बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
इन तीन राशियों के लिए निवेश का शुभ समय, भाग्यफल से जानें अन्य राशियों का हाल
Myjyotish

इन तीन राशियों के लिए निवेश का शुभ समय, भाग्यफल से जानें अन्य राशियों का हाल

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

ताउते तूफान का असर: मैनपुरी जिले में मौसम बदला, 18-19 मई को बारिश का अलर्ट

ताउते तूफान का असर मैनपुरी में भी नजर आने लगा है। सोमवार को दिन भर आसमान में बादल छाए रहे। कृषि विज्ञान केंद्र ने 18 और 19 मई को तेज हवा के साथ बारिश का अलर्ट जारी किया है। इससे किसानों की चिंता बढ़ गई है। किसानों से गेहूं की फसल को सुरक्षित स्थान पर ले जाने के लिए कहा गया है।

तटीय क्षेत्र में ताउते तूफान ने जनजीवन को अस्त व्यस्त कर दिया है। लेकिन मैनपुरी में भी इसका असर नजर आने लगा है। सोमवार को सुबह से ही आसमान में बादल छाए रहे, जो दिन में भी नहीं हटे। धूप न निकलने से अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस रहा, इससे लोगों ने राहत की सांस ली। 

दूसरी और कृषि विज्ञान केंद्र की ओर से ताउते के चलते 18 और 19 मई को बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। मौसम वैज्ञानिक नरेंद्र कुमार वर्मा ने बताया कि तूफान के चलते जिले में भी तेज हवाओं के साथ बारिश होनी की प्रबल आशंका है। 
... और पढ़ें

ये कैसा कोरोना कर्फ्यू: आगरा में सड़कों पर बेवजह घूम रहे लोग, मोहल्लों में खुलीं गुटखे की दुकानें

आगरा में कोरोना कर्फ्यू के दौरान अब सड़कों पर फिर आवाजाही बढ़ गई है। युवा सड़कों पर बेवजह घूम रहे हैं, मुहल्लों में पान मसाले और गुटखे की दुकानें खुली हैं, जबकि पुलिस की कार्रवाई न के बराबर है। 30 अप्रैल की रात से शहर में कर्फ्यू है। सभी बाजार बंद हैं। सिर्फ जरूरी वस्तुओं के लिए छूट है, लेकिन छूट का दुरुपयोग शुरू हो गया है। लोहामंडी किराना बाजार में सुबह से शाम तक भीड़ उमड़ रही है। सब्जी मंडी नियम तार-तार हो रहे हैं यहां कोई देखने वाला नहीं। रविवार को शाहगंज-बोदला रोड पर प्रकाश नगर, राम नगर पुलिया और प्रेम नगर में बड़ी संख्या में युवा टोलियों के रूप में दोपहर में सड़कों पर घूमते नजर आए। उधर, शाहगंज और रुई की मंडी में किराना दुकानों पर भी भीड़ उमड़ रही है। कई जगह दुकानदारों ने ग्राहकों के लिए गोल घेरे नहीं बनाए हैं। बोदला सराय में गुटका, पान मसाले की दुकानें भी खोली गईं हैं। 
... और पढ़ें

पशु तस्कर: आगरा-जयपुर हाईवे पर गोवंश से भरा कैंटर पकड़ा, चार गिरफ्तार, पीछा करने पर पुलिस पर फायरिंग

आगरा में जयपुर हाईवे पर रविवार की रात चौमा शाहपुर चौकी के समीप चेकिंग के दौरान पुलिस पर फायरिंग कर कैंटर समेत भागे चार पशु तस्करों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। कैंटर में 26 गोवंश मिले हैं। जिनमें से छह मृत थे। पशुतस्करों के पास से पुलिस ने तमंचा और चाकू भी बरामद किया है। 

