विज्ञापन

मारुति सुज़ुकी इंडिया लिमिटेड, भारत में एक ऑटोमोबाइल निर्माता कंपनी है, जो कि पहले मारुति उद्योग लिमिटेड (Maruti Udhyog Limited) के नाम से भी जाना जाता था। मारुति की स्थापना 1981 में संजय गांधी ने भारत सरकार की पृष्ठभूमि पर की थी, जिसे तब कि कांग्रेस सरकार ने अनुबंध दिया और उसके बाद मारुति को भारत सरकार द्वारा पहली स्वदेशी निर्मित लोगों की कार का निर्माण करने के लिए एक विशेष उत्पादन लाइसेंस दिया गया। हालांकि इसका वास्तविक उत्पादन केवल वर्ष 1983 में मारुति 800 (Maruti 800) के साथ शुरू हुआ था जिसका डिज़ाइन सुज़ुकी आल्टो काई कार पर आधारित था।

 

मारुति उस वक्त कि भारत में उपलब्ध एकमात्र आधुनिक कार थी, जिसकी प्रतिस्पर्धा उस समय उपलब्ध कारों में हिंदुस्तान एम्बेसडर (Hindustan Ambassador) और प्रीमियर पद्मिनी (Premier Padmini) से थी। उस समय कंपनी का मूल रूप से 74% हिस्सा भारत सरकार के स्वामित्व में था। वर्ष 2007 के मई तक भारत सरकार ने अपना पूरा हिस्सा भारतीय वित्तीय संस्थानों को बेच दिया और अब मारुति उद्योग में उनकी कोई हिस्सेदारी नहीं है। जनवरी 2017 तक मारुति सुज़ुकी का भारतीय पैसेंजर कार मार्केट में 51% हिस्सा रहा है। मारुति सुज़ुकी Ciaz, Ertiga, Wagon R, Alto, Swift, Celerio, Swift Dzire, Omni, Baleno और Baleno RS जैसी कई लोकप्रिय कारों का निर्माण और बिक्री करती है। मारुति सुज़ुकी कंपनी का मुख्यालय नई दिल्ली में है।

विज्ञापन
मत्स्य कांड वेब सीरीज: शातिर कॉन मैन और जांबाज एसीपी तेजराज के बीच चूहे-बिल्ली की रेस, कौन मारेगा बाजी?
Advertorial

मत्स्य कांड वेब सीरीज: शातिर कॉन मैन और जांबाज एसीपी तेजराज के बीच चूहे-बिल्ली की रेस, कौन मारेगा बाजी?

विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00