बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
मंगलवार को इन 4 राशिवालों की पलटेगी किस्मत, जेब में आएगा पैसा
Myjyotish

मंगलवार को इन 4 राशिवालों की पलटेगी किस्मत, जेब में आएगा पैसा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

ये रातें, ये मौसम, नदी का किनारा ये चंचल हवा... सुसाइड नोट में लिख लगा ली फांसी, सच जान पुलिस भी हैरान

ये रातें, ये मौसम, नदी का किनारा... ये चंचल हवा। अपने सुसाइड नोट में यह गीत लिखकर लखनऊ निवासी यतींद्र कुमार तिवारी (29) ने आत्महत्या कर ली। नौकरी के नाम पर उनके साथ नौ लाख रुपये की ठगी हो गई। इसी से आहत होकर उन्होंने फांसी लगा ली। तीन दिन बाद जब कल्याणपुर के सत्यम विहार स्थित किराये के कमरे से बदबू उठी तो घटना का पता चला। उन्होंने सुसाइड नोट के माध्यम से दंपति समेत पांच लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। मूलरूप से लखनऊ के बालागंज, आजाद नगर निवासी यतींद्र के परिवार में पत्नी और पांच माह का बेटा है। वे 10 माह से सत्यम विहार निवासी बैंककर्मी अमित पांडेय के मकान में किराये पर रह रहे थे। मधुवन स्वीट हाउस के पास पान की दुकान लगाते थे। मकान मालिक ने बताया कि एक सप्ताह पहले पत्नी बेटे को लेकर घर चली गई थी।

 
... और पढ़ें
सुसाइड नोट लिख की आत्महत्या सुसाइड नोट लिख की आत्महत्या

बड़ा फेरबदल : एसएसपी अजय साहनी का जौनपुर हुआ ट्रांसफर, प्रभाकर चौधरी होंगे मेरठ के नए एसएसपी

उत्तर प्रदेश में नौ आईपीएस अफसरों के ट्रांसफर किए गए हैं। मेरठ के वर्तमान एसएसपी अजय साहनी का ट्रांसफर जौनपुर कर दिया गया है। वहीं मुरादाबाद के एसएसपी प्रभाकर चौधरी अब मेरठ के एसएसपी होंगे। सांप्रदायिक बवाल के बाद  अजय साहनी की मेरठ में पोस्टिंग हुई थी। नए पुलिस कप्तान प्रभाकर चौधरी इससे पहले बिजनौर में भी एसपी रहे हैं। 

जिन नौ आईपीएस अफसरों के तबादले किए गए हैं ये इस प्रकार हैं -
अजय कुमार साहनी एसपी जौनपुर, राजकरण नैयर डीजीपी मुख्यालय, प्रभाकर चौधरी एसएसपी मेरठ, पवन कुमार एसपी मुरादाबाद, पूनम एसपी अमरोहा अभिनंदन, एसपी बांदा सुनीति डी॰जी॰पी॰ मुख्यालय से संबद्ध, राधेश्याम एसपी कौशांबी,सिद्धार्थ शंकर मीणा एसपी रेलवे प्रयागराज बनाया गया है।

दो साल मेरठ के एसएसपी रहे अजय साहनी  
30 जून 2019 को युवा सेवा समिति के अध्यक्ष बदर अली ने मेरठ में जुलूस निकाला था। जिसको लेकर मेरठ पुलिस की किरकिरी हुई थी। इस मामले एसएसपी नितिन तिवारी और आईजी रामकुमार को हटाया गया था।

इसके बाद एसएसपी अजय साहनी की दो जुलाई 2019 को मेरठ में पोस्टिंग हुई थी। अजय साहनी ने मेरठ की कमान संभालते ही बदर अली पर पांच हजार का इनाम किया और फिर उसे गिरफ्तार कराकर जेल भेजा। 

दो साल के कार्यकाल में अजय साहनी ने रोहित सांडू के दो साथियों समेत कई बदमाशों को एनकाउंटर में ढेर किया। 20 दिसंबर 2019 को सीएए के विरोध में मेरठ में हिंसा हुई। जिसमें पुलिस ने कानून व्यवस्था बनाकर रखी। उन्होंने मेरठ में लंबी पारी खेली है। उनसे पहले ओंकार सिंह का कार्यकाल (डेढ़ साल का) ही ज्यादा था। अजय साहनी को एसपी जौनपुर बनाया गया है। 

