बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
Meerut ki Awaaz
मेरठ की आवाज

Meerut News Today 17 April: मेरठ समाचार | सुनिए शहर की ताजातरीन खबरें

17 अप्रैल 2021

Play
5:42
मेरठ से आज के मुख्य समाचार इस प्रकार हैं -
प्रदेश में कोरोना के संक्रमण बेकाबू होता देख रविवार को साप्ताहिक बंदी लागू कर दी गई है। इस दिन आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी कार्य पूरी तरह बंद रहेंगे। सरकारी अस्पतालों में ओपीडी सेवाओं को भी स्थगित करने के निर्देश दिए गए हैं। मंडल और जिला मुख्यालय पर शासन के निर्देश पहुंच चुके हैं। इसके अलावा शहर में सोमवार को स्थानीय साप्ताहिक बंदी प्रभावी रहेगी। 

पश्चिमी यूपी में कोरोना भयावह रूप धारण करता जा रहा है। गुरुवार को 11 लोगों की मौत हो गई, जबकि 1140 नए संक्रमित मिले हैं। मेरठ मेडिकल कॉलेज में कोरोना से सात लोगों ने दम तोड़ दिया। मुजफ्फरनगर दो महिलाओं सहित तीन की मौत हो गई।

शहर के विभिन्न इलाकों में अगर आप मकान और फ्लैट लेने की सोच रहें हैं तो एमडीए ने मध्यमवर्गीय लोगों को कुछ राहत दी है। इस बार फिर बोर्ड बैठक में संपत्तियों की दरों को नहीं बढ़ाया गया है। वहीं, हजारों आवंटियों को राहत देते हुए अनुरक्षण (मेंटिनेंस) शुल्क में ब्याज माफ करने का एलान किया गया है। वर्ष-2017 से पहले के अनुरक्षण शुल्क पर ब्याज नहीं लिया जाएगा। वहीं, अगर आपका शुल्क बढ़ा हुआ आया है तो सिर्फ रसीद और शपथ पत्र के साथ एमडीए में जमा कर अपना शुल्क ठीक करा सकते हैं।  

थाना ब्रह्मपुरी क्षेत्र के सरस्वती लोक में शुक्रवार दोपहर में ही चोरों ने आढ़ती का घर खंगाल दिया। चोर महज 28 मिनट में नगदी सहित करीब 20 लाख रुपये का सामान समेटकर ले गए। पुलिस मामले की जांच में जुट गई। दो चोर सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में दिखाई दिए हैं। उनकी तलाश की जा रही है। इस वारदात से कॉलोनी के लोगों में बड़ी नाराजगी है।


 मेरठ में पार्षद मिंटू की मौत का राज महिला डॉक्टर से उसकी मोहब्बत में छिपा हो सकता है। पुलिस के मुताबिक, चार साल से मिंटू और महिला डॉक्टर के बीच प्रेम संबंध थे। महिला डॉक्टर व उसकी छह साल की बेटी को पार्षद घर में रखना चाहता था। इस पर परिवार में विवाद था।

भाजपा पार्षद मनीष उर्फ मिंटू की हत्या के मामले में प्रेमिका और उसके करीबी से दूसरे दिन भी पुलिस ने पूछताछ की। हत्या का केस दर्ज करने के बाद पुलिस की जांच तेज हो गई है। अभी तक पुलिस मामले को आत्महत्या बताकर पल्ला झाड़ रही थी और अब तक भी इसी थ्योरी पर उसकी पड़ताल अटकी हुई है। वारदात स्थल से मिले तमंचे और बुलेट को जांच के लिए फॉरेंसिक लैब भेजा गया है। वहीं, परिजनों ने कहा है कि मिंटू के पास लाइसेंसी पिस्टल थी, वह तमंचा नहीं रखता था।
 
उत्तर प्रदेश और हरियाणा सीमा विवाद को लेकर नंगला बहलोलपुर के जंगल में किसानों के बीच खूनी संघर्ष हो गया। इस दौरान फायरिंग भी हुईए जिसमें एक किसान की हत्या कर दी गई। उधर, घटना की जानकारी लगने पर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।  ... Read More

Meerut News Today 17 April: मेरठ समाचार | सुनिए शहर की ताजातरीन खबरें

X

सभी 83 एपिसोड

मेरठ घंटाघर फाइल फोटो।

सुनिए शहर की ताजातरीन खबरें-

- सीएम योगी ने मेरठ में जाना कोरोना संक्रमण का हाल, बोले - थ्री टी यानी टेस्ट-ट्रैक और ट्रीट पर देना होगा ध्यान

- आज करेंगे मुजफ्फरनगर-सहारनपुर का दौरा, कोरोना संक्रमण को लेकर ग्रामीणों से करेंगे बातचीत 

- मुजफ्फरनगर : भारतीय किसान यूनियन ने सीएम का विरोध वापस लिया 

- सहारनपुर में पटरी से उतरे मालगाड़ी के तीन डिब्बे, रेलवे अधिकारियों में मचा हड़कंप, राहत कार्य शुरू

- ब्लैक फंगस के चार नए मरीज मिले, एक की मौत, कोरोना से रविवार को 15 लोगों की मौत

- भाजपा का सपा को झटका, रालोद को पटखनी देने की तैयारी 

- देहलीगेट में युवक ने खुद को गोली मारी, मौत 

- धूप निकलने से दिन का तापमान दो डिग्री बढ़ा 


मेरठ कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी मेरठ में सीएम योगी ने मीडियाकर्मियों को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना महामारी से यूपी मजबूती के साथ लड़ रहा है। कहा कि  'थ्री टी' यानी टेस्ट ट्रैक और ट्रीट पर ध्यान देना होगा। 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज सहारनपुर और मुजफ्फरनगर जिलों में स्थानीय प्रशासन द्वारा कोविड-19 के नियंत्रण के लिए किए गए इंतजाम की समीक्षा करेंगे। इस दौरान सीएम योगी जनप्रतिनिधियों से मुलाकात कर फीड बैक लेंगे। इसके साथ ही वो किसी एक गांव का भ्रमण कर वहां ग्रामीणों से सीधा संवाद भी करेंगे। 

मुजफ्फरनगर में भारतीय किसान यूनियन ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का सोमवार को जनपद आगमन पर विरोध करने की घोषणा को वापस ले लिया है। विरोध की घोषणा के बाद प्रशासन में रात से ही हड़कंप मचा था। अधिकारी भाकियू नेताओं की मान मनव्वल करने में लगे थे। आखिरकार प्रशासन ने भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत  से वार्ता कर उन्हें मना लिया। 

सहारनपुर में रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर तीन पर मालगाड़ी के तीन डिब्बे पटरी से उतर गए। सूचना मिलते ही अम्बाला डिवीजन के मंडल रेल प्रबंधक गुरिंदर मोहन सिंह मौके पर पहुंचे। उन्होंने तुरंत राहत-बचाव कार्य शुरू कराया। 
बताया गया कि सोमवार सुबह साढ़े चार बजे यह हादसा हुआ। गुरिंदर मोहन सिंह के अनुसार फूड रिलीफ स्पेशल मालगाड़ी हरियाणा के अम्बाला से बिहार जा रही थी। मालगाड़ी में राशन लदा हुआ था। इस हादसे के कारण सहारनपुर अम्बाला रेलमार्ग पर कई ट्रेनों का संचालन भी प्रभावित हुआ है। 

मेरठ में ब्लैक फंगस के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। रविवार को मेरठ के अस्पतालों में चार नए मामले सामने आए हैं। ब्लैक फंगस के एक मरीज की मेडिकल में मौत हो गई है। ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या बढ़कर अब 20 हो गई है। रविवार को कोरोना जांच में 690 लोग पॉजिटिव मिले हैं, जबकि 15 मरीजों की मौत हो गई है। इनमें निजी अस्पतालों में तीन और मेडिकल में 12 मरीजों की मौत हुई है। मृतकों में आठ मेरठ और चार दूसरे जिलों के हैं।

