बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
22 जून को शुक्र का कर्क राशि में परिवर्तन, जानें सभी राशियों पर प्रभाव
Myjyotish

22 जून को शुक्र का कर्क राशि में परिवर्तन, जानें सभी राशियों पर प्रभाव

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

रासुका निरुद्धि को चुनौती, यूपी सरकार से जवाब तलब

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने शाहजहांपुर, सदर बाजार के अभयराज गुप्ता की रासुका में नजरबंदी की वैधता की चुनौती याचिका पर राज्य सरकार व पुलिस अधिकारियों से जवाब मांगा है। याचिका की सुनवाई 5 जुलाई को होगी।

यह आदेश न्यायमूर्ति एमएन भंडारी तथा न्यायमूर्ति अजय त्यागी की खंडपीठ ने वरिष्ठ अधिवक्ता डीएस मिश्र व चंद्रकेश मिश्र की बहस सुनकर दिया है। इनका कहना है कि मारपीट व हत्या के आरोप में याची को गिरफ्तार रासुका के तहत बरेली जिला जेल में नजरबंद किया गया है। आदेश मनमानापूर्ण व विधि विरुद्ध है। याची के प्रतिवेदन को निर्णीत करने में देरी की गई है। सभी तीनों आपराधिक मामलों में याची को जमानत मिल चुकी है। घटना के दिन वह विदेश में था। उसे झूठा फंसाया गया है। एफआईआर में वह नामजद भी नही है और 23 दिसंबर से जेल में बंद है। संवाद
... और पढ़ें

एनसीटीई के निर्देश शिक्षक भर्ती नियमावली पर बाध्यकारी - हाईकोर्ट

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा है कि एनसीटीई केंद्रीय संस्था है और उसके निर्देश राज्य सरकार की शिक्षक भर्ती नियमावली 1981 पर बाध्यकारी होंगे। कोर्ट ने इंटरमीडिएट पास करने के बाद शिक्षण प्रशिक्षण लेने वाले अभ्यर्थियों को सहायक अध्यापक पद पर नियुक्ति नहीं देने संबंधी महानिदेशक स्कूल शिक्षा के सर्कुलर पर रोक लगा दी है तथा राज्य सरकार से जवाब मांगा है। यह आदेश पूजा तिवारी की याचिका पर सुनवाई करते हुए न्यायमूर्ति जेजे मुनीर ने दिया है।
 
याची के अधिवक्ता सीमांत सिंह का कहना था कि याची ने 69 हजार सहायक अध्यापक पद के लिए आवेदन किया था। उसका अंतिम रूप से चयन हो गया और मैनपुरी में नियुक्ति भी मिल गई लेकिन विद्यालय आवंटित नहीं किया गया। याची ने इंटरमीडिएट के बाद डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजूकेशन (डीएलएड) का प्रशिक्षण प्राप्त किया था।
... और पढ़ें

2015 पुलिस पीएसी कांस्टेबल भर्ती  :  विज्ञापित सभी पदों को भरने के लिए बाध्य नहीं है सरकार

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 2015 की पुलिस पीएसी कांस्टेबल भर्ती के खाली रह गए तीन हजार विज्ञापित पदों को कैरी फारवर्ड न कर मेरिट नीचे कर चयनित अभ्यर्थियों की नियुक्ति की मांग को लेकर दाखिल सैकडों याचिकाओं को खारिज कर दिया है। कोर्ट ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले  के हवाले से कहा कि यदि नियम नहीं है तो चयनित होने मात्र से किसी को नियुक्ति का अधिकार नहीं मिल जाता।और  सरकार सभी विज्ञापित पदों को भरने के लिए बाध्य नहीं है ।हाईकोर्ट  पर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय बाध्यकारी है।इसलिए कोई राहत नही दी जा सकती।  यह आदेश न्यायमूर्ति एम सी त्रिपाठी ने अजय प्रकाश मिश्र व 216अन्य सहित सैकड़ो याचिकाओ को खारिज करते हुए दिया है।

