लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   Technology ›   Mobile Apps ›   Android alert Samsung LG Xiaomi Phones Vulnerable Due to Leaked Certificates may be hacked

Android alert: सैमसंग, एलजी और शाओमी यूजर्स की सिक्योरिटी में सेंध, हैक हो सकता है फोन

टेक डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: विशाल मैथिल Updated Sun, 04 Dec 2022 04:48 PM IST
सार

एंड्रॉइड ओईएम द्वारा उपयोग की जाने वाली साइनिंग की (Signing key) कंपनियों के बाहर लीक हो गई हैं। इसी Key की मदद से ऑपरेटिंग सिस्टम पर साइन-इन किया जाता है। 

Android alert
Android alert - फोटो : Istock

विस्तार

यदि आप सैमसंग, एलजी, शाओमी यूजर्स हैं तो आपके लिए अच्छी खबर नहीं है। दरअसल, इन कंपनियों के डिवाइसों के एक विश्वसनीय मैलवेयर प्रोग्राम की जानकारी लीक हो गई है, जिससे इस डिवाइसों की सिक्योरिटी कमजोर हो गई हैं। यानी इस कमजोरी का फायदा उठाकर हैकर्स नकली एप या मैलवेयर से खुद को विश्वसनीय एप के रूप में बदल सकते हैं और आपका डिवाइस हैक कर सकते हैं। 



गूगल एंड्रॉयड पार्टनर वल्नरेबिलिटी इनिशिएटिव (APVI) की रिपोर्ट के अनुसार नई खामियां मैलेशियस प्रोग्राम को प्रभावित डिवाइस के सिस्टम के साथ छेड़छाड़ करने की परमिशन दे सकती हैं। जानकारी के मुताबिक एंड्रॉइड ओईएम द्वारा उपयोग की जाने वाली साइनिंग की (Signing key) कंपनियों के बाहर लीक हो गई हैं। इसी Key की मदद से ऑपरेटिंग सिस्टम पर साइन-इन किया जाता है। 

यह है खतरे की असली वजह

इसे आसान भाषा में समझे तो स्मार्टफोन कंपनियां डिवाइस में साइन करने के लिए एक Key सुनिश्चित करती है, जो एंड्रॉयड के लिए लीगल है और इसे एंड्रॉयड ओईएम द्वारा बनाया जाता है। इस एक ही Key की मदद से अलग-अलग एप में साइन-इन किया जा सकता है। चूंकि अब यह Key स्कैमर्स और हैकर्स के लिए उपलब्ध है, इसी कमजोरी का फायदा हैकर्स उठा सकते हैं और यूजर्स के डाटा तक पहुंच बना सकते हैं। ऐसे में सैमसंग, एलजी और शाओमी यूजर्स के लिए खतरा बढ़ गया है। 

इन कंपनियों की Key हुई लीक

हालांकि, APVI ने अपनी रिपोर्ट में कंपनियों की लिस्ट नहीं बताई है, लेकिन दावा किया जा रहा है कि सैमसंग, एलजी और शाओमी के साथ मिडियाटेक Revoview और szroco जैसी कंपनियों की Key लीक हुई है। 

बचाव के लिए ये तरीके अपनाएं 

गूगल के अनुसार यह समस्या इस साल मई में सामने आई थी, जिसके बाद सैमसंग सहित कई कंपनियों ने इसके खतरो को नियंत्रित करने के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। बचाव के लिए यूजर्स को अपने फोन को लेटेस्ट सॉफ्टवेयर और एप से अपडेट करने की जरूरत है। साथ ही किसी भी थर्ट पार्टी एप की मदद से एप को डाउनलोड और इंस्टॉल करने से बचें।  
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all Tech News in Hindi related to live news update of latest mobile reviews apps, tablets etc. Stay updated with us for all breaking news from Tech and more Hindi News.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00