थाना प्रभारी संजीव शर्मा के मुताबिक रविवार की रात व फोर्स के साथ चौमा चौकी पर चेकिंग कर रहे थे। तभी भरतपुर की ओर से आ रहे एक कैंटर को रोकने पर चालक ने रफ्तार बढ़ा दी। इस पर पुलिस ने पीछा किया, तो कैंटर सवारों ने फायरिंग कर दी। इसके बाद भी पीछा कर पुलिस ने कैंटर को कौरई टोल प्लाजा के समीप पकड़ लिया। कैंटर में 24 सांड़ और दो गाय मिलीं। इनमें छह मृत हो चुके थे।

पुलिस ने कैंटर चालक खुर्शीद मोहम्मद निवासी थाना सरूरपुर मेरठ के अलावा मोहम्मद फिरोज निवासी संभल, आशू और अकरम निवासीगण हर्रा, सरूरपुर मेरठ को गिरफ्तार कर लिया। इनके पास से दो तमंचा, दो चाकू बरामद हुआ। थाना प्रभारी के मुताबिक ये पशु तस्कर रूपवास (राजस्थान) से गोवंश लादकर मुरादाबाद जा रहे थे। आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। 
... और पढ़ें

आगरा में कोरोना: 37 दिन बाद सबसे कम 79 नए संक्रमित मिले, तीन मरीजों की मौत

ताजनगरी में सोमवार को 24 घंटे में 79 नए मरीज मिले हैं जबकि 160 मरीज स्वस्थ हुए हैं। तीन और मरीजों की मौत हुई है। इससे मृतक संख्या 322 हो गई है। जिले में कुल मरीजों का आंकड़ा  करीब 25 हजार हो गया है। फिलहाल अब जिले में संक्रमण का ग्राफ लगातार घट रहा है। 

जिलाधिकारी प्रभु एन सिंह ने बताया कि जिले में 1598 एक्टिव केस हैं। सोमवार को 4703 मरीजों की जांच में 79 नए मरीज मिले हैं। संक्रमण दर 1.67% है। यानी प्रत्येक 100 मरीज की जांच में दो संक्रमित मिल रहे हैं। 160 नए मरीज सहित सोमवार तक 23013 मरीज ठीक हो चुके हैं। कुल मरीजों की संख्या 24933 पहुंच गई है। जिले में मरीजों के स्वस्थ्य होने की दर 92.30% पहुंच गई है। जिला प्रशासन ने लोगों से कोरोना व्यवहार को अपनाने और नियमों का पालन करने की अपील की है। 

बुजुर्ग व बच्चों के लिए सतर्कता
जिला प्रशासन ने शहर में बुजुर्ग और बच्चों को सतर्कता बरतने की सलाह दी है। डीएम प्रभु एन सिंह ने कहा युवाओं में संक्रमण के लक्षण जल्दी प्रदर्शित नहीं होते। परंतु इनके संपर्क में आने से घर के अन्य सदस्यों पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। ऐसे में युवाओं से ज्यादा बुजुर्ग और बच्चों को खास सावधानी बरतने की जरूरत है।
... और पढ़ें
आगरा में कोरोना: एसएन मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड के बाहर खड़ा स्वास्थ्यकर्मी आगरा में कोरोना: एसएन मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड के बाहर खड़ा स्वास्थ्यकर्मी

आगरा महिला चिकित्सक हत्याकांड: हत्यारोपी को नहीं मिली जमानत, आरोपी ने किया था सनसनीखेज खुलासा

आगरा में कोर्ट ने कमला नगर में छह महीने पहले महिला चिकित्सक निशा सिंघल की हत्या के आरोपी शुभम पाठक का जमानत प्रार्थनापत्र खारिज कर दिया। कमला नगर के ई ब्लाक निवासी चिकित्सक निशा सिंघल की 20 नवंबर 2020 की शाम को चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी गई थी। घर में उनकी बेटी नायशा और बेटा अद्भुत भी थे। उन्होंने कमरे में छिपकर खुद को बचाया था। निशा के पति अजय कुमार सिंघल के घर आने पर घटना की जानकारी हो सकी थी। आरोपी ने अधिवक्ता के माध्यम से कोर्ट में जमानत प्रार्थनापत्र प्रस्तुत किया। वहीं सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता ने आरोपी के जमानत प्रार्थनापत्र का विरोध किया। विवेचक ने आरोपी से बरामद खून लगी शर्ट, मृतका के जेवरात और रुपये बरामद किए थे। विशेष न्यायाधीश डकैती प्रभावी क्षेत्र मोहम्मद राशिद ने आरोपी का जमानत प्रार्थनापत्र खारिज करने के आदेश दिए।  अगली स्लाइड में पढ़िए हत्यारोपी की जुबानी हत्या की कहानी...
 