देहलीगेट थाना क्षेत्र के खैरनगर छतरी वाला पीर इलाके में एक युवक ने रविवार आधी रात को तमंचे से खुद को गोली मार ली। आनन-फानन में परिजन युवक को अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर उसे मोर्चरी भिजवा दिया।  पुलिस को मौके से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। 

बागपत में पंचायत चुनाव में बुरी तरह हारने के बाद रविवार को भाजपा ने जिले की राजनीति में बड़ा उलटफेर कर दिया। सपा को झटका देते हुए वार्ड-18 से जीतीं उनकी प्रत्याशी बबली देवी को अपने खेमे में शामिल कर लिया। इसके साथ उन्हें जिला पंचायत अध्यक्ष पद का दावेदार भी घोषित कर दिया।

पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस में सांसद डॉ. सत्यपाल सिंह, बड़ौत विधायक केपी मलिक और बागपत विधायक योगेश धामा के सामने उन्होंने भाजपा का दामन थामा। पार्टी नेताओं ने उनका स्वागत किया। पंचायत चुनाव में हारने के बाद भाजपा अब जिला पंचायत अध्यक्ष पद चुनाव में सबसे बड़े दल के रूप में उभरी रालोद को पटखनी देने के मूड में है।
 

पश्चिमी विक्षोभ शांत होने के बाद पिछले 24 घंटे में दिन और रात के पारे में बढ़ोतरी हुई है। रविवार को तेज धूप निकलने से तापमान में दो डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज की गई। दिन का तापमान 39 और रात का 24 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अफसरों के मुताबिक मंगलवार को फिर पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के बाद आकाश में बादल छा जाएंगे।

मेरठ घंटाघर फाइल फोटो।

सुनिए शहर की ताजातरीन खबरें-

- सीएम योगी ने मेरठ में जाना कोरोना संक्रमण का हाल, बोले - थ्री टी यानी टेस्ट-ट्रैक और ट्रीट पर देना होगा ध्यान

- आज करेंगे मुजफ्फरनगर-सहारनपुर का दौरा, कोरोना संक्रमण को लेकर ग्रामीणों से करेंगे बातचीत 

- मुजफ्फरनगर : भारतीय किसान यूनियन ने सीएम का विरोध वापस लिया 

- सहारनपुर में पटरी से उतरे मालगाड़ी के तीन डिब्बे, रेलवे अधिकारियों में मचा हड़कंप, राहत कार्य शुरू

- ब्लैक फंगस के चार नए मरीज मिले, एक की मौत, कोरोना से रविवार को 15 लोगों की मौत

- भाजपा का सपा को झटका, रालोद को पटखनी देने की तैयारी 

- देहलीगेट में युवक ने खुद को गोली मारी, मौत 

- धूप निकलने से दिन का तापमान दो डिग्री बढ़ा 


मेरठ कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी मेरठ में सीएम योगी ने मीडियाकर्मियों को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना महामारी से यूपी मजबूती के साथ लड़ रहा है। कहा कि  'थ्री टी' यानी टेस्ट ट्रैक और ट्रीट पर ध्यान देना होगा। 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज सहारनपुर और मुजफ्फरनगर जिलों में स्थानीय प्रशासन द्वारा कोविड-19 के नियंत्रण के लिए किए गए इंतजाम की समीक्षा करेंगे। इस दौरान सीएम योगी जनप्रतिनिधियों से मुलाकात कर फीड बैक लेंगे। इसके साथ ही वो किसी एक गांव का भ्रमण कर वहां ग्रामीणों से सीधा संवाद भी करेंगे। 

मुजफ्फरनगर में भारतीय किसान यूनियन ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का सोमवार को जनपद आगमन पर विरोध करने की घोषणा को वापस ले लिया है। विरोध की घोषणा के बाद प्रशासन में रात से ही हड़कंप मचा था। अधिकारी भाकियू नेताओं की मान मनव्वल करने में लगे थे। आखिरकार प्रशासन ने भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत  से वार्ता कर उन्हें मना लिया। 

सहारनपुर में रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर तीन पर मालगाड़ी के तीन डिब्बे पटरी से उतर गए। सूचना मिलते ही अम्बाला डिवीजन के मंडल रेल प्रबंधक गुरिंदर मोहन सिंह मौके पर पहुंचे। उन्होंने तुरंत राहत-बचाव कार्य शुरू कराया। 
बताया गया कि सोमवार सुबह साढ़े चार बजे यह हादसा हुआ। गुरिंदर मोहन सिंह के अनुसार फूड रिलीफ स्पेशल मालगाड़ी हरियाणा के अम्बाला से बिहार जा रही थी। मालगाड़ी में राशन लदा हुआ था। इस हादसे के कारण सहारनपुर अम्बाला रेलमार्ग पर कई ट्रेनों का संचालन भी प्रभावित हुआ है। 

मेरठ में ब्लैक फंगस के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। रविवार को मेरठ के अस्पतालों में चार नए मामले सामने आए हैं। ब्लैक फंगस के एक मरीज की मेडिकल में मौत हो गई है। ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या बढ़कर अब 20 हो गई है। रविवार को कोरोना जांच में 690 लोग पॉजिटिव मिले हैं, जबकि 15 मरीजों की मौत हो गई है। इनमें निजी अस्पतालों में तीन और मेडिकल में 12 मरीजों की मौत हुई है। मृतकों में आठ मेरठ और चार दूसरे जिलों के हैं।

देहलीगेट थाना क्षेत्र के खैरनगर छतरी वाला पीर इलाके में एक युवक ने रविवार आधी रात को तमंचे से खुद को गोली मार ली। आनन-फानन में परिजन युवक को अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर उसे मोर्चरी भिजवा दिया।  पुलिस को मौके से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। 

बागपत में पंचायत चुनाव में बुरी तरह हारने के बाद रविवार को भाजपा ने जिले की राजनीति में बड़ा उलटफेर कर दिया। सपा को झटका देते हुए वार्ड-18 से जीतीं उनकी प्रत्याशी बबली देवी को अपने खेमे में शामिल कर लिया। इसके साथ उन्हें जिला पंचायत अध्यक्ष पद का दावेदार भी घोषित कर दिया।

पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस में सांसद डॉ. सत्यपाल सिंह, बड़ौत विधायक केपी मलिक और बागपत विधायक योगेश धामा के सामने उन्होंने भाजपा का दामन थामा। पार्टी नेताओं ने उनका स्वागत किया। पंचायत चुनाव में हारने के बाद भाजपा अब जिला पंचायत अध्यक्ष पद चुनाव में सबसे बड़े दल के रूप में उभरी रालोद को पटखनी देने के मूड में है।
 

पश्चिमी विक्षोभ शांत होने के बाद पिछले 24 घंटे में दिन और रात के पारे में बढ़ोतरी हुई है। रविवार को तेज धूप निकलने से तापमान में दो डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज की गई। दिन का तापमान 39 और रात का 24 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अफसरों के मुताबिक मंगलवार को फिर पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के बाद आकाश में बादल छा जाएंगे।

meerut news

मेरठ कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंडल स्तरीय दौरा करने का फैसला लिया है। इसी क्रम में रविवार को वह मेरठ के दौरे पर रहेंगे। शाम पांच बजे तक वह मेरठ में रहेंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आने से चंद घंटे पहले ही खरखौदा ब्लॉक के बिजौली गांव मे साफ-सफाई शुरू कर दी गयी है। सुबह पांच बजे से गांव की गली-गली को चमकाया जा रहा है। इसके अलावा कोरोना संक्रमित के बाहर बल्ली लगाकर हॉटस्पॉट बनाया जा रहा है।