याचियो का कहना था वे सभी चयनित है।कट आफ मेरिट 191ऽ6 अंक से अधिक अंक प्राप्त कर सफल  हुए है।पुलिस भर्ती बोर्ड ने 28916 सिविल पुलिस व पी ए सी कांस्टेबल भर्ती मे सामान्य 403ऽ6,ओ बी सी 394ऽ73व एस सी एस टी 380ऽ3 अंक कट आफ मेरिट पर दस्तावेज सत्यापन व शारीरिक  परीक्षा के लिए बुलाया।

पुलिस भर्ती नियमावली के अनुसार खाली पदो को उसी भर्ती के तहत भरा जाएगा।कुछ  अभ्यर्थियो को फर्जी मार्कशीट के कारण अस्वीकार कर दिया गया।कुछ मेडिकल जांच में फेल हो गए।सिविल पुलिस व पी ए सी कांस्टेबल के तीन हजार पद भरे नहीं जा सके।खाली पड़े है ।जिसे मेरिट नीचे कर सफल अभ्यर्थियो से भरा जाना चाहिए।
... और पढ़ें

गंगा-यमुना स्थिर,बांधों से फिर छोड़ा गया 3.31 लाख क्यसेक पानी

गंगा-यमुना का जलस्तर सोमवार को स्थिर हो गया। लेकिन, बांधों से गंगा में पानी छोड़ने का सिलसिला जारी है। इस दिन हरिद्वार, नरोरा और कानपुर बांधों से गंगा में 3.31 लाख क्यूसेक से अधिक पानी छोड़ा गया। पिछले तीन दिनों से लगातार गंगा में पानी छोड़ा जा रहा है। इससे आने वाले कुछ दिनों में ही तटवर्ती कछार में पानी घुसने की आशंका है। उधर, संगम की रेती पर पानी के फैलाव से इस दिन भी चौकियां हटाई जाती रहीं।

गंगा का जलस्तर सोमवार को स्थिर हो गया। यमुना की भी धारा ठहर गई है। इससे असमय बाढ़ की आशंका से तो लोगों ने राहत की सांस ली है, लेकिन बांधों से पानी छोड़े जाने से तटों पर जीविका चलाने वाले डरेे हुए हैं। संगम से तीर्थ पुरोहितों को चौकियां और अन्य सामान हटाने के लिए हफ्ते भर से मशक्कत करनी पड़ रही है। पानी लगातार आने से लोग सुरक्षित स्थानों पर सामान पहुंचाने लगे हैं। शाम तक दर्जनों दुकानों और चौकियों को हटाया गया। उधर, फाफामऊ घाट पर गंगा में कटान का दायरा बढ़ने से मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। गंगापुत्र घाटिया संघ के शालिग्राम पांडेय के अनुसार इसी तरह बांधों से पानी छोड़ा जाता रहा तो जल्द ही बाढ़ का खतरा पैदा हो सकता है।

पवन शुक्ला, दिवाकर पांडेय ने बताया कि हफ्ते भर में अब तक सैकड़ों चौकियां और अस्थाई दुकानें संगम से हटाई जा चुकी हैं। पानी आने से लोगों के पीछे खिसकने का क्रम जारी है। सिंचाई बाढ़ नियंत्रण कक्ष के मुताबिक रात आठ बजे फाफामऊ में गंगा का जलस्तर 76.70 मीटर दर्ज किया गया। यहां देर शाम गंगा स्थिर हो गई है। इसी तरह छतनाग में जलस्तर 71.57 मीटर पर पहुंच गया। इसी तरह नैनी में भी यमुना 72.36 मीटर पर पहुंच कर स्थिर हो गई है। उधर, बांधों से इस दिन भी बगंगा में पानी छोड़ा गया। हरिद्वार से 1 लाख, 423 क्यूसेक पानी छोड़ा गया। इसी तरह नरोरा बांध से 2.14 लाख,807 क्यूसेक और कानपुर से 15 हजार 651 क्यूसेक पानी गंगा में छोड़े जाने से फिर जलस्तर बढ़ने की आशंका है।
... और पढ़ें
ganga river ganga river