... और पढ़ें

विश्व संग्रहालय दिवस: नौ माह पहले बदला मुगल म्यूजियम का नाम, काम अब भी अधूरा, पढ़िए पूरी खबर

ताजमहल पूर्वी गेट पर राज्य सरकार ने स्टेट आफ द आर्ट मुगल म्यूजियम का निर्माण जनवरी 2016 में शुरू कराया, लेकिन तय समय सीमा दिसंबर 2017 से चार साल बाद भी म्यूजियम का निर्माण पूरा नहीं हो सका। 172 करोड़ रुपये की लागत से बन रहे मुगल म्यूजियम का नाम 16 सितंबर 2020 को राज्य सरकार ने बदलकर छत्रपति शिवाजी महाराज म्यूजियम कर दिया, तब इसका बजट आवंटन कर निर्माण पूरा होने की उम्मीद बंधी, लेकिन अब भी निर्माण कार्य अधूरा है। 15 माह से म्यूजियम का काम बंद पड़ा है। इसका निर्माण करने वाली कंपनी टाटा प्रोजेक्टस 15 माह से बजट आवंटन न होने के कारण काम बंद कर चुकी है। ताजगंज स्थित विद्युत विभाग की पोल फैक्टरी की छह एकड़ जमीन पर बनाए जा रहे मुगल म्यूजियम का नाम योगी सरकार ने बदलकर छत्रपति शिवाजी म्यूजियम रख दिया, लेकिन इससे इसकी किस्मत में कोई बदलाव नहीं आया। ... और पढ़ें

मुख्यमंत्री के दौरे के बाद युद्धस्तर पर कवायद: आगरा देहात में कोरोना संक्रमण नियंत्रण के लिए प्रशासन ने झोंकी झाकत

मुख्यमंत्री के दौरे के बाद ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण के भयावह हालातों पर काबू पाने के लिए युद्धस्तर पर कवायद शुरू हो गई है। जिले को 115 सेक्टर में बांटा गया है। जिनमें 100 सैंपलिंग वैन से रोज करीब 3500 लोगों की जांच की जा रही है। 690 निगरानी समितियां गांव-गांव जाकर संक्रमित, संदिग्ध व लक्षणित मरीजों की सूचियां बना रही हैं। सबसे अधिक संक्रमित क्षेत्र बरौली अहीर और बिचपुरी में रोकथाम का जिम्मा खुद जिलाधिकारी संभाल रहे हैं जबकि आठ ब्लॉक में सीडीओ की जिम्मेदारी है। नोडल अधिकारी एवं आगरा मंडल के आयुक्त अमित गुप्ता खुद गांव में मरीजों से गोपनीय फीडबैक ले रहे हैं। डीएम ने प्रभु एन सिंह बताया कि 15 ब्लॉक में 10 सबसे ज्यादा संवेदनशील हैं। 115 न्याय पंचायतों एक-एक सेक्टर मजिस्ट्रेट नियुक्त किया है। जो पंचायत में प्रत्येक बीमार को उपचार सुनिश्चित कराएगा। 690 समितियों में शामिल करीब 4500 स्वास्थ्य एवं पंचायत कर्मी गांव-गांव जाकर मरीजों की स्क्रीनिंग कर रहे हैं। ... और पढ़ें

मथुरा में बेकाबू कोरोना संक्रमण: दो मरीजों की मौत, 340 नए पॉजिटिव मिले, आश्रय सदन की 32 माताएं भी संक्रमित

आगरा में योगी आदित्यनाथ
मथुरा में कोरोना संक्रमण से सोमवार को दो लोगों की मौत हो गई, जबकि 340 नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं। जिले में संक्रमण से मरने वालों की संख्या जहां 254 हो गई है तो वहीं संक्रमितों का आंकड़ा भी बढ़कर 19491 हो गई है। एक्टिव केस 2234 हैं। 