इनकी बढ़ सकती मुश्किलें 
इंस्पेक्टर कोतवाली आशुतोष कुमार, एसओ मुंडाली रवि चंद्रवाल दरोगा दिनेश चंद समेत कई दरोगा और सिपाहियों के दूसरे जनपदों में ट्रांसफर हुआ है। जिनको रिलीव करने के लिये एडीजी और आईजी चिट्ठी भी भेज चुके है। एसएसपी के हटने के बाद अब इनकी मुश्किलें बढ़ सकती है। इसको लेकर पुलिस महकमे में खलबली मची है।
... और पढ़ें

कैसा प्यार: प्रेमी के दोस्तों से अवैध संबंध न बनाने पर बीएससी छात्रा की हत्या, चाकू से किए ताबड़तोड़ 23 वार

सरोजनीनगर के पिपरसंड रेलवे स्टेशन रोड पर नवोदय विद्यालय के पास गहरू जंगल में बीएससी छात्रा की हत्या नृशंस तरीके से प्रेमी ने दोस्तों के साथ मिलकर की थी। उसके शरीर पर हत्यारों ने चाकू से ताबड़तोड़ 23 वार किए थे। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में शरीर पर छोटे-बड़े 25 घाव मिले हैं जिनमें से दो आर-पार हो गए। छात्रा का गला दुपट्टे से घोंटा गया था। अधिक खून बहने और गला कसने से उसकी मौत हुई थी। पुलिस ने वारदात के 24 घंटे में छात्रा के प्रेमी सहित तीनों हत्या आरोपियों को दबोच लिया है। आरोपियों ने पुलिस के सामने जुर्म कुबूल किया है। पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त चाकू भी बरामद कर लिया है।

डीसीपी मध्य सोमेन वर्मा के मुताबिक, सरोजनीनगर के पिपरसंड स्थित गहरू जंगल में रविवार सुबह बीएससी की छात्रा व खैराबाद निवासी निजी सुरक्षाकर्मी की बेटी का खून से लथपथ शव मिला था। कॉल डिटेल के आधार पर पुलिस ने युवती के दोस्त सरोजनीनगर के आजादनगर निवासी मो. कैफ को हिरासत में लेकर पूछताछ की। पुलिस के अनुसार, मो. कैफ ने बताया कि किशोरी की मां गांव गई थी और उसके पिता ड्यूटी पर गए थे। इसका फायदा उठाकर उसने किशोरी को घर से बाहर बुलाया था। पकड़े गए आरोपियों में मो. कैफ के अलावा आकाश यादव और काशीराम कॉलोनी का विशाल कश्यप शामिल हैं।

दोस्तों के साथ नशा करते समय किया था कॉल
एडीसीपी मध्य चिरंजीव नाथ सिन्हा के मुताबिक, पूछताछ में सामने आया कि कैफ अपने दोस्त आकाश यादव व विशाल कश्यप के साथ बैठकर पिपरसंड इलाके में नशा कर रहा था। इसी दौरान उसने छात्रा को कॉल किया। उससे बातचीत के दौरान पता चला कि घर पर कोई नहीं है। इसके बाद मो. कैफ उसे बाइक से लेने गया। दोनों दोस्तों ने लड़की से बातचीत सुन ली। दोनों ने नशे में छात्रा से संबंध बनाने के लिए कैफ को दोस्ती का वास्ता दिया, जिस पर वह तैयार हो गया। तीनों ने पिपरसंड इलाके के गहरू जंगल में लेकर आने की बात कही।

कैफ उसे गहरू जंगल के सुनसान इलाके में तालाब किनारे लेकर गया। वहां कैफ ने छात्रा के साथ संबंध बनाए। इसी बीच झाड़ियों में छिपे दोनों दोस्त विशाल व आकाश भी आ गए। दोनों ने छात्रा पर संबंध बनाने का दबाव बनाया। छात्रा ने विरोध किया और वहां से नाराज होकर जाने लगी। इस आकाश व विशाल ने उसे दबोच लिया। आकाश ने उसका हाथ पकड़ा और विशाल ने पैर। छात्रा ने चीखना शुरू किया तो विशाल ने चाकू से उसकी पीठ पर वार कर दिया। छात्रा चाकू लगने के बाद बबूल की झाड़ियों से होकर भागने लगी। तभी विशाल व आकाश ने कहा कि इसे मार दो नहीं तो हम लोग फंस जाएंगे। तीनों ने उसे कच्चे रास्ते के पास खाली मैदान पर घेर लिया। ताबड़तोड़ कई बार चाकू से वार किया। छात्रा की मौत के बाद तीनों वहां से भाग गए।

