बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
साप्ताहिक राशिफल 16 से 22 मई : धनु राशि समेत इन तीन राशियों के लिए बहुत ख़ास होगा ये सप्ताह, जानें भाग्यफल
Myjyotish

साप्ताहिक राशिफल 16 से 22 मई : धनु राशि समेत इन तीन राशियों के लिए बहुत ख़ास होगा ये सप्ताह, जानें भाग्यफल

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

मथुरा: गंभीर बीमारी से जूझ रही बिटिया की मदद को आगे आया अमर उजाला फाउंडेशन, आप भी कर सकते हैं सहयोग

मथुरा में चार साल की मासूम बच्ची हेम्या जन्म से ही गंभीर बीमारी थैलेसीमिया से ग्रसित होने के कारण जिंदगी और मौत से जूझ रही है। बच्ची को हर माह खून चढ़ाना पड़ता है। दिल्ली के अपोलो हॉस्पिटल में उसका इलाज चल रहा है। परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। 

चिकित्सकों के मुताबिक, बच्ची का मैरो ट्रांसप्लांट करना है। इस पर करीब 27 लाख रुपये का खर्च अनुमानित है। मिलाप संस्था ने बच्ची के लिये करीब साढे़ छह लाख रुपये एकत्र भी कर दिए हैं। अमर उजाला फाउंडेशन ने बच्ची के ऑपरेशन में मदद का बीड़ा उठाया है। फाउंडेशन की ओर से एक लाख रुपये की सहायता राशि प्राथमिक तौर पर शामिल की है। 

बाकी के लिए अभी और मदद की दरकार है। इस पुनीत कार्य में आप भी सहयोगी बन सकते हैं। सहायता राशि इस अकाउंट (खाताधारक- लोकेश कुमार) खाता संख्या -0274104000105156 और आईएफएससी कोड-आईबीकेएल 0000274 में जमा की जा सकती है। 
... और पढ़ें

आगरा: कोरोना संकट काल में अस्पतालों और घरों तक पहुंच रही जगन्नाथ मंदिर की थाली

श्री जगन्नाथ मंदिर इस्कॉन आगरा के सेवादार भोजन की थाली असहायों तक ही नहीं बल्कि अस्पतालों और होम आइसोलेशन के मरीजों तक भी पहुंचा रहे हैं। अध्यक्ष अरविंद स्वरूप दास ने बताया कि जीवन के लिए भोजन अन्नामृत एक ऐसी सेवा विगत छह महीनों से संचालित की जा रही है। इसमें एसएन मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पताल, लेडी लॉयल में हर रोज सुबह 800 खाने के पैकेट पहुंचाए जा रहे हैं। 

उन्होंने बताया कि इसके अलावा होम आइसोलेशन वाले कोविड मरीजों के लिए दोपहर को प्रसादम पहुंचाया जाता है। आगरा में यह पहल इस्कॉन के संस्थापक आचार्य भक्ति वेदांत स्वामी श्री प्रभुपाद के आदेश का पालन है। उनका कहना है कि मंदिर के 10 किमी दायरे में कोई व्यक्ति भूखा नहीं रहना चाहिए। अभी तक इस्कॉन आगरा डेढ़ लाख लोगों तक प्रसादम पहुंचा चुका है।

हाल ही में शुरू हुई होम डिलीवरी सेवा
अन्नामृत सेवा की प्रमुख अशु मित्तल ने बताया कि होम डिलीवरी के रूप में नई सेवा हाल ही में शुरू की गई है। इसमें प्रसादम को एक दिन पूर्व सूचना पर दिन में एक बार सुबह 11 से दोपहर दो बजे के बीच परोसा जाता है। होम आइसोलेशन वाले कोविड मरीजों के लिए यह सेवा मंदिर परिसर से छह किलोमीटर के दायरे में चलाई जा रही है।

कोविड रिपोर्ट के साथ बुक होता है ऑर्डर
होम डिलीवरी की यह सेवा केवल कोविड मरीजों के लिए ही है। इस सेवा के लिए मरीज को फोन नंबर 0562-4034840 पर कॉल करने के अलावा व्हाट्सएप नंबर 8171795225 पर सुबह 10 से शाम 7 बजे के बीच अपनी कोविड रिपोर्ट भेजनी होती है।
... और पढ़ें