कोरोना संक्रमण से सोमवार को केडी मेडिकल कॉलेज में भर्ती बीएसए कॉलेज निवासी 70 वर्षीय वृद्ध की उपचार के दौरान मौत हुई है। वहीं, वृंदावन के रामकृष्ण मिशन अस्पताल में भी कोरोना संक्रमित 56 वर्षीय वृद्ध की मृत्यु हो गई। वृंदावन के महिला आश्रय सदन में 32 वृद्ध माताएं कोरोना पॉजिटिव पाई गईं। इसके साथ ही वृंदावन में कुल 56 केस सामने आए हैं। 

जिला जेल और नयति अस्पताल में भी कोरोना संक्रमित मिलने का सिलसिला जारी है। मथुरा के अलग-अलग स्थानों से 118 संक्रमित मिले हैं। छाता में 26, फरह में 22, गोवर्धन में 17, नौहझील में 19, कोसीकलां में 14, राया में 20, चौमुहां में 15 और बलदेव में संक्रमण 9 मामले सामने आए हैं। मथुरा शहर के लाजपत नगर, कृष्ष्णानगर, संगम विहार, बालाजीपुरम,  गोवर्धन रोड, नरसीपुरम, जगदम्बा कॉलोनी, राधापुरम स्टेट, माधवपुरी, कन्हैया कुंज, ओम नगर, चामुंडा कॉलोनी, हनुमान नगर, विश्राम घाट, छत्ता बाजार, आनंद धाम कॉलोनी, महाविद्या, महेंद्र नगर, भारत नगर आदि इलाकों में संक्रमित मिले हैं। ग्रामीण अंचल के नौहझील, जरैलिया, हसनपुर, बठैनकलां, खिटाविटा, सुरीर, चांदपुर, बरौत, बाजना में भी कोरोना संक्रमण के केस मिले हैं। 

महिला अस्पताल में बनेगा 30 बेड का आईसीयू वार्ड
केंद्र सरकार से मिली गाइडलाइन के बाद तीसरी लहर से लड़ने के लिए अस्पताल अपग्रेड किए जा रहे हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. रचना गुप्ता ने बताया कि मंडल में बच्चों के आईसीयू अस्पताल तैयार करने के निर्देश मिले थे। जिसके बाद जिला महिला अस्पताल को इसके लिए चयनित कर लिया गया है। इसमें तीस बेड की व्यवस्था की गई है। समय आने पर इस वार्ड और यहां भर्ती होने वालों के लिए आधुनिक चिकित्सा सुविधाओं से युक्त करने की तैयारियां की जाएंगी। उन्होंने बताया कि कोरोना की तीसरी लहर बच्चों के लिये खतरनाक मानते हुए इससे सतर्क रहने को प्रदेश सरकार द्वारा उठाये जा रहे कदमों के बाद अब तैयारियां शुरू कर दी गईं हैं। 

कासगंज में कोरोना: संक्रमण से पांच लोगों की हुई मौत, 14 नए पॉजिटिव मरीज मिले
... और पढ़ें

आगरा: शराब की दुकानों के लिए नए निर्देश जारी, बढ़ाया गया समय, पढ़िए पूरी खबर

आगरा में मंगलवार से सुबह 10 बजे से शाम 7 बजे तक देशी विदेशी शराब दुकानें व मॉडल शॉप खुलेंगी। कैंटीन पर रोक रहेगी। दुकान में बैठकर पीने की मनाही होगी। जिला प्रशासन ने सोमवार रात आबकारी अधिकारियों के साथ बैठक के बाद यह निर्णय लिया है। जिलाधिकारी प्रभु एन सिंह ने बताया कि आबकारी दुकानों का समय दोपहर एक बजे से बढ़ाकर शाम 7 बजे तक किया है। अप्रैल माह में आबकारी विभाग जिले में 500 से अधिक अनुज्ञापियों से लाइसेंस फीस ले चुका है। बंदी के दौरान लाइसेंस फीस माफी की मांग उठी थी। पिछले साल लॉकडाउन में तीन माह आबकारी दुकानें बंद रहने से व्यापारियों को नुकसान हुआ था। दुकानों पर बिक्री के दौरान पुलिस व आबकारी निरीक्षक ड्यूटी लगाई जाएगी। कोविड नियमों का पालन करना अनिवार्य होगा। इससे पहले दुकानें कम समय के लिए खोली जा रही थीं।
... और पढ़ें

