Hindi News ›   Punjab ›   Amritsar ›   Punjab Police arrested two spies who sent intelligence of country to ISI

पंजाब: आईएसआई को खुफिया जानकारियां भेजने वाले दो जासूस गिरफ्तार, मोबाइल से सेना के वाहनों, नक्शों की तस्वीरें मिलीं

संवाद न्यूज एजेंसी, अमृतसर (पंजाब) Published by: भूपेंद्र सिंह Updated Thu, 19 May 2022 08:41 AM IST
सार

मूलरूप से कोलकाता और बिहार निवासी युवक अमृतसर में रह रहे थे। मोबाइल से सेना की इमारतों, वाहनों तथा नक्शों आदि की तस्वीरें मिलीं हैं। बिहार निवासी मोहम्मद शमशाद स्टेशन के सामने नींबू पानी बेचता था।

पंजाब पुलिस  (फाइल फोटो)
पंजाब पुलिस (फाइल फोटो) - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

पंजाब पुलिस ने पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई को भारत की गुप्त सूचनाएं पहुंचाने के आरोप में दो जासूसों को गिरफ्तार किया है। उनके मोबाइल से भारतीय सेना की इमारतों, वाहनों तथा नक्शों आदि की फोटो मिली हैं, जो पाकिस्तान भेजी गई थीं। इनमें जाफिर रियाज मूलरूप से कोलकाता का रहने वाला है और फिलहाल पाकिस्तान में रह रहा था। जबकि दूसरा साथी मोहम्मद शमशाद अजनाला रोड स्थित मीरांकोट चौक में रहता था। खुफिया एजेंसियों के अधिकारी उनसे पूछताछ में जुटे हैं।



सूत्रों के मुताबिक, स्टेट ऑपरेशन सेल (एसएसओसी) को गुप्त सूचना के आधार पर दोनों को बुधवार को अमृतसर से गिरफ्तार किया है। अधिकारियों ने दोनों के मोबाइल कब्जे में ले लिए। जांच के दौरान सामने आया कि जाफिर रियाज 2005 में पाकिस्तान गया था, जहां उसने लाहौर के मॉडल टाउन की राबिया के साथ शादी कर ली।


इस दौरान वह पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी के एजेंट अवैश के संपर्क में आया तो जिसने उसे भारत की जानकारियां देने की बात कहते हुए बड़ी रकम का लालच दिया। इसके बाद वह कोलकाता आ गया। इस बीच उसका ससुर शेर जहांगीर अहमद उसे पाकिस्तान में आकर रहने को कहता रहा, लेकिन वह नहीं गया।

अधिकारियों को यह भी पता चला कि 2012 में जाफिर रियाज का कोलकाता में एक्सीडेंट हो गया और उसकी आर्थिक हालत खस्ता हो गई थी। ससुरालियों के आग्रह पर वह पाकिस्तान चला गया। हालांकि इलाज के लिए बार-बार अमृतसर आता-जाता रहा। इस दौरान उसने अमृतसर रेलवे स्टेशन के सामने नींबू पानी बेचने वाले बिहार के जिला मधुबन के गांव भेजा व हाल में मीरां चौक निवासी मोहम्मद शमशाद को अपने साथ मिला लिया।

यह भी पता चला कि जाफिर ने मोहम्मद शमशाद को पाकिस्तान के एजेंट अवैश से भी मिलवाया। शमशाद ने उसे बताया कि वह पिछले 20 सालों से अमृतसर में रह रहा है। अवैश ने उसे पैसे का लालच दिया तो उसने एयरफोर्स स्टेशन तथा कैंट एरिया की फोटो मोबाइल से खींचकर उसे भेज दीं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00