लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

यदि आपको भी ध्यान करने में आती है समस्या तो करें इन नियमों का पालन, मिलेंगे बेहतर परिणाम

लाइफस्टाइल डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: तेजस्वी मेहता Updated Mon, 04 Jan 2021 08:49 AM IST
अच्छा जीवन जीने के लिए ध्यान करना बहुत जरूरी है
1 of 5
विज्ञापन

अच्छा जीवन जीने के लिए ध्यान करना बहुत जरूरी है। यदि आप चाहते हैं कि आप शारीरिक रूप से स्वस्थ रहने के साथ ही मानसिक रूप से भी स्वस्थ रहें तो प्रतिदिन ध्यान करें। ध्यान करने का मन बनाना, उसके विषय में सोचना बहुत आसान है लेकिन उसे खुद से करना इतना आसान नहीं होता है। कई सारे लोगों को ध्यान करते समय तरह-तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है जैसे कि बेचैनी होना, मन न लगना आदि। अगली स्लाइड्स में बताए गए नियमों का यदि आप पालन करेंगे तो आप जल्दी ही सही ढंग से ध्यान करने लगेंगे। 

 

ध्यान करने के लिए हर समय ठीक नहीं होता है
2 of 5

समय का चयन
कई बार हम सही ढ़ग से मेडिटेशन इसलिए भी नहीं कर पाते हैं क्योंकि हम गलत समय का चयन कर लेते हैं। ध्यान करने के लिए हर समय ठीक नहीं होता है। ध्यान के लिए सही समय सुबह 4 बजे से शाम 4 बजे तक होता है। इसके पीछे कारण यह है कि इस समय सूर्य और पृथ्वी के बीच 60 डिग्री का कोण बनता है। इस दौरान ध्यान करने से पीयूषग्रंथि और शीर्षग्रंथि पर अच्छा प्रभाव पड़ता है। जिस वजह से ध्यान में पूरा मन लगता है।

विज्ञापन
शांति, सकारात्मक ऊर्जा और पर्याप्त रोशनी हो
3 of 5

स्थान का चयन
बहुत जरूरी है कि आप जिस जगह ध्यान कर रहे हैं, उस जगह को अच्छे से देख लें क्योंकि हर जगह ध्यान नहीं हो सकता। यदि आप बिस्तर पर बैठकर शयनघर में मेडिटेशन करते हैं तब तो आपका मन नहीं ही लग सकता है इसलिए किसी ऐसे स्थान पर ध्यान करें, जहां पर शांति, सकारात्मक ऊर्जा और पर्याप्त रोशनी हो। 

 

रीढ़ की हड्डी को सीधा रखकर एकदम सीधे बैठें
4 of 5

बैठने का तरीका
कई लोगों को मेडिटेशन करते वक्त इसलिए भी समस्या आती है क्योंकि उनके बैठने का तरीका गलत होता है जिस वजह से उनके शरीर पर अलग- अलग जगह दबाव बनता है और उनका ध्यान भंग होता है। इसलिए जब भी ध्यान करने बैठें तो रीढ़ की हड्डी को सीधा रखकर एकदम सीधे बैठें। ढीलेढाले कपड़े पहनें और कंधों और गर्दन को अधिक न तो तानें और न ही बहुत अधिक ढीला भी न छोड़ें।

विज्ञापन
विज्ञापन
पहले थोड़ी कसरत कर लें
5 of 5

पहले थोड़ी कसरत कर लें
कई बार जब नया-नया ध्यान करना शुरु करते हैं तो हमें बहुत अधिक सुस्ती और नींद आने लगती है, जिस वजह से हम ध्यान लगा ही नहीं पाते हैं। इसलिए जब भी ध्यान करने बैठें तो पहले थोड़ी कसरत कर लें। ऐसा करने से आपके शरीर में सही ढंग से रक्त का संचार होगा और शरीर में थोड़ी गर्माहट आएगी जिससे कि नींद उड़ जाएगी। ध्यान के दौरान होने वाली बेचैनी से भी राहत मिलेगी। 

विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00