#LadengeCoronaSe: यहां के लोगों ने संक्रमण से खुद का बचाव किया, दूसरों की कर रहे मदद

आगरा में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में संक्रमण तेजी से फैला तो शहर की कई कॉलोनियों में लोगों ने संक्रमण से बचाव से खुद ही कड़े कदम उठाए। शहर के ताज रॉयल अपार्टमेंट और शमसाबाद रोड स्थित जयपुरिया ग्रीन के लोगों ने दो मास्क की अनिवार्यता, नियमित सैनिटाइजेशन के साथ ही मुसीबत में एक-दूसरे की मदद करके संक्रमण से न केवल खुद का बचाव किया बल्कि वे अब बाहर के लोगों की मदद भी कर रहे हैं। 

ताज रॉयल अपार्टमेंट में रहने वाले पंकज खंडेलवाल ने बताया कि अपार्टमेंट में दो ब्लॉक हैं। इनमें रहने वाले परिवारों की संक्रमण से सुरक्षा के लिए सोसाइटी वालों की अलग लिफ्ट है, जबकि बाहरी लोगों व सर्विस प्रोवाइडरों (दूध वाला, मेड, लेबर) के आने-जाने के लिए अलग लिफ्ट की व्यवस्था की गई है। लिफ्ट को दिन में तीन बार सैनिटाइज किया जाता है। 

गेट पर ही की गई हाथों को सैनिटाइज कराने की व्यवस्था
ताज रॉयल अपार्टमेंट के सुमति उपाध्याय ने कहा कि गेट पर ही हाथों को सैनिटाइज कराने की व्यवस्था है। बगैर दो मास्क लगाए व्यक्ति को अंदर प्रवेश नहीं देते हैं। अप्रैल में पांच लोग संक्रमित हो गए थे। उनके परिवारों को पूरी तरह अलग रखकर व्यवस्था की। किसी अन्य को संक्रमित नहीं होने दिया। संक्रमित भी स्वस्थ हो गए। 
... और पढ़ें

आगरा में कोरोना: 24 घंटे में 111 नए संक्रमित मिले, तीन मरीजों ने तोड़ा दम

आगरा में रविवार को 111 नए कोरोना संक्रमित मिले। 221 मरीज ठीक भी हुए। जबकि बीते 24 घंटे में तीन संक्रमितों ने दम तोड़ दिया। इससे कुल मृतकों की संख्या 319 हो गई है। जिले में अब कुल कोरोना मरीजों का आंकड़ा 24854 पर पहुंच गया है। इनमें 22853 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। वर्तमान में 1682 सक्रिय मरीज हैं।

जिलाधिकारी प्रभु एन. सिंह ने बताया कि जिले में कुल 8.18 लाख से अधिक लोगों की जांच हो चुकी है। मरीजों के ठीक होने की दर 91.95 फीसदी हो गई है। संक्रमण के नए मामलों में कमी आई है। उन्होंने कहा कि 60 वर्ष उम्र के बुजुर्ग, गर्भवती और बच्चों के लिए विशेष सतर्कता बरतने की जरूरत है। सभी लोग कोविड गाइडलाइन का पालन करें। 

जिलाधिकारी ने रविवार की सुबह देहात में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए किए जा रहे कार्यों का निरीक्षण किया। उन्होंने ब्लॉक बिचपुरी के ग्राम कलवारी, लखनपुर, मुहम्मदपुर और बिचपुरी का भ्रमण कर निगरानी समिति के कार्यों का सत्यापन किया। ग्रामीणों से निगरानी समिति के कार्यों के संबंध में जानकारी भी जुटाई। 
... और पढ़ें
आगरा में कोरोना वायरस आगरा में कोरोना वायरस

कोरोना से जंग: सांसद हेमा मालिनी ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को लिखा पत्र, विदेशी मेडिकल डिग्री धारकों को दें इलाज की अनुमति

मथुरा की सांसद हेमा मालिनी ने केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से आग्रह किया है कि वे विदेशी मेडिकल स्नातकों को मंजूरी की औपचारिकताओं में जाए बिना कोविड रोगियों का इलाज करने की अनुमति दें। उन्होंने कहा, यह राज्य और देश में कोरोना संक्रमणके मामलों के अभूतपूर्व उछाल से निपटने के लिए आवश्यक था।