हत्यारों ने पार कीं क्रूरता की हद
पुलिस के मुताबिक, तीनों ने बताया कि उसकी हत्या रात करीब 8 से 9 बजे के बीच की थी। सोमवार शाम को पैनल ने छात्रा केशव का पोस्टमार्टम किया जिसमें सामने आया कि उसके शरीर पर छोटे-बडे़ 25 घाव मिले। छह इंच के चाकू से किए गए 15 घाव काफी गहरे थे। वहीं दो घाव आर-पार थे। सभी घाव पीठ, पेट, सीने और पैर पर लगे हैं। इसके अलावा गला कसा गया था। चाकू का वार इतनी बेरहमी से किया गया था कि छात्रा के यूरिनल का थैला भी फट गया था। चाकू का एक टुकड़ा छात्रा के रीढ़ की हड्डी में फंसा मिला।

चप्पल फैक्टरी में साथ काम करती थी छात्रा
पुलिस के मुताबिक, छात्रा गौरी स्थित शिवाय ज्वेलर्स के पहले नादरगंज इलाके के एक चप्पल फैक्टरी में काम करती थी जहां उसकी दोस्ती कैफ से हुई थी। कुछ महीने पहले छात्रा ने गौरी के शिवाय ज्वेलर्स पर काम करना शुरू किया। इस दौरान भी दोनों मिलते रहे।
... और पढ़ें

विश्व रक्तदाता दिवस: इंसानियत की सेवा के लिए अमर उजाला फाउंडेशन शिविर में 77 महादानियों ने किया रक्तदान

विश्व रक्तदाता दिवस पर अमर उजाला फाउंडेशन की ओर से प्रति वर्ष आयोजित होने वाले स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का आयोजन इस वर्ष भी जिला अस्पताल में किया गया। कोरोना संकट के कारण जरूरतमंदों की जान बचाने में लगातार कम हो रहे ब्लड बैंक के स्टॉक को सोमवार को इस शिविर में के जरिये 77 महादानियों ने फिर से बढ़ाने की कोशिश की। शिविर का उद्घाटन सीएमओ डॉ. एमसी गर्ग ने फीता काटकर किया।

रक्तदान कर दूसरों का जीवन बचाने की प्रेरणा लेकर शिविर में पहुंचे महादानियों का उत्साह देखने लायक था। महिलाओं और युवतियों में रक्तदान को लेकर काफी उत्साह था। कोई अपने पति के साथ पहुंची तो किसी ने अपने भाई के साथ आकर रक्तदान किया। पुलिस और पीएसी कर्मी, व्यापारी व सामाजिक संगठनों से जुड़े पदाधिकारियों ने भी शिविर में रक्तदान किया।

सामाजिक संस्था परिवर्तन द चेंज के युवा सदस्यों ने भी रक्तदान किया। एडीएम प्रशासन सुरेंद्र सिंह ने अपने गनर इकबाल के साथ रक्त दिया। मेयर विनोद अग्रवाल ने रक्तदाताओं कोप्रमाणपत्र प्रदान किए। इस मौके पर कार्यवाहक सीएमएस डॉ. शिवसिंह, डॉ. राजेंद्र कुमार, डॉ. शिल्पा अग्रवाल ने शिविर में सहयोग दिया।

इन्होंने किया रक्तदान 
हिमांशु अग्रवाल, सुरेश कुमार सिंह, विशाल गर्ग, उमेश गुप्ता, जयशंकर सिंह, रविता पाल, नेपाल सिंह, अरुण प्रजापति, शशांक कुमार, अरुण कुमार शर्मा, मोहम्मद नौशाद, नीलू रस्तोगी, मनोज कुमार रस्तोगी, गौरव मेहरोत्रा, ललित, रायजादा, प्रज्ज्वल, अमित कुमार सिंह, वैशाली, राजेश कुमार पाठक, सूर्यकांत गौतम, फैजान उल हक, विनीत कुमार, शहीरउद्दीन, विपिन गुप्ता, विपुल दिवाकर, पवन कुमार सक्सेना, अल्का वार्ष्णेय, मयंक चौधरी, वाणी भारद्वाज, अभिनव सिंह, हरीश चंद्र जोशी, एंथोनी, जयवीर सिंह, धर्म सिंह सैनी, मोहम्मद इकबाल, मनोज सैनी, मनु मेहरोत्रा, गौरव गुंबर, मुकुल अग्रवाल, विशाल शर्मा, रचित सिंघल, राहुल सिंघल, ऋतिक अरोड़ा, प्रदीप सक्सेना, अनिल कुमार गुप्ता, पूजा सक्सेना, निर्मल सिंह सागर, सूरज ठाकुर, सौरभ गुप्ता,  आंचल गुप्ता, अवनीश त्यागी, अनीता यादव, विशाल दीप, मोहित कुमार, आरती बख्शी, मनोज कुमार बख्शी, धर्मेंद्र कुमार शर्मा, अंकित आनंद, प्रीति आनंद, विनीत गोयल, दीपांशु सैनी, इशमीत कौर, रविंद्र गोयल, कमलदीप यादव, गौरव कुमार यादव, अरविंद कुुमार नेगी, गुंजन गुप्ता, शरद शर्मा, मनोज आहूजा, नैंसी धारीवाल आदि ने रक्तदान किया।

