लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Himachal Pradesh ›   himachal congress vidhayak dal bethak bhupinder singh hooda rajiv shukla bhupesh baghel reached in shimla

हिमाचल में मुख्यमंत्री कौन?: विधायक दल की बैठक से पहले प्रतिभा समर्थकों का हंगामा, बघेल के सामने की नारेबाजी

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, शिमला Published by: अरविन्द ठाकुर Updated Fri, 09 Dec 2022 07:21 PM IST
सार

चुनाव पर्यवेक्षक भूपेश बघेल, भूपेंद्र सिंह हुड्डा और राजीव शुक्ला चौड़ा मैदान स्थित होटल से निकलकर राजभवन जाने लगे तो प्रतिभा के समर्थक उनकी गाड़ियों के आगे खड़े हो गए।

राजभवन पहुंचे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता।
राजभवन पहुंचे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता। - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रतिभा सिंह को मुख्यमंत्री बनाने के नारे शुक्रवार को राजधानी शिमला में खूब गूंजे। चौड़ा मैदान में चुनाव पर्यवेक्षकों की गाड़ियों के आगे खड़े होकर प्रतिभा सिंह के समर्थकों ने खूब हंगामा किया। कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन और हॉलीलॉज में भी सैकड़ों समर्थकों ने नारेबाजी कर प्रतिभा को मुख्यमंत्री बनाने की मांग की। 




शुक्रवार दोपहर बाद चुनाव पर्यवेक्षक भूपेश बघेल, भूपेंद्र सिंह हुड्डा और राजीव शुक्ला चौड़ा मैदान स्थित होटल से निकलकर राजभवन जाने लगे तो प्रतिभा के समर्थक उनकी गाड़ियों के आगे खड़े हो गए। उन्होंने प्रतिभा को मुख्यमंत्री बनाने को लेकर नारेबाजी की। समर्थकों ने जब तक सूरज चांद रहेगा, वीरभद्र सिंह का नाम रहेगा और हमारा मुख्यमंत्री कैसा हो, प्रतिभा सिंह जैसा हो के नारे लगाए। समर्थकों को काबू करने के लिए पुलिस को हस्तक्षेप करना पड़ा। कुछ समय के लिए चौड़ा मैदान में स्थिति तनावपूर्ण हो गई। 

उधर, हॉलीलॉज में भी सुबह से जुट रहे समर्थकों ने प्रतिभा सिंह के पक्ष में नारेबाजी की। दोपहर बाद विधायक दल की बैठक  की जानकारी मिलते ही समर्थक प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन के बाहर एकत्रित हो गए। समर्थकों ने हॉलीलॉज सातवीं बार, हमारा सीएम कैसा हो-रानी साहिबा जैसा हो के नारे लगाए। देर शाम को प्रतिभा सिंह बैठक के लिए कांग्रेस कार्यालय पहुंची।



सीएम चेहरे पर अंतिम निर्णय पार्टी हाईकमान लेगा: शुक्ला
कांग्रेस प्रदेश प्रभारी राजीव शुक्ला ने कहा कि सीएलपी बैठक के लिए सभी विधायकों के आगमन की प्रतीक्षा की जा रही है। जहां एक प्रस्ताव पारित किया जाएगा और अंतिम निर्णय पार्टी आलाकमान की ओर से लिया जाएगा
विज्ञापन



सुक्खू समर्थकों ने होटल हिमलैंड के बाहर लगाए मुख्यमंत्री बनने के नारे
विधायक दल की बैठक से पहले सुखविंद्र सिंह सुक्खू के समर्थक विधायकों ने राजधानी शिमला के होटल हिमलैंड में रणनीति बनाई। विधायकों का यहां आना दोपहर 2:00 बजे से शुरू हुआ। विधायकों के होटल में पहुंचने की सूचना मिलते ही समर्थकों ने भी हिमलैंड में डेरा डाला। समर्थकों ने सुक्खू को मुख्यमंत्री बनाने को लेकर नारेबाजी भी की। देर शाम तक सुक्खू सहित कई विधायक होटल में ही रहे। यहीं से सभी विधायक एक साथ प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन शिमला गए।

कांग्रेस मुख्यालय में कड़ी हुई सुरक्षा, भवन में जाने की रही रोक
शुक्रवार शाम को विधायकों की बैठक के चलते प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन शिमला में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए। भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया। विधायकों और बडे़ नेताओं के अलावा मुख्यालय के भीतर आम जनता के जाने पर रोक रही। अंदर जाने वालों की जांच के लिए पुलिस ने मेटल डिटेक्टर लगाए।

कार्ट रोड पर वाहनों की आवाजाही सुचारु बनाए रखने के लिए भी ट्रैफिक पुलिस की तैनाती की गई। पांच साल बाद सत्ता में लौटने की खुशी में कांग्रेस मुख्यालय को फूलों से सजाया गया है। विधायकों और बड़े नेताओं की आवभगत के लिए पर्यटन विकास निगम के होटलों से खाने-पीने का सामान लेकर कई बड़े अफसर भी कांग्रेस नेताओं के पास हाजिरी लगाने पहुंचे।

