लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

The Kashmir Files Row: नादव लापिड के समर्थन में आए अन्य तीन जूरी सदस्य! बयान जारी कर कहा हम उनके साथ हैं

एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला Published by: पलक शुक्ला Updated Sun, 04 Dec 2022 05:52 AM IST
कश्मीर फाइल्स फिल्म पर नादव लैपिड का विवादित बयान।
1 of 4
विज्ञापन

इस साल की सफलतम फिल्म में से 'द कश्मीर फाइल्स' इन दिनों फिर से चर्चाओं में बनी हुई हैं। विवेक अग्निहोत्री के निर्देशन में बनी 'द कश्मीर फाइल्स' को लेकर इस्राइली फिल्मकार नादव लापिड की टिप्पणी के बाद बहस छिड़ी हुई है। देश से लेकर विदेश तक सभी ने नादव लापिड का जमकर विरोध किया है, खुद इस्राइली राजदूत अपने देश के फिल्मकार की टिप्पणी को शर्मनाक बता चुके हैं। इतना ही नहीं लापिड के देश के राजदूत ही सार्वजनिक तौर पर उनकी आलोचना भी कर चुके हैं। जहां इस विरोध के बीच सुदिप्तो सेन ने नादव लापिड के बयान को व्यक्तिगत बताया था, वहीं अब दावा किया जा रहा है कि लापिड के समर्थन में तीन और आईएफएफआई जूरी मेंबर भी सामने आए थे।

Nadav Lapid
2 of 4
इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया (IFFI) जूरी के दो विदेशी सदस्यों ने जूरी के अध्यक्ष और इस्राइली फिल्मकार नादव लापिड का समर्थन किया है। गोवा में हुए इस साल समारोह के आखिरी दिन अपने कमेंट में, लापिड ने निर्देशक विवेक अग्निहोत्री की फिल्म को 'को भद्दी और प्रोपेगेंडा फैलाने वाली फिल्म करार दिया था। इसके बाद अब जूरी के दो और सदस्य लापिड के पक्ष में बोलते दिखाई दिए हैं। एक साक्षात्कार में, संपादक पास्कल चावांस ने कहा, 'यह स्पष्ट है कि यह एक प्रोपेगेंडा फिल्म है। मुसलमानों को बिना किसी भेदभाव के मॉन्स्टर्स के रूप में पेश किया गया है।' इसके साथ ही पत्रकार जेवियर अंगुलो बारटुरेन ने कहा, 'नादव लापिड ने अपने स्टेटमेंट में जो कहा, उससे मैं पूरी तरह सहमत हूं, क्योंकि यह जूरी में मौजूद सभी मेंबर्स की राय थी।'
Hansika Motwani Pre Wedding: शादी से पहले होने वाले पति संग जमकर थिरकीं हंसिका मोटवानी, वीडियो वायरल
विज्ञापन
Nadav Lapid
3 of 4
इन दोनों और लापिड के अलावा जूरी मेंबर्स में बाफ्टा विजेता निर्माता जिन्को गोटोह और फिल्म निर्माता सुदीप्तो सेन शामिल थे। शनिवार को तीन विदेशी जूरी मेंबर्स ने भी कहा कि वह लैपिड के बयान के समर्थन में हैं। सेन अकेले जूरी सदस्य हैं, जिन्होंने पहले कहा था कि यह लापिड की अपनी राय है। अपना संयुक्त बयान जारी करते हुए तीनों विदेशी जूरी मेंबर्स ने कहा, 'फेस्टिवल की क्लोजिंग सेरेमनी पर जूरी के अध्यक्ष नादव लापिड ने हम सभी की ओर से एक बयान दिया: हम सभी 15वीं फिल्म द कश्मीर फाइल्स से परेशान और हैरान थे। यह  हमें एक भद्दी प्रोपेगेंडा फिल्म की तरह लगी। ऐसे प्रतिष्ठित फिल्म समारोह के एक कलात्मक प्रतिस्पर्धी खंड के लिए यह सही नहीं थी। हम उनके बयान का समर्थन करते हैं।'
Nadav Lapid
4 of 4
वह आगे लिखते हैं, “इस मंच पर आपके साथ इन भावनाओं को खुले तौर पर साझा करने में मुझे पूरी तरह से सहज महसूस हो रहा है। लापिड ने गोवा में आईएफएफआई के समापन समारोह में कहा था कि इस उत्सव की भावना में, निश्चित रूप से एक महत्वपूर्ण चर्चा को भी स्वीकार किया जा सकता है, जो कला और जीवन के लिए आवश्यक है।' तीनों की तरफ से यह स्टेटमेंट गोटोह के ट्विटर अकाउंट से साझा किया गया है। हालांकि, यह अकाउंट वेरिफाइड नहीं है। अब देखना यह होगा कि यह स्टेटमेंट इस मुद्दे को क्या मोड़ देता है।
Moving In With Malaika: मलाइका ने जारी किया शो का नया टीजर, अरबाज से जुड़े फैसलों को याद कर हुईं भावुक
विज्ञापन
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें मनोरंजन समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। मनोरंजन जगत की अन्य खबरें जैसे बॉलीवुड न्यूज़, लाइव टीवी न्यूज़, लेटेस्ट हॉलीवुड न्यूज़ और मूवी रिव्यु आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं