बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
बुध का तुला राशि गोचर, जानें क्या होगा आपके जीवन पर प्रभाव
Myjyotish

बुध का तुला राशि गोचर, जानें क्या होगा आपके जीवन पर प्रभाव

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Digital Edition

अंधेरगर्दी: सुप्रीम कोर्ट की गाइड लाइन का उल्लंघन, ताजमहल के पांच सौ मीटर के दायरे में एडीए ने कराया कांसर्ट

ताजमहल के पांच सौ मीटर के अंदर किसी भी सांस्कृतिक कार्यक्रम पर सुप्रीम कोर्ट की रोक है, लेकिन आगरा विकास प्राधिकरण (एडीए ) के अफसरों ने ताज व्यू प्वाइंट, महताब बाग पर बुधवार शाम को कांसर्ट कराया, जिसके लिए महताब बाग की बाउंड्री से सटाकर यमुना की तलहटी तक वाटरप्रूफ पंडाल लगाया गया। शाम 5:30 बजे से रात 8 बजे तक इस कांसर्ट में लाउडस्पीकर लगाने के साथ लाइटिंग की गई। जिस व्यू प्वाइंट पर एडीए ने इन्क्रेडिबल ताज कांसर्ट कार्यक्रम किया, वह ताजमहल से महज 315 मीटर दूर है, जबकि संरक्षित स्मारक महताब बाग की दीवार से सटाकर वाटरप्रूफ पंडाल और स्पीकर लगाए गए। सुप्रीम कोर्ट ने 24 मार्च 1998 को यान्नी शो के बाद दिए गए आदेश में स्पष्ट कहा है कि 500 मीटर के बाहर होने वाले कार्यक्रमों के लिए भी पर्यावरण प्रभाव का आकलन और ध्वनि प्रदूषण की जांच के साथ संबंधित विभागों से पूर्व अनुमतियां लेनी होंगी।
... और पढ़ें

मैनपुरी नवोदय छात्रा की मौत का मामला: सुराग की तलाश में जुटी है एसआईटी, हॉस्टल में स्टाफ से किए सवाल-जवाब

मैनपुरी में बुधवार को जांच के पांचवें दिन भी एसआईटी (विशेष जांच दल) जवाहर नवोदय विद्यालय भोगांव पहुंची। एसआईटी लगातार जांच के पहले दिन से उस कड़ी को तलाशने में जुटी हुई है जो छात्रा की मौत से परदा उठा देगी। एसआईटी का मानना है कि ये कड़ी कहीं न कहीं नवोदय में ही गुम है। दोपहर बाद पहुंची एसआईटी ने हॉस्टल में सुराग जुटाने के साथ ही स्टाफ से भी पूछताछ की। छात्रा की कथित हत्या के मामले में शनिवार को जांच के लिए एसआईटी मैनपुरी पहुंची थी। इसके बाद से ही लगातार एसआईटी नवोदय में जांच कर रही है। हर दिन नवोदय में जाकर एसआईटी हॉस्टल और परिसर में सुराग ढूंढ रही है। एसआईटी का मानना है कि कोई न कोई सुराग कहीं जरूर छूट रहा है। इसके हाथ लगते ही पूरे घटनाक्रम से पर्दा उठ जाएगा। बुधवार को एसआईटी के सदस्य दोपहर डेढ़ बजे के करीब नवोदय पहुंचे। 
... और पढ़ें

फिरोजाबाद: एक माह बाद भी डेंगू बना रहा रिकार्ड, सौ शैय्या अस्पताल में जांच के दौरान 273 नए मरीज मिले