साइबर क्राइम : दो महीने में खोले 100 से ज्यादा खाते, लाखों का लेनदेन

जामताड़ा में बैठे साइबर अपराधियों के गिरोह के प्रतापगढ़ निवासी मददगार धीरज पांडेय से पूछताछ में कुछ अहम खुलासे हुए हैं। पता चला है कि उसने पिछले दो महीने में 100 से ज्यादा लोगों के मनी वालेट अकाउंट खोलवाए थे। जिनके जरिए लाखों रुपये का लेनदेन महज कुछ दिनों में हुआ। फिलहाल पुलिस धीरज व उसकेतीन अन्य साथियों को हिरासत में लेकर पूछताछ में जुटी है।

फतनपुर निवासी धीरज व उसकेसाथी रानीगंज निवासी रोहित पांडेय को पुलिस ने एक दिन पहले हिरासत में लिया था। आरोप है कि दोनों जामताड़ा से ऑपरेट करने वाले साइबर अपराधियों के गैंग के लिए काम करते थे। सूत्रों के मुताबिक, धीरज से पूछताछ में इस बात का खुलासा हुआ कि पिछले दो महीने के भीतर उसने डिजिटल पेमेंट एप के 100 से ज्यादा मनी वालेट अकाउंट खुलवाए थे। खास बात यह कि खाते खुलने के कुछ ही दिनों में इन खातों से लाखों रुपये का लेनदेन भी हुआ।
... और पढ़ें

प्रयागराज : काम दिलाने के बहाने ठेकेदार और उसके साथियों ने महिला से कार में किया सामूहिक दुष्कर्म

दारागंज में काम दिलाने के बहाने 30 वर्षीय महिला से सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। बहरिया निवासी महिला का आरोप है कि ठेकेदार उसे काम दिलाने के बहाने धोखे से परेड ग्राउंड में ले गया।

फिर वहां अपने एक दोस्त के साथ मिलकर तमंचे के बल पर सामूहिक दुष्कर्म किया। आरोप है कि थाने में शिकायत के बावजूद सुनवाई नहीं हुई। जिसके बाद उसने उच्चाधिकारियों से कार्रवाई की गुहार लगाई है।

पीड़ित महिला मजदूरी करके अपना व अपने परिवार का भरण-पोषण करती है। उसने शिकायती पत्र देकर अफसरों को बताया है कि वह सिविल लाइंस निवासी ठेकेदार भूपेंद्र पांडेय मकान बनाने का ठेका लेता है।

जिसकी साइट पर वह पहले काम कर चुकी है। आरोप है कि 15 जून को शाम सात बजे के करीब आरोपी ठेकेदार अपने एक साथी संग उससे सीएमपी कॉलेज के पास मिला। इसके बाद काम दिलाने के बहाने उसे सफारी में बैठा लिया।
... और पढ़ें

ईओडब्ल्यू को सौंपी गई करोड़ों की ठगी की जांच, सिविल लाइंस में पिछले साल दर्ज हुआ था केस

Gangrape
सिविल लाइंस में रकम दोगुनी करने के नाम पर करोड़ों की ठगी मामले की जांच अब आर्थिक अपराध शाखा(ईओडब्ल्यू) करेगी। मामले की विवेचना में जुटी क्राइम ब्रांच ने सभी संबंधित दस्तावेज ईओडब्ल्यू को भेज दिए हैं। इस मामले में रियर इस्टेट कंपनी के निदेशक समेत पांच लोग नामजद कराए गए थे।