संतोष कुमार की मौत का मामला : मृतक को जिंदा बताने वालों को अब दिया कार्रवाई का नोटिस
मेरठ मेडिकल कॉलेज के कोविड वार्ड में बुजुर्ग संतोष कुमार की मौत के बाद उनका लावारिस में अंतिम संस्कार करने और फिर परिजनों को जिंदा बताने के मामले में मेडिकल प्रशासन ने डॉक्टर, नर्स सहित आठ कर्मचारियों को लापरवाही का जिम्मेदार मानते हुए अब कार्रवाई का नोटिस जारी किया है। वहीं, इस कार्रवाई को लेकर पीड़ित परिवार संतुष्ट नहीं है। 

मेरठ में कोरोना से 26 की मौत, 797 नए मरीज मिले, गांव में लगातार बढ़ रहा संक्रमण
मेरठ जिले में शनिवार को कोरोना से 26 लोगों की मौत हो गई। साथ ही 797 नए मरीज मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग पूरी सर्विलांस में लगा हुआ है, लेकिन अभी भी पॉजिटिव केस कम नहीं हो पा रहे हैं। वहीं गांव में संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। लोग अभी भी जांच कराने से कतरा रहे हैं।
क्षेत्र के गांव अस्सा में एक सप्ताह के भीतर बाप बेटे की मौत समेत 11 लोगों की मौत हो चुकी है। जिससे गांव में दहशत का माहौल व्याप्त है। मवाना के 11 गांवों में नगर सहित 11 गांवों में 24 कोरोना पॉजिटिव मिले। जिन्हें होम क्वारंटीन किया गया है। 

मेरठ में एसपी सिटी कार्यालय से चंद कदमों की दूरी पर सराय लालदास में दो पक्षों के बीच मारपीट व गोलियां चल गई। जिसमें दो राहगीरों को गोली लगी है। जानकारी लगते ही पुलिस मौके पर पहुंची और तीन महिला समेत आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया है। 

कोरोना से जूझ रहे भाई को ऑक्सीजन पहुंचाने में खुद भी हुआ संक्रमित, दोनों की मौत, बेटी ने किया पिता अंतिम संस्कार
मेरठ में कोरोना का कहर लगातार परिवारों को कॉल का ग्रास बना रहा है। 10 दिन में एक ही परिवार में दो भाइयों की मृत्यु हो गई। एक कोरोना से लड़ते हुए दम तोड़ गया तो दूसरा उसकी सेवा के लिए घंटों ऑक्सीजन की लाइन में खड़ा रहा और अस्पताल में ड्यूटी देता रहा। इसके चलते वह भी संक्रमित हो गया। उसकी भी मौत हो गई। ऐसे में मृतक की बेटी ने बेटे का फर्ज निभाते हुए पिता का आर्य समाज की रीति रिवाज से अंतिम संस्कार किया। 

ब्लैक फंगस के चार और मरीज मिले, अब तक 16 में पुष्टि
मेरठ के अस्पतालों में शुक्रवार रात तक ब्लैक फंगस के 12 मरीज आ चुके थे। इनमें से दो की मौत हो गई। कई मरीज दिल्ली के अस्पतालों में रेफर कर दिए गए हैं। सात मरीजों का अभी भी मेरठ में इलाज चल रहा है। इनमें तीन न्यूटिमा में और तीन मेडिकल कॉलेज में भर्ती हैं। तीन नए मरीजों की पुष्टि शनिवार को आनंद अस्पताल में हुई, लेकिन शाम तक भी इसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग को नहीं दी गई। जब अधिकारियों को तीनों मरीजों के ऑपरेशन की जानकारी मिली तो सूचना अपडेट कराई गई। सर्विलांस अधिकारी डॉ. अशोक तालियान ने बताया कि अस्पताल जानकारी देने में लापरवाही कर रहे हैं। जानकारी नहीं देने वाले अस्पतालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 

मेरठ और बागपत के नोडल अधिकारी बने कमिश्नर सुरेंद्र सिंह
गांवों में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए प्रदेश सरकार ने अधिकारियों को नोडल बनाकर तैनात कर दिया है। प्रदेश के मंडलों में जिलावार 59 अधिकारियों की तैनाती की गई है। 

मेरठ और बागपत के नोडल अधिकारी बने कमिश्नर सुरेंद्र सिंह
बिजनौर : मोबाइल पर ऑनलाइन गेम खेलते हुई गाली गलौज, धारदार हथियार से युवक की हत्या, गांव में तनाव

अरुणाचल की दो छात्राओं से दुष्कर्म की कोशिश फरार
अरुणाचल प्रदेश की रहने वाली दो छात्राओं के साथ शनिवार देर रात एक युवक ने दुष्कर्म की कोशिश की। दोनों छात्राएं आरोपी के खिलाफ परतापुर थाने में तहरीर देने पहुंच गईं। पुलिस ने आरोपी की तलाश में देर रात दबिश दी, लेकिन वह फरार हो गया।

स्थगित बोर्ड परीक्षाओं को रद्द न मानें यूपी बोर्ड के छात्र, जारी रखें एग्जाम की तैयारी
कोरोना वायरस के कारण यूपी बोर्ड की परीक्षाएं तो स्थगित कर दी गई हैं, लेकिन बोर्ड ने कहा है कि छात्रों को अपनी तैयारियां जारी रखनी चाहिए। बढ़ती महामारी के कारण परीक्षाओं को फिलहाल रोक दिया गया है न कि पूरी तरह रद्द किया गया है। 
20 मई के बाद जल्द ही उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद सरकार की अनुशंसा पर यूपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं परीक्षाओं के संबंध में कोई बड़ा एलान कर सकता है।
 

मेरठ घंटाघर फाइल फोटो।

सुनिए शहर की ताजातरीन खबरें-

1394 लोग निकले कोरोना संक्रमित, 17 की जान गई

मेरठ में शुक्रवार को कोरोना के 1394 केस मिले और 17 मरीजों की मौत हो गई, जबकि 1312 मरीज ठीक हो गए। इनमें अस्पताल और होम आइसोलेशन वाले मरीज शामिल है। पॉजिटिव केस की संख्या जहां बढ़ रही है, वहीं मौत का आंकड़ा भी कम नहीं हो रहा है।

मेरठ में ब्लैक फंगस की दवाएं नहीं मौत से लड़ रहे मरीज

शहर के निजी अस्पताल में भर्ती 60 साल की बुजुर्ग कोरोना से जंग जीत का घर चली गई, लेकिन अचानक वह ब्लैक फंगस से संक्रमित हो गई। अब वह कंकरखेड़ा के एक अस्पताल में जिंदगी से जूझ रही है। डॉक्टर ने इलाज के लिए दवाइयां लिखकर दीं, लेकिन परिजनों को शहर में किसी भी मेडिकल स्टोर पर दवा नहीं मिली। मिलने-जुलने वालों को दवाई का नाम भेजा तो सोशल साइट पर भी लोग दवाओं की जानकारी जुटाने लगे। वेस्ट यूपी के सबसे बड़े दवा मार्केट खैरनगर में पता चला कि इनमें दो दवाइयां तो विदेश से आयात होती हैं। ऐसे में ये दिल्ली से में भी मिल जाएं तो गनीमत होगी। अगर मिली भी तो ऑर्डर देखकर मंगवाई जाएगी। सोमवार से पहले दवा आना संभव नहीं है। दवाई है भी इतनी महंगी कि पहले पैसे जमा करने होंगे, तब ही ऑर्डर दिया जाएगा।