फिरोजाबाद में एक महीने से अधिक समय गुजर चुका है। लेकिन डेंगू और वायरल बुखार कम नहीं हो रहा है। पिछले 24 घंटे में सौ शैय्या अस्पताल में कराई 743 मरीजों की रैपिड जांच में 273 में डेंगू की पुष्टि हुई है। हालांकि 50 हजार से कम प्लेटलेट्स वाले मरीजों को ही अस्पताल में भर्ती किया जा रहा है। शेष मरीजों को दवा देकर घर पर ही इलाज देने की सलाह दी जा रही है। बुधवार को करीब तीन सौ मरीज भती थे। 74 मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया।
सौ शैय्या अस्पताल में हुई डेंगू जांच में 24 घंटे में 273 मरीज मिले हैं। जबकि निजी पैथोलॉजी पर हो रही जांच में भी बड़ी संख्या में डेंगू की पुष्टि हो रही है। डेंगू का बुखार तीन से पांच दिन तक रह रहा है। ऐसे में मरीजों के साथ परिजनों को तकलीफ उठानी पड़ रही है। सौ शैय्या अस्पताल के बाहर लोग बारिश में भीगते हुए ही अपने बच्चों को दवा दिलाने के लिए दौड़े-दौड़े नजर आ रहे हैं। निजी चिकित्सकों के क्लीनिक पर नजर डालें तो बाल रोग विशेषज्ञ एक दिन में 400 से 500 मरीजों ओपीडी कर रहे हैं। जबकि गली, मोहल्लों में क्लीनिक पर भीड़ नजर आ रही है। 

मेडिकल कॉलेज की प्राचार्य डॉ. संगीता अनेजा का कहना है कि डेंगू के मरीज 294 से ज्यादा सौ शैय्या अस्पताल में भर्ती हैं। मरीजों को अच्छा इलाज उपलब्ध कराया जा रहा है। वार्डों में पहले से कम मरीजों की संख्या हो गई है। 

 
... और पढ़ें

आगरा मंडल में जानलेवा बीमारी: ब्रज में डेंगू-वायरल से छह बच्चों समेत दस की मौत, ताजनगरी में तीन मरीजों ने तोड़ा दम

ब्रज में डेंगू और वायरल का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। बुधवार को छह बच्चों सहित दस लोगों की मौत हो गई। आगरा में तीन, फिरोजाबाद में दो, एटा में दो, मैनपुरी, कासगंज व मथुरा में एक-एक ने दम तोड़ दिया। फिरोजाबाद में नगला विष्णु के कबीर (12) पुत्र सुशील व आसफाबाद निवासी पार्षद की नातिन तनाया (7) पुत्री प्रमोद शर्मा की मौत हो गई। मैनपुरी में कुसमरा के नुनारी निवासी प्रशांत (17) पुत्र ब्रजेश तिवारी की आगरा ले जाते समय मौत हो गई। एटा में अवागढ़ के कोलियान निवासी नेमा देवी (40) पत्नी ब्रजनेव और मारहरा के गांव नगला नौजर के मेघ सिंह की पत्नी अल्पना (45) ने भी बुखार से दम तोड़ दिया। इधर, कासगंज में सहावर के मोहल्ला काजी का मो. सैफ (9) पुत्र बबलू कुरैशी की मौत हो गई। मथुरा में छड़गांव निवासी युवांश (9) पुत्र मनोज की मौत हो गई।
 
... और पढ़ें
आगरा मंडल में बुखार: अस्पताल में भर्ती मरीज आगरा मंडल में बुखार: अस्पताल में भर्ती मरीज

फिरोजाबाद: चलती बस में किशोरी से दुष्कर्म का मामला, आरोपी बबलू 'बेसुराग', आपराधिक इतिहास खंगाल रही पुलिस

दिल्ली से औरैया जाते समय दिल्ली से नोएडा के बीच स्लीपर बस में एक किशोरी के साथ बस के क्लीनर ने दुष्कर्म किया और किशोरी की मां के साथ खलासी ने दुष्कर्म का प्रयास किया था। इस मामले में थाना पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी। तीन दिन बीतने के बाद भी मां के साथ छेड़छाड़ करने का आरोपी बबलू को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर सकी है। 
बता दें कि सोमवार रात दिल्ली से शिकोहाबाद के लिए एक महिला अपनी बेटी और बहन की बेटी के साथ स्लीपर कोच बस से आ रही थी। रास्ते में बदरपुर बॉर्डर से निकलते ही पहले बस के खलासी बबलू ने महिला को अपनी केबिन में बुला कर क्लीनर अंशू के साथ शराब पी और फिर महिला से दुष्कर्म का प्रयास किया, लेकिन महिला बबलू की हरकतों को देख केबिन से नीचे उतर आई। इसके बाद बबलू भी नीचे आ गया। कुछ देर बाद बस जेवर टोल प्लाजा के समीप खड़ी हुई, तभी केबिन में बैठे अंशू ने महिला की बेटी को ऊपर बुला लिया और उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। जब इसकी जानकारी महिला को हुई तो उसने विरोध किया। महिला के विरोध के बाद दोनों आरोपी रास्ते में उतर कर फरार हो गए। पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने के पांच घंटे बाद दुष्कर्म के आरोपी अंशू यादव को इटावा से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वहीं तीन दिन गुजर जाने के बाद भी पुलिस बबलू को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। पुलिस की एक टीम इटावा में बबलू की गिरफ्तारी के लिए डेरा डाले हुए है। 

