अबकी बार राममय होगी कालीन नगरी

Varanasi Bureau वाराणसी ब्यूरो
Updated Sat, 25 Sep 2021 12:35 AM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
कोरोना वायरस की सामान्य स्थिति के कारण रामलीला मंचन के लिए प्रशासनिक अनुमति मिलने लगी है। अबकी बार कालीन नगरी राममय होगी। समितियां तैयारी में जुट गई हैं। कलाकार रामलीला के लिए रिहर्सल भी शुरू कर चुके हैं। मर्यादा पुरूषोत्तम भगवान राम के आदर्शों को जन-जन तक पहुंचाने के लिए रामनवमी और विजयदशमी के पूर्व नगर से लेकर ग्रामीण अंचलों में रामलीला का मंचन होता है। कुछ स्थानों पर चित्रकूट, अयोध्या, वृंदावन तो कुछ जगहों पर स्थानीय कलाकार रामलीला के अलग-अलग किरदार में अभिनय करते हैं। वैश्विक महामारी के कारण वर्ष 2020 में रामलीला का मंचन नहीं हो सका था। जिसके कारण कलाकारों संग रामभक्तों में निराशा हुई थी लेकिन अबकी बार वैक्सीनेशन के कारण कोविड की स्थिति सामान्य हो चुकी है। शासन के निर्देश पर रामलीला मंचन की अनुमति भी मिलने लगी है। जिसको लेकर समितियां काफी उत्साहित हैं। कुछ रामलीला समितियां ऐहतियात के तौर पर इस बार भी मंचन नहीं करेंगी, लेकिन अधिकतर लीला मंचन की तैयारी में जुट गई हैं। औराई के अमीरपट्टी, खमरिया, घोसिया, कैयरमऊ ,महदेपुर, उगापुर, चकजुडावन, नटवां, माधोसिंह, गिर्दबडगांव, सारीपुर, बभनौटी, महाराजगंज, बाबूसराय, ज्ञानपुर में कुरमैचा, सुधवैं, बिछियां, नवधन, गोपीगंज के बघेल छावनी, भदोही में रजपुरा, चौरी, रोटहां, वेदमनपुर सहित अन्य स्थानों पर मंचन होता है। प्रशासनिक आंकड़ों पर गौर करें तो तीनों तहसीलों में करीब 90 स्थानों पर मंचन किया जाता है। अपर जिलाधिकारी शैलेंद्र मिश्र ने कहा कि समितियों को अनुमति दी जा रही है। दशकों पूर्व जहां रामलीला हो रही है वहीं अनुमति दी जाएगी।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00