अब ऑनलाइन जानें बेड की स्थिति

कोविड अस्पतालों में मरीजों को भर्ती कराने के लिए भटक रहे लोग अब ऑनलाइन हर अस्पताल में बेड की स्थिति जान पाएंगे। दिन में कम से कम दो बार सुबह 8:00 बजे और शाम को 4:00 बजे हर अस्पताल को अपने यहां बेड और मरीजों के भर्ती होने का डाटा पोर्टल पर अपडेट करना होगा।

17 को सिटी स्टेशन के स्वास्थ्य केंद्र पर लगेगा वैक्सीनेशन शिविर

कोरोना काल में भी ड्यूटी कर रहे रेलवे कर्मचारियों के लिए सिटी स्टेशन पर वैक्सीनेशन शिविर का आयोजन किया जा रहा है। पिछले एक महीने में सिटी और कैंट रेलवे स्टेशन के कई प्रमुख अधिकारियों की मौत के बाद हड़कंप मचा है। इसी को देखते हुए रेलवे मुख्यालय की ओर से जिला प्रशासन से स्टेशन पर शिविर आयोजित करने के लिए कहा गया। इस पर मंजूरी मिलने के बाद 17 मई को सुबह 10.00 बजे से शाम 4:00 बजे तक सिटी स्टेशन के स्वास्थ्य केंद्र पर टीकाकरण होगा।

चुनावी रंजिश में दूल्हे सहित बरातियों को पीटा
भावनपुर थाना क्षेत्र के राली चौहान गांव में दो पूर्व ग्राम प्रधानों की चुनावी रंजिश में बरात पर हमला कर दिया। जिसमें दूल्हे समेत उसके परिवार के लोगों के साथ मारपीट हुई है, जिसमें दूल्हे के भाई समेत अन्य लोग घायल हो गए। बरात में महिलाओं के साथ छेड़छाड़ में लूट की वारदात भी हुई। बारात पर हमले की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और तीनों लोगों को हिरासत में ले लिया।

मुजफ्फरनगर में बड़ा हादसा: ट्रक ने कार में मारी जोरदार टक्कर, तीन युवकों की मौके पर मौत

मुजफ्फरनगर में तितावी थाना क्षेत्र के अंतर्गत काजी खेड़ा गांव के पास एक ट्रक ने स्विफ्ट कार में जोरदार टक्कर मार दी। टक्कर इतनी भयंकर थी कि हादसे में कार सवार तीन युवकों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दो युवक गंभीर रूप से घायल हो गए।

मेरठ में खूब वायरल हो रहा दरोगा का वीडियो, घड़ी खरीदने के लिए उड़ाई कोरोना नियमों की धज्जियां
मेरठ में बहसूमा क्षेत्र के रामराज में कोरोना कर्फ्यू के दौरान रामराज चौकी प्रभारी का दुकान खुलवाकर घड़ी खरीदने का वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में व्यापारी दरोगा को दबंगई नहीं चलने की बात कहते दिख रहे हैं। इसके बाद दरोगा वहां से चुपचाप चल दिए।

मेरठ घंटाघर फाइल फोटो।

सुनिए शहर की ताजातरीन खबरें-

मेरठ में ठेकेदार की हत्या, जांच में जुटे पुलिस अधिकारी

मेरठ के गंगानगर थाने के पास नेहरू नगर में मजदूरी के पैसे मांगने पर ठेकेदार की गोली मारकर हत्या कर दी गई। वहीं हत्या से गुस्साए ग्रामीणों ने थाने और आरोपी के घर हंगामा किया। इस दौरान पीड़ित परिवार के एक युवक को इंस्पेक्टर ने थप्पड़ जड़ दिया। घटना के बाद आरोपी ने निर्माणाधीन मकान में लगे सीसीटीवी कैमरे की डिवाइस भी तोड़ दी और डीवीआर साथ ही लेकर फरार हो गया। सबूत मिटाने के लिए घर भी पानी से धो दिया। पुलिस अधिकारी मामले की जांच में जुटे हुए हैं।

चित्रकूट जेल में मुकीम काला की हत्या

चित्रकूट जिला जेल रगौली में कैदी अंशुल दीक्षित ने फायरिंग कर मेराजुद्दीन और मुकीम काला की हत्या कर दी। मुकीम काला पश्चिम उत्तर प्रदेश का बड़ा बदमाश था। बात 2015 की है, जब कुख्यात मुकीम काला गैंग ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों के अलावा हरियाणा और पंजाब तक वारदात कर दहशत पैदा कर दी थी। सहारनपुर के तनिष्क ज्वेलरी शोरूम में डकैती, सिपाही राहुल ढाका की हत्या और कैराना (शामली) में व्यापारियों से रंगदारी मांगने व हत्या करने के बाद मुकीम काला गैंग पुलिस के रडार पर आ गया। गैंग में 20 से ज्यादा बदमाश हैं, जिनमें कई बदमाश पुलिस मुठभेड़ों में ढेर हुए तो, कई जेलों में बंद हैं। 

ईद-उल-फितर पर लोगों ने घरों में अदा की ईद की नमाज

पश्चिमी यूपी के बिजनौर और मुजफ्फरनगर में ईद का त्योहार सादगी के साथ मनाया गया। लोगों ने घरों में ही ईद की नमाज अदा की। ईदगाह और बाजारों में पुलिस तैनात रही। कहीं भी एक साथ पांच से अधिक लोगों को नमाज पढ़ने की अनुमति नहीं थी। वहीं लोग एक दूसरे को मोबाइल पर वीडियो कॉल पर ही मुबारकबाद देते रहे। 

यूपी के गांवों में तेजी से फैल रहा कोरोना संक्रमण

मेरठ के मवाना में नगर सहित 13 गांवों में 29, हस्तिनापुर में छह, दौराला में दो, सरधना में 17, माछरा में तीन और खरखौदा में 11 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं, जबकि दौराला क्षेत्र में ही एक महिला और एक पुरुष की कोरोना से मौत हो गई।

नहीं सुधर रहे हालात : लखनऊ से भी ज्यादा मेरठ में बढ़े कोरोना के मरीज

कोरोना के मामलों में पिछले 24 घंटे में मेरठ ने लखनऊ (856) को भी पीछे छोड़ दिया है। 12 मई की सुबह छह बजे से 13 मई की सुबह छह बजे तक 24 घंटे में मेरठ में 1070 नए मरीज मिले। 15 मरीजों की मौत हो गई। प्रदेश में ये सर्वाधिक संख्या है। मेरठ मंडल के दूसरे जिलों के हालात भी अच्छे नहीं हैं। 

मुजफ्फरनगर में मरीज की मौत के बाद कोविड अस्पताल में हंगामा

मुजफ्फरनगर के आर्यपुरी में बनाए गए कोविड हॉस्पिटल सैनी हार्ट केयर पर मरीज की मौत के बाद हंगामा हो गया। आरोप है कि परिजनों ने हिसाब पूछा तो चिकित्सक के भाई और स्टाफ ने तीमारदारों के साथ मारपीट करते हुए उन पर फायरिंग की। पुलिस ने पीड़ित परिवार के ही दो लोगों को हिरासत में ले लिया।

मेरठ में ब्लैक फंगस के पांच और मरीज मिले

मेरठ जिले में ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। गुरुवार को पांच और मरीजों को ब्लैक फंगस की पुष्टि हुई है। इनमें चार मरीज न्यूटिमा अस्पताल में भर्ती हैं और तीन का मेडिकल कॉलेज में उपचार चल रहा है। बिजनौर निवासी एक मरीज को पुष्टि होते ही परिजन किसी दूसरे अस्पताल में ले गए थे। इस तरह से मेरठ में आठ मामले सामने आ चुके हैं।

