वियतनाम युद्ध
गजब है

सुनिए 20 साल तक चली एक भयानक लड़ाई की कहानी

24 जून 2021

Play
2:56
अमर उजाला आवाज पर 'अजब-गजब' में सुनिए 20 साल तक चले वियतनाम युद्ध की कहानी 

सुनिए 20 साल तक चली एक भयानक लड़ाई की कहानी

X

सभी 103 एपिसोड

भूत

भूत प्रेत से जुड़े किस्सों और कहानियों को हम लोग अक्सर सुनते ही रहते हैं। हर दिन हजारों लोग भूतों की कहानियां पढ़ते हैं। फिल्में बनती हैं, हम उन्हें देखते हैं, मगर ये सिर्फ मनोरंजन नहीं, उसके ऊपर का मामला है।

रहस्यमय मंदिर

आज एक ऐसे मंदिर की कहानी, जहां के लिए मशहूर है कि यहां रात के अंधेरे में एक अजीब सी रोशनी के साथ-साथ पायल की झंकार भी सुनाई देती है। ये मंदिर कहीं और नहीं बल्कि भारत के बिहार राज्य में है। सीतामढ़ी का ये ऐतिहासिक मंदिर रानी मंदिर, जिसको स्वर्ण मंदिर के नाम से भी पुकारा जाता है।

रहस्यमय घर

एक रहस्यमय घर अमेरिका के वर्जीनिया में है, जिसको बनाने में एक खास तरह के पत्थर का इस्तेमाल किया गया है। लेकिन ये पत्थर ही दिखने में ऐसे हैं कि इस घर को ही डरावना लुक देने के लिए काफी हैं

अफगानिस्तान

आपको एक ऐसी गुफा के बारे में जानकारी देते हैं जो अफगानिस्तान में है और एक रहस्यमय गुफा के तौर पर देश-दुनिया में मशहूर है। 2002 में अमेरिकी सेना का सामना दरअसल एक महादानव से हुआ, जिसको लेकर कहा जाता है कि उसने अमेरिका के कई सैनिकों को मार डाला

सोन भंडार

बिम्बिसार को सोने चांदी बेहद पसंद थे। कहा जाता है कि राजगीर की इस गुफा में बिम्बिसार का ये बेशकीमती खजाना उऩकी पत्नी ने छिपाकर रख दिया। तब से लेकर आजतक कितनी ही कोशिशें इस खजाने को खोजने के लिए की गईं, मगर नाकामी ही हाथ लगीं।

पतन मीनार

पतन मीनार पाकिस्तान के रहीम यार खान जिले में है। पतन मीनार का नाम पट्टनपुर के नाम पर रखा गया है। बताया जाता है कि पट्टन सिंधु नदी की एक शाखा घाघरा नदी के तट पर बसा एक हरा-भरा शहर था। सुनिए इसी रहस्यमय मीनार की दास्तां

रावण

आज एक ऐसी जगह से जुड़ी जानकारी देंगे जो मध्य प्रदेश के मंदसौर में है। यहां करीब 400 साल पुरानी रावण की प्रतिमा है जिसे यहां के लोग जमाई राजा मानकर उनकी पूजा-अर्चना करते हैं।

पोवेग्लिया आइलैंड

आज आपको एक ऐसे आइलैंड की रहस्यमय कहानी सुनाएंगे, जो कभी किसी श्मशान घाट से कम नहीं रह गया था। इस जगह का नाम है इटली का पोवेग्लिया आइलैंड।

मून लेक

एक ऐसी अनोखी झील, जो हिमाचल प्रदेश में है और इसे द मून लेक के नाम से भी पुकारा जाता है। ये झील स्पीति और कुल्लू घाटी से कुछ ही दूरी पर है। दरअसल ये झील एक टापू पर है जिसकी वजह से अर्धचांद की तरह दिखाई देती है। यही कारण है कि  लोग इसे द मून लेक यानी चांदी की झील भी कहते हैं।

महामाया मंदिर

झारखंड के गुमला में हिंदुओं के आस्था का केंद्र माने गए एक मंदिर की खासियत ये है कि मां महामाया को आज भी एक बक्से के अंदर बंद कर रखा जाता है। ये मंदिर गुमला जिला मुख्यालय से 26 किलोमीटर दूर घाघरा प्रखंड के हापामुनी गांव में बना हुआ है।

आवाज

  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00