लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Sports ›   Football ›   West Bengal Governor La ganesan sidelines Sunil chhetri while presenting trophy of durand cup 2022

Durand Cup Video: ट्रॉफी लेते समय राज्यपाल के आगे आए सुनील छेत्री, तो धक्का देकर किनारे हटाया, वीडियो वायरल

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: शक्तिराज सिंह Updated Mon, 19 Sep 2022 04:46 PM IST
सार

डुरंड कप 2022 की विजेता टीम के कप्तान सुनील छेत्री का एक वीडियो वायरल हो रहा है। ट्रॉफी लेते समय सुनील पश्चिम बंगाल के गवर्नर के सामने आ गए थे। इसके बाद गवर्नर ने उनके कंधे पर हाथ रखकर उन्हें अपने सामने से हटा दिया। अब छेत्री के फैन सोशल मीडिया पर राज्यपाल को ट्रोल कर रहे हैं।

डुरंड कप जीतने के बाद सुनील छेत्री को अपमान का सामना करना पड़ा
डुरंड कप जीतने के बाद सुनील छेत्री को अपमान का सामना करना पड़ा - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

डुरंड कप 2022 का खिताब बेंगलुरू एफसी की टीम के नाम रहा। फाइनल में बेंगलुरू ने मुंबई सिटी एफसी को 2-1 से हराकर टूर्नामेंट अपने नाम किया। बेंगलुरू की टीम पहली बार यह खिताब जीतने में कामयाब रही है। टीम के कप्तान सुनील छेत्री ने भी पहली बार ही यह खिताब जीता है। यह टूर्नामेंट जीतने के बाद सुनील छेत्री का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में पश्चिम बंगाल के राज्यपाल ला गणेशन सुनील छेत्री को धक्का देकर हटाते दिख रहे हैं और उन्हें सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल किया जा रहा है। 


पूर्व क्रिकेटर और कमेंटेटर आकाश चोपड़ा ने भी इस मामले में अपनी नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने सुनील छेत्री के साथ हुई घटना का वीडियो शेयर करते हुए इसे शर्मनाक करार दिया। 

 

क्या है मामला?
डुरंड कप 2022 का खिताब जीतने वाली टीम बेंगलुरू के कप्तान सुनील छेत्री को स्टेज पर बुलाकर ट्रॉफी दी जा रही थी। इस दौरान पश्चिम बंगाल के राज्यपाल ला गणेशन भी स्टेज में मौजूद थे और खिलाड़ियों को ट्रॉफी दे रहे थे। ट्रॉफी लेते समय सुनील छेत्री ला गणेशन के सामने आ गए। इसके बाद गणेशन ने सुनील छेत्री के कंधे पर हाथ रखकर उन्हें अपने सामने से हटा दिया। ऐसे में सुनील छेत्री ने एक हाथ से ट्रॉफी ली। 

सुनील से पहले शिव शक्ति को भी किनारे हटाया
फाइनल मैच में बेंगलुरू के लिए शिव शक्ति ने शानदार गोल किया था। उन्होंने मैच के 10वें मिनट में गोल कर अपनी टीम को बढ़त दिलाई थी। इसके बाद 61वें मिनट में ब्राजील के एलन कोस्टा ने टीम के लिए दूसरा गोल किया। यही गोल निर्णायक साबित हुआ और बेंगलुरु की टीम चैंपियन बन गई। शिव शक्ति को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया, लेकिन जब वह अपना पुरस्कार लेने पहुंचे तो उन्हें भी किनारे हटाया गया। अवॉर्ड लेते समय शिव शक्ति को भी धक्का देकर किनारे कर दिया गया और उन्होंने भी एक हाथ से ही अपना अवॉर्ड लिया। 
 

खिलाड़ियों के अपमान का वीडियो सामने आने के बाद राज्यपाल को जमकर ट्रोल किया जा रहा है। कई यूजर्स ने लिखा कि डुरंड कप जीतने पर राज्यपाल को बधाई। वहीं, एक अन्य यूजर ने लिखा कि इस मामले पर राज्यपाल को माफी मांगनी चाहिए। 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Sports news in Hindi related to live update of Sports News, live scores and more cricket news etc. Stay updated with us for all breaking news from Sports and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00