हेमा मालिनी ने कहा कि कई विदेशी मेडिकल ग्रेजुएट्स कोविड वार्ड में काम करना चाहते हैं और महामारी के दौरान वे बहुत मददगार हो सकते हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को लिखे अपने पत्र में सांसद ने इस बात पर प्रकाश डाला कि देश भर में कोरोना वायरस के संकमण को देखते हुए डॉक्टरों की सख्त जरूरत है। इसलिए आपसे अनुरोध है कि आप उन्हें काम करने दें। ऐसे मेडिकल डिग्री धारक स्नातक लगभग हर जिले में बड़ी संख्या में उपलब्ध हैं।

सोशल मीडिया पर एक अभियान चला रहे हैं
मालूम हो कि विदेशी डिग्री धारक मेडिकल छात्र सोशल मीडिया पर एक अभियान चला रहे हैं और राजनेताओं से सरकार के लिए आवाज उठाने के लिए संपर्क कर रहे हैं। आईएफएमएस वेलफेयर एमसीआई गुरुकुल ट्रस्ट ने भी भारत सरकार को पत्र लिखकर कहा है कि आईएफएमएमए महामारी के दौरान एक साल तक मुफ्त में अपनी सेवाएं देगा, जिससे देश को करीब 4,500 करोड़ रुपये की बचत होगी। आईएमएफएस के समर्थन में अब तक लगभग 100 सांसदों, विधायकों, मंत्रियों ने भारत सरकार को पत्र लिखा है। 

ये भी पढ़ें- 
कोरोना से जंग के 'नायक': ऑक्सीजन संकट की वो रात..., तीन लोगों ने बचाईं 200 जिंदगियां
ये भी पढ़ें- मजाक पड़ा भारी: बुआ ने खींचे भतीजी के फोटो, शादी के बाद कर दिए वायरल, मामला पहुंचा थाने
 
... और पढ़ें

कोरोना से जंग के 'नायक': ऑक्सीजन संकट की वो रात..., तीन लोगों ने बचाईं 200 जिंदगियां

वो रात...जब कोरोना वायरस की दूसरी लहर आगरा में चरम पर थी। कोरोना संकट के बीच ऑक्सीजन के लिए हाहाकार मचा था। अस्पतालों में भर्ती करीब 200 मरीज जिंदगी और मौत से जूझ रहे थे। उस 27 व 28 अप्रैल की रात में शहर के 14 अस्पतालों में ऑक्सीजन खत्म हो गई थी। प्रशासन के हाथ पांव फूल गए। उस रात को न जिलाधिकारी सोये और न कमिश्नर। जिलाधिकारी खुद ऑक्सीजन के इंतजाम के लिए दौड़ते रहे। इस बीच जिलाधिकारी के पास फोन कॉल आया। यह कॉल एक ऑक्सीजन टैंकर चालक ने किया। चालक ने ऐसी जानकारी दी, जिससे उम्मीद बंधी। इसके बाद ऑक्सीजन टैंकर चालक, आईएमए के पूर्व सचिव और रिफाइनरी के प्रवर्तन निदेशक के सहयोग से सांसें गिन रहीं 200 जिंदगियों की जान बचाई जा सकी। अगली स्लाइड्स में पढ़िए इन तीन नायकों की कहानी....


अपने शहर की खबरों से अपडेट रहने के लिए पढ़ते रहिए 
amarujala.com । अमर उजाला आगरा के फेसबुक पेज को लाइक और फॉलो करने के लिए यहां क्लिक कर सकते हैं। 

 
... और पढ़ें

आगरा में कोरोना: संक्रमण से शिक्षामित्र की मौत के बाद पति ने भी तोड़ा दम, दो बच्चे हुए अनाथ

कोरोना संक्रमण की महामारी के बीच एक के बाद एक मन को झकझोर देने वाली घटनाएं सामने आ रही हैं। इस महामारी ने कई परिवारों की खुशियां छीन ली। किसी के बेटे को छीना तो किसी के सिर से मां-बाप का साया उठ गया। आगरा के बाह क्षेत्र में ऐसा ही दिल को झकझोर देने वाला मामला सामने आया है। 