शातिर किस्म का अपराधी है बबलू
जनपद पुलिस बबलू की गिरफ्तारी और उसकी क्राइम हिस्ट्री को खंगाल रही है। जेल भेजे गये आरोपी अंशू के अनुसार बबलू शातिर अपराधी है और उसकी हिस्ट्रीशीट भी खुली है। उसका कहना है कि बबलू और महिला ने मिल कर उसे फंसाया है।
यात्रियों से भी की पूछताछ
जिस बस में घटना को अंजाम दिए जाने की बात सामने आ रही है, पुलिस ने उसमें सवार यात्रियों से भी पूछताछ की है। कई तथ्य सामने आए हैं। पुलिस इन पर गहनता से जांच कर रही है। वहीं, मुख्य आरोपित अंशू यादव की गिरफ्तारी के बाद पुलिस छेड़छाड़ के आरोपित बबलू ठाकुर की तलाश कर रही है। उसकी तलाश में मथुरा और इटावा में दबिश दी गई लेकिन वह नहीं मिला। पुलिस किशोरी के मजिस्ट्रेट के समक्ष भी बयान कराएगी।
ये भी पढ़ें...
मैनपुरी नवोदय छात्रा की मौत का मामला: सुराग जुटाने की हर कोशिश, एडीजी ने दीवार फांदकर अंदर घुसाए सिपाही
  ... और पढ़ें

कासगंज: गनेशपुर में नहीं सुधर रहे हालात, डेंगू से एक और ग्रामीण की मौत, आठ नए मरीज मिले

कासगंज जिले में डेंगू और बुखार का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा। गंजडुंडवारा क्षेत्र के गांव गनेशपुर में डेंगू से एक और ग्रामीण की मौत हो गई। जबकि स्वास्थ्य विभाग की ओर से ग्रामीण एवं कस्बाई क्षेत्रों में लगाए गए शिविरों में आ नए डेंगू मरीज मिले हैं। इनको जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

गनेशपुर निवासी जर्रार हुसैन (45) पुत्र मुजमिल हुसैन को 15 सितंबर को तेज बुखार आया। इसके बाद परिजन उसे निजी चिकित्सक के पास ले गए। राहत न मिलने पर 17 सितंबर को अलीगढ़ के मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। जहां जांच में डेंगू की पुष्टि हो गई। उसने बुधवार की देर रात उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। 

जिले में बुखार से अब तक 47 मौत हो चुकी हैं। इनमें से 11 मौतें गांव गनेशपुर में हुई हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा इस गांव में लगातर टीमों को भेजे जाने का दावा किया जा रहा है, लेकिन इस गांव के विकराल हो चुके हालात पर नियंत्रण करने में पूरी तरह से फेल हो रहा है। 
... और पढ़ें

फिरोजाबाद: एक्सप्रेसवे पर लूट की वारदात से पहले पुलिस ने दबोचे चार बदमाश, तमंचे-कारतूस बरामद

फिरोजाबाद जिले में लूट की योजना बना रहे चार बदमाशों को पुलिस ने बुधवार रात को गिरफ्तार कर लिया। बदमाशों के पास से चार तमंचे, कारतूस व एक कार बरामद हुई है। बदमाशों के चार साथी मौके से भाग गए। पकड़े गए बदमाशों को पुलिस ने जेल भेज दिया है। फरार बदमाशों की तलाश की जा रही है।
 
एसपी देहात डॉ. अखिलेश नारायण सिंह ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर थाना मटसेना पुलिस और एसओजी ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे के समीप से चार बदमाशों को गिरफ्तार किया है। चार बदमाश मौके से भाग गए। पुलिस का दावा है कि पकड़े गए बदमाश लूट की वारदात को अंजाम देने के फिराक में थे। 