पिछले साल सितंबर में मामले की रिपोर्ट सोहबतियाबाग निवासी प्रकाश चंद तिवारी ने दर्ज कराई थी। इससे पहले मामले की शिकायत लेकर वह ठगी का शिकार हुए करीब डेढ़ दर्जन अन्य लोगों के साथ डीआईजी के पास पहुंचे थे। उनका आरोप था कि रकम दोगुना करने के नाम पर उनसे 28 लाख का निवेश कराया गया। इसी तरह अन्य लोगों से भी रुपये लिए गए। बताया गया कि कंपनी जमीन में रुपये लगाकर लाभ कमाती है और फिर इसी के जरिए निवेशकों को रकम दोगुना करकेदेती है। लेकिन निर्धारित अवधि बीत जाने के बाद भी रुपये नहीं लौटाए गए।

यही नहीं उसी जगह दूसरे नाम से कंपनी खोलकर अन्य लोगों के साथ फर्जीवाड़ा किया जा रहा है। मामले में राशिद नसीम, जसीम खां, आसिफ नफीस, नीरज श्रीवास्तव व जावेद इकबाल पर धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज किया गया था। ज्यादा रकम का मामला होने के कारण विवेचना क्राइम ब्रांच को सौंप दी गई थी। हालांकि रकम करोड़ों में होने के चलते विवेचना ईओडब्ल्यू को से कराने की सिफारिश की गई थी। जिसकी मंजूरी मिल गई है। सीओ सिविल लाइंस सुधीर कुमार ने बताया कि विवेचना ईओडब्ल्यू से कराए जाने की अनुमति मिल गई है। संबंधित दस्तावेज ईओडब्ल्यू को सौंप दिए गए हैं।
... और पढ़ें

योग दिवस : क्रिया योग आश्रम में आयोजित इम्युनिटी बूस्टर योगशाला से जुड़े दुनिया के कई देश

चलती ट्रेन से गिरी दो साल की मासूम, बाल-बाल बची, ट्रेन को चेन पुल्लिंग कर मां ने रोका

‘जाको राखे साइयां मार सके न कोय’। यह कहावत सोमवार घूरपुर क्षेत्र में फिर चरित्रार्थ हुई। चलती ट्रेन से दो साल की मासूम नीचे गिर गई। बरसात के कारण वहां घास फूस थी। जिसके कारण बच्ची बच गई। बच्ची को गिरते हुए एक महिला ने देख लिया था। उसके सिर में चोट आई थी। उसी ने बच्ची का इलाज कराया। उधर, जब तक चेन पुलिंग कर ट्रेन रोकी जाती, गाड़ी तीन किलोमीटर पहुंच गई थी। बच्ची की मां बदहवास दौड़ते हुए पहुंची तो बच्ची को सकुशल देख्रकर उसे सीने से लगाकर घंटों रोती रही। 

  मानिकपुर की रहने वाली माया देवी (21) अपने पति मनोज कुमार से अलग रहती है। उसकी दो साल की एक बेटी सोनाक्षी है। माया ट्रेनों में साफ-सफाई कर अपना जीवन व्यापन करती है। सोमवार सुबह वह अपनी बच्ची सोनाक्षी को लेकर मानिकपुर स्टेशन से गोदान एक्सप्रेस में साफ-सफाई के लिए चढ़ी। जसरा से आगे मनकवार गांव के पास माया गेट पर लगे बेसिन में हाथ मुंह धो रही थी। तभी उसकी बच्ची गेट पर आ पहुंची। इसी दौरान झटका लगने से बच्ची गेट के बाहर गिर गई। मनकवार गांव की आरती पटेल ने बच्ची को गिरते देख लिया था।