कोरोना जांच में गड़बड़ी की आशंका: आगरा की निजी लैबों की रिपोर्ट में 54 फीसदी संक्रमित, सरकारी में 2 फीसदी

कोरोना की जांच रिपोर्ट में भी गड़बड़ियों की आशंका है। निजी पैथलॉजी लैबों में आरटीपीसीआर जांच के 54 फीसदी सैंपल की रिपोर्ट पॉजिटिव हैं, जबकि सरकारी एसएन की लैब में महज 2 फीसदी सैंपल ही पॉजिटिव मिल रहे हैं। ऐसे में गड़बड़ी की आशंका पर तीन निजी लैब के 15 सैंपल दोबारा जांच के लिए लखनऊ भेजे गए हैं।

जिले में 32 जांच केंद्र हैं। शहर में 17 और देहात में 15 केंद्र हैं। शहर में 17 केंद्रों में से एक जिला अस्पताल को छोड़कर बाकी 16 जगह जांचें बंद हैं। शहर में निजी पैथलॉजी लैब सांइटफिक, पैथकाइंड और एसआरएल में आरटीपीसीआर जांच की अनुमति हैं। 

तीनों निजी लैब में अब तक 68 लोगों के सैंपल की जांच में 37 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई हैं। इस तरह पॉजिटिविटी दर 54 फीसदी पाई गई। दूसरी तरफ एसएन मेडिकल कॉलेज में रविवार को 6128 सैंपल की जांच में 111 सैंपल करीब 2 फीसदी पॉजिटिव मिले हैं। सरकारी और निजी लैब की जांच में इस बड़े अंतर को लेकर जिला प्रशासन भी हैरान है। 
... और पढ़ें

कासगंज में कोरोना: संक्रमण से पांच लोगों की हुई मौत, 14 नए पॉजिटिव मरीज मिले

कासगंज में सोमवार को कोरोना पॉजिटिव पांच लोगों की मौत हो गई। कोरोना महामारी से अब तक जिले में 126 मौतें हो चुकी हैं। लगातार हो रही मौतों से लोगों में डर है। वहीं सोमवार को 14 नए कोरोना संक्रमित सामने आए। जिससे संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 4102 पर पहुंच गया। विभाग ने संक्रमितों को आइसोलेट कर दिया है।

शहर की चित्र गुप्त कॉलोनी निवासी देवरिषी कोरोना संकमित थे। वह होम आइसोलेशन में चल रहे थे, लेकिन हालत बिगड़ने के बाद तीन दिन पहले उनको जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, हालत में सुधार न होने के बाद उनको जिला अस्पताल से रेफर कर दिया गया। जब परिजन उनको इलाज के लिए दिल्ली लेकर जा रहे थे तभी रास्ते में मौत हो गई। वहीं सिढ़पुरा के नौगांव निवासी पन्नालाल (72) पुत्र सूबेदार की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां सुबह उनकी मौत हो गई। सिढ़पुरा के चंद्रपुर निवासी तुलाराम (65)  पुत्र सुखपाल के कोरोना संक्रमित मिलने पर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उनकी उपचार के दौरान मौत हो गई।

ढोलना के मोहम्मदपुर निवासी अर्जुन (61) पुत्र सुम्मेर सिह के कोरोना संक्रमित मिलने पर गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती किया गया जहां उनकी दोपहर में मृत्यु हो गई। शहर के मोहल्ला मोहन निवासी बाबूलाल (55) पुत्र पन्नालाल ने भी जिला अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। 
... और पढ़ें

आगरा मेट्रो: संक्रमण के बावजूद नहीं थमा कार्य, रूप लेने लगा पहला मेट्रो स्टेशन ताजपूर्वी गेट