फिरोजाबाद: बस में बेटी से दुष्कर्म मां से छेड़छाड़ प्रकरण, हर पहलू पर बारीक जांच, आगरा में होगा किशोरी के कपड़ों का फोरेंसिक टेस्ट

पकड़े गए बदमाशों के नाम बनीसिंह पुत्र प्रेम सिंह निवासी कामता प्रसाद मार्केट के सामने बाईपास रोड फतेहाबाद आगरा, दीनदयाल पुत्र करन सिंह निवासी पूठपुरा थाना फतेहाबाद आगरा, नीरज पुत्र वासदेव निवासी मीटपुरा थाना फतेहाबाद आगरा व मेघराज पुत्र दीवान सिंह निवासी खैरटांडा झोरियान थाना पिनाहट आगरा हैं। 
... और पढ़ें

आगरा: रातों-रात करोड़पति बन गया युवक, खाते में इतने रुपये कि हैरान रह गए सभी

मटसेना क्षेत्र में पकड़े गए बदमाश
आगरा के आंवलखेड़ा क्षेत्र में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। एक युवक के बैंक खाते में एक करोड़ बीस लाख रुपये आ गए। इसकी जानकारी तब हुई जब युवक बैंक से रुपये निकालने गया। रुपये कहां से आए हैं इस बात को लेकर बैंक कर्मचारी पड़ताल में जुटे हैं। युवक की बैंक पासबुक को जब्त कर लिया है। 
बाइक सही करने का काम करता है युवक
मामला आगरा के आंवलखेड़ा क्षेत्र के गांव गढ़ी रामवक्श का है। यहां का निवासी कपिल कुमार बाइक ठीक करने का काम करता है। युवक का खांडा गांव में भारतीय स्टेट बैंक शाखा में बचत खाता है। युवक बैंक से रुपये निकालने के लिए बुधवार को शाखा मे गया था। उसने पांच हजार रुपये निकालने के लिए फॉर्म जमा किया था। बैंक में पैसे निकालते समय बैंककर्मियों ने जब कपिल के खाते में पिछला लेनदेन देखा तो हैरान रह गए। 
यूपीआई के माध्यम से आया रुपया...
सूत्रों के मुताबिक कपिल के खाते में पिछले कुछ दिनों में एक करोड़ बीस लाख रुपयों का लेनदेन हुआ है। यूपीआई के माध्यम से उसके खाते से 60 लाख रुपये निकाले गए। वहीं अब 60 लाख रुपये जमा हैं। इसकी जानकारी होने पर बैंक मैनेजर ने युवक से पूछताछ की तो वो चकित रह गया। 
युवक का खाता किया गया ब्लॉक
युवक ने बताया कि उसे इस बाबत कोई जानकारी नहीं है। वहीं शाखा प्रबंधक ने युवक की पासबुक, आधार कार्ड और पैन कार्ड लेकर खाते को तत्काल ब्लॉक कर दिया है। बैंक पूरे मामले की पड़ताल में जुटी है कि आखिर ये रुपये कहां से आए हैं। इस बात से युवक के परिजन भी परेशान हैं।

ये भी पढ़ें:
बस में बेटी से दुष्कर्म मां से छेड़छाड़ प्रकरण: हर पहलू पर बारीक जांच, आगरा में होगा किशोरी के कपड़ों का फोरेंसिक टेस्ट
मैनपुरी नवोदय छात्रा की मौत का मामला: सुराग जुटाने की हर कोशिश, एडीजी ने दीवार फांदकर अंदर घुसाए सिपाही
... और पढ़ें

तस्करी: आगरा पुलिस ने पकड़ी गांजा की बड़ी खेप, ओडिशा से ला रहे थे तस्कर, दिल्ली-गाजियाबाद में होनी थी सप्लाई