वह दौड़ते हुए पहुंची और घास फूस में गिरी बच्ची को उठा लिया। देखा तो उसके सिर में चोट थी। तुरंत डॉक्टर को बुलाया गया। बच्ची रो रही थी। प्रधान वीपी पटेल भी पहुंच गए थे। डॉक्टर ने बताया कि बच्ची सामान्य है। उधर, बच्ची को गिरते देखकर उसकी माया बदहवास होकर चीखने लगी। किसी तरह से उसने हाथ पैर जोड़कर लोगों से चेन पुलिंग कराई लेकिन गाड़ी तब तक तीन किलोमीटर आगे पहुंच गई थी। गाड़ी रुकी तो माया बदहवास भागते हुए मौके पर पहुंची। उसने बच्ची को सकुशल देखकर उसे गले लगा लिया और घंटों रोती रही। आसपास की महिलाओं ने उसे ढांढस बंधाया। संवाद
... और पढ़ें

जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव में भी जातीय फैक्टर, अपनों को जोड़े रखने की चुनौती

जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में भी जाति बड़ा फैक्टर बनने जा रहा है। इसमें तीन जातियों की प्रभावी संख्या है। इस आधार पर भाजपा और सपा दोनों ही तरफ से जीत के दावे किए जा रहे हैं। ऐसे में जीत के दावों तथा जातीय समीकरण के बीच अनुसूचित जाति वर्ग के जिला पंचायत सदस्यों की भूमिका बढ़ गई है। इस जातीय समीकरण को साधने के लिए दिग्गज नेताओं की घेराबंदी भी शुरू हो गई है।

जिले में कुल 84 जिला पंचायत सदस्य हैं। इस चुनाव में जाति फैक्टर को इससे ही समझा जा सकता है कि सपा और भाजपा दोनों दलों की ओर से सदस्यों की जातिवार सूची तैयार की गई है। यादव बिरादरी के 20 से अधिक सदस्य निर्वाचित हुए हैं। वहीं पटेल बिरादरी के 13 सदस्य निर्वाचित हुए हैं। अनुसूचित जाति के सदस्यों की संख्या 22 है। सर्वण बिरादरी के निर्वाचित सदस्यों की संख्या करीब एक दर्जन है। इसे ध्यान में रखकर चुनाव की रणनीति बनाई जा रही है। साथ ही जीत के दावे किए जा रहे हैं।
... और पढ़ें

दिल्ली ही नहीं, हावड़ा के लिए भी प्रयागराज से मिलेगी हाई स्पीड ट्रेन 

दिल्ली-प्रयागराज-वाराणसी के बीच हाई स्पीड ट्रेन चलाए जाने के लिए बनाए जाने वाले हाई स्पीड रेल कॉरीडोर का विस्तार अब हावड़ा तक किए जाने की तैयारी की गई है। यानी कि प्रयागराज से सिर्फ दिल्ली ही नहीं, बल्कि हावड़ाके लिए भी हाई स्पीड ट्रेन लोगों को उपलब्ध होगी। इसके लिए वाराणसी से हावड़ा तक नेशनल हाईस्पीड रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड (एनएचआरसीएल ) द्वारा  जल्द हीसर्वे शुरू होगा।इस सर्वे के लिए भी पहले की तरह लिडार तकनीक का प्रयोग किया जाएगा।

दरअसल अहमदाबाद-मुंबई केबाद रेलवे ने दिल्ली से वाराणसी के बीच हाई स्पीड कॉरीडोर बनाने का निर्णय लिया। इसके लिए पिछले वर्ष दिसंबर माह से ही लिडार तकनीक से नई दिल्ली-आगरा-प्रयागराज-वाराणसी हाई स्पीड रेल कॉरिडोर के लिए भूमि सर्वेक्षणका कार्य शुरू हुआ। इस दौरान हेलीकॉप्टर पर लगे उपकरण के सहारे सटीक सर्वेक्षण का आंकड़ा, लेजर आंकड़ा,जीपीएस, उड़ान और तस्वीरों को इकट्टा करके एनएचआरसीएल के अधिकारियों की टीम ने रिपोर्ट तैयार की। कोरोना कीदूसरी लहर की वजह से इसका डीपीआर मई तक तैयार नहीं हो सका।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us