लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Punjab ›   Amritsar ›   Controversy over Gurdwara committee in frontier village Kohali, swords waved

Amritsar News: गुरुद्वारा कमेटी को लेकर आमने-सामने हुए दो गुट, लहराई तलवारें, सीमांत गांव कोहाली का मामला

संवाद न्यूज एजेंसी, अमृतसर (पंजाब) Published by: पंजाब ब्‍यूरो Updated Sun, 25 Sep 2022 10:45 PM IST
सार

गांव का सरपंच लखबीर सिंह लोकल कमेटी बनाकर गुरुद्वारे की बागडोर आनंदपुर साहिब वाले बाबा सुच्चा सिंह के हाथों में सौंपना चाहता था मगर गांव वाले इसके खिलाफ थे।

गांव कोहाली के गुरुद्वारा में जुटे लोग।
गांव कोहाली के गुरुद्वारा में जुटे लोग। - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी।
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

अमृतसर के सीमांत थाना लोपोके के गांव कोहाली में गुरुद्वारे के प्रबंधन के लिए कमेटी गठित किए जाने के विवाद में रविवार को दो गुट आमने-सामने हो गए। इस दौरान कुछ लोगों ने हवा में तलवारें लहराईं। इसके चलते गांव में दहशत फैल गई और पूरे घटनाक्रम की गतिविधियां सीसीटीवी में कैद हो गईं।



प्रशासन ने तुरंत हरकत में आते हुए गांव में धारा 144 लगा दी। एसडीएम अजानाला ने अपने अधिकारों का प्रयोग करते हुए गुरुद्वारा साहिब व इसके साथ जुड़े स्कूल व जमीन पर सीआरपीसी की धारा 145 लगा दी है। वहीं दूसरी तरफ सीआरपीसी की धारा 146 के तहत लोपोके के नायब तहसीलदार को गुरुद्वारा साहिब का रिसीवर लगा दिया गया है।


जानकारी के मुताबिक गांव का सरपंच लखबीर सिंह लोकल कमेटी बनाकर गुरुद्वारे की बागडोर आनंदपुर साहिब वाले बाबा सुच्चा सिंह के हाथों में सौंपना चाहता था मगर गांव वाले इसके खिलाफ थे। गांव वालों का कहना था कि गुरुद्वारे की लोकल कमेटी में गांव के लोगों को शामिल किया जाए और गांव के ही लोगों को इसकी बागडोर सौंपी जाए। इस मुद्दे पर पिछले एक सप्ताह से दो गुटों के बीच विवाद चल रहा था। जिसे लेकर अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर गांव का दौरा कर चुके थे और अजनाला के एसडीएम अमनप्रीत सिंह से पल-पल की रिपोर्ट ले रहे थे।

आप के हलका इंचार्ज पर आरोप

इसी बीच रविवार को दोनों गुट आमने- सामने हो गए। कुछ लोगों ने तलवारें पकड़ी हुई थीं, जिन्हें लहराकर एक दूसरे को ललकार रहे थे। इसकी जानकारी मिलते ही एसडीएम अजनाला मौके पर पहुंचे और शांति भंग होने की आशंका को देखते हुए धारा 144 लगा दी। गांव के हरजीत सिंह, हरपाल सिंह और साधु सिंह ने आम आदमी पार्टी के हलका इंचार्ज बलदेव मियादियां पर आरोप लगाया कि उनके कहने पर ही कुछ लोग हथियारों से लैस होकर गुरुद्वारा साहिब पहुंचे हैं। वहीं दूसरी तरफ मियादियां ने इन आरोपों को नकारते हुए कहा कि गांव वाले गुरुद्वारा साहिब के लिए लोकल कमेटी गठित करने में गांव के लोगों को शामिल करने के इच्छुक हैं, जबकि गांव का सरपंच बाहर से बाबा सुच्चा सिंह को लाकर कमेटी की बागडोर उन्हें सौंपना चाहता है।


एसडीएम अजनाला अमनप्रीत सिंह ने बताया कि मौके को देखते हुए वहां धारा 144 लगा दी गई है। वहीं दोनों गुटों के लोगों को वापस भेज दिया गया है। उन्होंने बताया कि गुरुद्वारा साहिब और गुरुद्वारा साहिब से जुड़े स्कूल, जमीन व अन्य संपत्ति पर सीआरपीसी की धारा 145 लगाई गई है। साथ ही सीआरपीसी की धारा 146 के तहत गुरुद्वारा साहिब व उनसे जुड़ी संपत्ति आदि की देखभाल के लिए लोपोके के नायब तहसीलदार को रिसीवर नियुक्त कर दिया है, जो विवाद हल होने तक गुरुद्वारा साहिब व इनसे जुड़ी संपत्ति के प्रबंधक के तौर पर काम करेंगे।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00