बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
बुध का तुला राशि गोचर, जानें क्या होगा आपके जीवन पर प्रभाव
Myjyotish

बुध का तुला राशि गोचर, जानें क्या होगा आपके जीवन पर प्रभाव

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

नया मंत्रिमंडल गठन की कवायद: राहुल गांधी के आवास पहुंचे पंजाब सीएम चन्नी, जल्द होगा नए मंत्रियों का एलान

पंजाब की नई कैबिनेट के गठन की कवायद तेज हो गई है। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं। कहा जा रहा है कि नई कैबिनेट का बहुत जल्द एलान संभव है। कई पुराने मंत्रियों को नई कैबिनेट से बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है। हाईकमान और मुख्यमंत्री चन्नी मंत्रियों के नामों पर मंथन कर रहे हैं। शुक्रवार रात को मुख्यमंत्री चन्नी पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आवास पर पहुंचे। खबरों के मुताबिक शनिवार तक नए मंत्रियों के नामों के फाइनल होने की उम्मीद है। वहीं अगले सप्ताह शपथ ग्रहण होगा।

कांग्रेस नेतृत्व चन्नी को आगे कर चुन रहा है नई टीम
कांग्रेस नेतृत्व पंजाब में नई कैबिनेट के गठन को लेकर मुख्यमंत्री चरनजीत सिंह चन्नी को आगे रखकर ही फैसला ले रहा है। चन्नी को अपनी टीम बनाने की पूरी छूट दी गई है। यही कारण है कि प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू इस कवायद से दूर हैं। उम्मीद है कि शनिवार तक पंजाब के मंत्रिमंडल के नामों पर अंतिम मुहर लग जाएगी। 

सब ठीक रहा तो अगले सप्ताह शपथ ग्रहण समारोह होगा। कांग्रेस नेतृत्व चन्नी मंत्रिमंडल के लिए मंत्रियों के नाम थोपने के बजाय उन्हीं के सुझाए पर नामों को लेकर अन्य वरिष्ठ नेताओं से विचार विमर्श कर रहा है। पंजाब से जुड़े कुछ अन्य वरिष्ठ नेताओं के सुझाव भी चयन प्रक्रिया के लिए अहम माने जा रहे हैं। 

कैप्टन अमरिंदर सिंह की कैबिनेट में शामिल मंत्रियों के कामकाज की समीक्षा भी की गई और उन्हीं नामों पर पुनर्विचार किया जा रहा है, जिनके साथ काम करने में चन्नी सहज होंगे। नेतृत्व कुछ नए चेहरे भी शामिल करना चाहता है, जो किसी गुट विशेष या विवादों से दूर थे। नेतृत्व का फोकस मंत्रिमंडल का ऐसा चेहरा सामने रखने का है, जिन्हें चुनाव में आगे रखकर चला जा सके। मंत्रियों के लिए क्षेत्रीय और जातीय समीकरण के साथ उनकी जनता में छवि और पृष्ठभूमि को लेकर अधिक सवाल किए जा रहे हैं।
... और पढ़ें
राहुल गांधी के आवास जाते पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी। राहुल गांधी के आवास जाते पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी।

लुधियाना में सड़क हादसा: दो कंटेनर से टकराई एक कार, मां-बेटी की मौके पर ही मौत, दो अन्य लोग घायल

लुधियाना में मलेरकोटला रोड पर गोपालपुर गांव में गलत दिशा से आ रहे दो कंटेनर से एक कार जा टकराई। हादसा इतना भीषण था कि कार में सवार मां-बेटी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि कार चालक और उसकी मां दोनों बुरी तरह से घायल हो गए। हादसे के तुरंत बाद वहां से गुजर रहे लोगों ने दोनों को निजी अस्पताल पहुंचाया, जहां से उन्हें डीएमसी अस्पताल रेफर कर दिया। 

सूचना के बाद थाना डेहलों की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने जांच की तो पता चला कि गुरु गोबिंद सिंह नगर निवासी जसपाल सिंह और उसकी मां मंजीत कौर घायल हैं। जबकि जसपाल की पत्नी अमनदीप कौर और उसकी बेटी मवलीन कौर की मौके पर ही मौत हो गई। 

यह भी पढ़ें-
पंजाब के सीएम का अलग अंदाज: पंजाब टेक्निकल यूनिवर्सिटी पहुंचे चन्नी ने डाला भंगड़ा, जमकर थिरके