सलाम हैं महादानियों को
- कटघर मछुआपुरा निवासी प्रज्ज्वल ने 15वीं बार, प्रेम नगर निवासी गौरव मेहरोत्रा ने 13वीं बार, गांधी नगर निवासी मनोज रस्तोगी ने 21वीं बार, उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल युवा के प्रदेश मंत्री विपिन गुप्ता ने 26वीं बार, पर्यावरण सचेतक समिति के नेपाल सिंह पाल ने 22वीं बार और उनकी पत्नी रविता पाल ने छठवीं बार रक्तदान करने का दावा किया।

इन्होंने किया सबसे अधिक बार रक्तदान
- रामगंगा विहार के 44 वर्षीय उमेश गुप्ता अब तक 57 बार रक्त दान कर चुके हैं।
- हरथला के 29 वर्षीय सूरज ठाकुर ने अब तक 55 बार रक्तदान किया है।
- वेबग्रीन कॉलोनी के कमलदीप यादव अब तक 26 बार रक्तदान कर चुके हैं।
- आर्य नगर के 34 वर्षीय राहुल सिंघल ने अब तक 25 बार रक्तदान किया है।
... और पढ़ें

खौफनाक: हत्या कर शव को खेत में फेंका, पहले मृतक का गला फिर गुप्तांग भी काटा, मौके पर पहुंची पुलिस भी हैरान

रक्तदान करते लोग
औरैया मंडी के लिए निकले सब्जी आढ़ती की गला रेतकर और गुप्तांग काटकर हत्या कर शव हाईवे किनारे खेत में फेंक दिया। पुलिस ने आढ़ती की पत्नी के साथ कुछ लोगों को हिरासत में लिया है। ग्रामीणों में अवैध संबंध में घटना को अंजाम दिए जाने की चर्चा है। थाना क्षेत्र के पुरवा अंतोल गांव निवासी सुखलाल (38) सोमवार सुबह पांच बजे मोपेड से सब्जी खरीदने के लिए औरैया सब्जी मंडी के लिए निकला था। अंतोल हाईवे से करीब 30 मीटर पहले एक खेत में उसका रक्तरंजित शव पड़ा मिला। पास ही उसकी मोपेड पड़ी थी। ग्रामीणों ने पुलिस और परिजनों को सूचना दी। मौके पर परिजनों के साथ सैकड़ों लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया। एएसपी शिष्य पाल, सीओ अजीतमल प्रदीप कुमार ने घटनास्थल पर छानबीन की। सीओ प्रदीप कुमार ने बताया कि जल्द ही हत्या का खुलासा किया जाएगा।

 
... और पढ़ें

यूपी: शादी से छह दिन पहले मंगेतर ने की युवती की हत्या, शादी का कार्ड बांटकर लौट रहे पिता ने की बेटी की पहचान

ठाकुरद्वारा क्षेत्र के लालापुर पीपलसाना गांव में शादी से छह दिन पहले मंगेतर ने खरीदारी के बहाने युवती को बुलाकर उसकी हत्या कर दी। इस घटना में आरोपी का भाई भी शामिल रहा है। शादी के कार्ड बांटकर घर लौट रहे पिता ने मृतका की पहचान अपनी बेटी के रूप में की। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया, जबकि उसके भाई की तलाश की जा रही है।

पुलिस के मुताबिक, सोमवार अपराह्न करीब तीन बजे ठाकुरद्वारा थानाक्षेत्र में लालापुर पीपलसाना में डिलारी-सुरजन नगर मार्ग पर ग्रामीणों ने एक युवती की लाश पड़ी देखी तो वह सन्न रह गए। उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। इस दौरान घटनास्थल पर ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई, लेकिन ग्रामीण मृतका की शिनाख्त नहीं कर सके।