ओडिशा से लाए गए 120 किलोग्राम गांजे के साथ थाना हरीपर्वत पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। वह कार में गांजे के पैकेट रखकर गाजियाबाद और दिल्ली सप्लाई देने जा रहे थे। उनके तीन साथी बाइक पर 90 किलोग्राम गांजा लेकर साथ चल रहे थे। मगर, वह भागने में सफल रहे। यह गांजा नशे के बड़े सौदागरों को बेचा जाना था।
23 पैकेट हुए बरामद
एसपी सिटी विकास कुमार ने बताया कि सुल्तानगंज पुलिया पर चेकिंग में एक ब्रेजा कार में सवार चार आरोपी पकड़े। इनमें बुलंदशहर निवासी अतवीर सिंह, डौकी के कौलारा कला निवासी संदीप सिकरवार, देव सिंह और गांव मणी निवासी संतोष तोमर हैं। कार से तलाशी में पन्नी और टेप से लिपटे गांजा के 23 पैकेट बरामद हुए। अतवीर गैंग का सरगना है। इस समय वह और उसका साथी संदीप सिकरवार दिल्ली में रह रहे हैं।
पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि गांजा लेकर गाजियाबाद और दिल्ली जा रहे थे। उनके साथ बाइक पर डौकी निवासी महीपाल, विष्णु और खंदौली निवासी रवि भी थे। वो आगे चलकर रेकी कर रहे थे। पुलिस के रोकने पर भागने में सफल हो गए।

कैरियर के माध्यम से आता है गांजा
थाना हरीपर्वत के प्रभारी निरीक्षक अरविंद कुमार ने बताया कि अतवीर गैंग का सरगना है। वह ओडिशा से कैरियर के माध्यम से गांजा कंटेनर, मेटाडोर और ट्रक में छिपाकर मंगवाता है। आगरा लाने के बाद दिल्ली एनसीआर में सप्लाई करने ले जाते हैं। वह पिछले दिनों 2.10 कुंतल गांजा ओडिशा से पांच लाख रुपये में लेकर आया था। इसे आगरा में उतार लिया था। गांजे को 11 लाख रुपये में बिक्री कर देते थे। इसके बाद छोटे विक्रेता सौ रुपये में गांजा की पुड़िया बनाकर बेचते। अतवीर कई साल से इस काम में लगा हुआ है। उनके पास से 120 किलोग्राम गांजा बरामद हुआ है। 90 किलोग्राम गांजा फरार आरोपियों के पास है। पुलिस उनकी तलाश में लगी है।

शहर में पहले भी पकड़ा गया है गांजा
ओडिशा से गांजा लेकर आने का यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पूर्व सिकंदरा में गांजा पकड़ा गया था। इसे भी ओडिशा से लाया गया था। गांजा की सप्लाई मथुरा में हो रही थी। पहले भी गांजा की बोरियों के साथ तस्कर पकड़े जा चुके हैं।

जानलेवा: ब्रज में डेंगू-वायरल से छह बच्चों समेत दस की मौत, आगरा में तीन मरीजों ने तोड़ा दम
  ... और पढ़ें

एटा: कल्याण सिंह के नाम से पहचानी जाएगी ठंडी सड़क, नगर पालिका की बोर्ड बैठक में रखा जाएगा प्रस्ताव

शहर का प्रमुख मार्ग ठंडी सड़क अब पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह के नाम से पहचाना जाएगा। वहीं कासगंज रोड स्थित शहीद स्थल का भी नाम बदलकर उनके नाम पर करने की तैयारी है। 28 सितंबर को प्रस्तावित नगर पालिका परिषद की बोर्ड बैठक में ये दोनों महत्वपूर्ण प्रस्ताव शामिल किए गए हैं।
नगर पालिका परिषद की इस वित्त वर्ष की बोर्ड बैठक लंबे समय से अधर में लटकी हुई है। सभासदों के बहिष्कार के बाद अब यह बोर्ड बैठक इस साल तीसरी बार बुलाई जा रही है। पहली बार 11 जून को बुलाई गई थी। जिसमें 14 सभासदों ने एजेंडा में पहले से हो रहे विकास कार्यों को शामिल करने के आरोप में बोर्ड बैठक का बहिष्कार किया था। इसके बाद दूसरी बार 31 जुलाई को बुलाई गई बोर्ड बैठक में ईओ को कार्यमुक्त करने के प्रस्ताव को मिनट बुक में दर्ज न करने की वजह से 18 सभासदों ने बोर्ड बैठक का बहिष्कार किया था। जिसके बाद तीसरी बार बोर्ड बैठक 28 सितंबर को बुलाने का फैसला लिया गया है।
तैयार किए गए एजेंडा में दो अहम प्रस्ताव शामिल किए गए हैं। पहला प्रस्ताव ठंडी सड़क के नाम को बदलकर पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह के नाम पर रखे जाने की बात कही गई है। वहीं दूसरे में कासगंज रोड पर स्थित शहीद स्थल का नाम कल्याण सिंह के नाम पर रखे जाने का प्रस्ताव है।