पुलिस ने जांच के बाद दोनों के शव पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल भेज दिया है। पुलिस ने इस मामले में जसपाल सिंह की शिकायत पर अज्ञात ड्राइवरों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिवार वालों को सौंप दिए है। जसपाल सिंह की ओर से पुलिस के पास दर्ज कराई शिकायत के मुताबिक वह छह सितंबर को अपनी पत्नी अमनदीप कौर, मां मंजीत कौर और बेटी मवलीन कौर के साथ मलेरकोटला से लुधियाना ऑल्टो कार में आ रहा था। 

जब वह गोपालपुर दाना मंडी के पास पहुंचे तो इसी दौरान बाईं और से दो ट्रक कंटेनर बिना इंडिकेटर और हार्न के गलत तरीके से रोड पर चढ़े। उनकी लाइट्स भी बंद थीं। जिसके चलते कार पीछे वाले कंटेनर को टच करते हुए आगे वाले के पीछे जा घुसी। हादसे में उसकी पत्नी व बेटी की मौत हो गई। जबकि वह और उसकी मां गंभीर रूप से घायल हो गए। 

यह भी पढ़ें- फैसला: अब पंजाब शिक्षा बोर्ड साल में दो टर्म में आयोजित करेगा परीक्षा, दोनों के आधार पर बनेगा रिजल्ट

थाना डेहलों के एसएचओ इंस्पेक्टर सुखदेव सिंह बराड़ ने बताया कि पहले परिवार वालों ने कार्रवाई नहीं करवाई थी। जिस कारण मामला दर्ज नहीं किया गया था। अब परिवार वालों ने मामला दर्ज करने शिकायत की है। कार्रवाई की जा रही है। जल्द ही ट्रक ड्राइवरों का पता लगा उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। 
... और पढ़ें

पंजाब: हेरोइन तस्करी में शामिल दंपती गिरफ्तार, एसटीएफ की मोस्टवांटेड लिस्ट में शामिल हैं आरोपी

जिला पुलिस ने दिल्ली के भगोड़े दंपती को हेरोइन तस्करी में गिरफ्तार किया है। आरोपियों से 400 ग्राम हेरोइन बरामद की गई है। दोनों आरोपी वर्ष 2019 में पांच किलो हेरोइन सप्लाई के मामले में वांछित थे। इन्हें ट्रेन से गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी दीपक कुमार और उसकी पत्नी प्रीति दिल्ली के मायापुरी में हरिनगर की जे 17/बी बेरी वाला बाग गली नंबर-2 के रहने वाले हैं ।
                                       
जालंधर छावनी रेलवे स्टेशन के पास से दबोचे गए
एसएसपी हरकमलप्रीत सिंह ने बताया कि कपूरथला पुलिस को दिल्ली से पंजाब की ओर ट्रेन में यात्रा करने वाले इस जोड़े के बारे में तस्करी की सूचना मिली थी। जिसके बाद जालंधर छावनी रेलवे स्टेशन के पास से दोनों को ट्रेन से गिरफ्तार किया गया। दंपती के खिलाफ थाना सदर कपूरथला में एक अगस्त 2019 को एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया था।
 
यह भी पढ़ें - 
फैसला: अब पंजाब शिक्षा बोर्ड साल में दो टर्म में आयोजित करेगा परीक्षा, दोनों के आधार पर बनेगा रिजल्ट 

पांच किलो हेरोइन की गई थी बरामद
मामले के अनुसार आरोपियों से पांच किलो हेरोइन बरामद की गई थी। उसी मामले में अदालत की ओर से इस जोड़े को भगोड़ा घोषित किया गया था। एसएसपी ने बताया कि दंपती हेरोइन की खेप देने जा रहे थे। यह हेरोइन एक बैग में छिपाकर रखी गई थी। उस बैग को वे ट्रेन में अपनी सीट के नीचे छोड़ गए थे। गिरफ्तार करने वाली टीम को उस समय बैग के बारे में सूचित नहीं किया गया था।
 
आरोपियों को रिमांड पर लिया गया
इसके बाद रेलवे पुलिस पार्टी की ओर से पठानकोट रेलवे स्टेशन पर एसी कंपार्टमेंट ए 1 में सीट संख्या 21-22 के नीचे पड़े लावारिस बैग को बरामद किया गया था। उन्होंने जीआरपी स्टेशन पठानकोट में 23 सितंबर 2021 को मामला दर्ज किया है। कपूरथला पुलिस ने उन्हें मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश कर पुलिस रिमांड पर ले लिया है।
... और पढ़ें

