लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Gangster: राजू ठेहट की हत्या, लेकिन लादेन-मांजू सहित इन गैंगस्टरों का खौफ आज भी, इशारे पर गुर्गे करते हैं कांड

उदित दीक्षित
Updated Sat, 03 Dec 2022 11:01 PM IST
विक्रम गुर्जर उर्फ विक्रम लादेन और श्रीराम उर्फ राजू मांजू
1 of 6
विज्ञापन
राजस्थान सीकर जिले में गैंगस्टर राजू ठेहट की गोली मारकर हत्या कर दी गई। राजू ठेहट की आनंदपाल और बिश्नोई गैंग से पुरानी दुश्मनी थी। लॉरेंस बिश्नोई गैंग के रोहित गोदारा ने ठेहट की हत्या की जिम्मेदारी ली है। गोदारा ने एक सोशल मीडिया पर की पोस्ट में लिखा- आनंदपाल और बलबीर की हत्या का बदला ले लिया है। 

दिनदहाड़े राहू ठेहट की हत्या ने राजस्थान में एक बार फिर इन गैंग के आतंक को सबके सामने ला दिया है। ऐसे में हम आपको राजस्थान की पांच बड़े गैंगस्टर और उनकी गैंग के बारे में बताने जा रहे हैं। इन गैंग का आतंक सिर्फ राजस्थान ही नहीं बल्कि आसपास के राज्यों में भी है। हत्या, लूट, रंगदारी, अपहरण या ऐसा कोई भी अपराध नहीं जिनमें ये गैंग शामिल ना हो। आइए अब जानते राजस्थान में टॉप पांच गैंगस्टर के बारे में...।
विक्रम गुर्जर उर्फ विक्रम लादेन
2 of 6
विक्रम गुर्जर उर्फ विक्रम लादेन
दुनिया में आतंक मचाने वाला ओसामा बिन लादेन तो मारा गया, लेकिन राजस्थान के अलवर जिले के पहाड़ी गांव में रहने वाले विक्रम लादेन का आज भी अपराध की दुनिया में नाम कमा रहा है। विक्रम गुजर्र कितना खतरनाक है इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उसने अपनी अपनी गैंग का नाम भी 'लादेन' रखा है। इसी को वह अपने नाम के साथ भी लिखने लगा। लादेन की धाक राजस्थान ही नहीं हरियाणा में भी है। अपराध की दुनिया में विक्रम लादेन की एंट्री पपला गुर्जर ने करवाई, जिसके बाद वह 'चीकू गैंग' में शामिल हो गया। बाद में पपला गुर्जर से विवाद के बाद विक्रम चीकू गैंग से अलग हो गया। जिसके  बाद उसने पहाड़ी गांव में अपनी लादेन नाम से एक नई गैंग बना ली। जिसके बाद उसने अपराध की दुनिया में खूब नाम कमाया। उसके खिलाफ हत्या, लूट, रंगदारी, अपहरण जैसे दर्जनों केस दर्ज हैं। विक्रम लादेन फिलहाल जेल में बंद है, लेकिन वह अपना गैंग वहीं से चला रहा है।  
विज्ञापन
श्रीराम उर्फ राजू मांजू
3 of 6
श्रीराम उर्फ राजू मांजू 
राजस्थान के जोधपुर जिले का रहने वाला श्रीराम उर्फ राजू मांजू '007' नाम से गैंग चलाता है। अपराध की दुनिया में नाम कमाने वाला राजू मांजू को गौ सेवा के लिए भी जाना जाता है। मारवाड़ में राजू मांजू खौफ का दूसरा नाम है। कहा यह भी जाता है कि राजू को आम लोग पंसद भी करते हैं। अपराध की दुनिया में आने को लेकर एक बार राजू ने कहा था कि वह ऐसा नहीं करना चाहता था, लेकिन मजबूरी में इस दुनिया में शामिल हो गया। वह युवाओं को अपराध की दुनिया से बचे रहने की भी बात कहता है। राजू मांजू पर हत्या रंगदारी, फिरौती और फायरिंग सहित कई केस दर्ज हैं। वह फिलहाल जेल में बंद है, लेकिन जमानत पर बाहर आता-जाता रहता है।
लॉरेंस बिश्नोई
4 of 6
लॉरेंस बिश्नोई, हमेशा रहता है चर्चा में 
लॉरेंस बिश्नोई और उसकी गैंग की दहशत राजस्थान ही नहीं पंजाब, हरियाणा और दिल्ली सहित कई अन्य राज्यों में भी है। फिलहाल लॉरेंस बिश्नोई जेल में बंद है, लेकिन वह वहीं से अपनी गैंग चला रहा है। सिद्धू मूसेवाला की हत्या की प्लानिंग हो या फिर अभिनेता सलमान खान को जान से मारने की धमकी देने का मामला लॉरेंस जेल से अंदर से ही सब कुछ कंट्रोल करता है। अपराध की दुनिया में लॉरेंस की एंट्री कॉलेज टाइम से ही हो गई थी। इसके बाद उसने अपने खौफ का साम्राज्य खड़ा किया। आज लॉरेंस बिश्नोई की गैंग में सैकड़ों गुर्गे ऐसे हैं जो उसके एक इशारे पर मरने मारने में आतुर हो जाते हैं।   
विज्ञापन
विज्ञापन
गैंगस्टर आनंदपाल
5 of 6
गैंगस्टर आनंदपाल, मौत के बाद भी खौफ  
आनंदपाल सिंह साल 2017 में एंकाउंटर में मारा गया था। आनंदपाल का नाम राजस्थान के टॉप गैंगस्टर की लिस्ट में शामिल था। उसकी मौत के पांच साल बाद भी आनंदपाल के नाम का खौफ है। उसकी गैंग के गुर्गे आनंदपाल के खौफ को जिंदा रखे हुए हैं। नए-नए लोग भी सकी गैंग में शामिल हो रहे हैं। कहा जाता है कि आनंदपाल की गैंग के सदस्य उसे भगवान की तरह मांनते हैं। उसके नाम पर रक्तदान शिविर सहित अन्य तरह के आयोजन भी करते हैं। आनंदपाल के नाम से आज भी राजस्थान में रंगदारी मांगने सहित अन्य तरह के मामले सामने आते रहते हैं।
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00