूने तो कमाल कर दिया।' शायद इसी वाक्य ने उनकी जिंदगी बदल दी।
विज्ञापन
विज्ञापन
'सांड की आंख' की टीम
3 of 6
प्रकाशी तोमर से जब पूछा गया कि कैसे उन्होंने अपने घर गृहस्थी को साइड रख कर पिस्तौल हाथ में उठा लिया, तब उनका जवाब था, ''हमने तो अपने बच्चों का एडमिशन कराना था, हम तो बस उनके साथ जाया करते थे। 1 -2 दिन हो गए थे बैठ कर देखते थे, कैसे पिस्तौल भरते हैं, कैसे शूट करते हैं। फिर अचानक मुझे भी शौक चढा सोचा एक बार मैं भी चला के देखूं, मेरा पहला ही छर्रा टारगेट पर लग गया तो सबने कहा दादी तू रोज प्रैक्टिस किया कर, तू बडी अच्छी है इसमें।'
saand ki aankh
4 of 6
फिल्म में तापसी पन्नू और भूमि पेडनेकर ने अपनी उम्र से बडी महिलाओं का किरदार निभाया है। फिल्म का निर्देशन तुषार हिरानंदानी ने किया है। प्रकाशी तोमर से जब पूछा गया कि उनकी इतनी अच्छी सेहत का राज क्या है? इसपे वो कहती हैं, ''हम घर का खाना खाते हैं जैसे दाल चावल। बस खाने के बाद मीठा चाहिए होता है, जब घर होते हैं तो गुड शक्कर और जब बाहर होटल में होते हैं तो गुलाब जामुन और दूध, दूध के बिना हमसे रहा नहीं जाता।'
विज्ञापन
विज्ञापन
फिल्म सांड की आंख का टीजर रिलीज हुआ
5 of 6
सांड की आँख फिल्म के ट्रेलर में दिखाया गया है कि दोनों शूटर दादियों ने अपना पहनावा नहीं छोडा। इस पर चंद्रो तोमर कहती हैं, ''हमें अपनी बोली पर, अपनी पहनावे पर गर्व है, हमने अपना पहनावा कभी नहीं छोडा, हमने किसी की परवाह नहीं की। बस काम करने की लगन होनी चाहिए, हिम्मत करे इंसान तो सहायता करे भगवान।' शूटर दादियों ने तापसी और भूमि को अपनी चाल ढाल कैसे सिखाई, इस सवाल के जवाब में चंद्रो तोमर कहती हैं, ''हाँ मैं और प्रकाशी को वो बात करते दिखाया करती थीं, हमने उनको हमारी बोली बोलना सिखाया, तापसी पन्नू और भूमि पेडनेकर ने हमारे किरदारों को खूब अच्छे से निभाया है।'
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें मनोरंजन समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। मनोरंजन जगत की अन्य खबरें जैसे बॉलीवुड न्यूज़, लाइव टीवी न्यूज़, लेटेस्ट हॉलीवुड न्यूज़ और मूवी रिव्यु आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें
सबसे तेज और बेहतर अनुभव के लिए चुनें अमर उजाला एप
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00