गुदगुदी
गुदगुदी

गुदगुदी: खाना बनाने से पहले बीवी क्या कहती हैं?

30 सितंबर 2021

Play
4:2
कुछ पत्नियों के दिमाग में पता नहीं कौन सा कीड़ा होता है जो खाना बनाने से पहले  पति से पूछती हैं कि क्या बनाना है। मगर करना अपने मन की है। एक बार एक शख्स अपनी बीवी से बोला कि आज क्या बनाओगी खाने में तो पत्नी बोली जो आप कहो।
... Read More

गुदगुदी: खाना बनाने से पहले बीवी क्या कहती हैं?

1.0x
  • 1.5x
  • 1.25x
  • 1.0x
10
10
X

सभी 313 एपिसोड

ये बताइए कि खुशी दिखाने और छिपाने में क्या अंतर है। तो भई इसे कुछ ऐसे समझ लीजिए कि जब भी जब साला घर में आता है तो खुशी दिखानी पड़ती है और जब साली घर आती है तो खुशी छिपानी पड़ती है

आपने अभी तक कई युद्धों के बारे में देखा और सुना होगा, लेकिन एक युद्ध ऐसा भी है जो शादीशुदा जीवन में होता ही रहता है। जब कभी आप एक बार लंबी छुट्टी पर जाने की पत्नी से बात करें और फिर उन्हीं से करा लें सामान की पैकिंग।

भई 50 साल के बाद भी बाल घने लंबे रखने हों तो इसका एक टॉप क्लास राज है, वो ये कि रोज एक घंटा पैदल चलिए, 20 मिनट शीर्षासन करिए, 20 मिनट योगासन और रोजाना हरे पत्तेदार सब्जियां खाइए। लेकिन इसके साथ ही एक चीज तो बिल्कुल ना भूलें...

तो भई सबसे पहले 'गुदगुदी' में आज का ज्ञान, तो कहते हैं, अहंकार ही सबसे बड़ा पाप है। मगर एक महिला जब अपनी खूबसूरती पर घमंड करने लग जाए तो उसे पाप नहीं कहते बल्कि उसे कहते हैं गलतफहमी और ये गलतफहमी कोई पाप नहीं।

दुनिया में अपना भारत ही एक ऐसा इकलौता देश है जहां शाकाहारी लोगों की कई वैराइटी मिलती हैं। कैसे? तो वो ऐसे कि एक होता है शुद्ध शाकाहारी तो उसकी तो हालत मत पूछिए लेकिन इसके साथ ही कुछ और वैराइटी पर नजर डालें तो कुछ लोग अंडा तो खाते हैं लेकिन  चिकन को हाथ नहीं लगाते।

ध्यान से सुनिए, बरात में वो गाना सुना आपने, ये देश हैं वीर जवानों का, अलबेलों का मस्तानों का। तो भई इस गाने पर वही नाचते हैं, जिन्हें नहीं आता नाचना या जिनसे  जबरन नाचने की रिक्वेस्ट की जाती है

एक हिंदुस्तान का रहने वाला अमेरिकी डॉक्टर भारत पहुंचा। बस स्टैंड पर एक किताब देखते ही उसे पड़ गया दिल का दौरा, क्योंकि 20 रुपए की इस किताब का नाम था, 30 दिनों में डॉक्टर कैसे बना जाए

अब एक कड़वा सच सुनिए, फिल्मो में हीरो चाहे कितना भी बेरोज़गार रहता है लेकिन उसकी एक गर्लफ्रेंड तो होती ही है, वो भी एक अमीर पिता की बेटी। बाकि आप लोग इशारा तो समझ ही गए होंगे

अब ससुराल और मायके की बात हो रही है तो सुसराल में जब रेडीमेड की जगह कट-पीस मिलने लगें ना तो शादीशुदा आदमियों को समझ जाना चाहिए कि तुम जीजा जी से हटकर फूफा जी की कैटीगरी में आ गए हो।

एक शादी में डीजे बज रहा था। इस बीच एक गाना सुनाई दिया, जिसको डांस नहीं करना, वो जाके अपनी भैंस चराए। बस ज्यादातर तो शादीशुदा आदमी निकल लिए अपनी-अपनी बीवियों को प्रीतिभोज कराने के लिए। 

आवाज

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00