लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Dhanteras 2022: धनतेरस पर क्यों खरीदे जाते हैं बर्तन? जानिए इससे जुड़ी कथा

धर्म डेस्क, अमरउजाला, नई दिल्ली Published by: श्वेता सिंह Updated Thu, 20 Oct 2022 07:42 AM IST
धनतेरस पर बर्तन खरीदने का महत्व
1 of 5
विज्ञापन
Dhanteras par bartan khareedne ka Mahatv: रोशनी का पर्व दीपवाली आने में बस कुछ ही दिन शेष रह गए हैं। दीपावली का आरंभ धनतेरस से माना जाता है। धनतेरस को लेकर कई मान्यताएं जुड़ी हुई हैं। धनतेरस पर लोग खरीदारी करते हैं। इस दिन लोग सोना, चांदी और खासतौर पर बर्तन की खरीदारी जरूर करते हैं। कहते हैं कि धनतेरस के दिन आप जो भी खरीदेंगे तो उसकी तेरह गुना वृद्धि होगी। इसीलिए इस दिन लोग चल-अचल संपत्ति की खरीदारी करते हैं। कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को धनतेरस या धनत्रयोदशी का त्योहार मनाया जाता है। इस बार धनतेरस का त्योहार 23 अक्टूबर 2022, रविवार को मनाया जाएगा। धनतेरस के दिन लक्ष्मी गणेश के साथ भगवान कुबेर और धन्वंतरि देव की भी पूजा की जाती है। धार्मिक शास्त्रों के अनुसार इन सबी देवी देवताओं कि विधि विधान से पूजा करने से घर में धन-धान्य भरा रहता है व भगवान धन्वंतरि की कृपा से आरोग्यता की प्राप्ति होती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि धनतेरस के दिन आखिर  बर्तन खरीदने का इतना महत्व क्यों है। आइए जानते हैं इससे जुड़ी पौराणिक कथा
Happy Dhanteras 2022 Wishes: इन खास संदेशों के जरिए अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को दें धनतेरस की शुभकामनाएं
धनतेरस पर इसीलिए खरीदते हैं बर्तन
2 of 5
इसलिए खरीदते हैं बर्तन 
पौराणिक कथा के अनुसार, जब देवताओं और दानवों ने अमृत कलश के लिए समुद्र मंथन किया। तब इस मंथन के दौरान एक एक करके 14 रत्नों की प्राप्ति हुई। उन्हीं 14 रत्नों में माता लक्ष्मी जी भी एक मानी जाती है। लक्ष्मी जी की तरह भगवान धनवंतरि भी समुद्र मंथन के दौरान उत्पन्न हुए थे। भगवान धनवंतरि जब प्रकट हुए तब उनके हाथ में अमृत कलश था।  मान्यता है की इस वजह से धनतेरस के दिन बर्तन खरीदने की परंपरा है। भगवान धन्वंतरि के हाथ में उत्पन्न होने के समय पीतल का कलश था, इसीलिए इस दिन पीतल के बर्तन खरीदने का महत्व है। 
 
विज्ञापन
बर्तन खरीदना माना जाता है शुभ 
3 of 5
बर्तन खरीदना माना जाता है शुभ 
धनतेरस के दिन लोग बर्तन के साथ-साथ सोना-चांदी आदि भी खरीदते हैं।  इस दिन कुछ भी खरीदारी करना शुभ माना जाता है। शास्त्रों के अनुसार धनतेरस के दिन यदि आप कोई खरीदारी करते हैं तो उसमें 13 गुना ज्यादा वृद्धि हो जाती है।  इसलिए लोग बर्तन, चांदी और सोना खरीदते हैं। इस दिन लोग चांदी के लक्ष्मी-गणेश, चांदी के सिक्के आदि भी घर लाते हैं, ताकि घर में बरकत बनी रहे और साथ ही लक्ष्मी जी कृपा प्राप्त हो। 
धनतेरस पर भूल से भी न खरीदें ये चीज
4 of 5
धनतेरस पर भूल से भी न खरीदें ये चीज
  • धनतेरस के दिन स्टील और प्लास्टिक के बर्तन खरीदना बहुत ही अशुभ होता है। इस दिन आप कोई शुभ धातु जैसे तांबे-पीतल या चांदी के बर्तन खरीद सकते हैं। 
  • इन बर्तनों को घर में लाने से पहले उसमें थोड़ा सा चावल या पानी भर लें। 
  • खाली बर्तन भी घर में लाना अशुभता का संकेत होता है।
 
विज्ञापन
विज्ञापन
धनतेरस के दिन एल्यूमिनियम से बनी चीजें नहीं खरीदना चाहिए।
5 of 5
इन बातों का भी रखें ध्यान 
  • ज्योतिष के मुताबिक एल्यूमिनियम दुर्भाग्य का प्रतीक होता है और लोहे को शनि देव का प्रतीक माना जाता है। इसलिए इन दोनों धातु से बनी चीजें को धनतेरस पर नहीं खरीदना चाहिए।
  • धनतेरस के दिन घर के राशन का कोई भी सामान नहीं खरीदना चाहिए। इस दिन मिलावटी सामान खरीदने से आपको धन और सेहत दोनों की हानि होती है। 
  • धनतेरस पर नुकीली या धारदार चीजें भी नहीं खरीदनी चाहिए। इससे आपके घर की शांति भंग हो जाती है।
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें आस्था समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। आस्था जगत की अन्य खबरें जैसे पॉज़िटिव लाइफ़ फैक्ट्स,स्वास्थ्य संबंधी सभी धर्म और त्योहार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00