हिमाचल प्रदेश में नई सरकार का गठन करने के लिए कांग्रेस नेताओं ने शुक्रवार दोपहर करीब साढ़े तीन बजे राजभवन पहुंचकर दावा पेश किया। राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर से मुलाकात कर चुनाव पर्यवेक्षक छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा और प्रदेश कांग्रेस प्रभारी राजीव शुक्ला ने सरकार बनाने का दावा पेश करते हुए पत्र सौंपा।

विधानसभा चुनाव में स्पष्ट बहुमत मिलने पर कांग्रेस हाईकमान की ओर से प्रदेश में मुख्यमंत्री का चयन करने और सरकार गठन के लिए इन तीनों नेताओं को जिम्मेदारी सौंपी गई है। शुक्रवार सुबह करीब 11:00 बजे भूपेश बघेल, भूपेंद्र सिंह हुड्डा और राजीव शुक्ला चंडीगढ़ से हेलिकॉप्टर के जरिये शिमला पहुंचे। शिमला के चौड़ा मैदान स्थित एक होटल में इन नेताओं ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रतिभा सिंह से मुलाकात की। दोपहर 3:30 बजे राजभवन में सरकार का दावा पेश करने के बाद तीनों नेता चौड़ा मैदान स्थित होटल लौटे। 


पूर्व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष और नादौन से कांग्रेस विधायक सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने कहा कि पहले मीडिया के लोग मुझसे एक ही सवाल पूछते थे कि हिमाचल में कांग्रेस किसके नेतृत्व में चुनाव लड़ेगी। मैंने कहा कि यह सामूहिक नेतृत्व में किया जाएगा। विचारधारा सर्वोच्च है और पद बाद में आता है। हमारे पास एक मुख्यमंत्री होगा। चुनाव लड़ने वालों को ही हाईकमान मुख्यमंत्री बनाएगा।


हिमाचल का कोई विधायक बिकने वाला नहीं: मुकेश
हरोली विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस विधायक और वरिष्ठ कांग्रेस नेता मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि हिमाचल का कोई भी विधायक बिकने वाला नहीं है। कांग्रेस एकजुट है। यहां कोई खरीदा नहीं जा सकता। जनता ने कांग्रेस को जो पूर्ण बहुमत दिया है, उसका मान रखा जाएगा। शुक्रवार को शिमला जाते समय सोलन में पत्रकारों से बातचीत में मुख्यमंत्री बनने के सवाल पर उन्होंने कहा कि शुक्रवार शाम को विधायक दल की बैठक है। उसमें पार्टी के प्रभारी आ रहे हैं। बैठक में तय हो जाएगा कि मुख्यमंत्री कौन होगा। सुखविंद्र सुक्खू के साथ विधायक होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि वह पार्टी के सीनियर नेता हैं। वह कहीं नहीं गए हैं।

वह भी बैठक में पहुंच रहे हैं। हालांकि, उनके सीएम बनने के सवाल पर उन्होंने कहा कि पांच साल पहले उन्हें विपक्ष के नेता का जिम्मा दिया गया था और वह सबको साथ लेकर चले और प्रदेश में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई। कहा कि भाजपा सरकार ने हिमाचल की आपराधिक बर्बादी की है। डबल इंजन सीज हो गया है। इससे पहले शहरी कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष शमशेर ने उनका स्वागत किया। उनके साथ रेणुका के विधायक विनय भी मौजूद थे।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने राज्यपाल को दी चुने हुए विधायकों की सूची 

 मुख्य निर्वाचन अधिकारी मनीष गर्ग ने हिमाचल प्रदेश मुख्य निर्वाचन कार्यालय की टीम के साथ शुक्रवार को राजभवन में राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर से भेंट की। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने राज्यपाल को हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में निर्वाचित सदस्यों की सूची के संबंध में अधिसूचना की प्रति भेंट की। इस अवसर पर राज्यपाल ने हिमाचल प्रदेश में विधानसभा निर्वाचन की प्रक्रिया को सुचारु और शांतिपूर्ण तरीके से पूर्ण करने के लिए निर्वाचन विभाग को बधाई दी।

उन्होंने कहा कि कठिन भौगोलिक परिस्थितियों वाले राज्य में चुनाव सामग्री को निर्धारित स्थान पर पहुंचाना काफी मुश्किल कार्य था। उन्होंने चुनाव प्रक्रिया में तैनात सभी कर्मचारियों को भी बधाई दी और कहा कि यही वजह है कि लोगों का विश्वास चुनाव प्रक्रिया पर बढ़ा है। इस अवसर पर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने राज्यपाल को चुनाव से संबंधित आंकड़ों की विस्तृत जानकारी भी दी।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00