मेरठ में आरवीसी सेंटर में ड्यूटी पर तैनात सैन्य जवान सहित तीन ने जान दी

मेरठ  कैंट क्षेत्र, दौराला और मोदीपुरम क्षेत्र में ड्यूटी पर तैनात सैन्य जवान सहित तीन लोगों ने आत्महत्या कर ली। दौराला में पति से विवाद के बाद महिला ने और मोदीपुरम में पत्नी से विवाद के चलते बुजुर्ग व्यक्ति ने खुदकुशी कर ली। इनमें सैन्य जवान दो दिन पहले ही काशीपुर से दो दिन की छुट्टी काटकर लौटा था। उसने इंसास ने खुद को गोली मारी। पुलिस ने इस मामले सहित अन्य घटनाओं की जांच शुरू कर दी है।

मेरठ घंटाघर फाइल फोटो।

सुनिए शहर की ताजातरीन खबरें-

मेरठ में कोरोना से एक दिन में 29 लोगों की मौत, 1199 मिले नए मरीज

मेरठ शहर में कोरोना की रफ्तार रुक नहीं रही है। जिले में बुधवार को कोरोना के 1199 मरीज मिले, जबकि 29 की मौत हो गई। 13 मौत मेडिकल में और 16 निजी अस्पतालों में हुई। इनमें 23 मौत मेरठ के लोगों की हुई और बाकी आसपास के जिलों के थे। जांच कम होने के बावजूद मरीजों की संख्या काफी रही। मेरठ में बुधवार को 6401 सैंपलों की जांच में हर छठा व्यक्ति संक्रमित निकला। जिले में 18418 सक्रिय मामले हैं।

सहारनपुर में सिविल जज तैयब अहमद की कोरोना से मौत

सहारनपुर में अपर जिला एवं सिविल जज तैयब अहमद की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई। मेडिकल कॉलेज के आईसीयू वार्ड में उन्होंने आखिरी सांस ली। बताया गया कि वह आठ दिन से भर्ती थे। परिवार में पत्नी, चार साल की बेटी और बुजुर्ग मां हैं। वह मूलरूप से मंगलौर (हरिद्वार) के रहने वाले थे। सुपुर्द-ए-खाक के लिए जनाजा वहीं पर ले जाया गया है।

मेरठ में कब्रिस्तान में शव दफनाने को लेकर जमकर विवाद, भीड़ ने पुलिस पर किया पथराव

मेरठ में जानीखुर्द के गांव रसूलपुर धौलड़ी में एक व्यक्ति का शव कब्रिस्तान में दफनाने को लेकर दो पक्षों में विवाद हो गया। पुलिस ने समझाने का प्रयास किया तो भीड़ ने पथराव कर दिया। इसके बाद तीन और थानों की पुलिस मौके पर पहुंची। भारी पुलिस बल की मौजूदगी में शव दफनाया गया। घटना का कारण चुनावी रंजिश बताया जा रहा है।

मुजफ्फरनगर में दर्दनाक हादसा, कार चालक की मौत

मुजफ्फरनगर में गंग नहर पटरी मार्ग पर सठेड़ी के निकट एक दर्दनाक हादसा हो गया। सड़क हादसे में इनोवा कार चालक की मौत हो गई, जबकि कार सवार दो लोग घायल हो गए। यह हादसा करीब सुबह चार बजे हुआ। ये लोग जयपुर से हरिद्वार जा रहे थे।

मेरठ में जिला पंचायत सदस्य के पिता ने समझौता न करने पर भाजपा कार्यकर्ता को धमकाया

मेरठ में जिला पंचायत सदस्य अरुण चौधरी के पिता ने समझौता न करने पर पीड़ित भाजपा कार्यकर्ता को धमकाया है। इस मामले में पुलिस ने अरुण के पिता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। वहीं, नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने पर पुलिस अधिकारी ने एसओ इंचौली को जमकर फटकार लगाई। इसके बाद पुलिस ने ताबड़तोड़ दबिश दी।

मेरठ में पांच साल की बच्ची से दुष्कर्म, मां ने थाने में दी तहरीर

मेरठ जनपद में एक शर्मनाक मामला सामने आया है। सरधना क्षेत्र के एक गांव निवासी महिला ने अपनी पांच वर्षीय बच्ची के साथ दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराने को तहरीर दी। महिला ने बताया कि वह 29 मार्च को अपने मायके बागपत के एक गांव में गई थी। उसकी पांच वर्षीय बेटी घर पर थी, इसी बीच पड़ोसी युवक ने उसके साथ दुष्कर्म किया।

मेरठ में भाजपा नेता के भाई के घर पर पुलिस का छापा, मिले 10 ऑक्सीजन सिलिंडर

मेरठ में मवाना क्षेत्र के गांव भैंसा में पुलिस ने एक मकान से ऑक्सीजन के 10 सिलिंडर बरामद किए हैं। पुलिस इन्हें खाली बता रही है। पुलिस का कहना है कि आरोपी हाथ नहीं आ सका है। इसकी जांच की जा रही है कि इतने सिलिंडरों को किस उद्देश्य से घर में रखा गया था। आरोपी भाजपा नेता का भाई बताया जा रहा है।

वैक्सीन नहीं लगवाने वालों पर कोरोना संक्रमण का ज्यादा खतरा

कोरोना से बचाव के लिए जहां रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी रखनी चाहिए, वहीं वैक्सीन लगवाना भी बेहद जरूरी है। क्योंकि कोरोना संक्रमण से ऐसे लोगों की ज्यादा मौत हो रही हैं, जिन्होंने कोविड वैक्सीन का टीका नहीं लगवाया। ऐसे में लोगों को अधिक जागरूक होने की जरूरत है।

meerut ki awaaz

सुनिए शहर की ताजातरीन खबरें-
मेरठ कोरोना की रफ्तार रुक नहीं रही है। मंगलवार को कोरोना के 1298 मरीज मिले, जबकि 26 की मौत हो गई। 13 मौत मेडिकल में और 13 निजी अस्पतालों में हुई। 19 मौत मेरठ की और बाकी आसपास के जिलों के थे। 
एक मई से अब तक 11 दिनों में ही 15 हजार लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से अस्पतालों में गिनती के मरीज ही भर्ती हुए हैं, बाकी सभी होम आइसोलेट हैं। 

कोरोना के मरीजों को ब्लैक फंगस संक्रमण का खतरा भी घेर रहा है। यह संक्रमण महाराष्ट्र-गुजरात के कुछ जिलों के बाद मेरठ में भी देखने को मिला है। न्यूटिमा अस्पताल में तीन ऐसे मरीज भर्ती हैं जिन्हें ब्लैक फंगस की बीमारी हो गई है। 

बताया गया कि मंगलवार को एक मरीज के परिवार वाले अस्पताल से रेफर कराकर ले गए हैं। अभी दो मरीज भर्ती हैं। दोनों मरीजों की हालत गंभीर हैं। इन दोनों का इलाज चल रहा है। जो तीन मरीज मिले हैं उनमें दो मरीज बिजनौर के रहने वाले हैं, जबकि एक मुजफ्फरनगर का रहने वाला है। 

होम आइसोलेट संक्रमित मरीजों के इलाज और सुविधा के लिए मेरठ जिला प्रशासन ने तीन ऑक्सीजन सिलिंडर केंद्र खोले हैं। इन केंद्रों पर मरीजों के परिजनों से सुबह दस बजे से लेकर शाम चार बजे तक खाली सिलिंडर लिए जाते हैँ और 24 से 48 घंटे के अंदर भरे हुए सिलिंडर मुहैया कराने का दावा किया जा रहा है, लेकिन यह दावा ही अव्यवहारिक है, एक मरीज को 21 घंटे देरी से ऑक्सीजन मिला तो उसने दम तोड़ दिया। ऐसे ही अन्य तीमारदार बेहद परेशान रहे। 
 
मेरठ ऑक्सीजन सिलिंडर अब दो सौ रुपये सस्ता भरा जाएगा। यदि कोई रिफलिंग सेंटर इससे ज्यादा वसूलता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाए। 