ईओ को कार्यमुक्त करने का भी रखा प्रस्ताव
नगर पालिका परिषद ने बोर्ड बैठक के एजेंडा में जहां 18 सामान्य तो दो विशेष प्रस्ताव भी शामिल किए हैं। जिसमें पहला प्रस्ताव सभासदों द्वारा अधिशासी अधिकारी को कार्यमुक्त किए जाने का समर्थन किए जाने संबंधी दिया गया है। वहीं दूसरा प्रस्ताव नगर पालिका का वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए मूल बजट विचारार्थ है।

नगर पालिका परिषद की वित्तीय वर्ष 2021-22 की बोर्ड बैठक तीसरी बार 28 सितंबर को बुलाई गई है। इसमें मुख्य रूप से 18 प्रस्तावों को शामिल किया गया है। बैठक में सभासद इन पर अपनी सहमति या असहमति बताएंगे। -मीरा गांधी, अध्यक्ष, नगर पालिका एटा
मथुरा: प्रतिबंधित क्षेत्र में मांस से भरी गाड़ी पकड़ी, दो तस्कर चढ़े हत्थे, एक आरोपी राया पंचायत का सभासद  ... और पढ़ें

आगरा: 22 साल पुराने मामले में अदालत में पेशी, मुख्तार अंसारी का डिस्चार्ज प्रार्थनापत्र खारिज

स्पेशल जज (एमएलए-एमपी) नीरज गौतम ने बांदा जेल में बंद बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की 22 साल पुराने केस से डिस्चार्ज करने संबंधी याचिका खारिज कर दी। आरोप तय करने के लिए 30 सितंबर की तारीख नियत की है। इस दौरान मुख्तार अंसारी की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से पेशी हुई। कोर्ट ने मुख्तार अंसारी को जान का खतरा बताने पर बांदा जेल प्रशासन को सुरक्षा के इंतजाम के निर्देश दिए हैं।
अंसारी के वकील ने दिया था ये तर्क
मुख्तार अंसारी की ओर से नए नियुक्त अधिवक्ता रवि अरोड़ा ने कहा कि मुख्तार अंसारी को द्वेशवश राजनीतिक रूप से झूठा फंसाया गया है। उनसे कोई मोबाइल बरामद नहीं हुआ था। एडीजीसी शशि शर्मा ने विरोध करते हुए तर्क दिया कि 18 मार्च 1999 को तत्कालीन जिलाधिकारी राजेंद्र कुमार तिवारी, एसएसपी प्रमोद कुमार, एसपी सिटी डीसी मिश्रा, सिटी मजिस्ट्रेट आरएन दुबे, सीएमओ एके सक्सेना ने जेल का निरीक्षण किया था। 
बरामद हुई थी बुलेटप्रूफ जैकेट
इस दौरान मुख्तार अंसारी से मोबाइल और बुलेटप्रूफ जैकेट बरामद की थी। मौके पर ही बरामद माल की फर्द बनाई थी। इस मामले में थाना जगदीशपुरा में रिपोर्ट भी दर्ज कराई थी। आरोपी मोबाइल से आपराधिक गतिविधि कर रहे थे। 
ये भी पढ़ें...
आगरा मंडल में जानलेवा बीमारी: ब्रज में डेंगू-वायरल से छह बच्चों समेत दस की मौत, ताजनगरी में तीन मरीजों ने तोड़ा दम

आगरा: वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से मुख्तार अंसारी की पेशी, जान का खतरा जताया, अब 14 सितंबर को सुनवाई
 
... और पढ़ें

फिरोजाबाद: बस में बेटी से दुष्कर्म मां से छेड़छाड़ प्रकरण, हर पहलू पर बारीक जांच, आगरा में होगा किशोरी के कपड़ों का फोरेंसिक टेस्ट

