गुदगुदी
गुदगुदी

गुदगुदी: दुनिया में तीन तरह के लोग कौन?

19 अक्टूबर 2021

Play
2:52
अमर उजाला आवाज 'गुदगुदी' में आज रानी से सुनिए दुनिया में तीन तरह के लोग खासतौर से पाए जाते हैं। पहले आयुर्वेदिक,दूसरे एलोपैथिक और तीसरे नंबर पर आते हैं होम्योपैथिक टाइप लोग।

गुदगुदी: दुनिया में तीन तरह के लोग कौन?

10
10
X

सभी 307 एपिसोड

एक हिंदुस्तान का रहने वाला अमेरिकी डॉक्टर भारत पहुंचा। बस स्टैंड पर एक किताब देखते ही उसे पड़ गया दिल का दौरा, क्योंकि 20 रुपए की इस किताब का नाम था, 30 दिनों में डॉक्टर कैसे बना जाए

अब एक कड़वा सच सुनिए, फिल्मो में हीरो चाहे कितना भी बेरोज़गार रहता है लेकिन उसकी एक गर्लफ्रेंड तो होती ही है, वो भी एक अमीर पिता की बेटी। बाकि आप लोग इशारा तो समझ ही गए होंगे

अब ससुराल और मायके की बात हो रही है तो सुसराल में जब रेडीमेड की जगह कट-पीस मिलने लगें ना तो शादीशुदा आदमियों को समझ जाना चाहिए कि तुम जीजा जी से हटकर फूफा जी की कैटीगरी में आ गए हो।

एक शादी में डीजे बज रहा था। इस बीच एक गाना सुनाई दिया, जिसको डांस नहीं करना, वो जाके अपनी भैंस चराए। बस ज्यादातर तो शादीशुदा आदमी निकल लिए अपनी-अपनी बीवियों को प्रीतिभोज कराने के लिए। 

एक शहर के बीच चौराहे पर बैठा था एक भिखारी। एक आदमी उसको कुछ दिन से रोटी देते हुए निकलता था।ऐसे ही गुजर गए एक दिन, दो दिन नहीं बल्कि 10 दिन। बस 10वें दिन ही वो भिखारी रोते हुए बोला, भई ऐसा है मेरी किडनी ले जा

एक लड़का अपनी गर्लफ्रेंड से बोला कि तेरी ये शर्ट फटी हुई है, इसे सिला लेती। ये सुनकर लड़की ने कहा कि ऐसा है कि ये आजकल का स्टाइल है। ये सुनकर लड़का हैरान होकर बोला कि क्या यार, तुम फाड़ो तो फैशन और हम कपड़े फाड़ें तो सीधा पुलिस स्टेशन
 

अमर उजाला आवाज की 'गुदगुदी' में सबसे पहले आज का मेरा यानि कि रानी का आप लोगों से सवाल, वो ये कि पत्नी की क्या परिभाषा होती है। भई इसके जवाब में आप लोग जो कहो लेकिन मैं तो यही कहूंगी कि पत्नी उस 'शक्ति' का नाम है जो घरवालों खासतौर से पति को घूरने भर से देखने पर ही टिंडे की सब्जी में पनीर का स्वाद देने में कामयाब हो जाए 

शादी वाले मुर्हूत शुरू होते ही जो दिलवाले हैं वो दुल्हनियां ले जाएंगे। जो दिमाग वाले हैं वो दुल्हन की सहेली का नंबर जाएंगे और जो शादीशुदा हैं, वो अपनी बीवी की खातिर लाइन में लगकर तंदूरी रोटी लाएंगे।

गांधी जी के तीन बंदर तो आपने देखे ही होंगे। मगर व्हाट्सअप जैसे सोशल मीडिया वाले बंदर को देखकर तो हम यही कहेंगे कि महात्मा गांधी जी ने भी सपने में कभी सोचा नहीं होगा कि ये वाला बंदर भी व्हाट्सअप, पिंटरेस्ट, टेलीग्राम पर शरमाने के काम आएगा।

भई सबसे पहले एक पते की बात सुनिए, वो ये कि शादीशुदा पति दो तरह की हालत में ही घर का काम करता है। पहला या तो उसकी बीवी होती है बला की खूबसूरत और या खूंखार। अब घर में काम करने वाले पुरुषों, ये तुम्हीं तय करो कि तुम्हारी वाली बीली कैसी है।

आवाज

  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00