आज अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस है। कोरोना महामारी के इस दौर में चिकित्सीय स्टाफ ने अपना सब कुछ झोंका हुआ है। इनमें नर्स बेहद अहम भूमिका निभा रही हैं। जान पर खेलकर मरीजों का इलाज करने में मदद कर रही हैं। अपने घरों से दूर, परिवार से दूर रहकर भी अपनी ड्यूटी पूरी निष्ठा और ईमानदारी के साथ कर रही हैं। 

मेरठ में 75 साल के बुजुर्ग की सांसें उखड़ रहीं थी। वो जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे थे। पिता को स्ट्रेचर पर तड़पते देख किसान भंवर सिंह चीखते-चिल्लाते रहे। मिन्नतें करते रहे कि इनको कोरोना नहीं है, भर्ती करके इलाज शुरू कर दो। लेकिन भंवर सिंह की किसी ने नहीं सुनी। अस्पताल कर्मचारी यही कहते रहे कि पहले कोरोना टेस्ट कराओ, उसके बाद ही भर्ती करेंगे। काफी देर तक भी किसी ने भर्ती नहीं किया तो बुजुर्ग की सांसें शरीर का साथ छोड़ गईं। बेबस परिजन ये कहते हुए शव लेकर चले गए कि तुम अपने अस्पताल को संभालो, हमारा तो चला गया। 
 
उत्तर प्रदेश के बागपत जनपद में रमाला थानाक्षेत्र में युवती की हत्या से इलाके में सनसनी फैल गई।कासिमपुर खेड़ी गांव में मंगलवार शाम एक युवक ने घर में घुसकर प्रेमिका गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। घटना की सूचना पाकर एसपी अभिषेक सिंह भी फोर्स के साथ गांव पहुंचे और घटना की जानकारी ली। परिजनों ने मुख्य आरोपी और एक अज्ञात के खिलाफ तहरीर दी है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।
 
उत्तर प्रदेश के शामली में झिंझाना थानाक्षेत्र में पति ने मामूली विवाद को लेकर फावड़े से गर्दन काटकर हत्या कर डाली। घटना से इलाके में सनसनी फैल गई। बताया गया कि आरोपी पति ने पत्नी को बेरहमी से मौत के घाट उतारने के बाद खुद भी फावड़े से गर्दन काटकर जान देने की कोशिश की। इसमें वह बुरी तरह घायल हो गया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और घटना की जानकारी ली। घायल व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस घटना की छानबीन कर रही है।  

मेरठ घंटाघर फाइल फोटो।

सुनिए शहर की ताजातरीन खबरें-

पश्चिमी यूपी के छह जिलों में मिले 4415 नए संक्रमित मरीज, मेरठ में एक दिन में 23 लोगों की मौत

मेरठ में कोरोना की रफ्तार तेज होती जा रही है। सोमवार को रिकॉर्ड 2190 संक्रमित मिले हैं, जबकि 23 लोगों की मौत हो गई। 13 मौत मेडिकल में और 10 निजी अस्पतालों में हुई। 19 मौत मेरठ की और बाकी आसपास के जिलों के थे। उधर, पश्चिमी यूपी के पांच जिलों में 2225 नए संक्रमित मरीज मिले हैं। मेरठ में सोमवार को हुई 4656 सैंपलों की जांच में हर तीसरा मरीज संक्रमित निकला। इस लिहाज से करीब 47 प्रतिशत मरीज संक्रमित निकले हैं। 17682 सक्रिय मामले हैं।  

मेरठ पहुंचा ब्लैक फंगस न्यूटिमा में दो मरीज मिले 

कोरोना के मरीजों को ब्लैक फंगस संक्रमण का खतरा भी घेर रहा है। संक्रमण महाराष्ट्र-गुजरात के कुछ जिलों के बाद मेरठ में भी देखने को मिला है। मुजफ्फरनगर और बिजनौर के दो मरीज न्यूटिमा अस्पताल में भर्ती हैं जिन्हें ब्लैक फंगस की बीमारी हो गई है। दोनों कोविड पेशेंट हैं और उनका इलाज चल रहा है। न्यूटिमा अस्पताल के एमडी और वरिष्ठ किडनी रोग विशेषज्ञ डॉक्टर संदीप गर्ग ने बताया कि दोनों मरीज़ म्यूकरमायकोसिस (ब्लैक फंगस या काली फफूंद) से पीड़ित हैं, जिनका डॉक्टर ब्लैक फंगस के लिए इलाज कर रहे हैं। कोविड की पहली लहर के दौरान ऐसे मरीजों की संख्या देश में बहुत कम थी। देश में महाराष्ट्र और गुजरात में खास तौर पर म्यूकरमायकोसिस के मामले बढ़ रहे हैं।  

पंचायत चुनाव के बाद गांवों में तेजी से फैल रहा कोरोना संक्रमण

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के बाद गांवों में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है। प्रत्याशियों के साथ ग्रामीण भी कोरोना की चपेट में आ गए हैं। सोमवार को आई रिपोर्ट में 157 संक्रमित मिले हैं। जिनमें सकौती के प्रधान व उसके पुत्र समेत 25 ग्रामीण पॉजिटिव पाए गए हैं। जबकि दौराला में 10, सरधना में 33, खरखौदा में 12, मवाना में 67, परीक्षितगढ़ में नौ और माछरा में एक व्यक्ति संक्रमित मिला है।

तीन बेटियों और पत्नी को जहर दिया, मां-बेटी की मौत

मेरठ में किठौर क्षेत्र के ललियाना गांव में सनसनीखेज वारदात हो गई। पारिवारिक विवाद में युवक ने अपनी तीन बेटियों और पत्नी को खाने में जहर दे दिया। दो साल की बच्ची और मां की मौत हो गई। वहीं दो बेटियों की हालत गंभीर है। उनका मेरठ के निजी अस्पताल में उपचार चल रहा है। मृतका के भाई फजल मोहम्मद ने आरोप लगाया कि उसके जीजा ने परिवार को जहर दिया है। उसकी तहरीर पर पुलिस ने पति अकरम और उसके भतीजे कासिम, रिहान, वसीम और शाहीन के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

मेरठ के परतापुर में आपसी विवाद को लेकर हॉस्टल में बीटेक के छात्र को गोली मारी

मेरठ के परतापुर थानाक्षेत्र में एक छात्र को गोली मारने की सनसनीखेज वारदात सामने आई है। परतापुर हाईवे पर एक बीटेक के छात्र को तीन युवकों ने हॉस्टल में घुसकर गोली मार दी है। इसकी जानकारी लगते ही पुलिस मौके पर पहुंची और घायल छात्र को मेडिकल कॉलेज में भर्ती करा दिया। 

मेरठ में बसपा समर्थित जिला पंचायत सदस्य पिस्टल लेकर युवक के पीछे भागा

मेरठ में बसपा समर्थित जिला पंचायत सदस्य अरुण चौधरी की गुंडागर्दी का मामला सामने आया है। वह एक युवक को जान से मारने के लिए पिस्तौल लेकर पीछे भाग रहे हैं। वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। युवक की तहरीर पर पुलिस ने अरुण और उसके साथी ईशु के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

अब कोविड वार्ड में मरीजों से वीडियो कांफ्रेंसिंग से करें बात

मेरठ में कमिश्नर सुरेंद्र सिंह ने मेडिकल कॉलेज में भर्ती कोविड मरीजों की वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए उनके परिवार के लोगों से रोज बात कराने के लिए कहा है। कमिश्नर के निर्देश पर कोविड वार्ड के स्टाफ को एक मोबाइल और सिम कार्ड इस कार्य के लिए अलग से दिया गया है। सोमवार को कुछ मरीजों की बात भी कराई गई। कमिश्नर ने इलाज में लापरवाही सामने आने पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी भी दी है। गाजियाबाद के संतोष कुमार के मामले को देखते हुए कमिशनर ने यह व्यवस्था शुरू की है। वहीं लोगों ने प्राइवेट अस्पताल में भी व्यवस्था को शुरू करने की मांग की है। 