कोरोना से संक्रमित गुही (बाह) के प्राइमरी स्कूल में तैनात शिक्षामित्र टिंकी भदौरिया (40) की सोमवार को इलाज के दौरान मौत हो गई थी। शुक्रवार की रात उनके पति हरविंद सिंह भदौरिया (42) की भी सांसें थम गईं। संक्रमण की चपेट में आने के बाद उन्हें आगरा के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 

कोरोना के कारण चार दिन के भीतर माता-पिता का साया छिनने से उनके दोनों बेटे विदित (15) और विराट (12) अनाथ हो गए। परिवार में मातम पसरा है। दंपती की मौत से गुही गांव शनिवार को शोक में डूबा रहा। शनिवार को किसी घर में चूल्हे तक नहीं जले। प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के जिलाध्यक्ष वीरेंद्र छौंकर ने पीड़ित परिवार को सरकार से 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता और बेटों की पढ़ाई के साथ 10 हजार रुपये महीना पेंशन की मांग की है।
... और पढ़ें

कासगंज में कोरोना : दो महिलाओं की संक्रमण से मौत, 15 नए संक्रमित मिले, जानिए कहां मिले नए पॉजिटिव मरीज

पति हरविंद सिंह भदौरिया के साथ शिक्षामित्र टिंकी भदौरिया
कासगंज जनपद में रविवार को दो महिलाओं की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई। महामारी से अब तक 121 मौतें हो चुकी हैं। लगातार हो रही मौतों से लोगों में खौफ है। वहीं जनपद में अब कोरोना की रफ्तार कुछ कमजोर पड़ने लगी है। रविवार को 15 नए कोरोना संक्रमित सामने आए। जिससे संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 4088 पर पहुंच गया। विभाग ने संक्रमितों को आइसोलेट कर दिया है।

इनकी हुई मृत्यु
नगर की स्टेट बैंक कॉलोनी निवासी तुलसा देवी (70) पत्नी विजय कुमार का मिशन अस्पताल में लगभग एक पखवाड़े से इलाज चल रहा था। चिकित्सकों के काफी प्रयास के बाद भी उनकी हालत में सुधार नहीं हो सका। रविवार को सुबह के समय उनकी उपचार के दौरान मौत हो गई।

वहीं सोरों के ताखरू निवासी  पप्पी (40) पत्नी राकेश को एक सप्ताह से कोरोना के लक्षण थे। निजी चिकित्सक के इलाज से राहत नहीं मिली तो उनकी कोरोना जांच कराई गई। कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद उनको गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया। जहां उनकी उपचार के दौरान मौत हो गई। 
... और पढ़ें

आगरा: राजस्थान पुलिस ने यूपी के पांच पुलिसकर्मियों को 24 घंटे बाद छोड़ा, जानिए पूरा मामला

राजस्थान के जिला धौलपुर के थाना कंचनपुर के गांव कछपुरा में आगरा पुलिस पर हुए हमले की घटना के बाद थाने में बैठाए गए पुलिसकर्मियों को 24 घंटे बाद छोड़ दिया गया। उधर, घायल महिला के परिजनों ने पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। आगरा पुलिस की ओर से भी अज्ञात ग्रामीणों के खिलाफ हमले की रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। पुलिस ने गिरफ्तार किए गोतस्कर गिरोह के पांच सदस्यों को शनिवार को जेल भेज दिया। 

थाना एत्माद्दौला क्षेत्र में आठ मई को गोतस्करों के गैंग के नौ सदस्य गिरफ्तार किए गए थे। आरोपियों से पूछताछ के बाद राजस्थान बार्डर के गांव के गिरधारी का नाम सामने आया था। वह भाट जाति के लोगों की मदद से सस्ते दामों में गोवंश को खरीदकर लाता था। गैंग गोवंश को बिहार लेकर जाता था। गिरधारी पर 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था। 

संबंधित खबर-
धौलपुर में दबिश के दौरान आगरा पुलिस पर हमला, जवाबी कार्रवाई में महिला को लगी गोली 