पंजाब: लुधियाना में पुराने नौकर ने साथियों के साथ कारोबारी से मांगी 10 लाख की रंगदारी, तीन गिरफ्तार

शहर के शेरपुर चौक के पास टाइल शोरूम मालिक को फोन पर धमकियां देकर 10 लाख की रंगदारी मांगे जाने के मामले में चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। रंगदारी मांगने वाला कोई और नहीं, बल्कि मालिक के पास काम करने वाला पुराना नौकर निकला। साजिश में उसके दो साथी भी शामिल मिले। पुलिस ने तीनों का काबू कर लिया है। आरोपियों ने प्लानिंग के तहत टाइल कारोबारी राकेश को धमकाया। आरोपियों से हथियार भी मिले हैं। पुलिस ने तीनों आरोपियों को उस समय गिरफ्तार कर लिया, जब तीनों रंगदारी लेने के लिए ग्यासपुरा पार्क के पास खड़े थे। पुलिस ने उनसे देसी पिस्तौल, दो कारतूस, तेजधार हथियार, एक स्कूटी और मोबाइल बरामद किया है। पुलिस ने मामले में राकेश कुमार की शिकायत पर ग्यासपुरा के गुरमीत नगर निवासी अमनदीप सिंह उर्फ लक्की, पंकज यादव व गुरु अमरदास कॉलोनी निवासी उदय प्रताप को पकड़ा है।

दो दिन के रिमांड में उगलवाएगी पुलिस
आरोपी लक्की और पंकज मूलरूप से उत्तर प्रदेश के जिला सुल्तानपुर स्थित गांव नगोलिया के रहने वाले हैं । पुलिस ने आरोपियों को अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें दो दिन के रिमांड पर लिया गया है। ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर रूरल डॉ. सचिन गुप्ता ने बताया कि राकेश कुमार का शेरपुर चौक पर टाइलों का कारोबार है। वीरवार को वे अपनी दुकान पर बैठे थे। इसी दौरान राकेश को फोन कर आरोपियों ने धमकाया कि वह शाम तक 10 लाख रुपये लेकर ग्यासपुरा पार्क तक आ जाए। नहीं तो उसकी गोली मारकर हत्या कर दी जाएगी। राकेश ने तुरंत इसकी जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने ट्रैप लगाकर आरोपियों को गिरफ्तार कर कब्जे से हथियार और अन्य सामान बरामद कर लिया।
 
28 अगस्त को 80 हजार रुपये लूटे थे
डॉ. सचिन गुप्ता ने बताया कि राकेश कुमार से पहले भी लूट हो चुकी है। 28 अगस्त को राकेश कुमार दुकान बंद कर घर जाने लगे तो आरोपियों ने बाइक पर पीछा किया और टक्कर मारकर नीचे गिरा दिया। इसके बाद आरोपी 80 हजार रुपये लूटकर फरार हो गए। इसके बाद आरोपियों ने इलाके में एक के बाद एक तीन से चार लूट की वारदात को अंजाम दिया।
 
आरोपी पंकज यादव राकेश के पास करता था काम
डॉ. सचिन गुप्ता और एडीसीपी-4 रूपिंदर कौर सरां ने बताया कि जांच के दौरान पता चला कि आरोपी पंकज यादव पहले राकेश कुमार के पास काम करता था। उसे राकेश कुमार के बारे में पूरी जानकारी थी कि वे कब दुकान पर आते हैं और कब उन्हें कौन मिलने आता है। यहां तक कि उसे राकेश के पारिवारिक सदस्यों के बारे में भी पता था। पंकज को यह भी पता था कि राकेश काफी डरपोक है। राकेश से लूटपाट के बाद आरोपियों को लगा कि राकेश सॉफ्ट टारगेट है।
 
अमनदीप ने सुल्तानपुर से मंगवाया था पिस्तौल
डॉ. सचिन गुप्ता ने बताया कि पिस्तौल अमनदीप से बरामद हुआ है। अमनदीप ने उत्तरप्रदेश के जिला सुल्तानपुर से सस्ते दामों में पिस्तौल मंगवाया था । इसके अलावा आरोपियों से जो एक्टिवा बरामद हुई है, उसकी जांच की जा रही है कि चोरी की है या फिर तीनों में से किसी अन्य की। बाकी पुलिस उस बाइक का भी पता लगाने में जुटी है, जिस पर सवार होकर आरोपियों ने राकेश से पहले भी लूट की थी।
 
... और पढ़ें

जालंधर में भीषण हादसा: स्कूटी व इंडेवर में टक्कर, पिता और दो बच्चों की मौत, बेटे का काटना पड़ा पैर