दो महीने में प्लांट लगाकर ऑक्सीजन बनाएंगी चीनी मिलें 

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में ऑक्सीजन के लिए मारामारी है। विश्व में सर्वाधिक उत्पादन करने के बाद भी देश में ऑक्सीजन का संकट है। देशवासियों को इस संकट से उबारने के लिए अब शुगर इंडस्ट्री सामने आई है। गन्ना एवं चीनी विकास आयुक्त संजय आर. भूसरेड्डी की अपील पर निजी क्षेत्र की मिलों ने भी प्लांट स्थापना के लिए कवायद शुरू कर दी है। कोई देश में ही निर्मित प्लांट मंगा रहा है तो कोई विदेश से प्लांट आयात कर रहा है। मेरठ मंडल की चार शुगर मिल प्लांट लगाने जा रही हैं। अगले डेढ़ से दो महीने में इन मिलों के प्लांट ऑक्सीजन उगलना शुरू कर देंगे।

बारिश से मौसम हुआ सुहावना तापमान में आई गिरावट

मेरठ में रविवार देर रात तेज आंधी, बारिश और ओलावृष्टि के बाद सोमवार को मौसम सुहावना रहा और तापमान में गिरावट दर्ज की गई। मौसम वैज्ञानिकों की माने तो आने वाले तीन दिनों तक बारिश व ओलावृष्टि की संभावना है। दिन के तापमान में चार डिग्री की गिरावट रही। मौसम वैज्ञानिक डॉ. यूपी शाही का कहना है कि अभी उत्तर भारत के अधिकांश भागों में चक्रवाती हवाओं के कारण तेज हवा गरज, ओला के साथ हल्की बारिश हो रही है।

मेरठ घंटाघर फाइल फोटो।

सुनिए शहर की ताजातरीन खबरें-

एतिहासिक औघड़नाथ मंदिर के पुजारी ने सैनिकों के दिल में जलाई थी क्रांति की ज्वाला


10 मई 1857 को मेरठ छावनी में क्रांति की ज्वाला यूं ही नहीं भड़की थी। मंदिर के पुजारी ने भारतीय सैनिकों के आत्मसम्मान को ललकारा था। हिंदू-मुस्लिम सैनिकों की आत्मा को झकझोरा था, तब जाकर क्रांति की ज्वाला प्रज्ज्वलित हुई थी। जिस ऐतिहासिक कुएं पर सैनिकों ने अंग्रेजों को मार गिराने की कसम खाई थी, उसी कुएं पर बने शहीद स्मारक पर सोमवार को शहीद क्रांतिकारियों को नमन किया जाएगा। लोगों को ऑनलाइन कार्यक्रम आयोजित करने के लिए कहा गया है।

17 मई तक कोरोना कर्फ्यू का सख्ती से होगा पालन

प्रदेश सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए कोरोना कर्फ्यू की अवधि बढ़ाकर 17 मई सुबह सात बजे तक कर दी है। मेरठ में नियम तोड़ने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। सड़कों पर बेवजह घूमने वालों के चालान काटे जाएंगे। खाद्यान्न की दुकानें पहले की तरह सुबह आठ से 11 बजे तक खुलेंगी। वहीं सोमवार को शहर की सभी बैंक शाखाएं बंद रहेंगी। 

रिपोर्ट निगेटिव... फिर भी जा रही जान, बढ़ रहे पोस्ट कोविड मरीज

मेरठ में कोरोना को हराने के बाद भी मरीजों को जिंदगी से जूझना पड़ रहा है। अस्पतालों में बेड के लिए मारामारी है। इसलिए कोरोना की रिपोर्ट निगेटिव आते ही कोविड अस्पतालों से बीमार हालत में ही मरीजों को छुट्टी दे दी जाती है। बाद में तबियत बिगड़ने के बाद मरीज इलाज के लिए भटकते फिर रहे हैं। कई मामले ऐसे भी सामने आए हैं जिसमें निगेटिव रिपोर्ट आने के बाद भी मरीज की मौत हो गई। यही कारण है कि कई नॉन कोविड अस्पताल बड़ी संख्या में पोस्ट कोविड मरीजों से भरे हैं। मरीजों को ऑक्सीजन की जरूरत पड़ रही है।

मेरठ में एक दिन में 1365 मरीज संक्रमित मिले, 15 की मौत

मेरठ में कोरोना की रफ्तार रुक नहीं रही है। रविवार को 1365 मरीज मिले, जबकि 15 लोगों की मौत हो गई है। 9 मौत मेडिकल और 6 निजी अस्पतालों में हुईं। 6927 सैंपलों की जांच हुई। इस लिहाज से 19.7 प्रतिशत मरीज संक्रमित निकले हैं। 16238 एक्टिव केस हैं। इनमें से 1791 अस्पतालों में भर्ती हैं, जबकि 6020 होम आइसोलेशन में हैं। अब तक 53024 लोगों को कोरोना की पुष्टि हो चुकी है। स्वास्थ्य विभाग कोरोना संक्रमण से 532 लोगों की मौत दिखा रहा है। 732 मरीजों की छुट्टी हुई है। अब तक 36253 की छुट्टी हो चुकी है। एंटीजन के मुकाबले आरटीपीसीआर जांच में ज्यादा संक्रमित निकल रहे हैं।

मालवाहक में चारपाई पर मरीज... ड्रिप लगी हुई 

बीमारी... परेशानी और बेबसी। मेरठ मेडिकल कॉलेज हो या निजी अस्पताल। यह किस्सा और दिल को झकझोर देने वाली यह तस्वीरें हर रोज की हैं। किसी को बेड नहीं मिल रहा है तो कोई इमरजेंसी के फर्श पर लेटने को मजबूर है। कोई भर्ती होने के लिए फोन करता है तो उससे कहा जाता है कि ऑक्सीजन सिलिंडर साथ लेकर आएं। निजी अस्पतालों में तो बिल भी मोटा बनाया जा रहा है। अपनों का हाल जानने के लिए मेडिकल के कोविड अस्पताल पहुंचे तीमारदार परेशान हैं। उनको पता नहीं चल पा रहा कि उनका मरीज किस हालत में है। मरीज तड़प रहे हैं और कोई सुनने वाला नहीं। इसी तरह ऑक्सीजन को लेकर मारामारी है। कोई मदद करना भी चाहे तो कर नहीं पा रहा है। कोविड अस्पताल में जिन मरीजों की मृत्यु हुई है उनमें से किसी का मोबाइल नहीं मिला है तो किसी की चाबी। किसी का पर्स गायब है तो किसी के हाथ का सोने का कड़ा। तमाम कोशिशों के बावजूद कोई सुन नहीं रहा है। मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. ज्ञानेंद्र कुमार का कहना है कि कोशिश है कि ज्यादा से ज्यादा मरीजों को बेहतर इलाज दे सकें।