शुक्रवार को गिरधारी को राजस्थान की सीमा पर थाना एत्माद्दौला, खेरागढ़ और एसओजी टीम ने पकड़ लिया था। इसके बाद उसके साथियों को पकड़ने के लिए आगरा पुलिस धौलपुर के थाना कंचनपुर स्थित कछपुरा गांव पहुंची थी। यहां से चार और आरोपी पकड़ने पर ग्रामीणों ने पुलिस  टीम को घेर लिया था। पुलिस टीम ने बचाव में गोली चला दी थी। 
... और पढ़ें

मजाक पड़ा भारी: बुआ ने खींचे भतीजी के फोटो, शादी के बाद कर दिए वायरल, मामला पहुंचा थाने

एटा जिले में ऐसा मामला सामने आया है, जिसने बुआ-भतीजी के रिश्ते को शर्मसार कर दिया। एक युवती ने मोबाइल से अपनी भतीजी के आपत्तिजनक फोटो खींच लिए। भतीजी की शादी के बाद उसके फोटो वायरल कर दिए। किसी तरह ससुराल वालों तक उसके फोटो पहुंच गए। इसके बाद परिवार में हंगामा खड़ा हो गया। 

मामला थाना रिजोर क्षेत्र का है। क्षेत्र के एक गांव निवासी युवती ने अपनी चचेरी बुआ के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। युवती का आरोप है कि बुआ ने नहाते समय उसके फोटो खींच लिए और फेसबुक पर वायरल कर दिए। युवती की पांच माह पूर्व ही शादी हुई है। उसके फोटो ससुराल वालों तक पहुंचे, जिसे देखकर वे दंग रह गए।

आरोपी बुआ के खिलाफ मुकदमा
युवती के परिवार में कलह पैदा हो गई। युवती ने किसी तरह पूरा मामला बताकर उन्हें समझाया। पीड़ित युवती ने रविवार को अपनी चचेरी बुआ के खिलाफ थाना रिजोर में तहरीर दी। जिसके आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। जांच कर रही है।   
... और पढ़ें

ब्लैक फंगस: मथुरा में संक्रमण से निपटने को सर्विलांस टीम का गठन, बरतें ये सावधानियां

मथुरा जनपद में कोरोना संकट के बीच खतरनाक ब्लैक फंगस यानि म्यूकरमाइकोसिस की भी एंट्री हो चुकी है। ऐसे में योगी सरकार ने ब्लैक फंगस को लेकर एडवाइजरी भी जारी कर दी है, जिसमें लक्षण, सावधानियां, क्या करें व क्या न करें आदि समाहित है। प्रदेश सरकार से एडवाइजरी मिलने के बाद मथुरा स्वास्थ्य विभाग अलर्ट पर है। सीएमओ ने सर्विलांस टीम तैयार कर ब्लैक फंगस के संक्रमितों से मिलकर डाटा तैयार करने के आदेश दिए हैं। सर्विलांस टीम ने जनपद में मिले तीनों केसों की निगरानी शुरू कर दिया है। 

पिछले दिनों वृंदावन के बनखंडी, मथुरा के मानस नगर और राया में एक केस ब्लैक फंगस का सामने आया था। वहीं प्रदेश स्तर पर ब्लैक फंगस के मामलों के बाद शासन ने एडवाइजरी जारी कर स्वास्थ्य विभाग से अलर्ट रहने को कहा है। रविवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने तीनों केसों का अध्ययन कर रिपोर्ट तैयार की है। वहीं ब्लैक फंगस को देखते हुए जनपद के निजी अस्पतालों को भी पत्र लिखकर इस तरह के केस आने पर विभाग को सूचना देने के आदेश दिए गए हैं।

अभी जनपद में नया ब्लैक फंगस का मामला सामने नहीं आया है। पिछले दिनों मिले केस की निगरानी शुरू की गई है। निजी अस्पतालों को भी ब्लैक फंगस केस के प्रति सचेत रहने के लिए कहा गया है। - डॉ. मुनीश पौरुष, जिला सर्विलांस अधिकारी, स्वास्थ्य विभाग 
... और पढ़ें

आगरा में कोरोना: बेड चाहिए तो कंट्रोल रूम को फोन कीजिए, प्रशासन का दावा- 100 फीसदी इलाज मिलेगा

