बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
Panchtantra Ki Kahaniyan

पंचतंत्र की कहानियां

Specials

पंचतंत्र की कहानियों को किसने और क्यों लिखा था..दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों बहुशक्ति, उग्रशक्ति और अनंतशक्ति को सही राह दिखाना था। विष्णु शर्मा ने अपनी बातें समझाने के लिए पक्षियों और जानवरों के किरदारों को रोचक तरीके से पेश किया। इन जानवरों और पक्षियों के जरिए ही उन्होंने राजकुमारों को अच्छे और बुरे की सीख दी...राजकुमारों की शिक्षा खत्म होने के बाद पंडित विष्णु शर्मा ने इन कहानियों को पंचतंत्र की कहानियों के रूप में संकलित किया...संस्कृत में लिखी गईं शताब्दियों पुरानी ये कहानियां आज भी विश्व साहित्य की अमर धरोहर हैं... ... Read More

पंचतंत्र की कहानियां : चालाक खटमल और जूं

X

सभी 25 एपिसोड

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है चालाक खटमल और जूं...

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है सियार और ढोल वाला जानवर...

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है मूर्ख को सलाह नहीं

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है जैसे को तैसा...

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है वंश की रक्षा...

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है चोर चूहा और साधु...

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है ब्राह्मण और केकड़ा  ...

अमर उजाला पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है नकली शेर...
 

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है सोना देने वाला पक्षी ...

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है दो मुंह वाला विचित्र पक्षी ...

आवाज

  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X