सांकेतिक तस्वीर
पठानकोट राष्ट्रीय राजमार्ग पर पचरंगा के पास इंडेवर कार ने स्कूटी सवार को टक्कर मार दी। हादसे में स्कूटी सवार परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई। स्कूटी पर पांच लोग सवार थे। जबकि मां बेटा इस दुर्घटना में घायल हो गए हैं। बेटे का पैर भी काटना पड़ा, उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। 

यह भी पढ़ें-
चंडीगढ़ में दिखा वायुसेना का शौर्य: सुखना लेक के ऊपर गरजे राफेल व चिनूक, मौसम के कारण नहीं उड़े सूर्यकिरण

पुलिस ने गाड़ी चालक को गिरफ्तार कर लिया है। वह दिल्ली का रहने वाला है और जम्मू से लौट रहा था। उसके खिलाफ केस दर्जकर लिया गया है। एसपी मनप्रीत सिंह ढिल्लो ने बताया कि होशियारपुर के जोधा गांव से संदीप अपने तीन बच्चों समर, जीविका, गैरी और पत्नी जसवीर कौर के साथ शकरपुर अपनी ससुराल आ रहा था। जब वह भोगपुर के पचरंगा गांव के पास पहुंचे तो वहां इंडेवर से आमने-सामने टक्कर हो गई। जिस समय टक्कर हुई, उस समय मूसलाधार बारिश हो रही थी।

टक्कर काफी जोरदार थी, जिसमें जीविका वहीं सड़क पर ही गिर पड़ी और उसकी मौत हो गई। बाकी लोग भी स्कूटी से खाई में जा गिरे। वहां खड़े लोगों ने एक बच्ची को बारिश से इकट्ठा हुए पानी में गिरा देखा तो हादसे का पता चला। वे तुरंत बचाने के लिए दौड़े। हालांकि तब तक संदीप (35), उसकी बेटी जीविका (5) और समर (2) की मौत हो चुकी थी।

यह भी पढ़ें- कैप्टन अमरिंदर के नए खुलासे: कहा- तीन हफ्ते पहले ही इस्तीफे की पेशकश की थी, सिद्धू के खिलाफ मजबूत उम्मीदवार उतारूंगा

एसपी मनप्रीत सिंह ने बताया कि हादसे में एक बच्चा गैरी गंभीर रूप से जख्मी हो गया। उसे अस्पताल ले गए तो उसका पैर बुरी तरह से जख्मी था, उसकी खून की नाड़ियां काफी कट चुकी थी और अंदर से मांस छलनी हो चुका था। इस कारण चिकित्सकों को आशंका थी कि पैर में इंफेक्शन हो सकता है, इसी कारण डॉक्टरों को गैरी का पैर काटना पड़ा। महिला जसवीर कौर की हालत भी नाजुक बनी हुई है। 
... और पढ़ें

मोहाली: नई डीसी ने की सरकारी दफ्तरों में औचक चेकिंग, लोगों की मुश्किलें जानीं, अधिकारियों को दी हिदायत

मोहाली की नई डीसी ईशा कालिया कार्यभार संभालने के साथ ही पूरी तरह से सक्रिय हो गई हैं। शुक्रवार को उन्होंने सेक्टर-76 स्थित जिला प्रबंधकीय कांप्लेक्स स्थित सरकारी दफ्तरों की औचक जांच की। साथ ही सरकारी दफ्तरों द्वारा लोगों को मुहैया करवाई जा रही सेवाओं का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने लोगों से मुलाकात कर सरकारी सेवाओं का फीडबैक लिया। उन्होंने अधिकारियों व मुलाजिमों को अपने प्रदर्शन सुधारने के टिप्स भी दिए। 

उन्होंने कहा कि सरकारी दफ्तर में आने वाला कोई भी व्यक्ति निराश होकर वापस जाना नहीं चाहिए। तय समय में लोगों को सुविधाएं मुहैया करवाईं जाएं। किसी भी प्रकार की अत्यधिक देरी के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाई जा रही है। साथ ही संबंधित कार्यालय के प्रबंधन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें : 
दौरा: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पहुंचीं चंडीगढ़, कहा-देश में तेजी से हो रहे हैं आर्थिक सुधार  

जानकारी के मुताबिक डीसी ईशा कालिया व अधिकारियों की टीम ने फर्द केंद्र, सुविधा केंद्र, आरटीआई दफ्तर, तहसील दफ्तर का दौरा किया। इस दौरान वहां पर काम कर रहे मुलाजिमों की दिक्कतों को जाना। साथ ही उच्च अधिकारियों को खामियों को सुधारने की हिदायत दी। उन्होंने टोकन नंबर जारी करने से लेकर सेवा मुहैया करवाए जाने की प्रक्रिया को समझा। 