आगरा में कंट्रोल रूम पर जहां पिछले सप्ताह रोज 500 से 600 शिकायतें आ रहीं थीं, वहीं शनिवार को केवल 40 कॉल आईं। जिनमें 12 लोगों ने भर्ती कराने के लिए बेड मांगा। 12 मरीजों को बेड उपलब्ध कराए गए हैं। जिलाधिकारी ने कहा कि प्रत्येक कोविड अस्पताल से खाली बेड का ब्योरा कंट्रोल रूम पर सुबह-शाम फीड कराया जा रहा है। 

कई मरीजों की शिकायत है कि उन्हें अस्पताल जाने पर बेड नहीं मिलता जबकि कंट्रोल रूम में बेड खाली हैं। ऐसे लोग अस्पताल न जाएं। मरीज भर्ती के लिए सीधे कंट्रोल रूम फोन कर रहे। हर कॉल का जवाब मिलेगा। मरीज भर्ती के बाद भी उनकी निगरानी की जाएगी। 

ऑक्सीजन स्तर की निगरानी
नगर निगम स्थित कोविड कंट्रोल रूम में प्रत्येक अस्पताल में भर्ती मरीज के ऑक्सीजन लेवल की निगरानी होती है। जान के जोखिम के आधार पर उन्हें वेंटीलेटर, आईसीयू व अन्य जीवन रक्षक उपकरण उपलब्ध कराए जा रहे हैं। एक चिकित्सक हर समय कंट्रोल रूम में मौजूद रहता है।
... और पढ़ें

फिरोजाबाद: एक माह बाद 24 घंटे में मिले सबसे कम मरीज, एक संक्रमित की मौत, 45 नए कोरोना पॉजिटिव मिले

कोरोना संक्रमण से फिरोजाबाद में एक और मरीज की मौत हो गई और 24 घंटे में 45 नए संक्रमित मिले। अब जिले में कोरोना से मृतकों की संख्या 112 और संक्रमितों का आंकड़ा 8224 हो गया है। जिले में सक्रिय केस घटकर महज 809 रह गए हैं। इनमें से 132 मरीजों का ही अस्पताल में इलाज चल रहा है।

जसराना निवासी 65 वर्षीय वृद्ध की सौ शैय्या कोविड अस्पताल में रविवार को मौत हो गई। विगत दिनों रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद वृद्ध को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इधर, मोहल्ला खेड़ा में 30 वर्षीय युवक, रजावली टूंडला में 63 वर्षीय पुरुष, नगला खंगर में 70 वर्षीय वृद्ध की रिपोर्ट में संक्रमण की पुष्टि हुई। टूंडला के गांव आनंद नगर, रति गढ़ी, नगला बीच में भी नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। नगला चूरा, सोराम गढ़ी, नगरिया फारौल, टूंडला के महावीर उपवन, एफएच मेडिकल कॉलेज, हाईवे रीजेंसी टूंडला, देवनगर, नगला सिंघी में भी पॉजिटिव केस मिलने की स्वास्थ्य विभाग ने पुष्टि की है। गढ़ी हंसराम, हिरनऊ, नगला खुंदारी में भी नए केस मिले हैं।

ब्लैक फंगस की जांच करने पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम
रवि यूनिटी अस्पताल में भर्ती ब्लैक फंगस जैसे लक्षण की महिला की जांच करने के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम रविवार को पहुंची। मेडिकल कॉलेज की टीम ने महिला का परीक्षण किया। जांच के बाद चिकित्सकों ने महिला को प्राथमिक तौर पर मसल्स पैरालाइसिस से पीड़ित माना है। जांच टीम ने रिपोर्ट बनाकर अस्पताल को दी और महिला को शहर के बाहर रेफर करने के निर्देश दिए। इधर, शहर का एक युवक को ब्लैक फंगस के लक्षण होने पर मरीज और उसके परिजनों ने नेत्र चिकित्सक से संपर्क साधा। नेत्र चिकित्सक ने युवक को दिल्ली रेफर किया है। 

ब्लैक फंगस: मथुरा में संक्रमण से निपटने को सर्विलांस टीम का गठन, बरतें ये सावधानियां
कासगंज में कोरोना : दो महिलाओं की संक्रमण से मौत, 15 नए संक्रमित मिले, जानिए कहां मिले नए पॉजिटिव मरीज ... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us