पुलिस पहचान कराने का प्रयास कर रही थी। इसी दौरान लालापुर पीपलसाना निवासी मदन पाल सिंह वहां पहुंच गए। उन्होंने लाश देखकर मृतका की पहचान अपनी बेटी टीना उर्फ मीनाक्षी (19) के रूप में की। मदन पाल ने पुलिस को बताया कि 20 जून को टीना की शादी बिजनौर जिले के अफजलगढ़ थानाक्षेत्र के कालागढ़ निवासी युवक के साथ होनी थी। कुछ ही देर में युवती की मां सोमती भी घटनास्थल पर पहुंच गईं। अपनी पुत्री की लाश देखकर वह महिला बेसुध हो गईं।
  
युवती की मां का कहना है कि उनकी पुत्री के पास सोमवार सुबह मंगेतर का फोन आया था। उसने कहा था कि वह अपनी शेरवानी खरीदने सुरजन नगर आ रहे हैं। टीना को साथ ले जाना चाहते हैं। इसके बाद दोपहर 11 बजे वह टीना को साथ लेकर लालापुर बस स्टैंड से शॉपिंग करने चले गए। इसके बाद तीन बजे सड़क किनारे टीना की लाश मिली।
  
सीओ ठाकुरद्वारा डॉ. अनूप सिंह ने बताया कि आरोपी मंगेतर को हिरासत में ले लिया है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। आरोपी ने टीना की हत्या करने की बात कबूल कर ली है। घटना में आरोपी मंगेतर का भाई भी शामिल रहा है। उसकी तलाश में पुलिस बिजनौर में दबिश दे रही है।
... और पढ़ें

बरेलीः घर में तोड़फोड़-मारपीट, महिलाओं को अर्द्धनग्न कर गांव में घुमाया

मुजफ्फरनगर : किशोरी को अगवा कर किया दुष्कर्म, मां के साथ पशुओं के लिए चारा लेने गई थी पीड़िता

मुजफ्फरनगर के सिखेड़ा क्षेत्र के एक गांव में मां के साथ पशुओं के लिए चारा लेने गई अनुसूचित जाति की किशोरी को अगवा कर दूसरे वर्ग के युवक ने उसके साथ दुष्कर्म किया। रविवार शाम की घटना के बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। किशोरी का मेडिकल कराने के बाद आरोपी को जेल भेज दिया गया है।

सिखेड़ा थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी अनुसूचित जाति की 15 वर्षीय किशोरी रविवार शाम अपनी मां के साथ खेतों पर पशुओं के लिए चारा लेने गई थी, जहां से वह संदिग्ध हालात में लापता हो गई। मां उसकी तलाश करने के बाद घर लौटी और परिजनों को इसकी जानकारी दी।

परिजन किशोरी की तलाश कर ही रहे थे कि वह बदहवास हालत में घर लौट आई। पूछताछ में किशोरी ने गांव के ही दूसरे वर्ग के युवक अबु बकर पर जंगल में नशीला पदार्थ सुंघाकर अगवा करने और गांव निराना रजबहे की पुलिया पर स्थित पुराने भवन में ले जाकर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया।

सूचना पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी अबु बकर को गिरफ्तार कर लिया। वहीं, पीड़ित किशोरी को मेडिकल कराने के लिए जिला अस्पताल भेज दिया गया है। इंस्पेक्टर सुभाष गौतम का कहना है कि आरोपी के खिलाफ एससी-एसटी व पॉक्सो एक्ट के साथ ही अपहरण व दुष्कर्म की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर उसे जेल भेज दिया गया है।

सपा-बसपा नेताओं ने कार्रवाई की मांग की
क्षेत्र के गांव निवासी अनुसूचित जाति की किशोरी को अगवा कर उसके साथ दुष्कर्म के मामले में सपा व बसपा नेताओं ने थाने पहुंचकर इंस्पेक्टर सुभाष गौतम से आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई किए जाने की मांग की। सपा पूर्व जिलाध्यक्ष श्यामलाल उर्फ बच्ची सैनी व रालोद नेता कमल गौतम, बसपा नेता पूर्व मंत्री प्रेमचंद गौतम, मीरापुर विधानसभा क्षेत्र के प्रभारी पुष्पांकर पाल व सतप्रकाश आदि शामिल रहे।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन