लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Sports ›   Antonio Inoki who fought Muhammad Ali Fight of the Century in 1976 died at the age of 79

Antonio Inoki: 1976 में मोहम्मद अली से फाइट ऑफ द सेंचुरी लड़ने वाले एंटोनियो नहीं रहे, 79 साल की उम्र में निधन

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: रोहित राज Updated Sat, 01 Oct 2022 10:49 PM IST
सार

न्यू जापान प्रो रेसलिंग के संस्थापक अध्यक्ष इनोकी एमीलोईडोसिस से पीड़ित थे और शनिवार को उनका निधन हो गया। गले में लाल रूमाल उनका खास पहचान रहा।

एंटोनियो इनोकी
एंटोनियो इनोकी - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

जापान के मशहूर पेशेवर पहलवान और राजनीतिज्ञ एंटोनियो इनोकी का 79 की उम्र में निधन हो गया। उन्होंने 1976 में विश्व मुक्केबाजी चैंपियन मोहम्मद अली से 15 राउंड का मिश्रित मार्शल आर्ट मुकाबला खेला था। न्यू जापान प्रो रेसलिंग के संस्थापक अध्यक्ष इनोकी एमीलोईडोसिस से पीड़ित थे और शनिवार को उनका निधन हो गया। गले में लाल रूमाल उनका खास पहचान रहा। 


एंटोनियो इनोकी पिछली बार सार्वजनिक रूप से अगस्त में एक टीवी शो में व्हीलचेयर पर नजर आए थे। शो पर उन्होंने कहा कि मैं बीमारी से लड़ रहा हूं, अंत तक बहादुरी से लडूंगा। आप सब लोगों से मिलकर मेरी अंदर नई शक्ति का संचार हुआ है।

 
कॉफी बागान में किया काम
उनका जन्म 1943 में टोक्यो के बाहरी क्षेत्र योकोहामा में हुआ था। जब वह 13 साल के थे तो उनका परिवार ब्राजील चला गया। उन्होंने एक कॉफी बागान में काम किया। जब वह छात्र थे तो शॉटपुट खेलते थे। उन्होंने 17 साल की उम्र में कुश्ती खेलना शुरू किया। तब वह जापान प्रो रेसलिंग के जनक रिकीदोजन की निगाह में आए। उन्होंने 1960 में पेशेवर कुश्ती में अपना पहला मुकाबला खेला। दो साल बाद उस रिंग का नाम उनके नाम पर रख दिया गया। दिवंगत शोहेई जियांट बाबा उनके प्रमुख प्रतिद्वंद्वी थे। उन्हें 1976 में वैश्विक लोकप्रियता मिली जब उन्होंने मोहम्मद अली के साथ टोक्यो के बुडोकेन हाल में मुकाबला खेला जिसे प्रशंसक फाइट ऑफ द सेंचुरी के नाम से जानते हैं।

शांति के अग्रदूत ने उत्तर कोरिया के किए 30 दौरे 
इनोकी ने जापान की पेशेवर कुश्ती को नई लोकप्रियता प्रदान की और जूडो, कराटे और मुक्केबाजी क्षेत्र के अन्य चैंपियन खिलाड़ियों से मुकाबले लड़े। वह उन शुरुआती खिलाड़ियों में शामिल थे जिन्होंने राजनीति के क्षेत्र में प्रवेश किया। उन्होंने खेल के जरिए शांति का संदेश देने का भी प्रयास किया। जापान के राजनीतिज्ञ के रूप में उन्होंने उत्तरी कोरिया के 30 दौरे किए ताकि दोनों देशों के बीच शांति और मित्रता बनी रहे। 

इनोकी ने 1989 में राजनीति में प्रवेश किया और ऊपरी सदन की सीट के लिए चुनाव जीता। उन्होंने 1990 में बंधक बना लिए तीन जापानी नागरिकों की रिहाई के लिए इराक का दौरा किया। उन्होंने 1998 में खेल से संन्यास ले लिया और 2019 तक राजनीति में सक्रिय रहे।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Sports news in Hindi related to live update of Sports News, live scores and more cricket news etc. Stay updated with us for all breaking news from Sports and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00