स्लीपर कोच में किशोरी से दुष्कर्म व उसकी मां के साथ हुई छेड़खानी की घटना को लेकर पुलिस ने पड़ताल शुरू कर दी है। पुलिस किशोरी के कपड़े और बैग का फॉरेंसिक टेस्ट भी कराएगी। पुलिस को उम्मीद है कि इस टेस्ट के बाद आरोपितों के खिलाफ पुख्ता सुबूत मिलेंगे। पुलिस ने किशोरी, उसकी मां व मौसेरी बहन का चिकित्सीय परीक्षण भी कराया है। 
ये हुई थी घटना
मंगलवार को नोएडा से शिकोहाबाद आते समय स्पीलर बस में एक किशोरी के साथ दुष्कर्म व उसकी मां के साथ छेड़खानी का मामला प्रकाश में आया था। इस मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया है। एसपी ग्रामीण डॉ. अखिलेश नारायण सिंह ने बताया कि पुलिस इस मामले में कोई ढील नहीं देना चाहती। यही कारण है कि किशोरी के कपड़ों, बैग, चप्पल व अन्य सामान का फॉरेंसिक टेस्ट कराया जाएगा। तीनों का मेडिकल परीक्षण कराया गया है। परीक्षण रिपोर्ट आने के बाद मुकदमे की कार्रवाई आगे बढ़ाई जाएगी।  फिलहाल पीड़िता के बयान के आधार पर आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।  
यात्रियों से भी की पूछताछ
जिस बस में घटना को अंजाम दिए जाने की बात सामने आ रही है, पुलिस ने उसमें सवार यात्रियों से भी पूछताछ की है। कई तथ्य सामने आए हैं। पुलिस इन पर गहनता से जांच कर रही है। वहीं, मुख्य आरोपित अंशू यादव की गिरफ्तारी के बाद पुलिस छेड़छाड़ के आरोपित बबलू ठाकुर की तलाश कर रही है। उसकी तलाश में मथुरा और इटावा में दबिश दी गई लेकिन वह नहीं मिला। पुलिस किशोरी के मजिस्ट्रेट के समक्ष भी बयान कराएगी।

मैनपुरी नवोदय छात्रा की मौत का मामला: सुराग जुटाने की हर कोशिश, एडीजी ने दीवार फांदकर अंदर घुसाए सिपाही

फिरोजाबाद: यमुना एक्सप्रेसवे पर चलती स्लीपर बस में बेटी से दुष्कर्म और मां से छेड़छाड़, पांच घंटे ताबड़तोड़ दबिश के बाद आरोपी गिरफ्तार
 
... और पढ़ें

मणप्पुरम गोल्ड डकैती कांड: आखिर कहां है 68 दिनों से फरार 50 हजार का इनामी लाला, पांच राज्यों में दौड़ चुकी पुलिस

आगरा के कमला नगर में गोल्ड लोन कंपनी की शाखा से 15.5 किलोग्राम सोने की डकैती का मुख्य सरगना 50 हजार का इनामी फिरोजाबाद का हिस्ट्रीशीटर नरेंद्र उर्फ लाला पुलिस को चकरघिन्नी बनाए हुए है। पुलिस जब तक उसकी लोकेशन ट्रेस करती है, तब तक वो फरार हो जाता है। यही वजह है कि 68 दिन बाद भी वह पुलिस की पकड़ से दूर है। यूपी के अलावा राजस्थान, दिल्ली, पश्चिम बंगाल और ओडिशा में भी उसकी तलाश की जा चुकी है। मणप्पुरम गोल्ड लोन फाइनेंस कंपनी की कमला नगर शाखा में 17 जुलाई को डकैती डाली गई थी। बदमाश 15.5 किलोग्राम से अधिक सोना लूटकर ले गए थे। हालांकि मुकदमा 19 किलोग्राम सोना लूटकर ले जाने का लिखाया गया था। पुलिस के मुताबिक, 3.5 किलोग्राम सोना शाखा में ही रखा मिल गया था। पुलिस ने बदमाशों को गिरफ्तार किया था। गैंग का सरगना फिरोजाबाद का हिस्ट्रीशीटर नरेंद्र उर्फ लाला है। पुलिस ने 14 आरोपियों को गिरफ्तार करके जेल भेजा। 11 किलोग्राम से अधिक सोना भी बरामद किया गया। मगर, नरेंद्र उर्फ लाला हाथ नहीं आया।
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X