अजित सिंह की अस्थियां विसर्जित

रालोद अध्यक्ष चौधरी अजित सिंह की अस्थियों का विर्सजन रविवार को ब्रजघाट पर किया गया। अस्थि विसर्जन की रस्म जयंत चौधरी ने पूरी की। इस दौरान परिवार के लोग ही शमिल रहे। 
छह मई को चौधरी अजित सिंह का निधन हो गया था। रविवार सुबह उनकी अस्थियों को ब्रजघाट लाया गया और यहां में विधिविधान के साथ गंगा में प्रवाहित किया गया। रालोद के प्रदेश प्रवक्ता सुनील रोहटा ने बताया कि अस्थि विसर्जन के समय जयंत चौधरी के साथ उनकी पत्नी चारु चौधरी, चौधरी अजित सिंह के दामाद विक्रमादित्य सिंह और उनकी भांजी के पति शैलेंद्र अग्रवाल मौजूद रहे। कोविड गाइड लाइन के चलते अस्थि विसर्जन की जानकारी किसी कार्यकर्ता को पहले से नहीं दी गई थी। जयंत चौधरी ने सभी को घर से ही प्रार्थना करने की अपील की थी। वहीं, चौधरी अजित सिंह की किसी भी अंतिम क्रिया में शामिल न हो पाने का मलाल कार्यकर्ताओं में रहा। इसे लेकर सोशल मीडिया पर उनकी प्रतिक्रियाएं भी देखने को मिल रही हैं।

मेरठ में एक जून से शुरू हो जाएगा पीएनजी शवदाह गृह

मेरठ में कोरोना महामारी की शुरुआत से ही सूरजकुंड श्मशान में पीएनजी शवदाह गृह की मांग की जा रही है। पार्किंग में प्लेटफार्म बनने के बाद भी शवों का सही ढंग से अंतिम संस्कार नहीं हो पा रहा है। ऐसे में आर्य समाज और गंगा मोटर कमेटी संयुक्त रूप से कार्य कर एक जून से पीएनजी शवदाह गृह शुरू करने की तैयारी कर रही है। इसके लिए फरीदाबाद की कंपनी को टोकन मनी भेज दी गई है।

कूड़ा उठाने वाले वाहन से श्मशान ले जाया गया शव

शामली के कस्बा जलालाबाद के मोहल्ला मोहम्मदीगंज में बीमार चल रही 50 वर्षीय महिला की मौत हो गई। कोरोना महामारी के डर से महिला के शव को कंधा देने के लिए कोई नहीं आया। हद तो तब हो गई जब नगर पंचायत के कूड़ा उठाने वाले वाहन से शव को श्मशान घाट ले जाया गया, जहां पर मृतका के भाई ने अंतिम संस्कार किया। वहीं इस मामले के बारे में सीएमओ ने अनभिज्ञता जताई है। उधर, मेरठ में भी एक इसी तरह का मामला सामने आया है।

मेरठ घंटाघर फाइल फोटो।

मेरठ: मेडिकल कॉलेज में फिर सामने आई बड़ी लापरवाही, कोविड वार्ड से लापता हुए बुजुर्ग पिता, बेटी ने सीएम योगी से लगाई गुहार

मेरठ में मेडिकल कॉलेज के कोविड वार्ड में बड़ी लापरवाही सामने आई है। यहां भर्ती 64 वर्षीय कोरोना संक्रमित बुजुर्ग संदिग्ध हालात में लापता हो गए। तीन मई से कर्मचारियों ने परिजनों को कोई सूचना नहीं दी तो शुक्रवार को वे मेडिकल कॉलेज पहुंच गए। यहां पर पता चला कि बुजुर्ग वार्ड में है ही नहीं। यह सुनते ही परिजनों के पैरों तले जमीन निकल गई। सभी वार्ड में उन्हें तलाशा गया, लेकिन कहीं पता नहीं चला। बुजुर्ग की बेटी ने अफसरों और मुख्यमंत्री से पिता की बरामदगी की मांग की है।
 
बेबसी: तड़प-तड़कर दम तोड़ रहे मरीज, ऑक्सीजन की कमी से तीन की मौत, अपनों के लिए भटक रहे परिजन
 
मेरठ के मेडिकल कॉलेज में शुक्रवार को तीन मरीजों की तड़प-तड़पकर मौत हो गई। परिजनों का आरोप है कि ऑक्सीजन की सप्लाई बंद होने के कारण उनकी मौत हुई। मेडिकल प्रशासन का कहना है कि ऑक्सीजन पर्याप्त थी, जो उपचार दिया जा सकता था, वो दिया गया था।

यूपी: अब गांवों में कोरोना का कहर, एक दिन में मिले 1036 लोग बीमार, पढ़िए पूरा अपडेट

मेरठ में कोराना का कहर शहर से गांवों में पहुंच गया है। मेडिकल कॉलेज में पहले शहर से अधिक मरीज आ रहे थे। लेकिन, अब गांवों से कोरोना पॉजिटिव मरीज आने की संख्या बढ़ गई है। शुक्रवार को जिले भर के गांवों में हुई जांच में एक दिन में 1036 लोग बीमार मिले हैं। 187 में कोरोना की पुष्टि हुई है।

मेरठ: नहीं थम रहा कोरोना का कहर, लगातार बढ़ रहे मरीज, 20 दिन में 25 लोगों की मौत

मेरठ के जानी क्षेत्र में पिछले एक माह से लगातार संक्रमण या बुखार से मौत होने का सिलसिला चल रहा है। जानी ब्लाक के गांवों में पिछले 20 दिनों में करीब 25 व्यक्तियों की मौत हो चुकी है। जिसमें से ग्रामीण आधा दर्जन मौतों को कोरोना से होना बता रहे हैं। वहीं, कस्बा सिवाल खास में भी ग्रामीण भाजपा जिला महामंत्री सहित पांच व्यक्तियों की मौत कोरोना से होना बता रहे हैं। 

दर्दनाक मौत: कार में दम घुटने से चार मासूमों की गई जान, मचा कोहराम, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल

उत्तर प्रदेश के बागपत जनपद में शुक्रवार को एक बड़ी घटना हो गई। सिंगौली तगा गांव में कार में बैठे चार बच्चों की दम घुटने से मौत हो गई। इससे परिवारों में कोहराम मच गया। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची और मामले की पूरी जानकारी ली। बताया गया कि ऑटो लॉक लगने से बच्चों का दम घुट गया और उनकी दर्दनाक मौत हो गई। मरने वाले बच्चों में दो लड़की और दो लड़के हैं। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है। 

यूपी: सपा विधायक समेत 35 नेताओं के खिलाफ मुकदमा, सामूहिक रोजा इफ्तार कार्यक्रम में लिया था हिस्सा

उत्तर प्रदेश के बिजनौर जनपद में सामूहिक रोजा इफ्तार पार्टी में जाने पर सपा विधायक समेत 35 पर मुकदमा किया गया है। कोरोना महामारी के दौर में सामूहिक रोजा इफ्तार कार्यक्रम में हिस्सा लेने के आरोप में नगीना पुलिस ने सपा विधायक मनोज पारस सहित 35 नेताओं के खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया है। वहीं कार्रवाई के बाद कुछ लोग पुलिस की आलोचना कर रहे हैं तो कुछ लोग इसे कोरोना की रोकथाम के लिए उठाया सख्त कदम बता रहे हैं। कोरोना के चलते शासन भीड़ जुटाने को लेकर सख्त नजर आ रहा है। जिले में हर रोज 100 से ज्यादा कोरोना के मरीज मिल रहे हैं। 

अमर उजाला एक्सक्लूसिव: मेरठ के दौराला में बनेगा ऑक्सीजन प्लांट, होगी 30 बेड की व्यवस्था
मेरठ में कोरोना महामारी का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है। हर जगह ऑक्सीजन व अस्पतालों में बेड की व्यवस्था न होने से लोग मौत का शिकार हो रहे हैं। सबसे अधिक परेशानी देहात क्षेत्र के लोगों को उठानी पड़ रही है। ऐसे में दौराला शुगर मिल ने देहात के मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा देने के लिए सीएचसी दौराला में ऑक्सीजन प्लांट लगाने का आश्वासन दिया है। साथ ही आईसीयू व वेंटिलेटर की व्यवस्था भी की जाएगी। जिसका कार्य जल्द शुरू होगा।

आवाज

Election
  • Downloads

Follow Us