लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Bahraich ›   bahraich

कभी 50 हजार में हो जाती थी रामलीला

Lucknow Bureau लखनऊ ब्यूरो
Updated Wed, 28 Sep 2022 11:51 PM IST
bahraich
विज्ञापन
ख़बर सुनें
बहराइच। नवरात्रि आते ही लोग रामलीला देखने के लिए व्याकुल हो उठते थे। तमाम कलाकार रामलीला समिति के पास रोल मांगते पहुंच जाते थे। रामलीला शुरू होती थी तो कलाकार पात्रों को इस तरह जीते थे कि दर्शक मोहित हो जाते थे। यही नहीं श्रद्धालुओं की विनती करने पर श्रीराम अपनी टीम के साथ उनके घर दर्शन देने भी पहुंचते थे। ये बातें 20-22 साले पहले की। तब पूरी लीला भी 50 से 70 हजार रुपये में हो जाया करती थी जबकि इस समय यह खर्च बढ़कर पांच लाख रुपये के करीब हो गया है।

शहर में साल 1905 से मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान रामलीला कमेटी की ओर से रामलीला मैदान में मंचन का आयोजन किया जा रहा है। साल 2000 से अब तक लगातार कमेटी के अध्यक्ष रहे श्यामकरन टेकड़ीवाल बताते हैं कि एक समय था जब रामलीला कराने के लिए इतनी मेहनत नहीं करनी पड़ती थी। लोगों के अंदर इतना उत्साह हुआ करता था कि निशुल्क काम करने के लिए तैयार रहते थे। दिन-रात जुटे रहते थे।

साल 2000 में 50 से 70 हजार रुपये के बीच रामलीला का आयोजन हो जाता था, लेकिन अब पांच से छह लाख रुपये से अधिक लग रहा है। शहर की रामलीला में खास बात यह रही कि साल 1990 से लेकर अब तक रामलीला मंचन देखने के लिए उमड़ने वाली भीड़ में कभी कमी नहीं हुई। रामलीला मैदान के बाहर दूर-दूर तक लोग खड़े नजर आते है। 80 हजार से अधिक की भीड़ उमड़ती है। उन्होंने बताया कि समय बदलने के साथ अब मंचन में भी थोड़ा बदलाव हुआ है। पहले भगवान श्रीराम श्रद्धालुओं के घर दर्शन देने जाते थे। अब यह प्रथा शोभायात्रा में बदल गई है। लोग सड़क से ही भगवान के दर्शन कर लेते हैं। कमेटी के अध्यक्ष श्यामकरन टेकड़ीवाल ने बताया कि पहले रामलीला में मंचन करने के लिए जिले के लोगों को ही चुना जाता था। लोग निशुल्क मंचन करते थे। अब मथुरा व वृंदावन समेत अन्य जगहों से कलाकार बुलाए जाते हैं।
साल 2000 में बांस-बल्ली लगाकर पीछे पर्दा लटका दिया जाता था। उसी पर मंचन हो जाता था। अब चकाचौंध ने सब कुछ बदलने को मजबूर कर दिया। मंचन बेहतर तरीके से करने के लिए तमाम व्यवस्थाएं करनी पड़ती हैं। साथ ही आतिशबाजी व रावण तैयार करने के साथ दहन करने के लिए अलग से व्यवस्था की जाती है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00