लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Punjab ›   Amritsar ›   Jawan dies under suspicious circumstances after being shot, parents accuse army

गोली लगने से जवान की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, माता-पिता ने सेना पर लगाए आरोप

Punjab Bureau पंजाब ब्‍यूरो
Updated Thu, 22 Sep 2022 10:51 PM IST
Jawan dies under suspicious circumstances after being shot, parents accuse army
विज्ञापन
ख़बर सुनें
संवाद न्यूज एजेंसी

गुरदासपुर। दीनानगर के गांव वजीरपुर निवासी 23 वर्षीय सैनिक जवान अमरपाल की ड्यूटी आसाम के तेजपुर में थी। ड्यूटी के दौरान संदिग्ध परिस्थितियों में गोली लगने से जवान की मौत हो गई। पारिवारिक सदस्यों का आरोप है कि भारतीय सेना ने उनके जवान बेटे की बेकद्री की है। शव को लिफाफे में लपेटकर साथ आए जवान गांव के बाहर ही गाड़ी से उतार कर चले गए। उनकी मांग है कि इसकी जांच की जाए कि कौन से हालातों में उनके बेटे की मौत हुई है क्योंकि अमरपाल आत्महत्या करने वालों में से नहीं था। इस संबंधी रोष के चलते परिजनों तथा गांव वालों की ओर से बनता मान सम्मान देने के लिए शव को ले जाकर डीसी दफ्तर के बाहर धरना भी लगाया गया। इस दौरान उनकी ओर से वीरवार को सड़क भी जाम कर दी गई। बाद में आश्वासन मिलने के बाद धरना खत्म किया गया तथा शव का अंतिम संस्कार किया गया। इसमें डीसी गुरदासपुर सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी भी पहुंचे हुए थे।
जानकारी देते हुए अमरपाल के माता-पिता ने बताया कि सोमवार शाम 4:30 बजे करीब अमरपाल के साथ उनकी बात हुई थी और उस समय वह बिल्कुल ठीक-ठाक था। मंगलवार सुबह उन्हें गांव के सरपंच ने सूचना दी कि अमरपाल ने गोली मारकर आत्महत्या कर ली है। उसकी जगह के किसी अधिकारी ने उसके परिवार को कोई सूचना नहीं दी। बाद में उनके मित्र के साथ संपर्क करने पर उन्होंने बताया कि अमरपाल की सुबह 4 से 6 बजे तक ड्यूटी थी। ड्यूटी के दौरान 5 बजे वह कपड़े लेकर कमरे में छोड़ने के लिए गया और इसी दौरान ही कमरे में जाकर उसने अपने आप को गोली मार ली। ऐसा कोई भी कारण नहीं था कि अमरपाल आत्महत्या कर लेता इस मामले की जांच होनी चाहिए। वहीं अमरपाल का शव बुधवार को अमृतसर हाईवे अड्डे पर पहुंचा और शाम को उसे सेना की गाड़ी में गांव लाया गया मगर साथ आए साथियों ने शव वाला बक्सा गांव के बाहरी उतार दिया और वापस चले गए। उनके बेटे का शव लिफाफे में बुरे तरीके से लपेटा हुआ था। इसी कारण उन्होंने डीसी दफ्तर के बाहर धरना लगाया था।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00