इस मौके पर उन्होंने सुविधा केंद्र के प्रबंधन को हिदायत दी कि काउंटर पर आने वाला प्रत्येक व्यक्ति जिस सेवा के लिए आता है, उसे उस सेवा के बारे विस्तार से बताया जाए। कौन से दस्तावेज लगने हैं, इसके बारे में गाइड किया जाए। ताकि व्यक्ति को बाद में परेशानी न उठानी पड़े। डीसी ने कहा कि टोकन प्रदान करने के बाद लोगों को निर्धारित समय सीमा में ही सेवाएं प्रदान की जाएंगी। साथ ही सरकारी दफ्तरों में आने वाले लोगों को बैठने के लिए कुर्सियों आदि की उचित व्यवस्था होनी चाहिए। ताकि लोगों को दिक्कत न उठानी पड़े। इस मौके उनके साथ एडीसी (जी) कोमल मित्तल, एडीसी (डी) डॉ. हिमांशु, एसी जी तरसेम चंद भी मौजूद थे।

अधिकारियों को ऐसे आना होगा पेश
डीसी ईशा कालिया ने कहा कि लोगों की सुविधा के लिए सरकार ने सेवा केंद्र खोले हैं। वहां पर किसी भी तरह की ढिलाई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि इन केंद्रों के कामकाज पर पैनी नजर रखने के लिए इस तरह के औचक निरीक्षण नियमित रूप से किए जाएंगे। डीसी ने केंद्रों में काम करने वाले कर्मचारियों को लोगों के प्रति अच्छा रवैया रखने और उनके साथ विनम्रता से पेश आने को कहा।
... और पढ़ें

पंजाब: पनबस कर्मियों ने बंद करवाए बस स्टैंड, सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी, सीएम आवास घेरने का एलान

अमृतसर: पत्नी ने प्रेमी संग मिलकर की थी पति की हत्या, एक माह बाद एक फोटो ने खोला राज

अमृतसर में मेहता थाना पुलिस ने एक माह पहले हुई एक व्यक्ति की मौत के मामले में उसकी पत्नी और प्रेमी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने दोनों को सीसीटीवी की फुटेज और फोटो में मृतक के गले पर मिले रस्सी के निशान के आधार पर गिरफ्तार किया है। आरोपियों को अदालत में पेश किया गया।
 
यह भी पढ़ें-
चंडीगढ़ में दिखा वायुसेना का शौर्य: सुखना लेक के ऊपर गरजे राफेल व चिनूक, मौसम के कारण नहीं उड़े सूर्यकिरण

मेहता थाना के प्रभारी मुख्तियार सिंह ने बताया कि मृतक की मां की शिकायत के बाद दोनों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। मेहता निवासी प्रीतम सिंह की पत्नी राज कौर ने पुलिस को बताया कि उनके दो बेटे हैं। छोटा बेटा उनके साथ रहता है, जबकि गुलजीत सिंह (37) पत्नी के साथ रहता है। उनकी बहू बलजीत कौर के जंडियाला गुरु के गांव रसूलपुर कलां के इंद्रजीत सिंह से प्रेम संबंध थे। इसका पता चलने पर उनका बेटा इंद्रजीत सिंह को घर आने से रोकता था।

शिकायतकर्ता ने पुलिस को बताया कि 22 अगस्त की शाम करीब पांच बजे उन्होंने अपने बड़े बेटे को देखा जो बेसुध पड़ा था। उसकी मौत हो जाने पर अंतिम संस्कार कर दिया। बाद में उन्हें फोटो मिले, जिसमें उन्होंने पाया कि जब गुलजीत का स्नान करवाया जा रहा था तो उसके गले में रस्सी के निशान थे।

यह भी पढ़ें- कैप्टन अमरिंदर के नए खुलासे: कहा- तीन हफ्ते पहले ही इस्तीफे की पेशकश की थी, सिद्धू के खिलाफ मजबूत उम्मीदवार उतारूंगा

थाना प्रभारी मुख्तियार सिंह ने बताया कि एफआईआर दर्ज करने के बाद मृतक के घर के आसपास के इलाकों में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली गई। इसमें सामने आया कि इंद्रजीत सिंह घटना के वक्त वहां से निकल रहा था। इसके बाद दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। 
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X