संक्रमण की दूसरी लहर में जहां एक ओर कई योजनाएं व निर्माण कार्य थम गए हैं वहीं दूसरी ओर मेट्रो स्टेशन के निर्माण कार्य की रफ्तार जारी है। 50 पिलर का आधार तैयार होने से पहला मेट्रो स्टेशन ताजपूर्वी गेट भी अब स्वरूप ले रहा है। फतेहाबाद रोड पर 18 पिलर खड़े हो गए हैं जबकि 414 पाइल खोदी जा चुकी हैं।

उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (यूपीएमआरसी) ने दोहरी चुनौतियों से जूझकर ये मुकाम हासिल किया है। परियोजना निदेशक समेत कई अफसर संक्रमित हैं। श्रमिक भी चिंतित हैं फिर भी प्रोजेक्ट को समय पर पूरा करने के लिए दिनरात निर्माण कार्य हो रहा है। पांच महीने में 50 पिलर का आधार तैयार हो चुका है। 18 पिलर भी खड़े हो चुके हैं।

टीडीआई मॉल के सामने अब ताजपूर्वी गेट स्टेशन की बिल्डिंग के लिए क्षैतिज बीम बन रहे हैं। पहले स्टेशन के लिए तीन तरह के बीम की ग्रिड बनेगी। दो ग्रिड के छह पिलर का निर्माण युद्धस्तर पर चल रहा है। पिलर का आधार तैयार होने से अब ट्राइडेंट होटल के सामने से डिवाइडर से बैरिकेडिंग हटाने का काम सोमवार से शुरू हो गया है। यूपीएमआरसी के डीजीएम पंचानन मिश्र ने बताया कि बैरिकेडिंग हटाने के बाद खाली जगह में पौधरोपण किया जाएगा। हरियाली विकसित होगी।

बाकी है 171 पिलर का निर्माण 
फिलहाल तीन किमी में तीन एलिवेटिड मेट्रो स्टेशन व कॉरिडोर का निर्माण हो रहा है। इसमें कुल 686 पाइल खोदी जानी हैं। जिनमें 414 तैयार हो गई हैं। 171 पिलर का और निर्माण होना बाकी है। 
ये भी पढ़ें-
प्यार के आगे झुका परिवार: प्रेमी युगल ने मंदिर में लिए सात फेरे, पुलिसकर्मी बने बराती 
आगरा महिला चिकित्सक हत्याकांड: हत्यारोपी को नहीं मिली जमानत, सनसनीखेज हत्या के बाद आरोपी ने किया था खुलासा ... और पढ़ें

चांदी कारोबारी से 43 लाख रुपये हड़पने का मामला: आरोपी सिपाही गिरफ्तार, अधिकारी फरार, पढ़िए पूरा मामला

आगरा के लोहामंडी स्थित वाणिज्यकर कार्यालय में मथुरा के चांदी कारोबारी प्रदीप अग्रवाल से 43 लाख रुपये की लूट के मामले में पुलिस ने सोमवार को आरोपी सिपाही संजीव कुमार को गिरफ्तार कर लिया। उसे मंगलवार को मेरठ की एंटी करप्शन कोर्ट में पेश किया जाएगा। अन्य आरोपी दो अधिकारी और निजी गाड़ी का चालक फरार हो गए हैं। एक टीम आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास में लगी है। मथुरा के गोविंद नगर क्षेत्र के रहने वाले चांदी कारोबारी प्रदीप अग्रवाल 30 अप्रैल को अपने चालक के साथ गाड़ी से बिहार के कटिहार से लौट रहे थे। उनकी गाड़ी में एक थैले में चांदी के जेवरात की बिक्री के 43 लाख रुपये रखे थे। लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे के फतेहाबाद टोल प्लाजा पर एक सिपाही ने उनकी गाड़ी को रोक लिया था। सिपाही वाणिज्य कर अधिकारी के पास ले गया था। इसके बाद उन्हें अधिकारी जयपुर हाउस स्थित कार्यालय लेकर आए थे। ... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us