लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Himachal Pradesh ›   Hamirpur (Himachal) ›   NABARD gave 609 crore rupee for 113 development projects in himachal pradesh

हिमाचल: 113 विकास परियोजनाओं के लिए नाबार्ड से मिले 609 करोड़

प्रवीण कुमार, संवाद न्यूज एजेंसी, हमीरपुर Published by: अरविन्द ठाकुर Updated Fri, 07 Oct 2022 03:45 PM IST
सार

लोनिवि और जलशक्ति विभाग ने प्रदेश के विभिन्न जिलों में प्रस्तावित विकास कार्यों की डीपीआर बनाकर बीते साल सरकार को बजट की मंजूरी के लिए भेजी थी। जिसे अब नाबार्ड से मंजूरी मिल गई है।

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : संवाद
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

सूबे की 113 विभिन्न विकास परियोजनाओं के लिए राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) ने 609 करोड़ के बजट को मंजूरी दी है। नाबार्ड से जिन परियोजनाओं को बजट की स्वीकृति मिली है, उनमें लोक निर्माण विभाग की 44 सड़कों और पुलों के लिए पौने दो सौ करोड़ रुपये, जलशक्ति विभाग में करीब साढ़े चार सौ करोड़ की सीवरेज, चेकडैम, बाढ़ नियंत्रण, लघु सिंचाई और पेयजल की 69 विभिन्न परियोजनाएं शामिल हैं।



लोनिवि और जलशक्ति विभाग ने प्रदेश के विभिन्न जिलों में प्रस्तावित विकास कार्यों की डीपीआर बनाकर बीते साल सरकार को बजट की मंजूरी के लिए भेजी थी। जिसे अब नाबार्ड से मंजूरी मिल गई है। नाबार्ड से बजट की मंजूरी मिलने के बाद अब 30 दिनों के भीतर प्रशासनिक स्वीकृति हासिल करनी होगी। शीघ्र टेंडर प्रक्रिया शुरू कर विभिन्न विभागों के माध्यम से प्रदेश में विकास कार्य शुरू होंगे। 


इन 13 गांवों में बिछेगी सीवरेज लाइन
मंडी जिले के विधानसभा क्षेत्र धर्मपुर के कोट गांव, नेरी, सियोथ, चौकी और धर्मपुर सदर में सीवरेज लाईन बिछेगी। इसी तरह किन्नौर जिले के पूह के तहत आते गांव नमंगियां और कल्पा के तहत पांगी, चंबा जिले के भरमौर तहसील के तहत मैहला, छतराड़ी, उदयपुर, जबकि कांगड़ा जिले के विधानसभा क्षेत्र नूरपुर के तहत जसौर और बरांडा, शिमला जिला के तहत रामपुर के तकलेच में सीवरेज लाइनें बिछेंगी।

बाढ़ नियंत्रण के लिए यहां खर्च होगा बजट
मंडी के जोगिंद्रनगर में थाथरी डोहग में सुकड़ खड्ड का 6.88 करोड़ से तटीकरण होगा। सुंदरनगर के घाउरु कून और जरोट के तहत जारोल खड्ड में सात करोड़ से बाढ़ नियंत्रण का कार्य होगा। बिलासपुर जिले के घुमारवी में कारलोटी में शुक्र खड्ड के तटीकरण पर 6.92 करोड़ रुपये, कुल्लू जिले के मनाली उपमंडल के तहत ब्यास नदी के किनारे बाढ़ नियंत्रण के कार्य पर 4.49 करोड़ खर्च होंगे। मनाली के तहत बेहना खियूर में सेकड़ खड्ड और बेहना नाले बाढ़ नियंत्रण के लिए सात करोड़ रुपये खर्च होंगे।

यहां स्थापित होंगे सात ट्यूबवेल
कांगड़ा जिले के इंदौरा, मंड, जवाली और ज्वालामुखी के भड़ोली में एक-एक ट्यूबवेल स्थापित होगा। ऊना जिले के गगरेट के गांव डंगोह, अंब और हरोली में एक-एक ट्यूबवेल स्थापित होगा।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00